केंद्रीय क्षेत्र ब्याज सब्सिडी योजना 2022 | CSISS : ऑनलाइन आवेदन | पात्रता व विशेषताऐं

 

|| Central Sector Interest Subsidy Scheme | CSISS Online Registration | Application Form | Benefits & Objective || आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्र-छात्राओं को तकनीकी शिक्षा देने के लिए केंद्र सरकार दवारा केंद्रीय क्षेत्र ब्याज सब्सिडी योजना (Central Sector Interest Subsidy Scheme) की शुरुआत की गई है। इस योजना के जरिए छात्रों को एजुकेशन लोन के लिए ब्याज पर सब्सिडी दी जाती है, ताकि जो छात्र तकनीकी शिक्षा ग्रहण करना चाहते हैं, वह इस योजना के जरिए लोन पर 100 फीसदी तक सब्सिडी का लाभ ले सके| कैसे मिलेगा इस योजना का लाभ और इसके अंतर्गत आवेदन कैसे किया जाएगा| ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा| तो आइए जानते हैं – केंद्रीय क्षेत्र ब्याज सब्सिडी योजना के वारे मे|

Central Sector Interest Subsidy Scheme

Central Sector Interest Subsidy Scheme (CSISS)

केंद्रीय क्षेत्र ब्याज सब्सिडी योजना की शुरुआत देश के छात्र-छात्राओं के भविष्य को उज्जवल वनाने के लिए की गई है| इस योजना के अंतर्गत छात्रों को उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए ऋण दिया जाता है, जिसमे से उन्हे लोन पर 100 फीसदी तक सब्सिडी का लाभ मिलता है| जो छात्र आर्थिक रुप से कमजोर हैं, वे इस योजना का लाभ ले सकेंगे| केंद्रीय क्षेत्र ब्याज सब्सिडी योजना को देश के पूरे राज्य मे चलाया गया है, ताकि कोई भी छात्र उच्च शिक्षा प्राप्त करने के अवसर से वंचित न रहे| यह योजना बिना किसी संपार्श्विक सुरक्षा के आधुनिक शिक्षा ऋण पर अधिस्थगन अवधि के दौरान पूर्ण ब्याज सब्सिडी प्रदान करती है | केंद्रीय क्षेत्र ब्याज सब्सिडी योजना के लिए आवेदन ऑनलाइन मोड के जरिए स्वीकार किए जा सकेंगे|

योजना के मुख्य बिन्दु

  • यह योजना सभी अनुसूचित बैंकों द्वारा अपनाई गई है और भारतीय बैंक संघ की मौजूदा मॉडल शैक्षिक ऋण योजना से जुड़ी हुई है, और केवल नैक से मान्यता प्राप्त संस्थानों या एनबीए या संस्थानों द्वारा मान्यता प्राप्त पेशेवर / तकनीकी पाठ्यक्रमों में नामांकित छात्रों तक ही सीमित है। 
  • राष्ट्रीय महत्व या केंद्रीय वित्तपोषित तकनीकी संस्थानों (CFTIs) के, वे व्यावसायिक संस्थान/कार्यक्रम, जो एनएएसी या एनबीए के दायरे में नहीं आते हैं, उन्हें संबंधित नियामक निकाय के अनुमोदन की आवश्यकता होगी, जैसे मेडिकल कोर्स के लिए मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया, नर्सिंग कोर्स के लिए भारत की नर्सिंग काउंसिल, बार काउंसिल ऑफ इंडिया का अनुमोदन कानून आदि के लिए यह योजना आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों से संबंधित छात्रों के लिए लागू है|
  • सब्सिडी केवल एक बार या तो स्नातक या स्नातकोत्तर या एकीकृत पाठ्यक्रम के लिए स्वीकार्य है। 
  • योजना के तहत शिक्षा ऋण बिना किसी संपार्श्विक सुरक्षा के प्रदान किया जाता है|
  • इस योजना के तहत एजुकेशन पर लोन लेने पर ब्याज माफ है| 
  • कोर्स समाप्त होने के बाद, छात्रो को ऋण राशि पर ब्याज राशि का भुगतान करना होगा| 
  • यहयोजना ग्रेजुएशन या पोस्‍टग्रेजुएशन के लिए केवल एक बार लागू होती है| 
  • बिना जमानत और थर्ड पार्टी गारंटी के लिए गए 7.5 लाख रुपये तक का एजुकेशन लोन लिया जा सकता है|

