नई रोशनी योजना 2022 | ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म | प्रशिक्षण कार्यक्रम

 

|| Nai Roshni Yojana | नई रोशनी योजना | Nai Roshni Scheme Online Registration | Application Form | Training Schedule || नई रोशनी योजना को महिलाओं को आत्म-निर्भर व सशक्त वनाने के लिए भारत सरकार दवारा लागु किया गया है| इस योजना के जरिये महिलाओं को नेतृत्व विकास के लिए ज्ञान, उपकरण और तकनीक प्रदान करके उनके जीवन स्तर मे सुधार लाया जाता है| जिससे उनके कौशल को निखारने मे मदद मिलेगी और समाज मे उनकी भागीदारी भी वढ़ेगी| कैसे मिलेगा इस योजना का लाभ और इसके अंतर्गत आवेदन कैसे किया जाएगा| ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढ्ना होगा| तो आइए जानते हैं – नई रोशनी योजना के वारे मे|

Nai Roshni Yojana

Nai Roshni Yojana

भारत सरकार दवारा महिलाओं के कल्याण और उनके उत्थान के लिए नई रोशनी योजना को शुरू किया गया है| इस योजना का लाभ अल्पसंख्यक समुदाय से संबंधित महिलाओं को प्रदान किया जाएगा| इस योजना के अंतर्गत महिलाओं को विभिन्न प्रशिक्षण कार्यक्रमों के माध्यम से नेतृत्व विकास के लिए ज्ञान, उपकरण और तकनीक प्रदान की जाएगी। जिससे उन्हें नेतृत्व की भूमिकाओं को अपनाने में मदद करेगी। यह योजना महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण पर भी ध्यान केंद्रित करती है ताकि वे समाज के स्वतंत्र और आत्मविश्वासी सदस्य बन सकें। योजना के तहत विभिन्न प्रकार के नेतृत्व विकास प्रशिक्षण मॉड्यूल विकसित किए जाएंगे जिनमें जीवन कौशल, स्वास्थ्य और स्वच्छता, डिजिटल इंडिया, आर्थिक सशक्तिकरण आदि शामिल होंगे| महिलाओं को दी जाने वाले इन सुविधाओं से उन्हे आगे वढने के लिए प्रेरित किया जाएगा|  

योजना के तहत नेतृत्व विकास प्रशिक्षण मॉड्यूल

  • महिलाओं का नेतृत्व
  • सामाजिक और व्यवहार परिवर्तन के लिए वकालत
  • स्वच्छ भारत
  • महिलाओं के कानूनी अधिकार
  • जीवन कौशल
  • स्वास्थ्य और सफ़ाई
  • शैक्षिक सशक्तिकरण
  • पोषण और खाद्य सुरक्षा
  • सूचना का अधिकार
  • महिलाओं का आर्थिक सशक्तिकरण
  • डिजिटल इंडिया
  • जेंडर और महिलाएं
  • महिलाएं और ड्रूडगिरी
  • सरकारी तंत्र का परिचय

योजना का अवलोकन

योजना का नाम नई रोशनी योजना
किसके दवारा शुरू की गई भारत सरकार दवारा
विभाग अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय भारत सरकार
लाभार्थी देश की महिलाएँ
प्रदान की जाने वाली सहायता महिलाओं को सहायता प्रदान करना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट nairoshni-moma.gov.in

नई रोशनी योजना का उद्देश्य

योजना का मुख्य उद्देश्य देश की महिलाओं का नेतृत्व विकास के लिए ज्ञान, उपकरण और तकनीक प्रदान करके उन्हे आत्म-निर्भर व सशक्त वनाना है|

नई रोशनी योजना की मुख्य विशेषताएँ

  • सभी स्तरों पर सरकारी प्रणालियों, बैंकों और अन्य संस्थानों के साथ बातचीत के लिए ज्ञान, उपकरण और तकनीक शिक्षा प्रदान करना |
  • एक ही गांव / इलाके में रहने वाले अन्य समुदायों की अल्पसंख्यक महिलाओं के बीच विश्वास और सशक्तिकरण का निर्माण करना |
  • अल्पसंख्यक समुदायों की महिलाओं को सशक्त बनाना और उन्हें उनके घर और सामुदायिक सीमाओं से बाहर निकालना |
  • सामूहिक रूप से या व्यक्तिगत रूप से, सेवाओं, सुविधाओं, कौशल और अवसरों को उपलब्ध कराना |
  • सेवाओं, सुविधाओं, कौशल और अवसरों तक पहुंचने के लिए सामूहिक भूमिका और सामूहिक व्यक्तिगत रूप से लाभ प्रदान करना|
  • साथ ही उनके अधिकारों का दावा करने के अलावा उनके नियत हिस्से का दावा करने के लिए जोर देना और उनके जीवन और रहने की स्थिति में सुधार लाना|

नई रोशनी योजना के तहत प्रशिक्षण के प्रकार

नई रोशनी योजना के महिला लाभार्थीयों को 02 तरह का प्रशिक्षण दिया जाएगा जो इस प्रकार है:-

