Updated : Oct 27, 2020 in Yojana

बहु-उद्देशीय ग्राम हाट योजना | पूरी जानकारी | कैसे करें आवेदन

हिमाचल प्रदेश बहु-उद्देशीय ग्राम हाट योजना | Himachal Pradesh Multipurpose village haat Yojana | बहु-उद्देशीय ग्राम हाट योजना | Multipurpose village haat Scheme | लाभ / पात्रता / उद्देश्य / विशेषताएं | How to apply

 

राज्य मे महिला वर्ग के उत्थान और प्रदेश को प्लास्टिक मुक्त वनाने के लिए हिमाचल प्रदेश बहु-उद्देशीय ग्राम हाट योजना को लागु किया गया है। जिसके जरिए राज्य मे स्वच्छता कैफे स्थापित किए जाएगें, और राज्य सरकार स्वच्छता, महिला सशक्तिकरण तथा स्थानीय व्यंजनों के प्रचार पर विशेष बल देने के लिए स्वच्छता कैफे अभियान को भी चलाएगी। इससे प्रदेश के लोगो को जागरुक कर सफाई के प्रति प्रेरित किया जाएगा। सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा। तो आइए जानते हैं – बहु-उद्देशीय ग्राम हाट योजना के वारे मे।

 

बहु-उद्देशीय ग्राम हाट योजना | Multipurpose village haat Yojana

 

हिमाचल प्रदेश सरकार दवारा राज्य मे वर्ष 2023 तक 10 करोड़ की लागत से 100 स्वच्छता कैफे स्थापित करने के लिए बहु-उद्देशीय ग्राम हाट योजना को शुरु किया गया है। जिसके तहत राज्य के सभी महत्वपूर्ण स्थानों में 10 स्वच्छता कैफे खोले जाएगें, जिससे राज्य के विभिन्न भागों से 25 टन का एकल उपयोग प्लास्टिक एकत्रित कर प्रदेश को स्वच्छ, हरा-भरा तथा प्लास्टिक मुक्त वनाया जाएगा । योजना के जरिए राज्य सरकार स्वच्छता, महिला सशक्तिकरण तथा स्थानीय व्यंजनों के प्रचार पर विशेष बल देने के लिए स्वच्छता कैफे अभियान को भी चलाएगी। जिसके अंतर्गत साफ-सफाई का ध्यान रखने के लिए कचरा शहरी स्थानीय निकायों से खरीदा जाएगा। अधिक कचरा लाने पर लाभार्थी कैफे मे खाना खा सकेगें। इन कैफो को चलाने के लिए महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा और उनके आर्थिक पक्ष को मजबूत किया जाएगा।

75 रुपये की दर से खरीदा जाएगा प्लास्टिक कचरा | Plastic waste will be purchased at the rate of 75 rupees

योजना के जरिए कूड़ा एकत्रित करने के लिए शहरी स्थानीय निकायों से 75 रूपये प्रति किलो की दर से प्लास्टिक कचरा, खाद्य व अन्य खाद्य सामग्रियों के बदले में क्रय किया जाएगा। इसके माध्यम से कूडा एकत्रित करने वालों और लोगों को अपने आस-पास के क्षेत्रों को साफ सुथरा रखने के लिए प्रेरित किया जाएगा।

प्रदेश को प्लास्टिक मुक्त वनाना | to make the region plastic-free

बहु-उद्देशीय ग्राम हाट योजना से प्रदेश को प्लास्टिक कचरा मुक्त वनाया जाएगा। लोगो को जागरुक कर स्वच्छता के लिए प्रेरित किया जाएगा, ताकि लोग जगह- जगह गंदगी न डाले।

लाभार्थीयों को प्रशिक्षण देकर उन्हे आत्म-निर्भर वनाया जाएगा | Beneficiaries will be trained and given self-reliance

ये योजना गरीब महिलाओं को आजीविका के प्रभावी साधन प्रदान करने के लिए शुरू की गई है। स्वच्छता कैफे चलाने वाली महिलाओं को सत्कार क्षेत्र में प्रशिक्षण मिलेगा, ताकि वे लोकप्रिय पारंपरिक व्यंजनों को पकाने और व्यंजनों का स्वाद बनाए रखने में प्रशिक्षित हो सकें। योजना के तहत वर्तमान वित्त वर्ष के दौरान लगभग 100 महिलाओं को सत्कार विशेषज्ञों द्वारा प्रशिक्षित कर उन्हे आत्म-निर्भर वनाया जाएगा। जिसमे आगामी 03 वर्षों के दौरान स्वयं सहायता समूहों से सम्बन्धित 5000 महिलाओं को सत्कार क्षेत्र में प्रशिक्षण प्रदान करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

