बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2020-21 | pacsonline.bih.nic.in | पूरी जानकारी | कैसे करें आवेदन

बिहार फसल आर्थिक सहायता योजना | Bihar Fasal Economic Sahayata Scheme | बिहार राज्य फसल सहायता योजना | Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana | लाभ / पात्रता / उद्देश्य / विशेषताएं | How to apply

 

बिहार के किसानो को आत्म-निर्भर और आर्थिक सहायता उपलव्ध करवाने के लिए बिहार राज्य फसल सहायता योजना को लागु किया गया है। जिसके जरिए राज्य मे किसानो की फसलो को प्राकृतिक आपदा से होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए राज्य सरकार दवारा आर्थिक सहायता उपलव्ध करवाई जाएगी। क्या है ये योजना, कैसे मिलेगा लाभ और आवेदन कैसे किया जाएगा। इसके लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा। तो आइए जानते हैं –  बिहार राज्य फसल सहायता योजना के वारे मे।     

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana

 

बिहार सरकार दवारा राज्य के किसानो को सशक्त वनाने हेतु प्राकृतिक रुप से फसलो को होने वाले नुकसान की भरपाई करने लिए बिहार राज्य फसल सहायता योजना को शुरु किया गया है। योजना के तहत किसानो की फसलों को प्राकृतिक आपदाओं ,मौसम की परिस्थितियों के कारण क्षति होने पर सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी| जिसमे किसानो की फसलों की वास्तविक उपज दर में 20 % तक का नुकसान होने पर प्रति हेक्टेयर की दर से 7500 रूपये की धनराशि तथा वास्तविक उपज दर में 20 % से अधिक फसलों के नुकसान होने पर प्रति हेक्टेयर की दर से 10,000 रूपये तक की धनराशि सरकार दवारा प्रदान की जाएगी | सरकार दवारा किसानो की फसलो को नुकसान की भरपाई करने के लिए तय राशि को उनके बैंक खाते मे स्थानातरित करेगी, तथा लाभार्थीयो को फसलों के बर्बाद होने पर मिलने वाली धनराशि के लिए किसी भी तरह का प्रीमियम भी नहीं भरना होगा| इस योजना से किसानो की सिथति मे सुधार होगा और फसलो की पैदावार वढने से राज्य मे खेती को वढावा मिलेगा। योजना का लाभ लाभार्थी को पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीकरण करके ही प्राप्त होगा।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना का मुख्य उद्देश्य 

योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य के किसानो की फसलो को प्राकृतिक आपदाओ से होने वाले नुकसान की भरपाई करने के लिए राज्य सरकार दवारा आर्थिक सहायता उपलव्ध करवाना है।

Fasal Sahayata Yojana के लिए पात्रता 

  • बिहार राज्य के स्थायी निवासी
  • किसान वर्ग
  • वही किसान पात्र होगा, जिनकी फसल प्राकर्तिक आपदाओं ,मौसम की मार से बर्बाद हुई हैं |

बिहार राज्य फसल सहायता योजना के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज 

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता
  • जमीनी दस्तावेज
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर
  • भू-स्वामित्व प्रमाण पत्र / स्व-घोषणा प्रमाण पत्र (रेयत कृषक के लिए)
  • स्व- घोषणा प्रमाण पत्र (गैर रेयत कृषक के लिए)

राज्य सरकार दवारा मिलने वाली आर्थिक सहायता 

  • फसलों की वास्तविक उपज दर में 20 %तक का नुकसान होने पर प्रति हेक्टेयर की दर से 7500 रूपये की धनराशि लाभार्थीयो को सरकार द्वारा उपलव्ध करवाना
  • जविक 20 % से अधिक नुकसान होने पर प्रति हेक्टेयर की दर से 10000 रूपये तक की धनराशि लाभार्थीयो को प्रदान की जाएगी ।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना के लाभ 

