Oct 31, 2020 Yojana

पढ़ई तुंहर पारा योजना 2020 | पूरी जानकारी | कैसे करें आवेदन

मुख्यमंत्री पढ़ई तुंहर पारा योजना | Padhai Tunhar Para Yojana | पढ़ाई आपके मोहल्ले तक  योजना | CM Padhai Tunhar Para Yojana | छ्त्तीसगढ पढ़ई तुंहर पारा योजना | Chhattisgarh Padhai Tunhar Para Yojana | लाभ / पात्रता / उद्देश्य / विशेषताएं | How to apply

 

छ्त्तीसगढ राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल दवारा स्वतंत्रता दिवस पर शनिवार को राजधानी रायपुर के पुलिस परेड मैदान में आयोजित मुख्य समारोह में ध्वजारोहण करते हुए कोरोना वायरस के चलते बच्चों को शिक्षा से जोडने के लिए पढ़ई तुंहर पारा योजना को लागु करने की घोषणा की गई है। जिसके जरिए राज्य के प्रत्येक बच्चे तक शिक्षा पहुंचाई जाएगी। कैसे मिलेगा योजना का लाभ और आवेदन कैसे किया जाएगा। इसके लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा। तो आइए जानते हैं – पढ़ई तुंहर पारा योजना के वारे मे।

        

पढ़ई तुंहर पारा योजना | Padhai Tunhar Para Yojana

 

छ्त्तीसगढ सरकार दवारा राज्य में कोरोना संक्रमण के दौरान प्रत्येक बच्चे तक शिक्षा पहुंचाने के लिए पढ़ई तुंहर पारा योजना को शुरु करने की घोषणा की गई है। जिसे पढ़ाई आपके मोहल्ले तक योजना के नाम से भी जाना जाता है। इस योजना के तहत गांवों में समुदाय की सहायता से बच्चों को पढाया जाएगा। लॉकडाउन के कारण प्रभावित शिक्षा को निरंतर जारी रखने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल दवारा  ऑनलाइन शिक्षा योजना ”पढ़ई तुंहर दुआर” को शुरू किया था, जिसका लाभ 22 लाख बच्चों को मिल रहा है और 02 लाख शिक्षक-शिक्षिकाएं इस व्यवस्था से जुड़े हुए हैं। इसी पहल को आगे बढ़ाते हुए अब सरकार दवारा समुदाय की सहायता से बच्चों को पढ़ाने के लिए पढ़ई तुंहर पारा योजना को शुरु किया जाएगा। जिसमें इंटरनेट के अभाव वाले अंचलों के लिए ब्लूटूथ आधारित व्यवस्था बूल्टू के बोल का उपयोग किया जाएगा। इस योजना से राज्य में शिक्षा का विस्तार होगा और COVID-19 के चलते स्कूल बंद होने से बच्चों को शिक्षा से जोडा जाएगा। ताकि उनकी पढाई खराब न हो।

 

उद्देश्य | An Objective

पढ़ई तुंहर पारा योजना का मुख्य उद्देश्य कोरोना काल के दौरान समुदाय की सहायता से बच्चों को पढ़ाने के लिए ब्लूटूथ आधारित व्यवस्था बूल्टू के बोल का उपयोग कर शिक्षा का विस्तार किया जाएगा।   

पात्रता | Eligibility

  • छ्त्तीसगढ राज्य के स्थायी निवासी
  • स्कूली छात्र व छात्राएं

लाभ | Benefits

  • पढ़ई तुंहर पारा योजना का लाभ छ्त्तीसगढ राज्य के स्कूली बच्चों को मिलेगा।
  • योजना के जरिए लाभार्थीयों को शिक्षा से जोडा जाएगा।
  • बच्चों को पढाने के लिए समुदाय की सहायता ली जाएगी।    
  • जिन क्षेत्रों में इंटरनेट की व्यवस्था नहीं है वहां पे ब्लूटूथ आधारित व्यवस्था बूल्टू के बोल का उपयोग किया जाएगा।
  • COVID-19 के चलते जो बच्चे स्कूल नहीं जा पा रहे थे, अब इस योजना से बच्चों को दुवारा से पढाई करने का मौका मिलेगा।

विशेषताएं | Features  

  • शिक्षा का विस्तार
  • स्कूली बच्चों को शिक्षा से जोडना
  • COVID-19 के चलते बच्चों की अधूरी पढाई की भरपाई करना                

पढ़ई तुंहर पारा योजना के लिए कैसे करें आवेदन | How to apply for the Padhai Tunhar Para Yojana

  • पढ़ई तुंहर पारा योजना के लिए लाभार्थी को पढाई करवाने के लिए ब्लूटूथ आधारित व्यवस्था बूल्टू के बोल का उपयोग किया जाएगा।
  • इसके जरिए लाभार्थी को पढाई करवाई जाएगी।
  • जिन क्षेत्रों में इंटरनेट की उपयोगिता कम है वहां पर इस व्यवस्था को शुरु किया जाएगा।
  • जिसके माध्यम से लाभार्थी को घर बैठे ही स्कूली पाठयक्रम पढाया जाएगा।  
  • इस व्यवस्था से घरों में ही बच्चों की क्लास ली जाएगी।
  • इस योजना से राज्य में वच्चों को शिक्षित कर उन्हे आगे वढने के लिए प्रेरित किया जाएगा।     
  • यह योजना कोराना वायरस के चलते वच्चों की सुरक्षा और उन्हे सुविधा प्रदान करने के लिए चलाई गई है।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।                        

error: Content is protected !!