मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल सेवा योजना | ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म

 

|| मध्य प्रदेश कोविड-19 बाल सेवा योजना | COVID-19 Bal Seva Yojana | MP COVID-19 Bal Seva Yojana Online Registration | Application Form || मध्य प्रदेश सरकार दवारा राज्य मे कोविड से अनाथ बच्चो के भविष्य को संवारने और उन्हे समाजिक व आर्थिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल सेवा योजना को लागु किया गया है। जिसके जरिए पात्र बच्चों को चिन्हित कर योजना से जोडा जाएगा। उसके बाद लाभार्थीयो को योजना के अंतर्गत सुविधाएं उपलव्ध करवाई जाएगीं। कैसे मिलेगा योजना का लाभ, योजना के लिए कौन-कौन पात्र होगें और योजना के अंतर्गत आवेदन कैसे किया जाएगा। ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा। तो आइए जानते हैं – मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल सेवा योजना के वारे मे।

556

Madhya Pradesh Mukhyamantri COVID-19 Bal Seva Yojana

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान दवारा राज्य मे कोविड से अनाथ हुए बच्चों की देखरेख और उन्हे सुरक्षा प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल सेवा योजना को शुरु किया गया है। जिसके तहत जिन बच्चो ने अपने माता-पिता को कोरोना महामारी के चलते खोया है, उन लाभार्थीयो को सरकार दवारा उनकी परवरिश, पढ़ाई-लिखाई और उनकी सुरक्षा की व्यवस्था की जाएगी। योजना के जरिए हर बच्चे को सरकार दवारा 5000/- रुपये की मासिक पेंशन दी जाएगी’। योजना को लागु करते हुए मुख्यमंत्री दवारा अनाथ हुए 173 बच्चों के खाते में 8 लाख 63 हजार रुपए ट्रांसफर किए गए हैं। इस योजना से पात्र लाभार्थीयों को इस संकट की घडी के दौरान सरकार का साथ मिलेगा और करोना से अनाथ हुए बच्चों की सरकार दवारा हर संभव सहायता की जाएगी। लाभार्थीयों को योजना का लाभ ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भरके प्राप्त होगा।

योजना के अंतर्गत प्रदान की जाने वाली सुविधाएं 

  • इस योजना में बच्चों को 5000/- रूपये प्रतिमाह की आर्थिक सहायता, नि:शुल्क राशन और बच्चों की शिक्षा की व्यवस्था की जाएगी।
  • यदि बच्चा 09 से 12 वीं में निजी स्कूल में पढ़ता है तो साल में उसे एक मुश्त 10,000/- रूपये की सहायता दी जायेगी। शासकीय अनुदान प्राप्त कॉलेज में पढ़ने वाले बच्चों की व्यवस्था भी की जाएगी।
  • जो बच्चे जेइई मेन्स परीक्षा या इसी प्रकार की अन्य परीक्षा के द्वारा निजी इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश पाते हैं, तो उन्हें 50 लाख रूपये तक का शुल्क शासन द्वारा प्रदान किया जायेगा।
  • नीट परीक्षा से प्रवेश पर शासकीय और निजी मेडिकल कॉलेजों का पूरा शुल्क राज्य शासन द्वारा वहन किया जायेगा।
  • कामन लॉ एडमीशन टेस्ट के द्वारा या राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित परीक्षा में या दिल्ली विश्वविद्यालय में 12वीं कक्षा के बाद होने वाले एडमीशन में कॉलेजों का समस्त शुल्क राज्य सरकार दवारा ही दिया जाएगा।
  • जिन लाभार्थीयो को पढ़ाई के लिए लेपटॉप या टेबलेट की आवश्यकता होगी तो उसकी व्यवस्था भी सरकार दवारा की जाएगी।
  • योजना के अंतर्गत 10 लाख रूपये कारपस फंड की व्यवस्था भी की गई है।
  • अनाथ हुए बच्चों की पहचान कर इन बच्चों की सूची बनाकर उनके रहने, अवास और पढ़ाई की व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी।

योजना का अवलोकन

योजना का नाम मध्य प्रदेश कोविड-19 बाल सेवा योजना
किसके दवारा शुरू की गई मध्य प्रदेश सरकार दवारा
लाभार्थी कोरोनावायरस संक्रमण के कारण अनाथ हुए बच्चे 
प्रदान की जाने वाली सहायता

