Updated : Nov 23, 2019 in Yojana

फास्ट टैग व्हीकल योजना | पूरी जानकारी | कैसे करें आवेदन            

फास्ट टैग व्हीकल योजना | Fastag vehicle scheme

 

फास्टटैग Radio frequency identification (RFID) की तकनीक पर काम करता है। इस टैग को वाहनों के विंडस्क्रीन यानि ड्राईवर के सामने वाले शीशे पर लगाया जाता है ताकि टोल प्लाज़ा पर लगे हुए सेंसर इसे आसानी से रीड कर सके। इस नई तकनीक के तहत जब भी कोई वाहन टोल प्लाज़ा से गुज़रेगा तो इस टैग की मदद से उसका टैक्स खुद ब खुद कट जाएगा उसे लाईनों में खड़े रहने की कोई आवश्यकता नहीं होगी। एक बार जारी किए गए फास्टटैग की वैधता 5 सालों के लिए मान्य होती है। इस फास्टटैग को समय समय पर रीचार्ज कराना पड़ता है। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने घोषणा की है कि 1 दिसंबर, 2019 से सभी वाहनों, निजी और वाणिज्यिक के लिए FASTag अनिवार्य हो जाएगें। जिन वहानों में फास्टैग नहीं लगा होगा उनको टोल पर दोगुना भुगतान करना होगा। एक फास्टैग की कीमत लगभग 250 रुपए है, जिसमें 150 रुपए सिक्योरिटी मनी शामिल है। इस योजना के तहत राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण दवारा हर वाहन मालिक को एक फास्टैग मुफ्त में दिया जाएगा।

इस प्रक्रिया के लिए सेंटर बनाने की तैयारी तेज हो गई है व टेबल लगाकर वाहन चालकों को इसे बनवाने के तरीके के बारे में जानकारी दी जाएगी। बैगनी रंग का फास्ट टैग कार, जीप, वैन जैसे हल्के वाहनो के लिए होगा। टोल पर इलेक्ट्रिानिक टोल कलेक्शन (ECT) की सुविधा होगी। इनके माध्यम से फास्ट टैग युक्त कार से टोल अदा किया जाएगा। इस योजना से तेज गाड़ी चलाने, शराब पीकर गाड़ी चलाने और ओवर लोडिंग जैसे तमाम मामलों पर भारी भरकम जुर्माना लगाया जाएगा। इसके अलावा ट्रैफिक के नियम तोड़ने पर भारी जुर्माने और सजा का प्रावधान भी रखा गया है। जव्कि जुर्माने की राशि बढ़ाए जाने से दुर्घटना में कमी आएगी।

महत्वपूर्ण डाउनलोड | Important Download

उद्देश्य | An Objective

फास्ट टैग व्हीकल योजना का मुख्य उद्देश्य डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देना है, और साथ ही टोल पर बेवजह लगने वाले ट्रैफिक जाम से छुटकारा दिलवाना है।

महत्वपूर्ण दस्तावेज | Important Document

  • वाहन का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट
  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • वोटर आईडी कार्ड
  • वाहन मालिक का पासपोर्ट साइज फोटो

लाभ | Benefits

  • फास्ट टैग व्हीकल योजना को देश में चल रहे वाहनों पर लागु किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत फास्ट टैग वाहनों की विंडोस्क्रीन पर लगाया जाता है। जिसके तहत टोल प्लाजा पर ऑटोमैटिक रूप से टोल चार्ज कट जाएगा।
  • इस योजना के तहत आपको कैश रखने की जरुरत नहीं होगी। पैमेंट् डिजिटल होगी, जो आपके अकांउट से काटी जाएगी।
  • वाहनों पर लगाया गया फास्टैग 5 साल के लिए एक्टिवेट रहेगा।
  • फास्टैग सिंडिकेट बैंक, Axis बैंक, IDFC बैंक, HDFC बैंक, SBI बैंक, और ICICI बैंक से प्राप्त होगें।
  • इस सुविधा से फास्ट टैग खाते में कम से कम 100 से 100000 रुपए तक का रिचार्ज किया जा सकता है।
  • इस योजना से यातायात के नियमों का उल्लंघन नहीं होगा।
  • दुर्घटना जैसी वारदातों में भी कमी आएगी।
  • समय की वचत होगी।
  • ग्राहकों के लिए वेब पोर्टल सुविधा
  • ऑनलाइन रिचार्ज सुविधा
  • लेनदेन के लिए एसएमएस अलर्ट सुविधा
  • टोल टैक्स देने के कारण लगने वाली गाड़ियों की लंबी लाइनों से छुटकारा मिलेगा।

  • इस योजना को सुचारु रुप से चलाने के लिए विशेष कमेटी का गठन किया जाएगा।
  • वाहन चालक को इस योजना के प्रति जागरुक किया जाएगा।

फास्ट टैग व्हीकल योजना के लिए आवेदन कैसे करें | How to apply for fast tag vehicle scheme

  • फास्ट टैग व्हीकल योजना के लिए आवेदक अधिकारिक वेव्साइट पे जाएं।
  • अब आप “Apply Online” ऑपशन पे किल्क करें। 
  • यहां किल्क करते ही आपको आवेदन फार्म फिल करना है।
  • सारी जानकारी भरने के बाद “Continue” ऑपशन पर किल्क करना है।
  • यहां किल्क करते ही आपका इस योजना के लिए आवेदन कर दिया जाएगा।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!