Aug 20, 2020 Yojana

इंदिरा रसोई योजना | मात्र 08 रुपये में मिलेगा भरपेट खाना | पूरी जानकारी

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना | Indira Rasoi Yojana | इंदिरा रसोई स्कीम | How to get the benefit of the scheme 

 

गरीब वर्ग के लोगों को समय पर खाना उपलव्ध करवाने के लिए राजस्थान सरकार ने इंदिरा रसोई योजना को लागु किया है। इस योजना से लोगों भरपेट खाना कम कीमत पर उपलव्ध होगा। क्या है ये योजना और कैसे मिलेगा योजना का लाभ आइए जानते हैं।         

                               

इंदिरा रसोई योजना | Indira Rasoi Yojana

 

कोरोना वायरस के वढते प्रकोप से गरीब लोगों को खाना प्रयाप्त मात्रा में नहीं मिल रहा है। ऐसी परिस्थति में गरीव वर्ग के लोगों के पास न तो रोजगार है और न ही कोई आय का दूसरा साधन्। जिससे परिवार को काफी दिक्कतों का सामना करना पड रहा है। उनकी इस परेशानी को दूर करने के लिए राजस्थान सरकार ने गरीव लोगों को भरपेट खाना उपलव्ध करवाने के लिए 100 करोड रुपये की लागत से राज्य में इंदिरा रसोई योजना को शुरु करने की मंजूरी दी है।

योजना के अनुसार राज्य के 213 नगर निकाय क्षेत्रों में 358 इन्दिरा रसोई संचालित होंगी। जिसमें प्रतिदिन 1.34 लाख व्यक्ति तथा प्रति वर्ष 4.87 करोड़ लोगों को लाभान्वित किया जाएगा। 20 अगस्त से प्रदेश के नगरीय क्षेत्रों में इंदिरा रसोई योजना की शुरुआत CM दवारा कर दी गई है। 

योजना के तहत जरुरतमंद और गरीव लोगों को दो वक्त का खाना और नाश्ता उपलव्ध करवाया जाएगा। जिसमें लाभार्थीयों को स्थायी रसोई में खाना परोसा जाएगा, जहां खाना खाने की भी व्यवस्था की गई है। योजना के जरिए नगर पालिका क्षेत्र में 02, नगर परिषद क्षेत्र में 05 और नगर निगम क्षेत्रों 08 रसोई घर की स्थापना की गई है, जहां एक साथ कई लोग भोजन कर सकेगें । योजना के संचालन में स्थानीय गैर सरकारी संगठनों की भागीदारी सुनिश्चित की जाएगी एवं सूचना प्रौद्योगिकी की सहायता से प्रभावी तरीके से निगरानी होगी, ताकि योजना को सुचारु रुप से चलाया जा सके। योजना के जरिए जरूरतमंद लोगों को शुद्ध पौष्टिक भोजन रियायती दर से उपलब्ध कराया जाएगा, और इसकी कीमत भी कम रखी गई है, जिसमें मात्र 8 रुपये में लाभार्थीयों को शुद्ध पौष्टिक भोजन दिया जाएगा। ताकि राज्य में कोरोना बिमारी से कोई भी गरीब भुखा नहीं रहे। 

 

उद्देश्य | An Objective

इंदिरा रसोई योजना का मुख्य उद्देश्य गरीव और जरुरतमंद लोगों को भरपेट खाना उपलव्ध करवाना है, ताकि राज्य में कोरोना काल के दौरान उत्पन्न हो रही भुखमरी जैसी समस्या को दूर किया जा सके।

पात्रता | Eligibility

  • राजस्थान राज्य के स्थायी निवासी
  • गरीब और जरुरतमंद लोग
  • कोरोना काल के दौरान बेरोजगार हुए लोग जिन्हें समय पर भोजन नहीं मिल रहा।