योजना का अवलोकन

योजना का नाम केंद्रीय क्षेत्र ब्याज सब्सिडी योजना
किसके दवारा शुरू की गई केंद्र सरकार दवारा
लाभार्थी आर्थिक रुप से कमजोर वर्ग के छात्र-छात्राएं
योजना के तहत प्रदान की जाने वाली सहायता उच्च शिक्षा  के लिए ऋण प्रदान करना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट www.education.gov.in 

केंद्रीय क्षेत्र ब्याज सब्सिडी योजना का उद्देश्य

योजना का मुख्य उद्देश्य देश के आर्थिक रुप से कमजोर वर्ग के छात्र-छात्राओं को उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए सरकार दवारा ऋण प्रदान करना है|

Central Sector Interest Subsidy Scheme

योजना के लिए पात्रता  

  • IBA मॉडल शिक्षा ऋण योजना के तहत लिया गया शिक्षा ऋण।
  • जिन छात्रों के माता-पिता की वार्षिक आय 4.5 लाख रुपये तक है।
  • देश के छात्र-छात्राएं योजना का लाभ लेने के लिए पात्र हैं|
  • गरीव वर्ग के छात्र इस योजना का लाभ ले सकेंगे|
  • केवल सरकारी संस्थाओं और मान्यता प्राप्त जगहों से तकनीकी शिक्षा हासिल करने वाले छात्रों को लाभ दिया जाता है| 
  • वहीं, एक बार यूजी, पीजी, ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन करने वाले छात्र भी इस योजना का लाभ ले सकते हैं|
  • इस योजना के तहत ब्याज सब्सिडी उन छात्रों के लिए उपलब्ध नहीं होगी जो अपने पाठ्यक्रम को बीच में ही छोड़ देते हैं, या जिन्हें अनुशासनात्मक या शैक्षणिक आधार पर संस्थान से निष्कासित कर दिया जाता है। 

Central Sector Interest Subsidy

ब्याज दर

शैक्षिक ऋण पर प्रभारित ब्याज दरें व्यक्तिगत बैंकों के बीपीएलआर/आधार दर के अनुसार और आईबीए मॉडल शैक्षिक ऋण योजना के तहत ब्याज दरों के प्रावधानों के अनुसार होंगी।

अधिस्थगन अवधि

  • योजना के तहत अधिस्थगन अवधि अर्थात पाठ्यक्रम अवधि जमा 01 वर्ष के लिए शिक्षा ऋण पर देय ब्याज भारत सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। 
  • अधिस्थगन की अवधि के बाद, बकाया ऋण राशि पर ब्याज का भुगतान छात्र द्वारा किया जाएगा|

योजना की समीक्षा

  • मानव संसाधन विकास मंत्रालय दवारा योजना की समीक्षा की जाएगी| 
  • मानव संसाधन विकास मंत्रालय दवारा सभी राज्य सरकारों को एक सलाह जारी की है कि वे इस योजना के उद्देश्य के लिए आर्थिक सूचकांक के आधार पर आय प्रमाण पत्र जारी करने के लिए उपयुक्त प्राधिकारी या अधिकारियों को नामित करें, न कि सामाजिक पृष्ठभूमि के लिए।
  • बैंक जिला स्तरीय परामर्शदात्री समितियों (DLCCS) के माध्यम से सूचित राज्य सरकारों द्वारा प्रमाणन प्राधिकरण की अधिसूचना के आधार पर योजना को लागू किया जाएगा|