1.गैर आवासीय नेतृत्व विकास प्रशिक्षण

इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत अल्पसंख्यक समुदायों की भलाई और कल्याण के लिए समर्पित, प्रेरित और काम करने के लिए प्रतिबद्ध गांव या मोहल्ले के एक बैच में 25 महिलाओं को नेतृत्व प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। 25 महिलाओं के बैच में कुल महिलाओं में से कम से कम 10% महिलाओं को कक्षा 10वीं या इसके समकक्ष उत्तीर्ण होना चाहिए। यदि 10वीं पास करने वाली महिलाएं आसानी से उपलब्ध नहीं होती हैं तो इसे 5वीं कक्षा तक शिथिल कर दिया जाएगा। संगठन इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत प्रशिक्षणार्थियों के 5 बैचों के समूह में प्रशिक्षण के लिए प्रस्ताव प्रस्तुत नहीं कर सकते हैं। प्रशिक्षण पूरा होने के बाद, प्रशिक्षु महिलाओं के पास स्थायी आर्थिक आजीविका के अवसर प्राप्त करने के लिए अल्पकालिक कौशल प्रशिक्षण से गुजरने का विकल्प भी होगा।

2.गैर आवासीय प्रशिक्षण के तहत महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण के लिए भुगतान का तरीका

  • रोजगार पत्र या स्वरोजगार का दस्तावेजी प्रमाण प्राप्त होने पर 50% भुगतान किया जाएगा
  • मजदूरी रोजगार के मामले में लाभान्वित महिलाओं की तीन नियमित वेतन पर्ची एवं स्वरोजगार हेतु तीन माह की आय प्राप्ति का दस्तावेजी प्रमाण प्रस्तुत करने पर 50 प्रतिशत भुगतान जारी किया जायेगा।
  • इसके साथ सफलता की कहानी प्रस्तुत करने का भी समर्थन किया जाएगा|

योजना के तहत प्रशिक्षण का आयोजन

प्रशिक्षण निम्न प्रकार का होगा – 

1.गांव/शहरी इलाके में गैर आवासीय प्रशिक्षण

  • मौजूदा सुविधाओं या किराए के स्थायी ढांचे का उपयोग करके गांव या मोहल्ले में प्रशिक्षण आयोजित किया जाएगा|
  • प्रशिक्षण 6 दिनों के लिए किया जाएगा
  • प्रत्येक दिन 6 घंटे का होगा
  • प्रशिक्षु के प्रत्येक बैच में 25 महिलाएं शामिल होंगी|
  • किसी भी धार्मिक उत्सव के अवसर और मौसम की मांग से बचने के लिए प्रशिक्षण की तिथियां निर्धारित करने का ध्यान रखना संगठन की जिम्मेदारी होगी|
  • संगठन को स्थानीय भाषा में मुद्रित प्रशिक्षण सामग्री उपलब्ध कराना भी आवश्यक होगा|
  • चयनित महिला प्रशिक्षुओं को उनके बच्चों के लिए भोजन और क्रेच की व्यवस्था के साथ भत्ता भी प्रदान किया जाएगा|
  • चयनित महिला को गैर आवासीय प्रशिक्षण कार्यक्रम में नेतृत्व प्रशिक्षण एवं आर्थिक सशक्तिकरण की सुविधा भी प्रदान की जाएगी|
  • जिन महिलाओं का बैंक खाता नहीं है, कार्यान्वयन एजेंसी उनके बैंक खाते खोलकर वजीफा राशि अपने बैंक में स्थानांतरित करेगी|
  • भुगतान में लगे प्रशिक्षकों में 02 तिहाई महिलाएं होनी चाहिए|
  • प्रशिक्षकों को क्षेत्र की स्थानीय भाषा में अपने इनपुट देने में सक्षम होना होगा|

2.आवासीय नेतृत्व विकास प्रशिक्षण

  • आवासीय प्रशिक्षण संस्थानों में महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा|
  • संस्थान में कम से कम 25 महिलाओं के रहने और खाने की व्यवस्था होगी|
  • प्रशिक्षण की अवधि 05 दिनों की होगी
  • प्रत्येक दिन 7 घंटे का होगा|
  • प्रत्येक बैच में 25 प्रशिक्षु शामिल होंगे|
  • स्थानीय भाषा में मुद्रण प्रशिक्षण सामग्री उपलब्ध कराने के लिए संगठन की आवश्यकता है|
  • किसी भी धार्मिक उत्सव के अवसर और मौसम की मांग से बचने के लिए प्रशिक्षण की तिथियों को संगठन निर्धारित करेगा|
  • यह योजना प्रशिक्षण की पूरी फीस को कवर करेगी|
  • प्रशिक्षु को प्रशिक्षण की अवधि के लिए भत्ता देने की सुविधा भी प्रदान की जाएगी|
  • महिलाओं के बैंक खाता न होने पर कार्यान्वयन एजेंसी उनके बैंक खाते को खोलेगी और राशि अपने बैंक में जमा करेगी|

आवश्यक दिशा-निर्देश

  • वे महिलाएं जो नेतृत्व विकास प्रशिक्षण से गुजरेंगी, वे योजना के उद्देश्य को प्राप्त करने की दिशा में काम करेंगी|
  • संगठन को गैर आवासीय प्रशिक्षण के तहत एक वर्ष की अवधि के लिए पोषण और हाथ पकड़ना आवश्यक है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि सशक्त महिला स्वतंत्र है या नही|
  • सहायता प्रदान करने वाले और सहायता प्रदान करने वाली सेवाओं के लिए लगे सूत्रधारों को निर्धारित समय के भीतर गाँव या शहरी इलाके का दौरा करना और अपने कार्यों को पूरा किया जाना चाहिए|
  • यह प्रशिक्षण उन महिलाओं को प्रदान किया जाएगा जिन्होंने नेतृत्व विकास प्रशिक्षण प्राप्त किया है|
  • प्रशिक्षुओं के समूह में से महिला मंडल, महिला सभा, स्वयं सहायता समूह आदि का गठन किया जाएगा
  • महिला मंडल, महिला सभा, स्वयं सहायता समूहों के साथ नियमित बैठकें होंगी
  • एजेंसी द्वारा बैठकों, उपस्थिति, फोटोग्राफ आदि का रिकॉर्ड रखा जाएगा|

