Updated : Jul 02, 2020 in Yojana

जिला औद्योगिक नव परिवर्तन निधि योजना | श्रमिकों को मिलेगा अल्पकालीन रोजगार | कैसे मिलेगा लाभ

जिला औद्योगिक नव परिवर्तन निधि योजना | Zila Audyogik Nav Parivartan Yojana | नव परिवर्तन श्रमिक रोजगार योजना | How to get benefits

 

श्रमिक वर्ग / प्रवासी मजदूरों को अपने ही गांवो में रोजगार उपलव्ध करवाने के लिए जिला औद्योगिक नव परिवर्तन निधि योजना को लागु किया गया है। क्या है ये योजना और कैसे मिलेगा इस योजना का लाभ आइए जानते हैं।        

पटना जिला औद्योगिक नव परिवर्तन निधि योजना | Zila Audyogik Nav Parivartan Yojana

 

कोरोना वायरस के चलते आर्थिक तंगी की मार झेल रहे दूसरे राज्यों से अपने राज्य में लोटे श्रमिकों को रोजगार देने के लिए बिहार सरकार दवारा पटना जिले में उद्दोग स्थापित कर जिला औद्योगिक नव परिवर्तन निधि योजना को शुरु किया गया है। योजना के तहत सरकार की ओर से एक इकाई पर 10 लाख रुपये तक खर्च किए जाएगें और प्रवासी मजदूरों के लिए सरकार उद्योग लगाएगी। जिसमें श्रमिकों की दक्षता का आकलन कर उनको रोजगार उपलब्ध कराने के लिए लघु औद्योगिक इकाईयो को स्थापित किया जाएगा, ताकि कुशल प्रवासी मजदूरों को अपने ही गांव में काम मिल सके। योजना के जरिए चार क्षेत्रों में पांच लघु उद्योग केंद्र स्थापित होंगे। इनमें पेवर ब्लॉक के लिए अथमलगोला, फ्लाई एश ब्रिक के लिए बख्तियारपुर, रेडीमेड गारमेंट्स के लिए बिहटा, मशीन फेब्रिकेशन के लिए बिहटा और रंगाई के लिए जगह को भी चिह्नित किया गया है। इन केंद्रों की मॉनिटरिंग जिला उद्योग केंद्र और जिला श्रम संसाधन विभाग के अधिकारी दवारा की जाएगी और फिल्ड अफसरों को नोडल पदाधिकारी बनाया जाएगा। लघु उद्योग केंद्र के चलाने का अनुभव रखने वाले लोगों को इस योजना से जोडा जाएगा। जिनमें लाभार्थीयों और उनके आश्रितों का अधिकतम आच्छादन करने, प्रवासी श्रमिकों के बच्चों को आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से सरकारी योजनाओं का लाभ देने और पीडीएस के माध्यम से अपेक्षित सहयोग प्रदान करने का निर्देश भी दिया गया है। रोजगार मिलने से लाभार्थीयों का आर्थिक पक्ष मजबूत होगा और उनकी परिवार की दशा में भी सुधार होगा।         

उद्देश्य | An Objective

जिला औद्योगिक नव परिवर्तन निधि योजना का मुख्य उद्देश्य प्रवासी श्रमिकों को अपने ही गांव में रोजगार उपलव्ध करवाना है।         

पात्रता | Eligibility

  • श्रमिक वर्ग
  • आर्थिक रुप से कमजोर/ बेरोजगार लोग      

आयु अवधि | Age Range  

  • न्युनतम आयु – 18 वर्ष
  • अधिकतम – 35+    

महत्वपूर्ण दस्तावेज | Important Documents

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नम्वर      

लाभ | Benefits

  • जिला औद्योगिक नव परिवर्तन निधि योजना का लाभ श्रमिक वर्ग के लोगों को मिलेगा।
  • योजना के जरिए लाभार्थीयों को उनके ही गांव में रोजगार उपलव्ध होगा।
  • सरकार दवारा एक इकाई पर 10 लाख रुपये तक खर्च किए जाएगें और प्रवासी मजदूरों के लिए सरकार उद्योग लगाएगी, ताकि श्रमिकों का जीवन स्तर को वेहतर वनाया जा सके।       
  • रोजगार मिलने से लाभार्थीयों की आर्थिक दशा मजबूत होगी।
  • ये योजना कोरोना काल के दौरान बेरोजगार हुए श्रमिकों के लिए चलाई गई है।        
  • योजना को सुचारु रुप से चलाने के लिए कमेटी का भी गठन किया गया है।      

विशेषताएं | Features

  • रोजगार उपलव्ध करवाना
  • आर्थिक पक्ष मजबूत करना
  • जीवन स्तर को वेहतर वनाना              

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।   

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!