कृषि इनपुट अनुदान योजना 2021 | ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म | dbtagriculture.bihar.gov.in

|| बिहार कृषि इनपुट अनुदान योजना | Bihar Krishi Input Subsidy Scheme | मुख्यमंत्री कृषि इनपुट अनुदान योजना | Krishi Input Subsidy Scheme Form । कृषि इनपुट अनुदान योजना  ऑनलाइन आवेदन | Apply Online | Application Form | Helpline Number | Application status ||

बिहार सरकार दवारा राज्य के किसानो की सिथति को मजबूत वनाने और उनके आर्थिक पक्ष मे सुधार करने के लिए कृषि इनपुट अनुदान योजना 2021 को लागु किया गया है। जिसके जरिए किसानो की फसलो को नुकसान की भरपाई के लिए राज्य सरकार दवारा आर्थिक सहायता उपलव्ध करवाई जाती है। कैसे मिलेगा योजना का लाभ और आवेदन कैसे किया जाएगा। ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा। तो आइए जानते हैं – कृषि इनपुट अनुदान योजना 2021 के वारे मे।

logo

Agricultural input grant scheme

 

मार्च 2020 में हुई भारी बारिश और ओलावृष्टि से फसलों की बर्बादी को देखते हुए बिहार सरकार दवारा कृषि इनपुट अनुदान योजना को शुरु किया गया है। इस योजना के तहत असिंचित क्षेत्र के लिए 6800/- रुपये और सिंचित क्षेत्र के लिए 13500/- प्रति हेक्टेयर की दर से अनुदान देने की घोषणा की गई है। इसके अलावा कृषि योग्य भूमि जहाँ बालू / सिल्ट का जमाव 3 इंच से अधिक होता है वहां 12,200/- रु प्रति हेक्टेयर की दर से अनुदान दिया जायेगा। जिन जिलों में फसलों का नुकसान अधिक हुआ है उन जिलों को रबी इनपुट के लिए शामिल किया गया है। जिसमें बिहार सरकार दवारा अभी तक कुल 23 जिलों को चिन्हित किया गया है। यह अनुदान प्रति किसान को 02 हैक्टेयर के हिसाब से दिया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा प्रभावित किसानों को कम से कम 1000/- रुपए का अनुदान मिलेगा। जिससे किसानों की आर्थिक दशा में सुधार होगा और फसलों की पैदावार में वढोतरी होगी। योजना का लाभ लाभार्थीयो को ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करके प्राप्त होगा।

                    

कृषि इनपुट अनुदान योजना Latest Update

इस वर्ष अप्रैल के  महीने में जिन किसानो की प्राकर्तिक आपदा के कारण फसलों को नुकसान हुआ है उसकी भरपाई के लिए राज्य सरकार ने किसानो को कृषि अनुदान देने का निर्णय लिया है मार्च माह में रबी फसल की क्षति के लिए जिन किसानो ने बिहार कृषि इनपुट अनुदान योजना के तहत आवेदन नहीं किया है, अब उनके लिए बिहार सरकार ने एक और मौका प्रदान किया है | जिसके तहत कृषि एवं बागवानी फसल क्षति वाले बिहार के 19 जिलों गोपालगंज, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चम्पारण, पश्चिमी चम्पारण, समस्तीपुर, बेगूसराय, लखीसराय, खगड़िया, भागलपुर, सहरसा, सुपौल, मधेपुरा, सीतामढ़ी, शिवहर, दरभंगा, मधुबनी, पूर्णिया, किशनगंज तथा अररिया के प्रतिवेदित 148 प्रखंडों आदि क्षेत्रो के किसान इस योजना के लिए दुवारा से 7 से 20 मई तक आवेदन कर सकते है |

कृषि इनपुट सब्सिडी योजना बिहार 

कृषि मंत्री ने कहा कि मार्च माह में बिहार के 23 जिलों के प्रतिवेदित 196 प्रखंडों के छूटे हुए किसानो को योजना का लाभ देने के लिए 4 से 11 मई तक अधिकारिक वेब्साइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है । ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन होने के बाद ही लाभार्थी किसानो को सरकार दवारा आर्थिक सहायता उपलव्ध कराई जाएगी।

कृषि इनपुट अनुदान योजना का मुख्य उद्देश्य

कृषि इनपुट अनुदान योजना का मुख्य उद्देश्य प्राक्रितिक आपदा से फसलों की बर्बादी की भरपाई करने के लिए राज्य सरकार दवारा आर्थिक सहायता उपलव्ध करवाना है।