नई रोशनी योजना के तहत कार्यशाला

  • प्रशिक्षण संगठन को जिला कलेक्टर/उपायुक्त/उपमंडल अधिकारी/प्रखंड विकास अधिकारी के सहयोग से आधे दिन की कार्यशाला आयोजित करना आवश्यक है|
  • यह कार्यशाला जिला/उपमंडल/ब्लॉक स्तर आदि पर सरकारी पदाधिकारियों, पंचायती राज पदाधिकारियों सहित बैंकरों आदि के साथ आयोजित की जाएगी।
  • सरकारी पदाधिकारियों को सुधारात्मक कार्रवाई के बारे में सूचित किया जाएगा जो महिलाओं के समूह द्वारा मांगी जाएगी कि समस्याओं और शिकायतों को कैसे दूर किया जाए।
  • यदि किसी एक जिले में एक से अधिक संगठन इस योजना को लागू करने के लिए स्वीकृत होते हैं तो जिला प्रशासक कार्यशाला आयोजित करने की जिम्मेदारी चयनित संगठनों में से किसी एक को देगा।
  • यह सुनिश्चित करना चयनित संगठन की जिम्मेदारी होगी, कि अन्य संगठन भी कार्यशाला में भाग लें|
  • कार्यशाला आयोजित करने के लिए संगठन को 15000 रुपये की राशि स्वीकार्य की जाएगी|
  • इसके अलावा अल्पसंख्यक मामलों का मंत्रालय स्वरोजगार, मजदूरी रोजगार, अनुभव आदि के अवसरों के बारे में योजना के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए PIA और लाभार्थियों को संवेदनशील बनाने के लिए कार्यशाला भी आयोजित कर सकता है।
  • अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय ऐसी कार्यशाला आयोजित करने के लिए अधिकतम 125000 रुपये की राशि वितरित करेगा|

योजना के तहत महिलाओं को प्रदान की जाने वाली सहायता

  • योजना के तहत उपर्युक्त लाभों के अलावा संगठन को उन महिलाओं की पहचान करने की आवश्यकता है जो स्थायी आर्थिक रोजगार के अवसर को तलाश कर रही हैं|
  • पहचान के बाद संगठन चुनी हुई महिलाओं को अल्पकालिक प्रशिक्षण प्रदान करेगा|
  • प्रशिक्षण पूरा होने के बाद महिलाओं को उपयुक्त मजदूरी रोजगार पाने के लिए या एकमात्र मालिक के रूप में स्वरोजगार के लिए समर्थन दिया जाएगा
  • मार्केटिंग प्लेटफॉर्म पर भी महिलाओं की मदद संगठन दवारा की जाएगी|
  • महिलाओं को इस तरह का प्रशिक्षण देने वाली संस्था को प्रति व्यक्ति 1500 रुपये की राशि प्रदान की जाएगी
  • रोजगार पत्र या स्वरोजगार के दस्तावेजी प्रमाण प्राप्त होने पर 50% भुगतान किया जाएगा|
  • भुगतान का 50% वेतन रोजगार के मामले में लाभान्वित महिलाओं की 03 नियमित वेतन पर्ची और स्वरोजगार के लिए तीन महीने की आय का दस्तावेजी प्रमाण प्रस्तुत करने के बाद जारी किया जाएगा।

विकलांग अल्पसंख्यक महिलाओं को दी जाने वाली सहायता

  • शारीरिक रूप से विकलांग अल्पसंख्यक महिलाओं की पहचान की जाएगी|
  • संगठन दवारा इन महिलाओं को किसी तरह का प्रशिक्षण देकर उन्हें रोजगार से जोड़ा जाएगा| इसमें झाडू बनाना, सिलाई, कढ़ाई, सैनिटरी नैपकिन बनाना, मशरूम की खेती, अचार/पापड़ बनाना, डोना पत्तल बनाना जैसे रोजगार शामिल होंगे|
  • पहचान की गई विकलांग महिला की सूची के साथ उनके प्रमाण पत्र की प्रति और जिस व्यापार में उन्हें प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा, उससे संबंधित दस्तावेजो को मंत्रालय मे भेजा जाएगा|
  • विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम की अवधि 1 से 3 माह होगी|
  • इस प्रशिक्षण में एक महीने का प्रशिक्षण और स्थानीय बाजार के साथ अपनी उपज बेचने के लिए जुड़ाव भी शामिल होंगे|
  • मंत्रालय कार्यक्रम के लिए प्रति महिला को 10000 रुपये की राशि प्रदान करेगा|
  • ये राशि दो किस्तों में जारी की जाएगी|
  • 50 प्रतिशत भुगतान शारीरिक रूप से हस्तशिल्प महिलाओं की सूची उनके प्रमाण पत्र और व्यापार के साथ प्रस्तुत करने के बाद जारी किया जाएगा |
  • महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण की पुष्टि एवं प्रशिक्षण पूर्ण होने पर उन्हे 50 प्रतिशत भुगतान जारी किया जाएगा|
  • बैंक लेनदेन पर ज्ञान साझा करने से महिलाओं की बचत की आदतों को भी प्रोत्साहित किया जाएगा|