  • फसल सहायता योजना का लाभ बिहार राज्य के किसान वर्ग को प्राप्त होगा।
  • योजना के मुताविक जिन किसानो की फसले प्राकृतिक आपदा से नष्ट या वर्वाद हुई हैं, उनकी भरपाई सरकार दवारा की जाएगी।
  • फसलो के 20% के नुकसान या इससे अधिक नुकसान होने पर लाभार्थी को सरकार दवारा आर्थिक सहायता उपलव्ध करवाई जाएगी।
  • लाभार्थीयो को मिलने वाली धनराशि उनके बैंक खाते मे सीधे ट्रांसफर की जाएगी।
  • इस योजना से राज्य मे खेती को वढावा मिलेगा।
  • किसानो की आमदनी मे वढोतरी होगी, जिससे उनकी सिथति वेहतर वनेगी।
  • आवेदन करने के उपरांत लाभार्थी योजना का लाभ उठा सकते हैं।

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana की मुख्य विशेषताएं 

  • राज्य सरकार दवारा मिलेगी सहायता
  • फसलो के नुकसान की भरपाई के लिए दी जाएगी वित्तिय सहायता
  • आर्थिक सहायता मिलने से किसानो का आर्थिक पक्ष मजबूत होगा
  • लाभार्थीयो को किसी तरह का प्रिमियम नहीं भरना होगा
  • लाभार्थीयो को आत्म-निर्भर व जागरुक वनाया जाएगा

बिहार फसल सहायता योजना हेतु किए गए कुल आवेदन 

  • फसल सहायता योजना (खरीफ-2020 ) हेतु अब तक प्राप्त कुल आवेदन – 3929108 (धान के लिए 3792361, मक्का के लिए 1254491, सोयाविन के लिए 55932)
  • गेहू 2020-21 अधिप्राप्ति हेतु कुल आवेदन 16778 ( स्वीकृत आवेदन—8795)
  • रबी 2019-20 हेतु प्राप्त कुल आवेदन 1955512     
  • धान 2020-21 अधिप्राप्ति हेतु कुल आवेदन 6663 

आवेदन भरने के लिए महत्वपूर्ण निर्देश 

  • तस्वीर (50 kB से कम होना चाहिए ) 
  • पहचान पत्र (भारत निर्वाचन आयोग द्वारा मान्यता प्राप्त) (400 KB से कम होना चाहिए और पीडीएफ (PDF) प्रारूप में होना चाहिए) 
  • बैंक पासबुक के प्रथम पृष्ट की प्रति (400 KB से कम होना चाहिए और पीडीएफ (PDF) प्रारूप में होना चाहिए)
  • आवासीय प्रमाण पत्र (400 KB से कम होना चाहिए और पीडीएफ (PDF) प्रारूप में होना चाहिए)

1.रैयत कृषक के लिए 

  • भू-स्वामित्व प्रमाण पत्र (Land Possession Certificate) (1 MB से कम होना चाहिए )
  • स्व-घोषणा प्रमाण पत्र (400 KB से कम होना चाहिए )

2.गैर रैयत कृषक के लिए 

  • स्व-घोषणा प्रमाण पत्र (केवल अधिप्राप्ति के लिए) (400 KB से कम होना चाहिए )

बिहार राज्य फसल सहायता योजना के लिए कैसे करें आवेदन 

  • यहां किल्क करने के बाद आप अगले पेज मे चले जाओगे।
  • आपके सामने इस तरह का पेज ऑपन होगा।

  • यहां आपसे पुछा जा रहा है कि आपके पास आधार है या नही। अगर है तो आपको हां वाले वटन पे किल्क करना है और अगर आधार नहीं है तो नहीं वाले वटन पे किल्क कर देना है।

  • आपने अगर हां वाले वटन पे किल्क किया है तो आपको Aadhar authentication Details मे yes बटन पे किल्क करना है।
  • यहां किल्क करते ही आप अगले पेज मे आ जाओगे। यहां आपको आधार नंवर और नाम भरना होगा।

  • इसे भरने के बाद आपको Submit वटन पे किल्क कर देना है।
  • यहां किल्क करते ही आपका योजना के लिए आवेदन कर दिया जाएगा।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना Helpline Number

  • Helpline Number- 18003456290
  • Email Id- kisanreghelp@gmail.com

 Important Downloads

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।  

error: Content is protected !!