प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना 2022 | Kisan SAMPADA : ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म

 

|| PM Kisan Sampada Yojana | किसान संपदा योजना | Pradhan Mantri Kisan Scheme Online Registration | Kisan SAMPADA Yojana Application Form || खाध प्रसंस्करण के विकास को बढ़ावा देने और किसानो की आय मे वढ़ोतरी लाने के लिए प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना को लागू किया गया है| जिसके माध्यम से कृषि समुद्री प्रसंस्करण और खाध प्रसंस्करण समूहों का विकास किया जाएगा| जिससे किसानों की आय में वृद्धि होगी और देश के ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के बड़े अवसर उत्पन्न होंगे। इस योजना का लाभ कैसे प्राप्त किया जा सकेगा, इसके लिए क्या पात्रता है और योजना के अंतर्गत आवेदन कैसे किया जाएगा| ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढ्ना होगा| तो आइए जानते हैं – प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना के वारे मे|

Kisan SAMPADA

 

PM Kisan Sampada Yojana

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना का शुंम्भारम्भ केंद्र सरकार दवारा कृषि क्षेत्र का विकास करने और किसानो की सीथति को वेहतर वनाने के लिए किया गया है| किसान संपदा योजना एक व्यापक पैकेज है जिसके माध्यम से परिमाण स्वरूप फार्म गेट से रिटेल आउटलेट तक कुशल आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधन के साथ आधुनिक बुनियादी ढांचे का निर्माण किया जाता है। जिससे देश में खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र का विकास होगा और किसानों को बेहतर रिटर्न भी प्राप्त होगा। इसके अलावा इस योजना के माध्यम से देश रोजगार की संभावनाएं वढ़ेगी| इस योजना से आपूर्ति श्रंखला में संपूर्ण जुड़ाव स्थापित किया जाएगा और मौजूदा खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों का आधुनिकरण व विस्तार होगा|

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना का विस्तार

फूड प्रोसेसिंग मंत्रालय द्वारा 7 फरवरी 2022 को PM किसान संपदा योजना का विस्तार करने का निर्णय लिया गया है। जिसके तहत अब इस योजना को मार्च 2026 तक कार्यान्वयत किया जाएगा। यह योजना फूड प्रोसेसिंग क्षेत्र को बढ़ावा देगी। इसके अलावा किसानों को भी अपने उत्पाद का बेहतर दाम मिल सकेगा। इसके अलावा इस योजना से रोजगार के अवसर उत्पन्न करने में भी मदद मिलेगी|

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना का अवलोकन

योजना प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना
किसके दवारा शुरू की गई केंद्र सरकार दवारा
लाभार्थी देश के किसान
योजना का लाभ 20 लाख किसानो कों प्रदान किया जाएगा
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट www.mofpi.gov.in

PM Kisan SAMPADA Yojana

योजना का कुल बजट

प्राधानमंत्री किसान संपदा योजना के लिए सरकार द्वारा 4600 करोड रुपए का बजट निर्धारित किया गया है । एक आधुनिक बुनियादी ढांचा बनाने की दृष्टि से खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय द्वारा इस योजना के अंतर्गत 42 मेगा फूड पार्क, 236 एकीकृत शीत श्रंखला को मंजूरी प्रदान की गई है।

PM किसान संपदा योजना का कार्यान्वयन

  • प्राधानमंत्री किसान संपदा योजना के अंतर्गत खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र को बढ़ावा मिलेगा। जिससे फसल की बर्बादी को वचाने एवं नुकसान को शून्य स्तर पर लाने मे मदद मिलेगी|
  • इससे कृषि समूहों की पहचान की जाएगी एवं किसानो कों सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • खाद उत्पादों को उत्पादक केंद्रों से बाजार में स्थानांतरित किया जा सकेगा|
  • इस योजना से आपूर्ति श्रंखला में संपूर्ण जुड़ाव कों स्थापित करने मे मदद मिलेगी एवं खामियों को दूर करके मौजूदा खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों का विस्तार किया जाएगा| इसके साथ ही प्रसंस्करण और संरक्षण क्षमताओं का भी निर्माण किया जाएगा|
  • योजना के माध्यम से किसानों की आय में वृद्धि होगी और रोजगार के अवसर पैदा होंगे|
  • प्रसंकस्कृत खाद के निर्यात को प्रोत्साहित किया जाएगा और खाद अपव्यय को कम करने में भी मदद मिलेगी|