नई रोशनी योजना के तहत लक्ष्य समूह और वितरण प्रक्रिया

  • अल्पसंख्यक समुदाय से संबंधित महिलाएं जो मुस्लिम, सिख, ईसाई, बौद्ध, पारसी और जैन हैं उन्हे इस योजना का लाभ दिया जाएगा|
  • इसके अलावा योजनान्तर्गत गैर अल्पसंख्यक समुदाय की महिलाओं को भी परियोजना प्रस्ताव की अधिकतम 25 प्रतिशत सीमा तक लाभ मिलेगा|
  • संगठन 25% समूह के अंतर्गत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, विकलांग महिलाओं और अन्य समुदाय की महिलाओं के प्रतिनिधि मिश्रण के लिए प्रयास करेगी|
  • संस्था पंचायती राज संस्था के अंतर्गत किसी भी समुदाय की चुनी हुई महिला प्रतिनिधियों को प्रशिक्षु के रूप में शामिल करेगी|

नई रोशनी योजना के तहत संगठन की पात्रता

  • आवासीय प्रशिक्षण की व्यवस्था करने के लिए संगठन के पास पूर्व अनुभव और संसाधन होने चाहिए|
  • गांव या इलाकों में प्रशिक्षण करने के लिए संगठन के पास पहुंच, प्रेरणा, समर्पण, जनशक्ति और संसाधन होने चाहिए|
  • चयनित संगठन पात्र महिलाओं के लिए आवासीय प्रशिक्षण पाठ्यक्रमों की व्यवस्था करेंगे|
  • संगठनो को लक्ष्य समूह के सूत्रधारों की उपलब्धता में निरंतर शामिल होना चाहिए|
  • संगठन के कर्मियों को समय-समय पर गांव या मोहल्ले का दौरा करना होगा|
योजना के तहत पात्र संगठन
  • सोसायटी पंजीकरण अधिनियम 1860 के तहत पंजीकृत सोसायटी
  • उस समय से लागू किसी भी कानून के तहत पंजीकृत सार्वजनिक ट्रस्ट
  • भारतीय कंपनी अधिनियम 1956 की धारा 25 के तहत पंजीकृत प्राइवेट लिमिटेड गैर लाभकारी कंपनियां
  • विश्वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय/उच्च शिक्षण संस्थान
  • पंचायती राज प्रशिक्षण संस्थान सहित केंद्र और राज्य सरकार / केंद्र शासित प्रदेश प्रशासन का प्रशिक्षण संस्थान
  • महिलाओं/स्वयं सहायता समूहों की विधिवत पंजीकृत सहकारी समितियां
  • राज्य सरकार की राज्य चैनलाइजिंग एजेंसियां
कार्यान्वयन प्रक्रिया
  • अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय संगठनों के माध्यम से नेतृत्व विकास प्रशिक्षण योजना लागू की गई है|
  • संगठनों से अपेक्षा की जाती है कि वे परियोजना को सीधे अपने सेटअप के माध्यम से इलाके या गाँव के क्षेत्र में लागू करें|
नई रोशनी योजना के लिए पात्रता
  • आवेदक को देश का स्थायी निवासी होना चाहिए|
  • आवेदक महिला होनी चाहिए|
  • अल्पसंख्यक समुदाय से संबंधित महिलाएं योजना का लाभ लेने के लिए पात्र हैं|
  • जिन महिलाओं की पारिवारिक आय 2.5 लाख या इससे कम होगी उन्हें वरीयता दी जाएगी
  • महिलाओं की उम्र 18 से 65 साल के बीच होनी चाहिए|
संगठन के चयन के लिए पात्रता मानदंड
  • संगठन को विधिवत पंजीकृत होना चाहिए और कम से कम तीन वर्षों से संचालन में होना चाहिए|
  • संगठन वित्तीय रूप से व्यवहार्य होना चाहिए और पिछले तीन वर्षों के दौरान घाटा खाता नहीं होना चाहिए|
  • संगठन को पिछले 3 वर्षों के विधिवत लेखा परीक्षित वार्षिक खातों को अपलोड किया होना चाहिए|
  • महिलाओं के विकास के लिए विशेष रूप से कम से कम एक परियोजना संगठन द्वारा पहले शुरू की जानी चाहिए|
  • जिला कलेक्टर या शहरी स्थानीय निकाय या स्थानीय अधिकारियों द्वारा प्रमाणित स्थानीय जमीनी स्तर के संगठन को वरीयता दी जाएगी
  • संगठन में कम से कम 3 प्रमुख प्रशिक्षण कर्मी होने चाहिए जो कम से कम स्नातक या स्नातक डिप्लोमा धारक होने चाहिए|
  • संगठन को किसी भी सरकारी विभाग या एजेंसी द्वारा काली सूची में नहीं डाला जाना चाहिए
  • संगठन या उसके किसी भी प्रमुख को किसी भी आपराधिक अपराध के लिए दोषी नहीं ठहराया जाना चाहिए|
  • नोटरी द्वारा प्रमाणित एक हलफनामा प्रदान किया जाना चाहिए
  • यदि संगठन आवासीय प्रशिक्षण प्रदान कर रहा है और संगठन के पास सभी आवश्यक आवासीय बोर्डिंग सुविधाएं होनी चाहिए जो कम से कम 25 प्रशिक्षुओं के लिए पर्याप्त होंगी।
  • यदि हिमालयी क्षेत्र, सुलभ भूभाग, उत्तर पूर्व राज्य या केंद्र शासित प्रदेशों से परियोजना कार्यान्वयन एजेंसी से पर्याप्त संख्या में आवेदन प्राप्त नहीं होते हैं तो सचिव चयन मानदंड में छूट दे सकते हैं|
आवश्यक दस्तावेज़
  • आधार कार्ड
  • आवास प्रमाण पत्र
  • 10वीं या 12वीं की मार्कशीट
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी
  • बैंक खाता
  • पासपोर्ट साइज फोटो
नई रोशनी योजना के तहत पंजीकरण करने के लिए आवश्यक दस्तावेज
  • संगठन के अस्तित्व और संचालन के वर्षों की संख्या
  • महिलाओं के विकास के लिए संगठन द्वारा कार्यान्वित परियोजनाओं की संख्या
  • किसी भी मान्यता प्राप्त एजेंसी द्वारा मूल्यांकन संस्थान का प्रदर्शन रिकॉर्ड
  • समान सांस्कृतिक वातावरण के क्षेत्र/क्षेत्र/इलाके में संगठन द्वारा कार्यान्वित परियोजनाओं की संख्या
  • सामाजिक कार्य में स्नातक या स्नातकोत्तर डिग्री के साथ संगठन के लिए काम करने वाले प्रमुख कर्मियों की संख्या
  • संगठन के लिए काम करने वाली फील्ड महिला वर्कर्स फैसिलिटेटर्स की संख्या
  • संगठन द्वारा शुरू की गई संयुक्त राष्ट्र द्वारा वित्त पोषित परियोजनाओं के लिए सरकारी, द्विपक्षीय और बहुपक्षीय वित्त पोषण एजेंसियों संस्थानों की परियोजनाओं की संख्या
एजेंसी शुल्क
  • संगठन परियोजना के उचित समय पर और सफल कार्यान्वयन के लिए प्रदान की गई सेवाओं के लिए गैर-आवासीय गांव या शहरी इलाके के प्रशिक्षण के एक बैच के लिए एजेंसी शुल्क के रूप में 6000 रुपये की राशि का हकदार होगा।
  • आवासीय प्रशिक्षण के मामले में प्रशिक्षुओं के एक बैच के लिए 15000 रुपये की राशि एजेंसी शुल्क के लिए प्रदान होगी|
नई रोशनी योजना के तहत निर्धारित वित्तीय मानदंड

