Updated : Nov 12, 2019 in Yojana

स्मार्ट विलेज योजना | पूरी जानकारी । कैसे मिलेगा लाभ

इस आर्टीकल में ह्म आपको स्मार्ट विलेज योजना के वारे में वता रहे हैं कि क्या है ये योजना और कैसे लाभ मिलेगा गांवों के लोगों को। ये सारी जानकारी जानने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा। तो आइए जानते हैं – स्मार्ट विलेज योजना के वारे में।

स्मार्ट विलेज | Smart Village

स्मार्ट विलेज, भारत की राष्ट्रीय, राज्य और स्थानीय सरकारों द्वारा अपनाई गई एक अवधारणा है, जो समग्र ग्रामीण विकास पर केंद्रित एक पहल के रूप में, महात्मा गांधी के आदर्श ग्राम के दृष्टिकोण से व्युत्पन्न है। गावों में नई तकनीकों का प्रयोग कर परिवर्तित गांवों को स्मार्ट गांव (Smart Village) कहा जाता है।

स्मार्ट विलेज योजना | Smart village scheme

ग्रेटर नोएडा यमुना अथॉरिटी दवारा 12 नंववर 2019 को अधिसूचित एरिया के दस गांवों को स्मार्ट विलेज बनाने की योजना को तैयार किया गया है। जिसके विकास के लिए अथॉरिटी दवारा 100 करोड़ रुपये खर्च किए जाएगें।

वे कौन से गांव हैं जो स्मार्ट विलेज बनेंगे | What are the villages that will become smart villages

जो गांव स्मार्ट विलेज बनेंगे उनमें अच्छेजा बुजुर्ग, डूंगरपुर रीलखा, निलौनी शाहपुर, रामपुर बागर, चांदपुर, आच्छेपुर, उस्मानपुर, पचौकरा, मिर्जापुर और मुजीखेड़ा शामिल हैं। इन गांवों में रहने वाले लोगों को सेक्टरों की तर्ज पर सभी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी।

डिवेलपमेंट कमेटी का गठन किया जाएगा | Development committee will be formed

स्मार्ट विलेज योजना के तहत इन 10 गांवों में डिवेलपमेंट कमिटी का गठन किया जाएगा, जिसमें नए और पुराने ग्राम प्रधान को भी शामिल किया जाएगा। गांवों में ऑप्टिकल फाइबर केबल से लेकर सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट सिस्टम को भी तैयार किया जाएगा। पुरानी चौपालों को ई-चौपाल में विकसित किया जाएगा, इसके अलावा कंप्यूटर सेटअप को भी लगाया जाएगा।

कितना खर्चा आएगा | How much will it cost

एक गांव में ई-चौपाल बनाने में लगभग 25 लाख रुपये खर्च किए जाएगें। इस योजना से लोगों को हर प्रकार की सुविधाएं गांवों में ही मिल जाएगीं। सव प्रकार की सुख –सुविधा मिलने से लोगों का जीवनस्तर वद्ल जाएगा। उन्हें अब शहरों में जाने की जरुरत नहीं होगी।

स्मार्ट विलेज योजना से लोगों को कौन-कौन सी सुविधाएं मिलेगीं | What facilities will people get from the smart village scheme

ग्रामीण बिजली बिल, पानी का बिल जमा, मतदाता पहचान पत्र, आधार कार्ड आदि की सुविधा देखने को मिलेगी। इसके अलावा खाद, बीज, मौसम की भी जानकारी मिलेगी। गांवों में घर-घर पीएनजी कनेक्शन, पार्क, अंडरग्राउंड बिजली सप्लाई, भूजल सप्लाई, सीवर, सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट सिस्टम, प्राइमरी व हायर एजुकेशन, हेल्थ सेंटर, कॉमन सर्विस सेंटर बनाए जाएगें। हरेक गांव को ग्रीन विलेज के नाम से जाना जाएगा। हरेक गांव में सोलर सिस्टम को विकसित किया जाएगा। स्किल डिवेलपमेंट की सुविधा होगी। जल स्तर न गिरे, इसके लिए वॉटर बॉडीज को भी विकसित किया जाएगा।

उद्देश्य | An Objective

स्मार्ट विलेज योजना का मुख्य उद्देश्य गांवों का विकास कर वहां के लोगों के जीवनस्तर में सुधार कर उन्हें हर प्रकार की सुविधाएं उपलव्ध करवाना है।

लाभ | Benefits

  • स्मार्ट विलेज योजना का लाभ नोएडा में रहने वाले लोगों को मिलेगा।
  • इस योजना के तहत नोएडा के 10 गांवों को शामिल किया गया है, जिसमें अच्छेजा बुजुर्ग, डूंगरपुर रीलखा, निलौनी शाहपुर, रामपुर बागर, चांदपुर, आच्छेपुर, उस्मानपुर, पचौकरा, मिर्जापुर और मुजीखेड़ा आदि गांव शामिल हैं।
  • इन गांवों का विकास करने के लिए अथॉरिटी दवारा 100 करोड़ रुपये खर्च किए जाएगें। जिसमें एक गांव में ई-चौपाल बनाने में लगभग 25 लाख रुपये का खर्चा आएगा।
  • इन गांवों को वेहतर वनाने के लिए समिति का गठन किया जाएगा।
  • मेनेजमेंट सिस्टम को वेहतर वनाया जाएगा।
  • कस्बों और गांवों में सांस्कृतिक और आर्थिक विकास और उत्थान का अनुभव होगा।
  • इंटरनेट की गति और कनेक्टिविटी में सुधार के साथ गांव ‘स्मार्ट’ बनेगें।
  • विदेशी और घरेलू निवेशकों के लिए गाँव अधिक आकर्षक हो जाएगें।
  • यह नौकरीपेशा लोगों के लिए अधिक अवसर प्रदान करेगा।
  • इन विकसित गांवों में लोगों को हर प्रकार की सुविधाएं मिलेगीं। अब उन्हें शहर जाने की जरुरत नहीं होगीं।

प्रमुख विशेषताऐं | Key Features

  • शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाएं उपलव्ध करवाना
  • ऊर्जा सेवा के प्रावधान और उपयोग में फोस्टर एंटरप्रेन्योरशिप का इस्तेमाल्।
  • ICT कनेक्टिविटी के माध्यम से, शासन प्रक्रिया में भाग लेना।
  • अधिक लचीला कम्यूनिटी का निर्माण करना ।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!