Updated : Apr 28, 2020 in Yojana

जीवन अमृत योजना | कोरोना से लडने में मिलेगी मदद | वढेगी रोग प्रतिरोधक क्षमता | पूरी जानकारी

मध्य प्रदेश जीवन अमृत योजना | Madhya Pradesh Jeevan Amrit Yojana | कैसे मिलेगा जीवन अमृत योजना का लाभ | Will help to fight Corona virus | COVID-19 MP जीवन अमृत योजना

 

भारत में कोरोना वायरस के मामले तेजी से वढ रहे है। इस पर कैसे लगाम लगाई जाए और लोगों को इस विमारी से कैसे वचाया जाए। ये चिंता का विषय है। अभी तक इस वायरस की कोई दवाई नहीं वनी है। सावधानी ही इस विमारी का उपचार है। लेकिन इस समय में मध्य प्रदेश से राहत की वात ये आ रही है कि वहां पे सरकार ने कोरोना वायरस से लडने के लिए जीवन अमृत योजना के रुप में काढा तैयार किया है। जिसे पीने से इस वायरस से वचा जा सकता है। तो आइए जानते हैं जीवन अमृत योजना के वारे में क्या है ये योजना और कैसे मिलेगा इस योजना का लाभ ।

मध्य प्रदेश जीवन अमृत योजना | Madhya Pradesh Jeevan Amrit Yojana

 

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान दवारा राज्य के लोगों को कोरोना वायरस के संक्रमण से वचाने के लिए अमृत योजना को शुरु किया है। जिसके तहत प्रदेश के 1 करोड़ लोगों तक काढ़ा पहुंचाया जाएगा। यह काढ़ा सौंठ, पीपली और काली मिर्च को समान अनुपात में कूटकर बनाया गया है। इसके माध्यम से इम्यूनिटी सिस्टम मजबूत होगा और इससे कोरोना संक्रमण को रोकने में भी मदद मिलेगी। इसका ज्यादा से ज्यादा वितरण कोरोना संक्रमित क्षेत्रों में किया जाएगा। योजना के जरिए 50-50 ग्राम का पैकेट तैयार कर लाभार्थीयों को मुफ्त में दिए जाएगें। काढ़े का वितरण सरकार के स्थानीय जनप्रतिनिधियों के माध्यम से किया जाएगा। जिसमें स्थानीय निकायों के प्रतिनिधि और कर्मचारी भी शामिल होंगे। इस काढे से गले का इफेक्शन दूर हो जाता है क्योंकि कोरोना वायरस का अटैक सीधे गले पर ही होता है। ऐसे में काढ़े का इस्तेमाल करने पर संक्रमण का खतरा भी कम हो जाता है। इसे हर व्यकित ले सकता है। इसका कोई साइड इफेक्ट भी नहीं है। मध्य प्रदेश देश का पहला राज्य वना है, जहां पर कोरोना वायरस से लडने के लिए काढे का उपयोग किया जा रहा है।

काढे का इस्तेमाल कैसे करें | How to use decoction

कोरोना जैसी महामारी से वचना है तो लाभार्थी और उसके परिवारवालों को ये काढा पीना चाहिए। इसे कैसे लिया जाए। आइए जानते हैं-

इस काढे का इस्तेमाल करने के लिए इसे तुलसी की पत्तियों के साथ उबालना होगा। उसके बाद 25 मिलीलीटर दिन में कम से कम 3 बार प्रत्येक सदस्यों को आवश्यक रूप से पिलाया जा सकता है। जिससे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ने लगती है और लाभार्थी कोरोना वायरस से वच सकता है।

उद्देश्य | An Objective

जीवन अमृत योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य के लोगों को कोरोना के संक्रमण से वचाने और उनकी इम्यूनिटी सिस्टम को वढाने के लिए आयुष विभाग दवारा काढा उपलव्ध करवाना है, ताकि लोग इस वायरस के संक्रमण से वच सकें।

पात्रता | Eligibility

  • मध्य प्रदेश के स्थायी निवासी
  • कोरोना वायरस से पीडित व्यकित

लाभ | Benefits

  • जीवन अमृत योजना का लाभ मध्य प्रदेश के स्थायी निवासियों को मिलेगा।
  • इस योजना के जरिए राज्य सरकार दवारा लोगों को कोरोना वायरस के संक्रमण से वचाने के लिए काढा दे रही है।
  • ये काढा काढ़ा सौंठ, पीपली और काली मिर्च को समान अनुपात में कूटकर तैयार किया गया है।
  • इसे तुलसी की पत्तियों के साथ उबालकर लेने से संक्रमित व्यकित को लाभ होगा।
  • इस काढे के इस्तेमाल से रोग प्रतिरोधक क्षमता दूर होगी।
  • इस योजना के जरिए राज्य के 1 करोड़ लोगों तक फ्री में काढ़ा पहुंचाया जाएगा।      
  • योजना के जरिए 50-50 ग्राम के पैकेट लोगों के घरों तक पहुंचाए जाएगें।    
  • इस योजना से लोग कोरोना वायरस के संक्रमण से ठीक हो जाएगें।
  • ह्म आशा करते हैं कि ये योजना काफी कारगर सावित होगी।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!