1.महिलाओं के लिए गांव/मोहल्ले में गैर आवासीय नेतृत्व विकास प्रशिक्षण के लिए दरों का विवरण

Items of expenditure for leadership development training program

Number of Persons Amount (Rs) Duration/units

Total cost (in Rs)

Fees/honorarium for engaging faculty members/resource person

2 750/- 6 days

9000/-

To and fro transportation cost for faculty member/resource person

2 2500/- 3 occasions

15000/-

Lodging cost for faculty member

2 500/- 6 days

6000/-

Hiring of venue furniture and creche facility

1000/- 6 days

6000/-

Cost of one meal for training women

25 100/- 6 launches

15000/-

Cost for using for hiring audio visual aids, participatory training kits, and taking audio visual clips of different activity of report

2000/- 6 days

12000/-

Cost of distribution of training material, literature in local language and stationery

25 400/- One Time

10000/-

Allowance or stipend for women

25 100/- 6 days

15000/-

Cost of motivation, identification and selection of eligible women’s

25 50/- One Time

1250/-

Cost of hand holding/nurturing by facilitators for project period including concurrent monitoring and reporting

800/- Once a month for 12 months

9600/-

Ad agency fees/charges for one batch (25 women) of village training

6000/-

6000/-

Total

      104850/-

2.महिलाओं के लिए गांव या मोहल्ले में आवासीय नेतृत्व विकास प्रशिक्षण के लिए दरों का विवरण

Items of expenditure for leadership development training program

Number of Persons Amount (Rs) Duration/units

Total cost (in Rs)

Includes fees, boarding, food etc (actuals to be reimbursed)

25 1200/- 5 days

150,000/-

Literature, training, material, information, booklets, copies of government schemes and programmes, relevant laws and acts, stationary

25 600/- One Time

15,000/-

Indicative transport expenditure (actuals to be reimbursed)

25 1000/- One return trip

25,000/-

Allowance/stipend for women (to be electronically transferred into the account of the trainee)

