हिमाचल कोरोना आर्थिक सहायता योजना | अनाथ हुए बच्चों को मिलेगे 2000/- रुपये | हेल्पलाइन नंबर

|| Himachal Corona Orphans Children’s Financial Assistance Scheme | कोरोना से अनाथ हुए बच्चो को मिलेगी आर्थिक सहायता | How to apply | लाभ / पात्रता / उद्देश्य / विशेषताएं | Helpline Number ||

हिमाचल प्रदेश मे कोरोना महामारी से जो बच्चे अनाथ हो गए हैं, उन बच्चो के लिए एक नई योजना लागु की गई है। जिसके जरिए राज्य मे जिन बच्चो के माता-पिता की मृत्यु कोरोना से हो गई है, उन बच्चो हर महीने आर्थिक सहायता उपलव्ध करवाई जाएगी। कैसे मिलेगा योजना का लाभ, कौन-कौन योजना के लिए पात्र हैं, और योजना के अंतर्गत आवेदन कैसे किया जाएगा। ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा।

logo

हिमाचल प्रदेश मे कोरोना महामारी के वढते प्रकोप को देखते हुए कांग्रेस पार्टी दवारा एक विशेष पहल की गई है। जिसके तहत राज्य मे कोरोना महामारी की वजह से अनाथ होने वाले बच्चों के पालन-पोषण का जिम्मा कांग्रेस पार्टी दवारा उठाया जाएगा। हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमण की वजह से अगर किसी बच्चे के माता-पिता दोनों का ही निधन हो जाता है तो उस सिथति मे कांग्रेस पार्टी उस बच्चे को बालिग होने तक हर महीने 2000/- रुपये की आर्थिक सहायता उपलव्ध करवाएगी, ताकि वच्चो के पालन-पोषण में कोई कमी न आ सके। जो लाभार्थी योजना का लाभ लेना चाहते हैं, उनके लिए सरकार दवारा हेल्पलाइन नंवर जारी किए गए हैं। जिसकी मदद से लाभार्थीयो को योजना का लाभ मिल सके। उसके बाद ही लाभार्थीयों के बैंक खाते मे योजना की राशि को स्थानातरित किया जाएगा।   

उद्देश्य | An Objective

योजना का मुख्य उद्देश्य उन बच्चों को हर महीने 2-2 हज़ार रुपये आर्थिक सहायता प्रदान करना है, जिनके माता-पिता दोनो की कोरोना के कारण मृत्यु हो गयी हो।    

पात्रता | Eligibility

  • हिमाचल प्रदेश राज्य के स्थायी निवासी
  • कोरोना महामारी के दौरान अनाथ होने वाले बच्चे

महत्वपूर्ण दस्तावेज | Important Documents

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • प्रार्थी को अपने माता-पिता का कोई भी प्रमाण पत्र दिखाना होगा, जिसमें लिखा हो कि उनका निधन कोरोना संक्रमण की वजह से हुआ है।
  • बैंक खाता
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नम्वर

554

लाभ | Benefits

  • योजना का लाभ हिमाचल प्रदेश राज्य के उन बच्चो को प्राप्त होगा, जिन्होने अपने माता-पिता को कोरोना महामारी के दौरान खो दिया है।
  • योजना के जरिए पात्र लाभार्थीयो को 2000/- रुपये की आर्थिक सहायता हर महीने उपलव्ध होगी।
  • लाभार्थीयो को मिलने वाली आर्थिक सहायता सीधे उनके बैंक खाते मे ट्रांसफर की जाएगी।
  • इस योजना से लाभार्थीयो का आर्थिक पक्ष मजबूत होगा।
  • बच्चो के पालन-पोषण मे कोई कमी नहीं आएगी।

विशेषताएं | Features

  • लाभार्थीयो को आत्म-निर्भर व सशक्त वनाना
  • लाभार्थीयो को कोरोना महामारी के दौरान आर्थिक सहायता उपलव्ध करवाना
  • इस योजना से पात्र लाभार्थीयो को दैनिक खर्चो की पूर्ति के लिए दूसरो पर निर्भर नहीं रहना पडेगा।

योजना के लिए कैसे करें आवेदन | How to apply for the scheme

जो लाभार्थी योजना का लाभ लेना चाहते हैं, उनके लिए टोल फ्री नंबर जारी किए गए हैं। जिसकी मदद से लाभार्थीयो को ये वताना होगा, कि उनके माता-पिता की मृत्यु कोरोना के कारण हुई। उसके बाद ही लाभार्थीयो के बैंक खाते मे योजना की राशि भेजी जाएगी।

हेल्पलाइन नंबर | Helpline Number

  • Toll free number 18001808012
  • Land line number 01892260038
  • ये सुविधा लाभार्थीयो के लिए 24 घंटे उपलव्ध रहेगी।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।   

error: Content is protected !!