Updated : Aug 11, 2020 in Yojana

प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव PLI योजना | रोजगार सृजित होगें | पूरी जानकारी | कैसे करें आवेदन

प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव योजना | Production linked incentive Yojana | मोबाइल प्रोडक्शन और पार्ट्स उत्पादन योजना | Production linked Incentive PLI Yojana 2020 | लाभ / पात्रता / उद्देश्य / विशेषताएं | How to apply

 

देश में मोबाइल कंपनियों का विस्तार करने के लिए मोबाइल प्रोडक्शन और पार्ट्स आदि के उत्पादन भारत में करवाने के लिए प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव PLI योजना को लागु किया गया है। योजना के जरिए 22 कंपनियां भारत में आकर मोबाइल प्रोडक्शन और पार्ट्स के उत्पादन कर भारत की अर्थव्यवस्था में सुधार करेगी। जिससे देश में रोजगार उपलव्ध होगें। क्या है ये योजना, कैसे मिलेगा योजना का लाभ और आवेदन कैसे किया जाएगा। इसके लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा। तो आइए जानते हैं – प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव PLI योजना के वारे में।                           

प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव PLI योजना | Production linked incentive PLI Yojana

 

भारत सरकार ने विदेशी इलेक्ट्रॉनिक कंपनियों को लुभाने और कोरोना काल के दौरान देश की अर्थव्यवस्था में सुधार लाने के लिए वेरोजगार लोगों को रोजगार उपलव्ध करवाने हेतु प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव PLI योजना को शुरु किया है। इस योजना के तहत देश में 22 कंपनियां भारत में आकर मोबाइल प्रोडक्शन और पार्ट्स के उत्पादन पर कार्य करेंगी। जिसमें इन कंपनियों दवारा अगले 05 साल में 11.5 लाख करोड़ रुपये कीमत का मोबाइल प्रोडक्शन और 07 लाख करोड़ के मोबाइल पार्ट्स का उत्पादन किया जाएगा। इससे भारत की अर्थव्यवस्था मे सुधार होगा, साथ ही देश में रोजगार के अवसर वढेगें। ये कंपनियां लोगों को 03 लाख डायरेक्ट और 09 लाख इन-डायरेक्ट जॉब प्रदान करेंगी। इन अंतरराष्ट्रीय कंपनियों दवारा भारत में 15,000 रुपये और उससे अधिक कीमत वाले फोन का निर्माण किया जाएगा। इसके अलावा हाल ही में गूगल ने जियो के साथ मिलकर भारत में सस्ते एंड्रॉयड फोन लाने का वादा किया है और एपल के आईफोन का निर्माण करने वाली कंपनी फॉक्सकॉन ने भारत में अपने प्रोडक्शन लाइन को विस्तार देने के लिए एक बिलियन डॉलर्स यानी करीब 7,500 करोड़ रुपये निवेश करने की भी योजना बनाई है। फॉक्सकॉन के बाद अब पेगाट्रोन (Pegatron Corp) ने भी भारत में अपना प्लांट लगाने की योजना वनाई है । पेगाट्रोन एपल के आईफोन का निर्माण करती है। इस साल के अंत तक पेगाट्रोन  अपने प्लांट के लिए भारत में निवेश कर सकती है। निवेश को गति प्रदान करने के लिए पिछले महीने ही भारत सरकार ने दुनिया की टॉप स्मार्टफोन निर्माता कंपनियों के प्रोत्साहन के लिए 6.6 बिलियन डॉलर योजना का भी एलान किया है। जिन भारतीय कंपनियों ने इस योजना के तहत आवेदन किया है, उनमें लावा, डिक्सन टेक्नोलॉजीज, माइक्रोमैक्स और पैडगेट इलेक्ट्रॉनिक्स शामिल हैं। सैमसंग और आईफोन निर्माता जैसे एप्पल के अनुबंध निर्माताओं ने इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण को बढ़ावा देने के लिए सरकार की 50,000 करोड़ रुपये की उत्पादन प्रोत्साहन योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए अपने प्रस्ताव भी प्रस्तुत किए है। प्रस्तावों के अनुसार, सैमसंग लावा, डिक्सन और iPhone अनुबंध निर्माता जैसी कंपनियां अगले पांच वर्षों में करोडो रुपये से अधिक के मोबाइल उपकरणों और घटकों का उत्पादन करेंगी । जिसमें कंपनियों द्वारा इलेक्ट्रानिक लिंक इंसेंटिव (PLI) का लाभ उठाने के लिए अधिक से अधिक रोजगार भी सृजित किए जाएगें। इससे मोबाइल तथा अन्य कंपनिया देश में प्रतिष्ठित होगीं जिससे उनकी लोकप्रियता भी अधिक वढ जाएगी।         