आर्थिक सहायता, खाद्य सामग्री एवं शिक्षा के लिए निशुल्क सुविधा प्रदान करना

आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट covidbalkalyan.mp.gov.in

कोविड-19 बाल सेवा योजना का उद्देश्य 

योजना का मुख्य उद्देश्य उन बच्चों को सरकार दवारा आर्थिक सहायता उपलव्ध करवाना है, जिनके माता-पिता की मृत्यु कोरोना महामारी के चलते हो गई है।

मध्य प्रदेश कोविड-19 बाल सेवा योजना के लिए पात्रता

  • मध्य प्रदेश राज्य के स्थायी निवासी
  • कोरोना से अनाथ होने वाले वच्चे

आवश्यक दस्तावेज 

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

776

MP कोविड-19 बाल सेवा योजना के लाभ

  • मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल सेवा योजना का लाभ मध्य प्रदेश राज्य के उन बच्चों को मिलेगा, जिनके माता-पिता की मृत्यु कोरोना के चलते हुई है।
  • योजना के माध्यम से राज्य मे अनाथ हुए बच्चों को सरकार दवारा आर्थिक सहायता उपलव्ध करवाई जाएगी।
  • पात्र लाभार्थीयो को योजना के अंतर्गत उनकी पढाई-लिखाई, आवास से लेकर निशुल्क राशन की सुविधा भी उपलव्ध करवाई जाएगी।
  • इस योजना से पात्र लाभार्थीयों को समाजिक और आर्थिक सुरक्षा प्रदान होगी।
  • लाभार्थीयों को दी जाने वाली आर्थिक सहायता सीधे उनके बैंक खाते मे जमा की जाएगी।
  • इस योजना से लाभार्थीयो को इस संकट की घडी के दौरान दूसरों पर निर्भर नहीं रहना पडेगा।
  • ये वित्त पोषित योजना है, जो राज्य मे अनाथ हुए बच्चो को लाभ पहुंचाने के लिए शुरु की गई है।

मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल सेवा योजना की मुख्य विशेषताएं

  • मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल सेवा योजना अनाथ बच्चों को आत्म-निर्भर व सशक्त वनाती है।
  • इस योजना से पात्र लाभार्थीयो को आर्थिक दिक्कतों का सामना नहीं करना पडेगा।
  • योजना के अंतर्गत पात्र लाभार्थीयों की पहचान कर उन्हे सहायता पहुंचाई जाएगी।

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल सेवा योजना के लिए कैसे करें आवेदन 

1

  • अब आपको आवेदन करें के विकल्प पे किल्क करना होगा।
  • उसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा।
  • इस पेज पर आपको अपना नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी एवं पासवर्ड आदि दर्ज करनी होगी|
  • अब आपको Register के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • उसके बाद आपको लॉगइन के विकल्प पर क्लिक करना होगा|
  • फिर आपको अपना मोबाइल नंबर एवं पासवर्ड दर्ज करके सबमिट करें के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • उसके बाद आपको मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल सेवा योजना के विकल्प पर क्लिक करना होगा|
  • अब आपके सामने आवेदन फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • इस फॉर्म में आपको सारी जानकारी जैसे कि आपका नाम, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर आदि दर्ज करनी होगी|
  • फिर आपको आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड करना है|
  • उसके बाद आपको Submit के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस तरह आपके दवारा मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल सेवा योजना के अंतर्गत सफलतापूर्वक आवेदन कर दिया जाएगा|

आवेदन की स्थिति कैसे देखेँ

  • सबसे पहले लाभार्थी को अधिकारिक वेब्साइट पे जाना होगा।
  • उसके बाद आपके सामने अगला पेज खुलकर आ जाएगा।
  • यहाँ आपको आवेदन देखें के विकल्प पर क्लिक करना होगा|
  • अब आपके सामने लॉगिन फॉर्म खुलकर कर आ जाएगा।
  • उसके बाद आपको इस फॉर्म मे अपना मोबाइल नंबर, पासवर्ड दर्ज एवं कैप्चा कोड करके सबमिट करें के विकल्प पर किलक कर देना है|
  • जैसे ही आप सबमिट करें के विकल्प पर क्लिक करोगे तो आवेदन की स्थिति आपके कम्प्यूटर स्क्रीन पे आ जाएगी।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेट और लाइक जरुर करें।

error: Content is protected !!