Apr 27, 2021 COVID-19

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना | पूरी जानकारी | कैसे करें आवेदन

गरीब कल्याण रोजगार योजना | Pradhan Mantri Garib Kalyan Rozgar Yojana | प्रवासी मजदूर गरीब कल्याण रोजगार योजना | PM Garib Kalyan Rozgar Scheme | आवेदन कैसे करें 

 

देश में प्रवासी मजदूरों को रोजगार उपलव्ध करवाने के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना को लागु करने की घोषणा की गई है, क्या है ये योजना और कैसे मिलेगा इसका लाभ आइए जानते हैं।                 

क्या है प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना | What is Pradhan Mantri Garib Kalyan Rozgar Yojana

 

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना वह योजना है जहां पर COVID-19 के दौरान दूसरे राज्यों में मजदूरी कर रहे मजदूरों और गरीवों को अपने राज्य में ही किसी काम-काज में लगाकर आर्थिक सुविधा उपलव्ध करवाई जाती है। जिसके माध्यम से वे अपने परिवार का भरन-पोषण आसानी से कर पाएगें।                  

88-1

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना | Prime Minister’s Garib Kalyan Rozgar Yojana

कोरोना वायरस महामारी के चलते सवसे ज्यादा नुकसान प्रवासी मजदूरों को हुआ है। जिससे उनका रोजगार छिन गया है, और कई मजदूर अपनी जान वचाने के लिए अपने राज्य को लौट रहे हैं। पर इन लोगों के पास रोजगार या कोई काम काज न होने से इनके लिए जीवन आपन करना मुशिकल हो गया है। उनकी इस परेशानी को देखते हुए देश के प्रधानमंत्री दवारा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना को शुरु किया गया है। योजना के  तहत अब लाभार्थीयों को रोजगार प्राप्त करने के लिए भटकना नहीं पडेगा। उन्हें अपने राज्यमें ही स्थायी रोजगार मिलेगा। जिसमें पहले चरण में 6 राज्यों बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, झारखंड और ओडिशा के 25,000 मजदूरों को रोजगार दिया जाएगा। 6 राज्यों जिनमें 116 जिलों में 125 दिनों का ये अभियान प्रवासी श्रमिकों की सहायता करेगा। जिसमें देश के ग्रामीण क्षेत्रों में बुनियादी ढांचा खड़ा करने के लिए 25 अलग तरह के कार्यों पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा और योजना का समन्वय करने के लिए 12 अलग-अलग मंत्रालय होगें, जो आर्थिक तंगी से जुझ रहे लोगों को रोजगार दिलवाने में सहायता करेंगे। लाभार्थीयों को इस योजना का लाभ कृषि विज्ञान केंद्र और कॉमन सर्विस सेंटर पर पंजीकरण करके ही मिलेगा। जिसमें मजदूरों को उनकी स्किल और एक्पीरियंस के आधार पर भारत नेट के फाइवर ऑपिटक बिछाने, नैशनल हाइवे वकर्स, ग्राम सडक योजना आदि में काम दिलवाया जाएगा । ये योजना कोरोना संकटकाल के समय में लाभार्थीयों के लिए संजीवनी का कार्य करेगी, जिससे कोई गरीब भुखा नहीं रहेगा। सवके पास काम करने के लिए छोटा-मोटा रोजगार होगा। योजना को गति मिलने के बाद इसे पूरे देश में लागु किया जाएगा। 50 हजार करोड़ रुपये की लागत से शुरू की गई इस योजना से लाभार्थीयों का आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। 

 

11-1

उद्देश्य | An Objective

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना का मुख्य उद्देश्य कोरोना संकटकाल में भी ग्रामीण भारत में रोजगार को बनाए रखना है।

पात्रता | Eligibility

  • देश के स्थायी निवासी
  • प्रवासी मजदूर
  • गरीव वर्ग
  • दूसरे राज्यों में काम कर रहे लोगों का रोजगार छीन जाना       

महत्वपूर्ण दस्तावेज | Important Documents

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नम्वर 

योजना का समन्वय 12 अलग-अलग मंत्रालय दवारा होगा | The scheme will be coordinated by 12 different ministries.