25 150/- 5 days

18,750/-

Cost of motivation, identification and selection of eligible women

25 50/- One Time

1,250/-

Add agency fees/charges for one batch (25 women) of residential training

15,000/-

Total

225,000/-

वित्तीय और भौतिक लक्ष्य
  • पर्याप्त अल्पसंख्यक आबादी वाले जिलों, ब्लॉकों, कस्बों, शहरों पर विशेष ध्यान दिया जाएगा|
  • इस योजना से प्रत्येक वित्तीय वर्ष में 50,000 महिलाओं को कवर किया जाएगा|
  • प्रशासनिक व्यय को पूरा करने के लिए वार्षिक आवंटन का 3% अलग रखा जाएगा|
नई रोशनी योजना के तहत पंजीकरण के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी
  • संगठनों को ऑनलाइन आवेदन प्रबंधन प्रणाली पोर्टल पर पंजीकरण करना आवश्यक है|
  • संगठन केवल एक बार पंजीकरण कर सकते हैं|
  • पंजीकरण संगठन के पंजीकृत मोबाइल नंबर पर वन टाइम पासवर्ड गेटवे के माध्यम से किया जाएगा|
  • पंजीकरण के बाद, संगठनों को अपने अनुरोध को संसाधित करने के लिए संगठन के बारे में सभी जानकारी अपलोड करने और अपना आवेदन ऑनलाइन जमा करने की आवश्यकता होगी|
नई रोशनी योजना के तहत प्रस्ताव प्रस्तुत करना
  • ऑनलाइन आवेदन प्रबंधन प्रणाली के माध्यम से प्रस्ताव निर्धारित प्रारूप में प्रस्तुत किया जाएगा
  • प्रस्ताव का एक प्रिंट भी निर्धारित प्रारूप में उनकी सिफारिश के लिए जिला कलेक्टर या जिला मजिस्ट्रेट को भी प्रस्तुत किया जाएगा|
  • जिला प्रशासक को निर्धारित प्रारूप के अनुसार क्रेडेंशियल्स का पता लगाना आवश्यक है|
  • जिला कलेक्टर या मजिस्ट्रेट संबंधित संस्था को अनुशंसा की एक प्रति भी प्रस्तुत करेंगे|
  • संस्था पोर्टल के माध्यम से अनुशंसा की स्कैन की हुई प्रति प्रस्तुत करेगी और ऑनलाइन आवेदन जमा करने की प्रक्रिया को पूरा करेगी
  • प्रस्ताव को स्वीकृति समिति के विचार एवं अनुमोदन के समक्ष रखा जायेगा
  • उन संस्थाओं को वित्तीय सहायता दी जाएगी जिनका परियोजना प्रस्ताव सही पाया जाएगा और योजना के उद्देश्य की पूर्ति करेगा|
नई रोशनी योजना के तहत प्रस्तावों का मूल्यांकन
  • पात्रता मानदंडों को पूरा करने वाले सभी संगठन डेटा की मंत्रालय द्वारा जांच की जाएगी और मंजूरी समिति के समक्ष रखी जाएगी|
  • 2011 की जनगणना के कोटे के अनुसार पर्याप्त प्रतिनिधित्व के चयन में सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए पालना की जाएगी |
  • यदि राज्य या केंद्र शासित प्रदेश में अल्पसंख्यक महिलाओं के समग्र भौतिक लक्ष्य का उपयोग नहीं किया जाता है तो इसे अन्य राज्य और केंद्र शासित प्रदेश में अल्पसंख्यक समुदाय के बीच वितरित किया जाएगा।
पैनल में शामिल करने और निधि जारी करने के लिए नियम और शर्तें
  • संगठन के पास एक वेबसाइट होनी चाहिए जो संगठन के सभी विवरण प्रदर्शित करे|
  • संगठन को सभी दैनिक गतिविधियों की तस्वीरें लेने और पोर्टल पर अपलोड करने की आवश्यकता होगी|
  • गांव और इलाकों में परियोजना प्रस्ताव के कार्यान्वयन के लिए संगठन को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि जहां तक ​​संभव हो अधिकांश प्रशिक्षकों को तैनात किया जाए और उनमें से कुछ संबंधित अल्पसंख्यक समुदायों से हों।
  • सहायता अनुदान जारी करने से पहले सरकार को कोई अन्य शर्तें निर्धारित करने का अधिकार होगा
  • भारत सरकार संगठन को कार्यक्रम में या अनुमानित लागत में कोई भी बदलाव करने के लिए निर्देशित कर सकती है
  • संगठन को प्रशिक्षण कार्यक्रम के संबंध में स्थानीय भाषा में पैम्फलेट, प्रचार सामग्री आदि की प्रतियां प्रस्तुत करना आवश्यक होगा|
  • प्रशिक्षण कार्यक्रम या कार्यशाला आयोजित करने के साक्ष्य के रूप में फोटोग्राफ, वीडियो क्लिपिंग आदि भी मंत्रालय को प्रस्तुत की जाएगी|
  • प्रशिक्षण कार्यक्रम का निरीक्षण करने के लिए प्रतिनियुक्त अधिकारियों को सक्षम करने हेतु संगठन को प्रशिक्षण कार्यक्रम की पूर्व सूचना देनी होगी|
  • संगठन को बैनर या बोर्ड लगाने की भी आवश्यकता होगी, जो दर्शाता है कि प्रशिक्षण अल्पसंख्यक मामलों के मंत्रालय भारत सरकार द्वारा आयोजित किया गया है|
  • प्रशिक्षण के पूरा होने पर संगठन को उपयोगिता प्रमाण पत्र और लेखा परीक्षा लेखा प्रस्तुत करना आवश्यक है जो निम्नलिखित दस्तावेज के साथ चार्टर्ड एकाउंटेंट द्वारा प्रमाणित है: –
  • वर्ष के दौरान प्राप्त धन के संबंध में, संगठन की प्राप्ति और भुगतान खाते सहित वर्ष के लिए लेखा परीक्षित आय और व्यय विवरण/खाता/बैलेंस शीट
  • इस आशय का प्रमाण पत्र कि संगठन को भारत सरकार के किसी अन्य मंत्रालय/विभाग/राज्य सरकार/संघ राज्य क्षेत्र प्रशासन या किसी अन्य सरकारी/गैर सरकारी संगठन/द्विपक्षीय/बहुपक्षीय/वित्त पोषण से उसी परियोजना के लिए कोई अन्य अनुदान प्राप्त नहीं हुआ है।
  • चयनित महिलाओं की पात्रता मानदंड सुनिश्चित करना संगठन की जिम्मेदारी होगी|
  • संगठन को एक वचन पत्र प्रस्तुत करना आवश्यक है जिसमें यह उल्लेख किया जाना चाहिए कि इस परियोजना के लिए पुस्तक अधिकारियों द्वारा निरीक्षण के लिए खुली रहेगी
  • संगठन द्वारा वचनबद्धता प्रस्तुत करना आवश्यक है कि इस शर्त के उल्लंघन में कार्य करने की स्थिति में सरकार से प्राप्त राशि को 18% वार्षिक पैनल ब्याज या मुख्य लेखा नियंत्रक द्वारा निर्धारित पैनल ब्याज के साथ वापस कर देगा।
  • संगठन को केवल निर्दिष्ट उद्देश्य के लिए वित्तीय सहायता का उपयोग करने की आवश्यकता है
  • अल्पसंख्यक मामलों के मंत्रालय द्वारा जारी वित्तीय सहायता के लिए संगठन द्वारा एक अलग खाता बनाए रखने की आवश्यकता होगी और आवश्यकता पड़ने पर मंत्रालय को खाते की पुस्तक उपलब्ध करवाई जाएगी|
  • संगठन के पास सभी महत्वपूर्ण गतिविधियों की तस्वीरें लेने के लिए एक वैश्विक स्थिति प्रणाली डिजिटल कैमरा होना चाहिए|
नई रोशनी योजना के तहत धनराशि जारी करने की प्रक्रिया