        

उद्देश्य | An Objective

प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव PLI योजना का मुख्य उद्देश्य विदेशी कंपनियों का भारत में आकर मोबाइल प्रोडक्शन और पार्ट्स के उत्पादन कर देश की अर्थव्यवस्था में सुधार रोजगार को सृजित करना है।

पात्रता | Eligibility

  • देश के स्थायी निवासी
  • मोबाइल कंपनियां      
  • सभी इलेक्ट्रॉनिक विनिर्माण कंपनियां जो या तो भारतीय हैं या भारत में एक पंजीकृत इकाई हैं, योजना के लिए आवेदन करने के लिए पात्र होंगी।
  • ये कंपनियां या तो एक नई इकाई बना सकती हैं या भारत में एक या अधिक स्थानों से अपनी मौजूदा इकाइयों के लिए प्रोत्साहन मांग सकती हैं।
  • प्लांट, मशीनरी, उपकरण, अनुसंधान और विकास और मोबाइल फोन और संबंधित इलेक्ट्रॉनिक वस्तुओं के निर्माण के लिए प्रौद्योगिकी के हस्तांतरण पर कंपनियों द्वारा किए गए किसी भी अतिरिक्त व्यय को प्रोत्साहन योजना के लिए पात्र होंगे।
  • बेरोजगार/ नौकरी की तलाश कर रहे लाभार्थी

महत्वपूर्ण दस्तावेज | Important Documents

रोजगार पाने के लिए आव्श्यक दस्तावेज :-

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • शैक्षिक योग्यता दस्तावेज   
  • बैंक खाता   
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नम्वर      

लाभ | Benefits

  • प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव PLI योजना का लाभ देश के स्थायी लोगों को प्राप्त होगा।
  • योजना के जरिए भारत में विदेशी कंपनियों दवारा मोबाइल प्रोडक्शन और पार्ट्स का उत्पादन किया जाएगा।
  • इससे मोबाइल कंपनियों का देश मे विस्तार होगा।
  • यह योजना भारत में निर्मित वस्तुओं की वृद्धिशील बिक्री (आधार वर्ष) पर 4% से 6% तक की प्रोत्साहन राशि और लक्षित कंपनियों के तहत कवर की जाएगी।
  • आधार वर्ष के बाद योजना के तहत सहायता 05 वर्ष की अवधि के लिए प्रदान की जाएगी।
  • लोगों को मोबाइल कंपनियों मे उनकी सुविधा और कम कीमत के अनुसार फोन उपलव्ध करवाए जाएगें।      
  • बेरोजगार लोगों के लिए रोजगार उपलव्ध होगें।
  • लाभार्थीयों को रोजगार अपने देश में उपलव्ध होगा।
  • देश की अर्थव्यवस्था में भी सुधार आएगा।
  • इस योजना से कई सकारात्मक परिणाम देखने को मिलेगें।

विशेषताएं | Features

  • लोगों को आत्म-निर्भर वनाना
  • देश में ही विदेशी कंपनियों दवारा उत्पादन करना
  • रोजगार सृजित होना
  • मोबाइल कंपनियों का विस्तार
  • अर्थव्यवस्था में सुधार              

प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव PLI योजना के लिए कैसे करें आवेदन | How to apply for Production Linked Incentive PLI Yojana

  • प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव PLI योजना का लाभ लाभार्थी को जब मिलेगा जब विदेशी कंपनियां भारत में मोबाइल प्रोडक्शन और पार्ट्स के उत्पादन पर कार्य करेंगी।
  • उत्पादन होने पर देश में भारी संख्या में रोजगार उपलव्ध होगें।
  • लाभार्थीयों को उनके अनुभब और शैक्षिक योग्यता के अनुसार रोजगार दिया जाएगा।     
  • रोजगार पाने के लिए लाभार्थीयों को आवेदन फार्म भरना होगा और आव्श्यक दस्तावेज अटैच कर इसे जमा करवा देना है।
  • उसके बाद आपको वताई गई सैलरी के अनुसार जॉब मिल जाएगी।                           

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!