Updated : Mar 25, 2020 in Yojana

कोरोना वायरस स्वदेशी टेस्ट किट योजना | पूरी जानकारी | कैसे मिलेगा लाभ

कोरोना वायरस स्वदेशी किट योजना | Corona virus indigenous test kit scheme

 

कोरोना जैसे खतरनाक वायरस से निपटने के लिए भारत में स्वदेशी स्तर पर ही एक सस्ता और आसानी से इस्तेमाल होने वाली किट को तैयार किया गया है। इस स्वदेशी किट की किमत मात्र 500/- रुपये है। जिसके माध्यम से आसानी से कोरोना वायरस के संक्रमण का पता चलेगा। इस एक किट से 100 मरीजों की जांच होगी। इस किट को पुणे की लाइफ साइंस उपकरण बनाने वाली कंपनी मायलैब दवारा तैयार किया गया है। इस किट की कीमत विदेशों में बनने वाली टेस्टिंग किट से 75% तक कम रखी गई है। इसके वाजार मे आने से प्राइवेट लैब में दिन में कोरोना वायरस के 1000 टेस्ट किए जा सकते हैं। जविक एक लैब में दिनभर में 100 नमूनों की कोरोना की जांच की जा रही है। कोरोना वायरस की जांच करने वाली उसकी ‘Mylab Pathodect Kovid-19 Qualitative PCR Kit ‘ को केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (CDSCO) दवारा अनुमति मिल गई है। जिससे परमिशन पाने वाली यह देश की पहली कंपनी वन गई है। जो देश में वायरस संक्रमित लोगों के स्वास्थ्य की जांच करेगी । इस किट के माध्यम से विश्व स्वास्थ्य संगठन और अमेरिका के सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल (CDC) के दिशानिर्देशों के अनुरूप विकसित किया गया है। यह परीक्षण संवेदनशील तकनीक पर आधारित है, जहां प्रारंभिक चरण मे ही संक्रमण का पता लगेगा और जांच के परिणाम की काफी सटीक जानकारी मिलेगी।

वर्तमान में, भारत प्रति मिलियन जनसंख्या पर किए गए कोरोना वायरस परीक्षण के मामले में सबसे पीछे है और उसका आंकड़ा सिर्फ 6.8 का ही है। जो भी वायरस से संक्रमित है, उसके भारत में मात्र 62 सेंटर है । जिससे लोगों के स्वास्थ्य जांच की रिपोर्ट आने में काफी समय लग रहा है। भारत में जो भी साधारण खांसी-जुकाम या बुखार से संक्रमित है, उन्हे भी आइसोलेशन में रखा जा रहा है। क्योंकि कोरोना वायरस संक्रमण इतना भयानक है जो कि आग की तरह फैल रहा है जिससे पूरा विश्व इस वायरस की चपेट में आ गया है और कई लोगों की जान भी चली गई है। इस सिथति से निपटने के लिए भारत सरकार दवारा जर्मनी से लाखों की टेस्टिंग किट का आयात किया गया है, जिससे वायरस की जांच किट को स्थानीय स्तर पर बनाने से इसकी मौजूदा लागत घटकर एक चौथाई रह जाएगी। मायलैब कंपनी दावा कर रही है कि आने वाले समय में एक हफ्ते में 01 लाख किट को बनाया जाएगा और देश में हर जगह कोरोना संक्रमित लोगों के स्वास्थ्य की जांच की जाएगी।  

उद्देश्य | An Objective

कोरोना वायरस स्वदेशी टेस्ट किट योजना का मुख्य उद्देश्य भारत में मात्र 500/- रुपये में कोरोना संक्रमण के जांच की सटीक जानकारी उपलव्ध करवाना है।

पात्रता | Eligibility

  • भारत के स्थायी निवासी
  • सभी वर्ग के लोग
  • कोरोना वायरस से पीडित व्यकित

लाभ | Benefits

  • कोरोना वायरस स्वदेशी किट योजना का लाभ भारत के स्थायी निवासियों को मिलेगा।
  • इस किट के दवारा कोरोना वायरस से संक्रमित व्यकित के स्वास्थ्य की जांच की जाएगी।
  • इस किट के दवारा कोरोना संक्रमित व्यकित के जांच की सटीक जानकारी मिलेगी कि उसे वायरस है या नहीं।
  • इस किट के दवारा एक लैब में दिनभर में 100 नमूनों की कोरोना की जांच की जाएगी।
  • मायलैब कंपनी दवारा एक दिन में 1000 टेस्ट किए जाने पर भी काम चल रहा है, जिसे कुछ दिनों में पूरा किया जा सकता है।
  • इस योजना से देश में संक्रमित लोगों को अपने स्वास्थ्य की जांच करवाने के लिए भटकना नहीं पडेगा।
  • स्वदेशी कीट को भारत में लागु करने के लिए केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (CDSCO) दवारा अनुमति दे दी गई है।
  • स्वदेशी कीट को भारत में शुरु करने के लिए मायलैब कंपनी देश की पहली कंपनी वन गई है।
  • इस योजना से मात्र 500/- रुपये संक्रमण व्यकित के स्वास्थ्य की जांच होगी।
  • इस योजना से कोरोना संक्रमण की जांच रिपोर्ट आने में ज्यादा समय नहीं लगेगा।

कोरोना की परिभाषा | Definition of corona

  • को – कोई
  • रो – रोड पर
  • ना – ना निकले

कोरोना वायरस के संवध में महत्वपूर्ण जानकारी| Important information in Corona virus promotion

कोरोना वायरस के वचाव के उपाय | Remedies for corona virus

  • घर पर रहे
  • संक्रमित लोगों के संपर्क में न आए।
  • भीड-भाड जैसे इलाकों से दूर रहें।
  • अपने हाथों को वार-वार हाथ, मुंह और नाक को छूने से वचें।
  • अपनी नाक और मुंह को कवर करने के लिए मास्क का प्रयोग करें।
  • साफ-सफाई का ध्यान रखें।
  • वार-वार हाथ धोते रहें।
  • स्नडाइजर का इस्तेमाल करें।
  • गर्म पानी पीयें।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!