ई हाईवे योजना 2022 | E-Highway [Electric Highways] : आवेदन प्रक्रिया | पात्रता व उद्देश्य

|| E Highway Scheme | इलेक्ट्रिक हाईवे लाइन स्कीम | E Highway Yojana Registration Process | Eligibility | Objectives & Benefits || भारत सरकार दवारा इलेक्ट्रिक व्हीकल्स को प्राथमिकता देने के लिए ई हाईवे योजना को लागु किया गया है| इस योजना के माध्यम से बिजली से वाहनों को चलाया जाएगा, जिससे प्रदूषण को रोकने में मदद मिलेगी। पेट्रोल और डीजल पर निर्भरता कम होगी| देश को परिवहन की एक नई व्यवस्था मिलने से ट्रैफिक का दबाव भी घटेगा| तो आइए जानते हैं क्या है ये योजना और कैसे मिलेगा इस योजना का लाभ| ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा| 

E Highway

E Highway Scheme

यह एक ऐसा हाईवे होता है जिस पर सिर्फ इलेक्ट्रिक वाहन ही चलते हैं| इलेक्ट्रिक वाहनों के संचालन के लिए जरूरी सभी सुविधाएं इस पर उपलब्‍ध कराई जाती हैं| ट्रक और बस जैसे भारी वाहनों को बिजली से चलाने के लिए इन हाईवे के ऊपर इलेक्ट्रिक वायर लगाए जाते हैं| जो ट्रेन चलाने के लिए यूज होने वाले इलेक्ट्रिक वायर की तरह ही होते हैं| इसी तरह हाईवे पर भी इलेक्ट्रिक वायर लगाए जाते हैं| इससे हाईवे पर चलने वाले व्हीकल को इलेक्ट्रिसिटी मिलती है| इसके अलावा इन पर अन्‍य इलेक्ट्रिक वाहन जैसे कार, स्‍कूटर आदि के लिए भी चार्जिंग स्‍टेशन सहित समुचित सुविधाओं का विकास किया जाता है| कुल मिलाकर इन इलेक्ट्रिक हाईवे को इलेक्ट्रिक व्हीकल के हिसाब से तैयार किया जाता है|

योजना के मुख्य पहलु

देश में इलेक्ट्रिक हाइवे बनाने की तैयारी की जा रही है| जिसके लिए सड़क और परिवहन मंत्री नितिन गडकरी का कहना है, कि सरकार देश की राजधानी दिल्ली से मुम्बई के बीच इलेक्ट्रिक हाइवे बनाने की तैयारी में हैं| इससे देश की यातायात व्यवस्था को तेज और व्यवस्थित करने के लिए इलेक्ट्रिक हाइवे बनाने पर काम किया जाएगा| भारत के लिए यह नई व्यवस्था होगी, लेकिन दुनिया में कुछ देशों में इलेक्ट्रिक हाइवे का इस्तेमाल पहले से ही किया जा रहा है| जर्मनी और स्वीडन इसके उदाहरण हैं| वहीं ब्रिटेन में भी इसे बनाने की परमिशन मिल चुकी है| दुनियाभर में ईधन को बचाने के लिए ऐसे हाइवे को बढ़ावा दिया जा रहा है| जो आने वाले समय मे भारत की प्रगति और अर्थव्यवस्था को मजबूत वनाने मे मुख्य भूमिका निभाएंगे|

योजना का अवलोकन

योजना का नाम ई हाईवे योजना
किसके दवारा शुरू की गई सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी दवारा
विभाग सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय
लाभार्थी राज्य के नागरिक
प्रदान की जाने वाली सहायता इलेक्ट्रिक हाईवे वनाना
आधिकारिक वेबसाइट morth.nic.in/hi