महिलाओं की आमदनी मे सुधार होगा | Income of women will improve

योजना के जरिए महिलाओं को औषधीय पौधे जैसे गिलोय, पुदीना, नीम पाउडर तथा आचार, मुरब्बा, गेहूं का आटा, दालें, मसाले व सब्जियां इत्यादि को उचित मूल्य पर बेचने के लिए सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी, ताकि ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाएं अतिरिक्त आय अर्जित कर सकें।

कचरा लाने पर कैफे में भोजन किया जा सकता है | Food can be served in the cafe on bringing garbage

यदि कोई व्यक्ति प्लास्टिक का अधिक कचरा लाता है तो वह अगली बार कैफे में भोजन के लिए अतिरिक्त पैसों का इस्तेमाल कर योजना का लाभ ले सकता है।

स्वच्छता कैफे का लोकार्पण | Sanitation Cafe inaugurate

पहला स्वच्छता कैफे का लोकार्पण सोलन जिला के नालागढ़ क्षेत्र की ग्राम पंचायत रडियाली में किया गया है, जिसे स्वयं सहायता समूहों की महिला द्वारा चलाया जाएगा और अन्य कैफे कुल्लू जिला के नग्गर में खोले जाएगें। योजना को गति देने के लिए राज्य के सभी महत्वपूर्ण स्थानों में 10 स्वच्छता कैफे खोले जाएगें। ताकि प्रदेश मे साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखा जा सके।

उद्देश्य | An Objective

बहु-उद्देशीय ग्राम हाट योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश मे साफ-सफाई का ध्यान रखने के लिए स्वच्छता कैफे स्थापित करना है। ताकि प्रदेश को प्लास्टिक मुक्त वनाकर लोगों को विमारियों से वचाया जा सके।

पात्रता | Eligibility

  • हिमाचल प्रदेश के स्थायी निवासी
  • सभी वर्ग के लोग / महिलाएं

लाभ | Benefits

  • बहु-उद्देशीय ग्राम हाट योजना प्रदेश मे साफ-सफाई का ध्यान रखने के लिए चलाई गई है।
  • योजना के जरिए प्रदेश को प्लास्टिक मुक्त वनाने के लिए स्वचछ्ता कैफे खोले जाएगें।
  • राज्य के सभी महत्वपूर्ण स्थानों में 10 स्वच्छता कैफे खोले जाएगें।
  • इन कैफो को चलाने के लिए राज्य की महिलाओं को प्रशिक्षित कर उन्हे आर्थिक पक्ष को मजबूत किया जाएगा।
  • महिलाओं को औषधीय पौधे जैसे गिलोय, पुदीना, नीम पाउडर तथा आचार, मुरब्बा, गेहूं का आटा, दालें, मसाले व सब्जियां इत्यादि को उचित मूल्य पर बेचने के लिए सुविधा भी दी जाएगी।
  • 03 वर्षों के दौरान स्वयं सहायता समूहों से सम्बन्धित 5000 महिलाओं को योजना का लाभ दिया जाएगा।
  • कचरा लाने वाला लाभार्थी कैफे मे खाना सकेगा।
  • प्लास्टिक कचरा, खाद्य व अन्य खाद्य सामग्रियों के बदले में 75 रूपये प्रति किलो की दर से खरीदा जाएगा।
  • योजना को सुचारु रुप से चलाने के लिए स्वच्छता अभियान को भी चलाया जाएगा।
  • साफ-सफाई के लिए लोगों को जागरुक किया जाएगा।

विशेषताएं | Features

  • प्रदेश को प्लास्टिक मुक्त वनाना
  • प्रदेश मे स्वच्छता कैफे स्थापित करना
  • महिलाओं के उत्थान के लिए उन्हे आत्म-निर्भर वनाकर उनकी आय मे सुधार करना
  • साफ-सफाई को अधिक महत्व देना
  • बिमारियो से वचाव

आव्श्यक दस्तावेज | Required documents

बहु-उद्देशीय ग्राम हाट योजना के तहत महिलावर्ग को प्रशिक्षित करने के लिए उन्हे आव्श्यक दस्तावेज जमा करवाने होगें :-

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नम्वर

बहु-उद्देशीय ग्राम हाट योजना के लिए कैसे करें आवेदन | How to apply for Multipurpose village haat Yojana

  • योजना का लाभ लेने के लिए महिला वर्ग को स्वच्छता कैफे खोलने पर सत्कार विशेषज्ञों द्वारा प्रशिक्षण दिया जाएगा।
  • प्रशिक्षित होने के वाद लाभार्थी महिला वर्ग को योजना से जोडा जाएगा।
  • उन्हे औषधीय पौधे जैसे गिलोय, पुदीना, नीम पाउडर तथा आचार, मुरब्बा, गेहूं का आटा, दालें, मसाले व सब्जियां इत्यादि को उचित मूल्य पर बेचने के लिए सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी।
  • सामग्री को वेचने पर लाभार्थी अपनी आय को वढा सकेगी, जिससे उन्हे योजना का लाभ मिल जाएगा।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।

error: Content is protected !!