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना को सुचारु रुप से चलाने के लिए 12 अलग-अलग मंत्रालयों का गठन किया गया है, जिनका विवरण इस तरह है –

  • खान
  • टेलीकॉम
  • रेलवे
  • कृषि
  • पर्यावरण
  • सीमा सड़कें
  • पंचायती राज
  • ग्रामीण विकास
  • पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस
  • नई और नवीकरणीय ऊर्जा
  • सड़क परिवहन और राजमार्ग
  • पेयजल और स्वच्छता।             

दो हिस्सों में वांटा गया है राहत पैकेज | Relief package has been Distribute in two parts

1.7 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज को भारत सरकार दवारा 02 हिस्सों में बांटा गया है। जिसमें  प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत 80 करोड़ रुपये गरीबों और दिहाड़ी मजदूरों को दिए जाएंगे, और प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत गरीबों को तीन महीने तक मुफ्त राशन मिलेगा। ग्रामीण क्षेत्र में मनरेगा के तहत काम करने वालों को अब 182 रुपये के बदले 202 रुपये दिए जाएगें, जिससे लाभार्थीयों की आय में बढ़ोतरी होगी, इसके अलावा तीन करोड़ गरीब वृद्धों, गरीब विधवाओं और गरीब दिव्यांगों को एक-एक हजार रुपये की अनुग्रह राशि देने का भी ऐलान इस पैकेज में किया गया है।

विशेषताएं | Features 

  • रोजगार उपलव्ध करना
  • आर्थिक दशा में सुधार करना
  • लाभार्थीयों को आत्म-निर्भर वनाना
  • अपने शहर-गांव में ही रोजगार मिलना              

लाभ | Benefits

  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना का लाभ उन लोगों को मिलेगा जिनका आर्थिक पक्ष कमजोर है।
  • इस योजना के जरिए दूसरे राज्यों में मजदूरी करने वाले लोगों को शामिल किया जाएगा, जो कोरोना माहामारी के दौरान अपने अपने राज्य लोटे हैं।
  • इस योजना में पहले चरण में 6 राज्यों को शामिल किया जाएगा,जिसमें तकरीवन 25,000 लाभार्थीयों को रोजगार मिलेगा।   
  • ग्रामीण इलाकों में योजना के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार होगा।
  • लोगों को रोजगार देने के लिए 25 तरह के काम दिए जाएगें।     
  • इसके अलावा योजना में 12 मंत्रालयों का भी समन्वय होगा।          
  • लोगों को 125 दिनों का रोजगार मिलेगा।
  • इस योजना से लाभार्थी भूखा नहीं रहेगा।
  • लाभार्थीयों को अपने घर के नजदीक ही रोजगार उपलव्ध होगा।
  • लाभार्थीयों की आर्थिक और समाजिक दशा में सुधार होगा।                           

योजना के जरिए लाभप्रद रज्य | Profitable state through scheme

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना के लिए कैसे करें आवेदन | How to apply for Pradhan Mantri Garib Kalyan Rozgar Yojana 

  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी को अपने नजदीकी  कृषि विज्ञान केंद्र या कॉमन सर्विस सेंटर पर जाना है।
  • उसके बाद आपको वहां के कर्मचारी को योजना के संवध में पंजीकरण करवाकर आव्श्यक द्स्तावेज भी जमा करवाने होगें।    
  • सारी प्रक्रिया होने के बाद प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना के लिए आवेदन कर दिया जाएगा।              
  • इस तरह आपको योजना का लाभ मिल जाएगा।         

योजना से सम्बंधित प्रशनोत्तर | Questions related to the scheme

Q.1] प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना से किसे लाभ मिलेगा?

Ans. मजदूर वर्ग

Q.2] योजना के तहत कितने लोगों को रोजगार मिलेगा?

Ans. 25 हजार मजदूरों को रोजगार दिया जाएगा।

Q.3] योजना की शुरूआत सबसे पहले कंहा की गई?

Ans. योजना का शुभारंभ बिहार के खगड़िया क्षेत्र में किया गया

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!