ई हाईवे योजना के प्रमुख बिन्दु

सरकार दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे पर 1300 किलोमीटर लंबे इलेक्ट्रिक हाईवे बनाने की योजना बना रही है| इस इलेक्ट्रिक हाईवे पर ट्रक और बस 120 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चल सकेंगे| दिल्‍ली-मुंबई के अलावा दिल्‍ली और जयपुर के बीच भी इलेक्ट्रिक हाईवे बनाने की योजना पर भी काम किया जाएगा| दिल्‍ली-जयपुर हाईवे संभवत: देश का पहला इलेक्ट्रिक हाईवे होगा| इसकी लंबाई 200 किलोमीटर होगी| इस हाईवे को दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे के साथ ही एक नई लेन पर बनाया जाएगा| इलेक्ट्रिक हाईवे प्रोजेक्‍ट पर स्वीडन की कंपनी काम कर रही है|   

वर्तमान में जर्मनी और स्वीडन समेत कई देशों में इलेक्ट्रिक हाइवे का इस्तेमाल किया जा रहा है| जर्मनी का हाइवे करीब 10 किलोमीटर लम्बा है| इस हाइवे पर ओवरहेड केबल के जरिए करीब 90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रक चल सकते हैं| मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, जर्मनी के 10 किमी लम्बे इलेक्ट्रिक हाइवे को तैयार करने में करीब 120 करोड़ रुपए की लागत आई है|

ई हाईवे योजना का उद्देश्य

योजना का मुख्य उद्देश्य देश को राजमार्ग से जोड़ने के लिए इलेक्ट्रिक हाईवे वनाना है|

Electric Highways

ई हाईवे योजना के लिए पात्रता

  • इलेक्ट्रिक हाइवे
  • इलेक्ट्रिक वाहन
  • चार्जिंग स्टेशन
  • माल ढुलाई करने वाले वाहन
योजना का कुल बजट

इलेक्ट्रिक हाईवे पर लगभग सरकार दवारा 2.5 लाख करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे|

E Highway Scheme के लाभ
  • दिल्ली से मुंबई के बीच बनेगा भारत का पहला इलेक्ट्रिक हाईवे|
  • ई-हाईवे के जरिए सरकार देश के 2 बड़े शहरों को आपस में जोड़ने का काम करेगी|
  • E- Vehicle’s को Charge करने के लिए थोड़ी – थोड़ी दूरी पर Charging stations लगे होंगे।
  • इन Highways पर Personal Electric Vehicle भी चलाए जा सकते हैं|
  • इलेक्ट्रिक हाईवे से सबसे ज्‍यादा फायदा माल ढुलाई में होगा|
  • इलेक्ट्रिक वाहनों से माल ढुलाई करने पर लॉजिस्टिक कॉस्ट में 70% की कमी आएगी|
  • इसका असर वस्‍तुओं की कीमतों पर भी होगा, ट्रांसपोर्टेशन कॉस्ट कम होगी तो जाहिर है चीजें भी सस्‍ती होंगी|
  • पेट्रोल और डीजल के मुकाबले बिजली से वाहन चलाना न केवल सस्‍ता होगा, बल्कि इनसे पर्यावरण को भी कोई नुकसान नहीं पहुंचेगा|
  • इस योजना से देश में बिजली बैटरी से चलने वाले वाहनों को बढ़ावा देने में काफी मदद मिलेगी|
  • इस योजना से साल 2030 तक देश में इलेक्ट्रिक व्हीकल की संख्या मे तेजी से वढावा देखने को मिलेगा|
  • इस योजना से प्रदूषण में कमी आएगी|
ई हाईवे योजना के लिए कैसे करे आवेदन

योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया मे अभी वक्त लग सकता है| क्योंकि अभी योजना की शुरुआत हुई है| आवेदन प्रक्रिया के सव्ंध मे अभी कोई भी अधिकारिक पुष्टि नही की गई है| जैसे ही योजना के अंतर्गत आवेदन प्रक्रिया शुरू होगी, तो हम आपको तुरंत सूचित कर देंगे|

आशा करता हूँ आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी| आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेट और लाइक जरूर करे|

Last Updated on August 15, 2022 by Abinash

error: Content is protected !!