कृषि इनपुट अनुदान योजना में शामिल जिलों की सूची 

इस योजना के तहत 23 जिलों को शामिल किया गया है। जिनका विवरण नीचे दिया गया है।     

  • पटना,
  • नालंदा,
  • भोजपुर,
  • बक्सर,
  • रोहतास,
  • औरंगाबाद,
  • गोपालगंज,
  • मुजफ्फरपुर,
  • पश्चिमी चम्पारण,
  • दरभंगा,
  • समस्तीपुर,
  • मुगेर,
  • शेखपुरा,
  • लखीसराय,
  • भागलपुर,
  • भभुआ,
  • गया,
  • जहानाबाद,
  • अरवल
  • नवादा,
  • बांका,
  • मधेपुरा
  • तथा किशनगंज

Agricultural input grant scheme के लिए पात्रता 

  • बिहार राज्य के स्थायी निवासी
  • किसान वर्ग
  • खेती योग्य भूमि

कृषि इनपुट अनुदान योजना के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज 

  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • जमीन के दस्तावेज
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नम्वर

कृषि इनपुट अनुदान योजना के लाभ

  • कृषि इनपुट अनुदान योजना का लाभ बिहार राज्य के लोगों को मिलेगा।
  • इस योजना से बारिश और ओलावृष्टि से फसलों की होने वाली बर्बादी से भरपाई की जाएगी।
  • इस योजना से किसानों की फसलों की समय-समय पर देखभाल की जाएगी।
  • इस योजना से किसानों की आर्थिक दशा में सुधार होगा।
  • इस योजना के लिए प्रभावित किसानों को राज्य सरकार दवारा आर्थिक सहायता की जाएगी।
  • योजना के तहत किसानो को न्युनतम 1000 रुपए का अनुदान दिया जाएगा।
  • किसानो को दी जाने वाली धनराशि सीधे उनके बैंक खाते मे ट्रांसफर की जाएगी।
  • योजना का लाभ लाभार्थीयो को ऑनलाइन पंजीकरण करके प्राप्त होगा।
  • इस योजना का लाभ बिहार के 23 जिलों को मिलेगा।
  • इस योजना के लिए असिंचित क्षेत्र के लिए 6800/- रुपये और सिंचित क्षेत्र के लिए 13500/- प्रति हेक्टेयर की दर से अनुदान दिया जाएगा।

Agricultural input grant scheme की मुख्य विशेषताएं 

  • राज्य के किसानो को आत्म-निर्भर व सशक्त वनाना
  • किसानो के फसलो के नुकसान की भरपाई हेतु सरकार करेगी आर्थिक मदद
  • किसानो की सिथति राज्य मे वेहतर वनेगी
  • लाभार्थी किसानो का आर्थिक पक्ष मजबूत होगा।

कृषि इनपुट अनुदान योजना के लिए कैसे करें आवेदन

1

  • अब आपको पंजीकरण संख्या डालने के बाद search बटन पे किल्क कर देना है।

 

  • सर्च बटन पर क्लिक करते ही आप अगले पेज में आ जाएगें। यहां आपको आवेदन फॉर्म भरना है।
  • आपको इस आवेदन फॉर्म में दी गयी सारी जानकारी भरनी है जैसे कि नाम, आयु, पता, आधार संख्या, पंचायत, किसान की श्रेणी, डीओबी, पिता का नाम, आदि ।
  • दूसरे भाग में अब किसानों को अपनी भूमि की जानकारी देनी है जैसे कि भूमि का क्षेत्रफल, किसान का प्रकार, और फसल के नुकसान का कारण आदि भरने हैं।
  • फार्म के तीसरे भाग में, किसानों को उपलब्ध करवाने के लिए खेती योग्य भूमि का विवरण भरना होगा। उसके बाद लाभार्थी को घोषणा भाग भरना है और “OTP” बटन पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद लाभार्थी को पंजीकृत मोबाइल नंबर पर OTP भेजा जाएगा । आपको इस OTP को आवेदन फॉर्म में भरना है । अब किसानों को स्व-घोषणा पत्र का चयन करना है और यह जांच करनी है कि उन्होंने सभी आवश्यक दस्तावेज अपलोड किए हैं या नहीं।
  • सारी प्रक्रिया होने के बाद आपको आवेदन फॉर्म ऑनलाइन जमा करना है । उसके बाद फिर आपको पंजीकरण संख्या मिलेगी। इस संख्या को आपको सुरक्षित रखना होगा ।

आवेदन फॉर्म प्रिंट कैसे करे 

2

3

  • यहां आपको रजिस्ट्रेशन आइडी भरने के बाद सर्च बटन पे किल्क कर देना है।
  • सर्च बटन पे किल्क करने के बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म आ जायेगा।
  • उसके बाद आपको इस फॉर्म का प्रिंट लेने के लिए प्रिंट बटन पर क्लिक कर देना है।

आवेदन की स्थिति कैसे देखे 

4

  • इस पेज पर आपको एप्लीकेशन नंबर भरना होगा।
  • उसके बाद आपको सर्च के बटन पर क्लिक कर देना है ।
  • सर्च बटन पे किल्क करते ही आपके सामने आवेदन की स्थिति आ जाएगी।

कृषि इनपुट अनुदान योजना Helpline Number

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!