मुख्यमंत्री मधु विकास योजना 2021 : MADHU VIKAS SCHEME | एप्लीकेशन फॉर्म

|| हिमाचल मधु विकास योजना | Mukhyamantri Madhu Vikas Yojana | मधु विकास योजना | Madhu Vikas Yojana application Form Download | Helpline Number ||

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री दवारा राज्य मे वेरोजगारी दर मे कमी लाने और युवाओ व किसानो को रोजगार से जोड़ने के लिए मधु विकास योजना को लागू किया गया है| जिसके जरिये पात्र लाभार्थीयों को मधुमक्खी का पालन करने के लिए आर्थिक सहायता दी जाएगी| कैसे मिलेगा योजना का लाभ और इसके अंतर्गत आवेदन कैसे किया जाएगा| ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढ्ना होगा| तो आइए जानते हैं – मुख्यमंत्री मधु विकास योजना के वारे मे|

hp madhu logo

 

Mukhyamantri Madhu Vikas Yojana

हिमाचल प्रदेश सरकार दवारा राज्य मे कोरोना से वेरोजगार हुए लोगो को रोजगार उपलव्ध करवाने के लिए मधु विकास योजना को शुरू किया गया है| जिसके अन्तर्गत सरकार दवारा मधुमक्खी पालकों को 50 मधुमक्खी वंश प्रति लाभार्थी को 2,000 रुपए प्रति मधुमक्खी वंश की लागत पर 80% लागत राशि अर्थात 1,600 रुपए प्रति मधुमक्खी वंश को प्रदान किए जाएगें। प्रत्येक जिले में, 300 मधुमक्खी उपनिवेशों के मधुमक्खी-ब्रीडर को 3 लाख रुपये की राशि दी जाएगी। उन्हें प्रति वर्ष परिवहन पर 50% तक की सब्सिडी भी दी जाएगी। हर साल 25 नौसिखिया मधुमक्खी पालन करने वालों के लिए 05 दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का आयोजन होगा| जिसके तहत प्रति दिन प्रति मधुमक्खियों को प्रति 400 रुपये प्रदान किए जाएंगे। इसके अलावा, 20 मधुमक्खियों के लिए, देश और विदेश के प्रसिद्ध संस्थानों में 15 दिवसीय दौरा आयोजित किया जाएगा, जिसके अंतर्गत 7,000 रुपये प्रति मधुमक्खियों की राशि प्रदान की जाएगी। शहद प्रसंस्करण इकाई स्थापित करने के लिए, परियोजना की लागत का 100 प्रतिशत दो बीघा में मधुमक्खी वनस्पति के बागान के लिए प्रदान किए जाएगें। बागवानी मिशन के तहत मधुमक्खियों को मधुमक्खी उपनिवेशों के उत्पादन पर 50 प्रतिशत सब्सिडी प्रदान करने का भी प्रावधान है।

योजना का कार्यान्वयन

मुख्यमंत्री मधु विकास योजना का कार्यान्वयन बागवानी मिशन के अंतर्गत किया जायेगा। जिसके लिए सरकार दवारा 10 करोड़ रूपए का बजट निर्धारित किया गया है| योजना का लाभ देने के लिए सरकार दवारा सभी ब्लाकों को दिशा-निर्देश दिए गए हैं कि पात्र लोग आसानी से योजना के लिए अप्लाई कर सकें|

मुख्यमंत्री मधु विकास योजना के प्रमुख तथ्य

हिमाचल प्रदेश में हर साल लगभग 1500 मीट्रिक टन शहद का उत्पादन होता है। जिसके साथ, देश में लगभग 1750 लोग मधुमक्खी पालन व्यवसाय से जुड़े हुए हैं। हिमाचल प्रदेश में शहद का कारोबार 5 करोड़ रुपये से अधिक का है। ये योजना किसानों और बेरोजगार युवाओं की आय बढ़ाने के लिए काम करती है ताकि उन्हें सशक्त वनाया जा सके|

मुख्य पहलू

  • मधु विकास योजना के माध्यम से राज्य में स्वरोजगार के क्षेत्र को बढ़ावा मिलेगा।
  • बागवानी क्षेत्र के स्तर को एक नयी गति प्रदान की जाएगी।
  • राज्य में स्वरोजगार बढ़ने के साथ-साथ कृषक नागरिकों की आमदनी में मुनाफा होगा।
  • राज्य के बेरोजगार युवकों को मधुमक्खी पालन के व्यवसाय करने के लिए प्रेरित किया जाएगा|
  • योजना के माध्यम से मधुमक्खी पालन का व्यवसाय करने वाले नागरिकों को प्रतिवर्ष में 5 दिन की ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी। जिससे वह मधुमक्खी पालन के उत्पादकता के विषय में अधिक ज्ञान प्राप्त कर सकेगें।
  • शहद के उत्पादन हेतु कृषकों को 2 बीघा के रूप में मधुमक्खी वनस्पति बागान प्रदान किए जाएगें| जिसमें वह अपने लिए शहद प्रसंस्करण की स्थापना कर सकेगें।