क्यों शुरु की गई इंदिरा रसोई योजना |  Why Indira Rasoi Yojana was launched

COVID-19 के चलते गरीव लोगों के जीवन स्तर को वेहतर वनाने और उन्हें तीन वक्त का पोषिटक खाना उपलव्ध करवाने के लिए इंदिरा रसोई योजना को शुरु किया गया है। ताकि कोरोना संकट काल के दौरान किसी गरीव की खाने को लेकर मौत न हो। अधिकतर मौते राज्य में कोरोना से तो हो ही रही हैं, पर खाना न मिलने से भी कई मौते हुई हैं। इस योजना से मरत्यु दर में भी कमी आएगी और लोगों को 3 वक्त का भोजन समय पर मिलेगा।                          

लाभ | Benefits  

  • इंदिरा रसोई योजना का लाभ राजस्थान के गरीब लोगों को मिलेगा।
  • योजना के जरिए राज्य के सभी गरीब और जरुरतमंद लोगो को भरपेट खाना मिलेगा।
  • प्रदेश के सभी 213 नगरीय निकायों में 358 रसोइयों का संचालन किया जाएगा।
  • लोगों को शुद्ध पौष्टिक भोजन रियायती दर से उपलब्ध कराया जाएगा।
  • योजना का लाभ लेने के लिए मात्र 8 रुपये में जरुरतमंदो को पौष्टिक और भरपेट भोजन मिलेगा।
  • योजना के माध्यम से लोगों को दो वक्त का खाना और नाश्ता उपलव्ध होगा।
  • लोगों को योजना का लाभ उपलव्ध करवाने के लिए नगर पालिका क्षेत्र में 02, नगर परिषद क्षेत्र में 05 और नगर निगम क्षेत्रों 08 रसोई घर की स्थापना की गई है, जहां पर भारी संख्या में लोग भोजन कर सकते हैं ।
  • योजना की आईटी आधारित मॉनिटरिंग की जाएगी. लाभार्थी को कूपन लेते ही मोबाइल पर एसएमएस से सूचना मिल जाएगी।
  • मोबाइल एप और CCTV से रसइयों की निगरानी की जाएगी|
  • भोजन के उपरांत भुगतान राशी को काफी कम रखा गया है, ताकि ज्यादा से ज्यादा लाभार्थी योजना का लाभ ले सकें।      
  • योजना के लिए राजस्थान सरकार ने 100 करोड रुपये खर्च किए हैं। 
  • योजना के जरिए हर साल 4 करोड़ 87 लाख लोगों को भोजन उपलव्ध होगा।
  • रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, अस्पताल, चौखटी जैसे स्थानों पर रसोइयां खोली जाएंगी जहां लोगों की अधिक उपस्थिति रहती है. भोजन में प्रति थाली 100 ग्राम दाल, 100 ग्राम सब्जी, 250 ग्राम चपाती और अचार का मेन्यू निर्धारित होगा।
  • योजना के माध्यम से कोई भी लाभार्थी भुखा नहीं सोएगा।               

विशेषताएं | Features

  • गरीब और जरुरतमंद लोगों को मिलेगा 03 वक्त का पोष्टिक खाना
  • लाभार्थीयों को भोजन न मिलने की परेशानी दूर होगी
  • जीवन स्तर में सुधार होगा
  • भोजन के मुल्य को कम रखा गया है।
  • राज्य में भुखमरी जैसी समस्या खत्म होगी।             

योजना के संवध में पूछे जाने वाले सवाल | Questions asked about the scheme

Q.1 इंदिरा रसोई योजना का लाभ किसे मिलेगा?

Ans. गरीब और जरुरतमंद लोगों को मिलेगा योजना का लाभ 

Q.2 किस राज्य में इंदिरा रसोई योजना को शुरु किया गया है?

Ans. राजस्थान में  

Q.3 लोगों को कितने वक्त का खाना मिलेगा?

Ans. लाभार्थीयों को योजना के जरिए दो वक्त का खाना और नाश्ता उपलव्ध होगा।        

Q.4. इंदिरा रसोई योजना के लिए सरकार ने कितनी धन राशी खर्च की है?

Ans. 100 करोड रुपये    

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।       

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!