PM Kisan Sampada Yojana Latest Update

  • हरियाणा और पंजाब सहित 27 परियोजनाओं को एकीकृत कोल्ड चेन और प्रधान-मंत्री किसान समृद्धि योजना (PMKSY) के मूल्य संवर्धन के लिए योजना के तहत मंजूरी दी गई है।
  • स्वीकृत परियोजनाओं में आंध्र प्रदेश (7), बिहार (1), गुजरात (2), हरियाणा (4), कर्नाटक (3), केरल (1), मध्य प्रदेश (1), पंजाब (1), राजस्थान (2) , तमिलनाडु (4) और उत्तर प्रदेश (1) शामिल हैं। 27 परियोजनाएँ खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र के लिए आधुनिक, नवीन बुनियादी ढाँचे और प्रभावी कोल्ड चेन सुविधाओं के निर्माण के लिए 743 करोड़ के कुल निवेश का लाभ उठाएंगी और भारत की खाद्य आपूर्ति श्रृंखला में दक्षता और स्थिरता बढ़ाने में मदद की जाएगी|

PM किसान संपदा योजना का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य कृषि समुद्री प्रसंस्करण और खाध प्रसंस्करण समूहों का विकास करना है, जिससे कृषि क्षेत्र कों वेहतर वनाया जाएगा और किसानों की आय मे वढ़ोतरी लाई जाएगी| इसके साथ ही देश मे रोजगार भी वढेंगे|

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना के लिए पात्रता

  • आवेदक देश का स्थायी निवासी होना चाहिए|
  • योजना का लाभ लेने के लिए किसान पात्र हैं|
  • आवेदक के पास 2 हेक्टेयर का कृषि योग्य भूमि होनी चाहिए।
किसान संपदा योजना के लिए जरूरी दस्तावेज
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • आयु प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी
  • पासपोर्ट साइज फोटो
प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना के लाभ
  • केंद्र सरकार द्वारा PM किसान संपदा योजना का शुभारंभ किया गया है।
  • इस योजना के जरिये कृषि समुद्री प्रसंस्करण और खाध प्रसंस्करण समूहों का विकास किया जाएगा।
  • योजना का कार्यान्वयन खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय द्वारा किया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से परिमाण स्वरूप फार्म गेट से रिटेल आउटलेट तक कुशल आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधन के साथ आधुनिक बुनियादी ढांचे का निर्माण किया जाएगा।
  • देश में खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र का विकास होगा|
  • इस योजना से किसानों की आय में वृद्धि लाई जाएगी|
  • देश के ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के बड़े अवसर उत्पन्न होंगे।
  • इस योजना के माध्यम से सरकार का लक्ष्य एक व्यापक पैकेज के रूप मे पेश करना है।
  • इस योजना से कृषि उपज की बर्बादी को कम करके प्रोसेसिंग लेवल को बढ़ाने मे मदद मिलेगी|
किसान संपदा योजना की मुख्य विशेषताएँ
  • बैक एंड अवसंरचना का सृजन
  • रोजगार के महत्‍वपूर्ण अवसर मिलना
  • व्‍यापार सहित व्‍यापार में 100 प्रतिशत प्रत्‍यक्ष विदेशी निवेश की अनुमति
  • खुदरा क्षेत्र में निवेश को गति देना
  • देश में खाद्य प्रसंस्‍करण को व्‍यापक बढ़ावा मिलना
  • किसानों की फसल बर्बाद होने से बच जाएगी
  • किसानों को अपनी फसल का उचित मूल्य मिलेगा
  • अब किसान गरीबी स्तर से ऊपर उठ सकेंगे|
  • किसानों कों आत्म-निर्भर व सशक्त वनाया जाएगा|
PM किसान संपदा योजना के अंतर्गत योजनाओं की सूची

1.मेगा फूड पार्क

  • देश में खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों के लिए आधुनिक बुनियादी ढाँचा प्रदान करना।
  • डेयरी, मत्स्य पालन आदि सहित कृषि उपज का मूल्यवर्धन सुनिश्चित करना।
  • प्रत्येक क्लस्टर के लिए एक स्थायी कच्चे माल की आपूर्ति के लिए श्रृंखला स्थापित करना।
  • नवीनतम तकनीक को शामिल करने की सुविधा उपलव्ध होना ।
  • प्लग एंड प्ले सुविधाएं प्रदान करके छोटे और सूक्ष्म खाद्य प्रसंस्करण उद्यमों की आवश्यकता को पूरा करना|
  • उत्पाद श्रृंखला बनाने के लिए उत्पादकों, प्रोसेसरों और खुदरा विक्रेताओं को एक साथ काम करने के लिए एक संस्थागत तंत्र प्रदान करना।