1.गैर-आवासीय गांव/शहरी इलाके प्रशिक्षण के लिए:

पहली किस्त-

प्रशिक्षण शुरू होने से पहले अनुमोदित परियोजना लागत का 50% जारी किया जाएगा। संगठन यह भी सुनिश्चित करेगा कि इस विज्ञप्ति में प्रशिक्षण और भत्ते के संचालन के लिए व्यय शामिल है। यदि संगठन कार्यशाला आयोजित करना चाहता है तो आवश्यक होने पर पहली किश्त के साथ एकमुश्त राशि को जारी किया जाएगा|

दूसरी किस्त-

परियोजना के लेखाओं के लेखापरीक्षित विवरण के साथ उपयोगिता प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने के बाद, प्रशिक्षण पाठ्यक्रम के संतोषजनक समापन का प्रमाण पत्र महिला प्रशिक्षु द्वारा विधिवत हस्ताक्षरित और पंचायत / नगर निकाय / स्थानीय प्राधिकरण के प्रमुख द्वारा प्रतिहस्ताक्षरित और दिशा-निर्देशों के अनुसार अन्य दस्तावेज , अनुमोदित परियोजना लागत/प्रशिक्षण कार्यक्रम के संचालन पर होने वाली स्वीकार्य लागत का 40% जारी किया जाएगा। ये दस्तावेज पोर्टल के माध्यम से जमा किए जाएंगे।

तीसरी किस्त-

परियोजना पूर्णता रिपोर्ट प्रस्तुत करने के बाद, पंचायत / नगर निकाय / स्थानीय प्राधिकरण के प्रमुख द्वारा प्रतिहस्ताक्षरित हैंडहोल्डिंग या पोषण का विवरण और दिशानिर्देशों के अनुसार उपयोग प्रमाण पत्र और अन्य दस्तावेज जमा करने के बाद अनुमोदित परियोजना लागत का 10% होगा । ये दस्तावेज पोर्टल के माध्यम से जमा किए जाएंगे|

2.आवासीय प्रशिक्षण के लिए

पहली किस्त-

प्रशिक्षण शुरू होने से पहले अनुमोदित परियोजना लागत का 50% जारी किया जाएगा। इस विज्ञप्ति में प्रशिक्षण और भत्ते के संचालन का खर्च शामिल होगा। किसी भी प्रकार की कार्यशाला आयोजित करने का व्यय यदि आवश्यक हुआ तो प्रथम किश्त के साथ एकमुश्त जारी की जाएगी |

दूसरी किस्त-

परियोजना के लेखा परीक्षित विवरण के साथ उपयोगिता प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने पर, सभी महिला प्रशिक्षुओं द्वारा विधिवत हस्ताक्षरित प्रशिक्षण पाठ्यक्रम के संतोषजनक समापन का प्रमाण पत्र और पंचायत / नगर निकाय / स्थानीय प्राधिकरण के प्रमुख द्वारा प्रतिहस्ताक्षरित और अन्य दस्तावेज के अनुसार दिशानिर्देश, प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करने पर होने वाली स्वीकृत परियोजना लागत का 50% जारी किया जाएगा|

इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर
  • धन बैंक द्वारा इलेक्ट्रॉनिक रूप से स्थानांतरित किया जाएगा
  • संगठनों को PFMS के माध्यम से ई भुगतान को सक्षम करने के लिए आदाता से एक प्राधिकरण पत्र प्रस्तुत करना आवश्यक होगा, जिसमें संगठन के ई भुगतान का पूरा विवरण शामिल होना चाहिए|
  • स्टाइपेबड राशि के गलत क्रेडिट से बचने के लिए प्राधिकरण पत्र को निर्धारित प्रारूप में पोर्टल पर अपलोड करना और संबंधित बैंक शाखा के प्रबंधक द्वारा प्रतिहस्ताक्षरित किया जाना चाहिए|
  • सही खाता संख्या प्रदान करना संगठन की जिम्मेदारी होगी|
नई रोशनी योजना के तहत पारदर्शिता
  • संगठन की एक वेबसाइट होनी चाहिए
  • संगठन की वेबसाइट पर संगठन का विवरण, प्रधान कार्यालय, फील्ड कार्यालय, लैंडलाइन, टेलीफोन नंबर, पिछले संचालन और गतिविधियों का व्यक्तिगत विवरण आदि प्रदर्शित किया जाना चाहिए।
  • ऑनलाइन प्रबंधन आवेदन प्रणाली के वेब पोर्टल पर अल्पसंख्यक मामलों का मंत्रालय परियोजना को लागू करने वाले संगठन, स्वीकृत परियोजना, परियोजना का स्थान, एमआईएस, वित्त आदि का विवरण पोस्ट करेगा।
नई रोशनी योजना की निगरानी और मूल्यांकन
  • संगठन द्वारा परियोजना की प्रगति और कार्यान्वयन की निगरानी के लिए तंत्र मंत्रालय संबंधित राज्य के अधिकारियों या प्रतिष्ठित महिलाओं या गैर सरकारी संगठनों को समीक्षा बैठक में आमंत्रित करेगा।
  • स्वीकृति समिति द्वारा योजना की प्रगति की भी समीक्षा की जायेगी
  • बहुक्षेत्रीय विकास कार्यक्रम के तहत जिला स्तरीय समिति का गठन किया जाएगा| इसके अलावा कार्यक्रम की निगरानी भी की जाएगी|
  • जिला स्तरीय कमेटी में जनप्रतिनिधि भी शामिल होंगे|
  • चार्टर्ड एकाउंटेंट कार्यान्वयन संगठन की वित्तीय निगरानी के लिए भी जिम्मेदार होंगे
  • योजना का मध्यावधि का मूल्यांकन भी किया जाएगा
  • मध्यावधि मूल्यांकन के माध्यम से मंत्रालय किसी विशेष क्षेत्र में प्रशिक्षण मॉड्यूल की आवश्यकता, प्रशिक्षण की वित्तीय व्यवहार्यता, किसी संगठन द्वारा प्रशिक्षित की जा सकने वाली महिलाओं की अधिकतम संख्या आदि की समीक्षा करेगा।
  • मंत्रालय की पैनल में शामिल एजेंसी समय-समय पर या जब भी आवश्यक हो, परियोजना के प्रभाव मूल्यांकन और मूल्यांकन करेगी
  • इस तरह के अध्ययनों को मंत्रालय के अनुसंधान और अध्ययन, निगरानी और मूल्यांकन की मौजूदा योजनाओं के तहत वित्त पोषित किया जाएगा
योजना की समीक्षा
  • अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय समय-समय पर योजना के क्रियान्वयन की समीक्षा करेगा
  • कार्यान्वयन में सुधार के लिए मंत्रालय जब भी आवश्यक हो, योजना में कोई भी बदलाव या संशोधन कर सकता है
  • लक्ष्य समूहों की राष्ट्रीय, क्षेत्रीय आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए परिवर्तन किए जाएंगे|
Nai Roshni Scheme के लिए कैसे करे आवेदन

Nai Roshni Yojana online

  • अब आपको Login सेकशन मे जाकर New User Registration के विकल्प पे किलक करना है|

Nai Roshni Yojana registration

  • फिर आपको Proceed के ओप्शन पे किलक कर देना है|

Nai Roshni proceed

  • अब आपके सामने आवेदन फॉर्म खुलके आएगा|

Nai Roshni Yojana form

  • इस फॉर्म मे आपको पुछी गई सारी जानकारी दर्ज करनी है और जरूरी दस्तावेज भी अपलोड करने हैं|
  • सारी प्रक्रिया होने के बाद आपको अंत मे Submit के बटन पे किलक कर देना है|
  • इस प्रक्रिया का पालन करके आप योजना के अंतर्गत सफलतापूर्वक आवेदन कर सकोगे|
Login कैसे करे

Nai Roshni login

  • अब आपको Login सेकशन मे जाकर User Name / Password दर्ज करके Login कर देना है|
  • इस प्रक्रिया का पालन करके आप पोर्टल पर Login कर सकोगे|     
प्रशिक्षण कार्यक्रम देखने की प्रक्रिया
  • सवसे पहले पात्र लाभार्थी को आधिकारिक वेबसाइट पे जाना होगा| 
  • अब आपको “Training Schedule” के विकल्प पे किलक करना होगा| 
  • उसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा|

Nai Roshni yojana

  • यहाँ आपको Year / State/ District / Organization Name भरके Filter बटन पे किलक कर देना है|
  • जैसे ही आप इस बटन पे किलक करोगे तो सवन्धित जानकारी आपके कम्प्यूटर स्क्रीन पे आ जाएगी|
Important Downloads

आशा करता हूँ आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी| आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेट और लाइक जरूर करे|

Last Updated on August 20, 2022 by Abinash

error: Content is protected !!