Updated : Feb 19, 2020 in Yojana

वन स्टॉप सेंटर योजना | पूरी जानकारी | कैसे करें आवेदन

वन स्टॉप सेंटर योजना | One Stop Center Scheme

 

देश में महिलाओं को सुरक्षा प्रदान करने के लिए वन स्टॉप सेंटर योजना को शुरु किया गया है। इस योजना के तहत किसी भी प्रकार की हिंसा से पीड़ित महिला को कानूनी सहायता, पुलिस सहायता, 5 दिन का अस्थाई आश्रय और रहना-खाना नि:शुल्क उपलब्ध करवाया जाएगा। महिलाओं को जागरूक करने के लिए विभिन्न स्थानों पर जागरूकता कार्यक्रम भी चलाए जा रहे हैं। ताकि पीड़ित महिलाओं की मदद की जा सके। इस योजना में घरेलू हिसा के अंतर्गत मारपीट, दुष्कर्म, लैंगिक उत्पीड़न, भावनात्मक उत्पीड़न, बाल विवाह, महिला तस्करी, दहेज उत्पीड़न, एसिड अटैक, साइबर क्राइम, लावारिस महिलाएं, बच्चे व महिलाओं से संबंधित अन्य अपराध शामिल हैं। वन स्टॉप सेंटर को 181 और अन्य मौजूदा हेल्पलाइन के साथ एकीकृत किया गया है और हिंसा से प्रभावित और निवारण सेवाओं की आवश्यकता वाली महिलाओं को इन हेल्पलाइनों के माध्यम से वन स्टॉप सेंटर पर सहायता के लिए भेजा जाएगा। 18 वर्ष से कम उम्र की लड़कियों सहित सभी महिलाएं इस योजना का लाभ ले सकती हैं। इस योजना से महिलाएं खुद को सुरक्षित महसूस करेगी, महिलाओं को न्याय मिलेगा और जो दोषी है उसे सजा मिलेगी।  

उद्देश्य | An Objective

वन स्टॉप सेंटर योजना का मुख्य उद्देश्य किसी भी प्रकार की हिंसा से पीड़ित महिला को सुरक्षा प्रदान करने के लिए वन स्टॉप सेंटर में सहायता उपलव्ध करवाना है।

पात्रता | Eligibility

  • देश के स्थायी निवासी
  • किसी भी प्रकार की हिंसा से पीड़ित महिला

लाभ | Benefits

  • वन स्टॉप सेंटर योजना का लाभ देश की उन महिलाओं को मिलेगा जो किसी भी प्रकार की हिंसा का शिकार हुई हैं।
  • इस योजना से पीडित महिलाओं को समाजिक सुरक्षा प्रदान होगी।
  • पीडित महिलाओं को कानूनी सहायता, पुलिस सहायता, 5 दिन का अस्थाई आश्रय और रहना-खाना जैसी सुविधा नि:शुल्क उपलब्ध करवाई जाएगी।
  • महिलाओं को जागरुक करने के लिए जागरुकता अभियान चलाए जाएगें।
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए पीडित महिला को 181 नम्वर पर संपर्क करना है।
  • इस योजना का लाभ 18 वर्ष से कम उम्र की पीडित लड़कियों सहित सभी महिलाएं उठाएगी।

  • इस योजना के लिए लाभार्थी वन स्टॉप सेंटर में आप-वीति वताकर लाभ उठा सकती हैं।
  • वन स्टॉप सेंटर 24 घटें आपकी सेवा के लिए उपलव्ध है।
  • इस योजना से पीडित महिलाओं को न्याय मिलेगा और दोषी को सजा सुनाई जाती है।
  • इस योजना के तहत विना भेदभाव के न्याय मिलता है।

पीडित महिलाओं को मिलने वाली सहायता | Assistance to victimized women

  • चिकित्सा सहायता
  • पुलिस सहायता
  • मनो-सामाजिक समर्थन / परामर्श
  • कानूनी सहायता / परामर्श
  • आश्रय
  • वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग सुविधा

वन स्टॉप सेंटर की निगरानी के लिए संस्थागत व्यवस्था | Institutional arrangement for monitoring of one stop center

  • राष्ट्रीय स्तर पर
  • राज्य स्तर पर
  • जिला स्तर पर

वन स्टॉप सेंटर योजना के तहत प्रमुख हितधारकों की भूमिका और जिम्मेदारियां | Role and responsibilities of key stakeholders under One Stop Center Scheme

  • स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय / राज्य / जिला
  • गृह मंत्रालय / राज्य / जिला
  • कानून और न्याय मंत्रालय / NLSA/ SLSA/ DLSA

वन स्टॉप सेंटरों का निर्माण | Construction of the One Stop Centres

  • प्लॉट एरिया – 300 वर्ग मीटर
  • ग्राउंड कवरेज – 102.00 वर्ग मीटर
  • कुल क्षेत्रफल – 132 वर्ग मीटर
  • वन स्टॉप सेंटर के निर्माण के लिए कुल लागत = 37,68,927.06/- रुपये

वर्षवार वन स्टॉप सेंटर की स्थापना | Year wise One Stop Center established

  1. 2015-16 में वन स्टॉप सेंटर – 33
  2. 2016-17 में वन स्टॉप सेंटर – 152
  3. 2017-18 में वन स्टॉप सेंटर – 50
  4. 2018-19 में वन स्टॉप सेंटर – 198
  5. 2019-20 में वन स्टॉप सेंटर – 284        

वन स्टॉप सेंटर योजना के लिए कैसे करें आवेदन | How to apply for one stop center scheme

  • यहां आपको दी गई सारी जानकारी भरनी है।
  • उसके बाद आपको लोगिन बटन पे किल्क करना है।
  • यहां किल्क करते ही आपका इस योजना के लिए आवेद्न कर दिया जाएगा।

महत्वपूर्ण डाउनलोड | Important Downloads

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!