Updated : May 28, 2020 in Yojana

रोजगार सेतु योजना ǀ लोगों को मिलेगा रोजगार ǀ पूरी जानकारी ǀ रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

मध्य प्रदेश रोजगार सेतु योजना ǀ  Rojgar Setu Yojana ǀ श्रमिक रोजगार सेतु योजना ǀ How to apply  ǀ COVID-19 Shramik Rojgar Setu Yojana

 

कोरोना संकट के समय में श्रमिको को सवसे ज्यादा विपदा का सामना करना पड रहा है, ऐसे में उनके लिए रोजगार कि समस्या उत्पन्न हो गई है, कई लोग कोरोना संकट के समय में वेरोजगार हो गए हैं जिससे उनकी आर्थिक दशा भी कमजोर हो गई हैǀ उनकी इस दशा को देखते हुए मध्य प्रदेश ने श्रमिकों को रोजगार देने के लिए रोजगार सेतु योजना को शुरु करने की घोषणा की हैǀ क्या है ये योजना और कैसे मिलेगा इस योजना का लाभǀ आइए जानते हैंǀ  

रोजगार सेतु योजना ǀ Rojgar Setu Yojana

 

COVID-19 के चलते मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राज्य के श्रमिकों को रोजगार मुहैया करवाने के लिए रोजगार सेतु योजना को शुरु किया हैǀ इस योजना के तहत राज्य में दूसरे राज्यों से लौट रहे लाभार्थीयों को उनकी योग्यता के अनुसार काम दिया जाएगाǀ राज्य में अधिकतम कुशल मजदूर भाई-बहनों को इस योजना का लाभ मिलेगा , ताकि उनकी जिंदगी की गाड़ी ठीक ढंग से चल निकले।” 27 मई से इन श्रमिकों की सूची बनाई गई है, जिसके अनुसार रजिस्ट्रेशन का कार्य भी शुरू हो गया है। कोरोना के कारण देश के दूसरे राज्यों में कार्य करने वाले 5 लाख से अधिक प्रवासी श्रमिक मध्यप्रदेश लौटे हैं। इन सव को राज्य में ही रोजगार उपलव्ध करवाया जाएगा , ताकि संकट् के समय में इनका आर्थिक पक्ष मजबूत हो सकेǀ इस योजना में श्रमिक प्लेटफॉर्म बनाया गया है , जिसमें जिस तरह का काम मजदूर जानते हैं, उन्हें उस काम में लगाया जाएगाǀ  

  

उद्देश्य ǀ An Objective

रोजगार सेतु योजना का मुख्य उद्देश्य कोरोना संकट के समय में राज्य के श्रमिकों को उनकी योग्यता के अनुसार रोजगार उपलव्ध करवाना हैǀ   

महत्वपूर्ण जानकारी | Important Information

पात्रता ǀ Eligibility

  • मध्य प्रदेश राज्य के स्थायी निवासी
  • वेरोजगार
  • श्रमिक       
  • मुख्यमंत्री जन-कल्याण (संबल) योजना’ अथवा ‘भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण मंडल’ में पंजीयन की पात्रता रखने वाले लाभार्थी  

महत्वपूर्ण दस्तावेज ǀ Important documents

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता
  • समग्र पोर्टल पर आईडी जनरेट      
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • रजिस्टड मोबाइल नम्वर            

लाभ ǀ Benefits

  • रोजगार सेतु योजना का लाभ मध्य प्रदेश के स्थायी लोगों को मिलेगाǀ
  • इस योजना से राज्य में श्रमिक वेरोजगारों को रोजगार मिलेगाǀ
  • ये योजना कोरोना संकट के समय में शुरु की गई हैǀ
  • इस योजना से लाभार्थीयों को उनकी योग्यता के अनुसार काम मिलेगाǀ
  • इससे लाभार्थीयों का आर्थिक पक्ष मजबूत होगाǀ 
  • इस योजना से बेरोजगारी जैसी समस्या खत्म होगीǀ    
  • इस योजना के लिए लाभार्थीयो को समग्र पोर्टल पर आइडी जनरेट करनी होगीǀ  
  • राज्य में जिन श्रमिकों की आइडी नहीं वनी हुई है, उन सवकी आइडी जनरेट की जाएगीǀ   
  • इस योजना का लाभ देने के लिए ग्राम पंचायत के सचिव तथा नगरीय क्षेत्रों में वार्ड प्रभारी सर्वे फार्म भरने में लाभार्थीयों की सहायता करेंगे।
  •  इस योजना से लाभार्थीयों को मनरेगा के तहत काम मिलेगाǀ  
  • इसके अलावा लाभार्थीयों को खाद्य विभाग द्वारा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना में नि:शुल्क खाद्यान्न भी उपलब्ध होगा।
  • लाभार्थीयों को जो काम मिलेगा उसका वेतन उनके वैंक खाते में ट्रांसफर किया जाएगाǀ    

दिया जाने वाला रोजगार  ǀ Employment to the beneficiaries

राज्य के जिन क्षेत्रों में प्रवासी मजदूरों को रोजगार मिलेगाǀ उसकी सूची इस प्रकार है –

  • भवन और अन्य निर्माण श्रमिक
  • कपड़ा
  • कृषि और संबद्ध गतिविधियाँ
  • ईंट भट्ठा खनन
  • फैक्टरी
  • अन्य सरकार। सेक्टर्स  

रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया ǀ Registration process 

  • रोजगार सेतु योजना हेतु आवेदन करने के लिए जिन श्रमिकों की समग्र आईडी नहीं है, उनकी नियत प्रक्रिया अनुसार समग्र पोर्टल पर आईडी जनरेट की जाएगी। इसके बाद ही इन श्रमिकों का सर्वे, सत्यापन एवं पंजीयन कार्य पोर्टल पर समग्र आईडी का उल्लेख करते हुए सुनिश्चित किया जाएगा। 

  • इस पोर्टल पर समग्र आईडी तथा आधार कार्ड नंबर अंकित किया जाना अनिवार्य होगा। सर्वे, सत्यापन और पंजीयन उन्हीं श्रमिकों का किया जायेगा जो ‘मुख्यमंत्री जन-कल्याण (संबल) योजना’ अथवा ‘भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण मंडल’ में पंजीयन की पात्रता रखते हैं।   
  • लाभार्थीयों को 3 जून 2020 के पहले पोर्टल पर आवेदन करना होगा । इसके लिए ग्राम पंचायत के सचिव तथा नगरीय क्षेत्रों में वार्ड प्रभारी सर्वे फार्म भरने में आवेदक की सहायता करेंगे।
  • जिला कलेक्टर के मार्गदर्शन में यह सारी कार्यवाही की जायेगी। ग्रामीण क्षेत्र के लिये मुख्य कार्यपालन अधिकारी, नगरीय क्षेत्र के लिए मुख्य नगरपालिका अधिकारी तथा नगर निगमों में निगम आयुक्त द्वारा अधिकृत अधिकारी होंगे।

मनरेगा में काम और मुफ्त खाद्यान्न उपलब्ध कराया जाएगा Work and free food grains will be provided in MNREGA

प्रवासी श्रमिकों के पंजीयन के बाद लभार्थीयों को योजनाओं का लाभ मिलेगा। पंजीयन की जानकारी ग्रामीण विकास विभाग को भी उपलब्ध करायी जाएगी, ताकि इच्छुक श्रमिकों को मनरेगा में काम मिल सके। साथ ही खाद्य विभाग द्वारा पात्र श्रमिकों को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना में नि:शुल्क खाद्यान्न भी उपलब्ध होगा।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगीǀ आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करेंǀ         

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!