कार्यान्वयन

यह योजना केनरा बैंक के माध्यम से कार्यान्वित की गई है, जो मानव संसाधन विकास मंत्रालय के लिए नोडल बैंक है। केनरा बैंक के परामर्श से कार्यान्वयन और निगरानी के तौर-तरीकों को अंतिम रूप दिया जाएगा।

योजना की निगरानी

इस योजना के लिए नोडल बैंक द्वारा एक ब्याज सब्सिडी और क्रेडिट गारंटी डैशबोर्ड स्थापित किया गया है, जिसमें से भौगोलिक/सामाजिक-आर्थिक/लिंग/संस्थान/संस्था के प्रत्यायन ग्रेड/श्रेणी/पाठ्यक्रमवार ऋण आवेदनों का वितरण, स्वीकृतियां, जारी की गई सब्सिडी पर बैंकों से रीयलटाइम डेटा होगा। इसके अलावा समायोजित, ऋण चुकौती, एनपीए, आदि भी शामिल होंगे। यह डैशबोर्ड प्रभावी निगरानी सुनिश्चित करेगा और योजना के परिणाम को मापने के लिए मंत्रालय को सक्षम करेगा।

List of Technical/ Professional courses

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • शैक्षिक योग्यता दस्तावेज
  • बैंक खाता
  • पासपोर्ट साइज फ़ोटो
  • मोबाइल नम्वर

केंद्रीय क्षेत्र ब्याज सब्सिडी योजना के लाभ

  • केंद्रीय क्षेत्र ब्याज सब्सिडी योजना की शुरुआत देश के छात्र-छात्राओं के कल्याण के लिए की गई है|
  • इस योजना का लाभ आर्थिक रुप से कमजोर वर्ग के छात्र-छात्राओं को प्रदान किया जाता है|
  • इस योजना के अंतर्गत पात्र छात्रों को उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए बैंकों से लोन दिया जाता है|
  • जिसमे से छात्रों को एजुकेशनलोन के लिए ब्याज पर सब्सिडी मिलती है|
  • इस योजना के जरिए एजुकेशन ऋण पर 100% तक सब्सिडी का लाभ मिलता है|
  • योजना का लाभ लेने पर पात्र छात्र-छात्राओं को अपनी पढाई की चिंता नही करनी पडेगी|
  • योजना मे खर्च होने वाली राशि का भुगतान सरकार दवारा किया जाएगा|
  • ये योजना देश के सभी राज्यों मे चलाई गई है|
  • योजना के लिए आवेदन ऑनलाइन मोड के जरिए स्वीकार किए जा सकते हैं|

योजना की मुख्य विशेषताएं 

  • छात्रों को शिक्षा प्राप्त करने के लिए ऋण प्रदान करना
  • शिक्षा स्तर मे वढोतरी लाना
  • पात्र लाभार्थीयों को आत्म-निर्भर व सशकत वनाना|

केंद्रीय क्षेत्र ब्याज सब्सिडी योजना के लिए कैसे करे आवेदन

  • सवसे पहले आवेदक को नजदीकी बैंक शाखा मे जाना है|
  • अब आपको वहाँ से Central Sector Interest Subsidy Scheme का Application Form प्राप्त करना है|
  • उसके बाद आपको आपको इस फॉर्म मे पुछी गई सारी जानकारी भरनी है, और जरूरी दस्तावेज भी फॉर्म के साथ अटैच करने हैं|
  • सारी प्रक्रिया होने के बाद आपको ये फार्म वहाँ पे जमा करवा देना है, जहाँ से आपने ये फॉर्म लिया था|
  • इस तरह आपके दवारा योजना के अंतर्गत सफलतापूर्वक आवेदन कर दिया जाएगा|

आशा करता हूँ आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी| आर्टीकल अच्छा लगे तो कॉमेट और लाइक जरुर करे|  

error: Content is protected !!