Updated : Nov 13, 2019 in Yojana

करतारपुर साहिब तीर्थ दर्शन योजना | पूरी जानकारी | ऑनलाइन आवेदन

करतारपुर साहिब तीर्थ दर्शन योजना | Kartarpur Sahib Teerth Darshan Scheme

 

गुरूनानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के अवसर पर सिख समाज को तोहफ़ा देते हुए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ जी दवारा 13 नंववर 2019 (बुधवार) को पाकिस्तान के प्रसिद्ध करतारपुर साहिब गुरूद्वारा को ‘मुख्यमंत्री तीर्थदर्शन योजना’ में शामिल कर लिया गया है। इसका निर्णय मध्य प्रदेश के आध्यात्म विभाग दवारा लिया गया है, और इसके आदेश भी आज जारी कर दिये गये हैं,जिसमें ये कहा गया है कि –“ मुख्यमंत्री तीर्थदर्शन योजना में वर्तमान तीर्थस्थलों की सूची में पाकिस्तान स्थित करतारपुर साहिब नाम को जोड़ा जाता है।’’ इस योजना के तहत राज्य के वरिष्ठ नागरिक (60 वर्ष या उससे अधिक) तीर्थस्थल की मुफ्त यात्रा करगें। यहां पे 13500 लोगों के ठहरने की विशेष व्यवस्था की गई है। इसके अलावा यात्रियों को हर प्रकार की सुविधा देने के लिए कमेटी का भी गठन किया गया है।

क्यों खास है करतारपुर साहिब | Why is Kartarpur Sahib special

गुरुनानाक देव के 550 वें जन्मोत्सव पर होने वाले प्रकाश पर्व के ठीक पहले 9 नवम्बर को करतारपुर कॉरिडोर खोला गया। ये ऐसा मौका था जिसका देश के लाखों सिख श्रद्धालु वर्षों से इंतजार कर रहे थे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार ने इसे अवतीर्ण किया। करतारपुर कॉरिडोर की बात 1999 में तत्कालीन भारतीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और तत्कालीन पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के बीच शुरू हो गई थी। लेकिन बात आगे नहीं बढ़ पाई। उसके बाद देश में कई सरकारें आईं और चली गईं लेकिन किसी भी सरकार ने इस मुद्दे पर उस गंभीरता से नहीं लिया, जितना प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उनकी सरकार ने लिया और इसका ही असर यह था कि मात्र एक साल में ही करतारपुर कॉरिडोर का काम पूरा कर लिया गया। ये कॉरिडोर खोलने के बाद भारत की ओर से पहले जत्थे में पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी सहित 575 से ज्यादा लोग शामिल हुए।

उद्देश्य | An Objective

करतारपुर साहिब तीर्थ दर्शन योजना का मुख्य उद्देश्य यात्रीयों को गुरुदवारे के दर्शन करवाकर उन्हें ड्रेरे दवारा मिलने वाली सुविधाओं को उपलव्ध करवाना है, ताकि ज्यादा से ज्यादा यात्री यहां दर्शन करने आएं।

महत्वपूर्ण डाउनलोड | Important Download

लाभ | Benefits

  • पर्यटन की दृष्टि से ये स्थल काफी महत्वपूर्ण है, क्योंकि इससे लोगों की धार्मिक आस्था जुडी हुई है।
  • कॉरिडोर खुलने से भारत-पाकिस्तान सीमा से लगभग 4.5 किलोमीटर दूर पाकिस्तान में स्थित करतारपुर साहिब के दर्शन सुलभ होगें।
  • इससे भारत –पाकिस्तान के रिस्ते भी सुधरेगें।
  • इससे अधिक से अधिक श्रदालु यहां दर्शन करने आएगें।
  • इस योजना के तहत राज्य के वरिष्ठ नागरिक को तीर्थस्थल की मुफ्त यात्रा का लाभ प्राप्त होगा।
  • महिलाओं के लिए दो वर्ष की छूट होगी।
  • 60 या 60 से अधिक उम्र के बुजुर्ग करतारपुर साहिब की फ्री में यात्रा कर सकेंगे।
  • दर्शन के लिए तीर्थ स्थानों की सूची में करतारपुर साहिब को प्रमुख स्थान ।
  • इस योजना से यात्री की सुविधा का विशेष ध्यान रखा गया है।
  • यहां पे 13500 लोगों के ठहरने की विशेष व्यवस्था की गई है।
  • यात्रीयों को विशेष रेल से यात्रा, खाने –पीने की सामग्री, रुकने की व्यवस्था, जहां आवश्यक हो बस से यात्रा, गाइड व अन्य सुविधाएं प्रदेश शासन, धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व विभाग से अनुबंधित इंडियन रेलवे केटरिंग एंड टूरिज्म कारपोरेशन लिमिटेड द्वारा उपलब्ध करायी जाएगीं।

महत्वपूर्ण दस्तावेज | Important Documents

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो

पात्रता | Eligibility

  • आवेदक की न्युनतम आयु 18 वर्ष होनी चाहिए।
  • महिला/ वच्चे/ वुजुर्ग इस योजना के लिए पात्र हैं।
  • महिलाओं को इस योजना के तहत 2 वर्ष की छूट होगी।
  • इसके अलावा जिनकी आयु 60 वर्ष या इससे ज्यादा है, उनके लिए यात्रा फ्री होगी।

दर्शन के लिए तीर्थ स्थानों की सूची | List of pilgrimage places for darshan

श्री बद्रीनाथ, श्री केदारनाथ,  श्री जगन्नाथपुरी,  श्री द्वारकापुरी,  हरिद्वार,  अमरनाथ,  वैष्णोदेवी,  शिर्डी, तिरुपति, अजमेर शरीफ,  काशी (वाराणसी),  गया,  अमृतसर,  रामेश्वरम्,  सम्मेद शिखर,  श्रवणबेलगोला,  वेलाकानी चर्च (नागपट्टनम ),  श्री रामदेवरा, जेसलमेर,  गंगासागर,  कामाख्या देवी,  गिरनार जी,  पटना साहिब शामिल हैं। मध्य प्रदेश के तीर्थ स्थल में उज्जैन, मैहर, श्री रामराजा मंदिर ओरछा, चित्रकूट, ओंकारेश्वर, महेश्वर आदि को भी इसमें शामिल किया गया है। इनके अलावा रामेश्वरम् -मदुरई,  तिरुपति-श्री कालहस्ती,  द्वारका-सोमनाथ,  पूरी – गंगासागर,  हरिद्वार – ऋषिकेश,  अमृतसर – वैष्णोदेवी,  काशी – गया भी शामिल हैं।

करतारपुर साहिब तीर्थ दर्शन योजना के लिए आवेदन कैसे करें | How to apply for Kartarpur Sahib Teerth Darshan Scheme

  • करतारपुर साहिब तीर्थ दर्शन योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक अधिकारिक वेब्साइट पे जाएं । 
  • अब आपको “Apply Online” बटन पे किल्क करना है।
  • यहां आपको “Nationality or select journey date” स्लेक्ट कर “Continue” वटन पे किल्क करना है।
  • यहां किल्क करने के वाद आपको दी गई जानकारी भरनी है।

  • उसके वाद आपको “Save & Continue” बटन पे किल्क करना है।
  • यहां किल्क करते ही आपका इस योजना के लिए आवेदन कर दिया जाएगा।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!