2.एकीकृत कोल्ड चेन और मूल्य वर्धन अवसंरचना

फ़सल के गेट से उपभोक्ता को बिना किसी ब्रेक के एकीकृत कोल्ड चेन, संरक्षण और मूल्य संवर्धन की बुनियादी सुविधाओं को स्थापित करने में वित्तीय सहायता प्रदान करके बागवानी और गैर-बागवानी उत्पादों की फसल के बाद के नुकसान को रोकना|

3.खाद्य प्रसंस्करण / संरक्षण क्षमता का सृजन / विस्तार (यूनिट योजना)

  • निर्माण / विस्तार और / या प्रसंस्करण / संरक्षण क्षमताओं का आधुनिकीकरण जो प्रसंस्करण के स्तर को बढ़ाने में मदद करेगा, मूल्य वृद्धि और इस तरह के अपव्यय को कम करना ।
  • नई इकाइयों की स्थापना और मौजूदा इकाई के आधुनिकीकरण / विस्तार को योजना के तहत कवर किया जाएगा। प्रसंस्करण इकाइयां प्रसंस्करण क्षेत्रों के आधार पर प्रसंस्करण गतिविधियों की एक विस्तृत श्रृंखला का कार्य करती हैं, जिसके तहत प्रसंस्कृत उत्पादों का मूल्यवर्धन और शेल्फ जीवन बढ़ जाता है।

4.कृषि प्रसंस्करण क्लस्टर के लिए बुनियादी ढांचा

  • उत्पादन क्षेत्रों के करीब खाद्य प्रसंस्करण के लिए आधुनिक बुनियादी ढाँचा तैयार करना।
  • फार्म गेट से उपभोक्ता को एकीकृत और पूर्ण संरक्षण बुनियादी सुविधाएं प्रदान करना।
  • उत्पादकों / किसानों के समूहों को अच्छी तरह से सुसज्जित आपूर्ति श्रृंखला के माध्यम से प्रोसेसर और बाजार से जोड़कर प्रभावी पिछड़े और आगे के संबंध बनाना

5.बैकवर्ड और फॉरवर्ड लिंकेज का निर्माण

  • खेत के गेट पर प्राथमिक प्रसंस्करण केंद्रों / संग्रह केंद्रों, वितरण केंद्र और खुदरा दुकानों के सामने के माध्यम से खराब कृषि-हॉर्टी उत्पादन के लिए प्रभावी पिछड़े और आगे के लिंक बनाना|
  • किसानों के लिए बेहतर पारिश्रमिक मूल्य के परिणामस्वरूप खराब कृषि उपज के शेल्फ जीवन को बढ़ाने के लिए संरक्षण सुविधाएं प्रदान करना।

6.खाद्य सुरक्षा और गुणवत्ता आश्वासन अवसंरचना

  • भोजन की गुणवत्ता और संरचना के लिए एक निगरानी प्रणाली स्थापित करना।
  • प्रसंस्करण उद्योग और अन्य हितधारकों से प्राप्त नमूनों का विश्लेषण करना
  • नमूनों के परिवहन समय को कम करके नमूनों के विश्लेषण के लिए समय कम करना।
  • निर्यात के साथ-साथ आयात के मामले में खाद्य पर अंतर्राष्ट्रीय और घरेलू मानकों का अनुपालन सुनिश्चित करना।

7.मानव संसाधन और संस्थान

अनुसंधान और विकास कार्य के अंतिम उत्पाद / परिणाम / निष्कर्षों को उत्पाद और प्रक्रिया विकास, कुशल प्रौद्योगिकियों, बेहतर पैकेजिंग, मूल्य संवर्धन आदि के संदर्भ में खाद्य प्रसंस्करण उद्योग को लाभान्वित करना |

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना के लिए कैसे करे आवेदन

Kisan SAMPADA Yojana online

  • उसके बाद आपको आवेदन करें के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • फिर आपकी स्क्रीन पर आवेदन फॉर्म खुलकर आएगा।
  • अब आपको इस आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • उसके बाद आपकों जरूरी दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • इस प्रक्रिया के बाद आपको अंत मे सबमिट के विकल्प पर क्लिक कर देना है|
  • इस तरह आपके दवारा प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना के अंतर्गत सफलतापूर्वक आवेदन कर दिया जाएगा|

आशा करता हूँ आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी, आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेट और लाइक जरूर करें|

error: Content is protected !!