आत्म निर्भर विकास पैकेज के तहत मधुमक्खी पालकों के लिए विशेष घोषणा

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीताराम जी दवारा आत्म निर्भर विकास पैकेज के जरीए देश के मधुमक्खी पालकों के लिए बुनियादी ढांचे के विकास हेतु 500 करोड़ रुपये की योजना लागू की जाएगी। इसके साथ ही HP मधु विकास योजना मधुमक्खी पालन विकास केंद्र, संग्रह विपणन और भंडारण केंद्र से संबंधित बुनियादी ढांचे के विकास और अन्य चीजों के बीच मूल्यवर्धन सुविधाओं के लिए लागू की जाएगी| ताकि राज्य मे कोविड -19 से उतपन्न बेरोजगारी दर मे कमी लाई जा सकेगी|

मुख्यमंत्री मधु विकास योजना का मुख्य उद्देश्य

योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य मे मधुमक्खी पालन को बढ़ावा देना है और कोविड के चलते बेरोजगार हुए लोगो व कर्षको को रोजगार से जोड़कर उनकी आमदनी मे सुधार लाना है|

Mukhyamantri Madhu Vikas Yojana के लिए पात्रता

  • हिमाचल राज्य के स्थायी निवासी
  • बेरोजगार व कर्षक

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • पैन कार्ड/ राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

madhu scheme

मुख्यमंत्री मधु विकास योजना के प्रमुख लाभ

  • मुख्यमंत्री मधु विकास योजना का लाभ हिमाचल प्रदेश के स्थायी निवासियों को प्राप्त होगा|
  • योजना के तहत सरकार दवारा मधुमक्खी पालकों को 50 मधुमक्खी वंश प्रति लाभार्थी को 2,000 रुपए प्रति मधुमक्खी वंश की लागत पर 80 प्रतिशत लागत राशि अर्थात 1,600 रुपए प्रति मधुमक्खी वंश को प्रदान किए जाएगें।
  • संबंधित विभाग द्वारा हिमाचल प्रदेश के प्रत्येक ब्लॉक मुख्यालय में एक प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया जाएगा।
  • उन लोगों को सरकार द्वारा मुआवजा दिया जाएगा जो अपने घरों में घरेलू मधुमक्खी रखेंगे।
  • मधुमक्खी वनस्पतियों के रोपण के लिए सरकार द्वारा शहद इकाई स्थापित करने की परियोजना की लागत का 100 प्रतिशत (दो बीघा में) उपलब्ध कराया जाएगा।
  • मधुमक्खी का व्यवसाय करने वाले नागरिकों को शहद के अधिक उत्पादन हेतु प्रेरित करने के लिए उन्हें मधु पालन हेतु विशेष प्रकार की सुविधाएँ भी उपलब्ध करवाई जाएगीं|
  • उद्यान विभाग द्वारा मुख्यमंत्री मधु विकास योजना के तहत 50 बक्से (कालोनियों) की एक यूनिट तक आर्थिक सहायता दी|
  • हर ब्लॉक मुख्यालय पर विभाग की ओर से एक-एक प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया जाएगा।
  • इस योजना से अब राज्य के बेरोजगार हुए युवाओं को दूसरे राज्य मे नौकरी की तलाश के लिए नहीं जाना पडेगा|
  • इस योजना से राज्य के कर्षको तथा बागवानी करने वाले लोगो की आर्थिक सिथटी मे सुधार होगा|

Mukhyamantri Madhu Vikas Yojana की मुख्य विशेषताएं

  • राज्य मे बेरोजगारी दर मे कमी लाना
  • बेरोजगार युवाओं को रोजगार से जोड़ना
  • किसानो की आय मे वढ़ोतरी लाना
  • पात्र लाभार्थीयों को आत्म-निर्भर व सशक्त वनाना
  • राज्य मे मधुमक्खी पालन को बढ़ावा मिलेगा|

मुख्यमंत्री मधु विकास योजना के लिए कैसे करें आवेदन

madhu application form

  • उसके बाद आपको इस फार्म का प्रिंटआउट लेना होगा|
  • अब आपको इस फार्म मे पुछी गई सारी जानकारी दर्ज करने के बाद आवश्यक दस्तावेज भी अटैच करने होगें|    
  • सारी प्रक्रिया होने के बाद आपको ये फार्म सवन्धित कार्यालय मे जमाँ करवा देना है|
  • इस तरह आपका योजना के अंतर्गत सफलतापूर्वक आवेदन कर दिया जाएगा|   

मुख्यमंत्री मधु विकास योजना Helpline Number

  • 18001808001

Important Download

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी| आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेट और लाइक जरूर करें|

error: Content is protected !!