Mukhyamantri Mahalaxmi Yojana 2024 : रजिस्ट्रेशन, एप्लीकेशन फॉर्म

Mukhyamantri Mahalaxmi Yojana : उत्तराखंड में प्रसव के बाद मां और कन्या शिशु की देखभाल को प्रोत्साहित करने के लिए महालक्ष्मी योजना को लागु किया गया है। जिसके अंतर्गत बेटी होने पर प्रत्येक परिवार को रोजाना काम आने वाले जरूरी सामानों की एक किट सौंपी जाएगी। इस किट मे खाने-पीने से लेकर कपडो तक का सामान दिया जाएगा। कैसे मिलेगा योजना का लाभ, योजना के लिए कौन-कौन पात्र हैं और योजना के अंंतर्गत आवेदन कैसे किया जाएगा। ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंंत तक पढना होगा। तो आइए जानते हैं – मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना के वारे मे।

Mukhyamantri Mahalaxmi Yojana 2024

Mukhyamantri Mahalaxmi Yojana 2024

उत्तराखंड सरकार दवारा राज्य मे महिलाओं की सिथति को वेहतर वनाने के लिए महालक्ष्मी योजना को शुरु किया गया है। जिसके अंतर्गत प्रसव के बाद मां और कन्या शिशु की देखभाल को प्रोत्साहित करने के लिए उन्हे सुरक्षा कीट प्रदान की जाएगी। जिसमे 16929 लाभार्थियों को कार्यक्रम से वर्चुअल रूप से जोडकर उन्हें महालक्ष्मी किट प्रदान की जाएगी। जिसमे प्रसव के बाद महिलाओं को प्रथम दो बालिकाओं के जन्म पर एक-एक किट एवं जुड़वा बच्चियों के जन्म पर महिला को एक और बच्चों को अलग-अलग दो किट दिए जाने का प्रावधान है।महालक्ष्मी किट के साथ-साथ लाभार्थी को टीकाकरण से संबंधित संदेश भी मिलेगा। योजना का लाभ लाभार्थीयो को आवेदन फॉर्म भरके प्राप्त होगा।

Mahalaxmi Yojana का अवलोकन

योजनामहालक्ष्मी योजना
किसके दवारा शुरू की गईउत्तराखंड सरकार द्वारा
लाभार्थीगर्भवती महिलाएं और नवजात शिशु
प्रदान की जाने वाली सहायतासुरक्षा कीट प्रदान करना 
आवेदन प्रक्रियाऑफलाइन 
आधिकारिक वेबसाइटhttps://wecd.uk.gov.in/

महालक्ष्मी किट मे गर्भवती महिलाओं दी जाने वाली सामग्री 

उत्तराखंड सरकार द्वारा दी जाने वाली इस किट में करीब साढ़े तीन हजार रुपये का सामान दिया जाएगा। जिसमे गर्भवती महिलाओं को 250 बादाम गिरी, सुखी खुमानी, अखरोट, 500 ग्राम छुआरा, 02 कॉटन गाउन, साड़ी, सूट, 01 शॉल गर्म फुल साईज, 01 स्कॉर्फ कॉटन, गर्म स्टेन्डर्ड साईज, 02 जोड़े जुराब स्टैण्डर्ड साईज, 01 तौलिया बड़े साइज का, 02 पैकेट सैनिटरी नैपकिन (08 प्रति पैकेट), 02 जोड़े बेड शीट (तकिये के कवर सहित), 01 नेल कटर, 01 नारियल, तिल, सरसों, चुलू का तेल, 200 एम.एल हैण्डवाश लिक्विड, 02 कपड़े धोने का साबुन 02 नहाने का साबुन दिया जाएगा।

नवजात शिशुओं को किट मे मिलने वाली सामग्री 

शिशुओं को इस किट में 02 जोड़े शिशु के कपड़े (सूती या गर्म-मौसम के अनुसार) टोपी और जुराब सहित, 01 पैकेट (10 पीस) कॉटन डाइपर, 01 बेबी तौलिया कॉटन सॉफ्ट, 03 बेबी साबुन, 01 तेल, 01 पाउडर, 02 बेबी ब्लैंककेट गर्म अथवा कॉटन (मौसम अनुसार), 01 रबर शीट, 01 समस्त सामग्री पैक करने हेतु सूती बैग शामिल रहेगा। किट में स्थानीय पहनावों एवं मौसम के अनुकूल वस्त्र तैयार कर दिये जाने की भी व्यवस्था रहेगी।

महालक्ष्मी योजना का मुख्य उद्देश्य 

योजना का मुख्य उद्देश्य उत्तराखंड में लैंगिक अनुपात में सुधार लाना, मातृ शिशु मृत्यु दर में कमी लाना ,एवं संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देना है।

Mukhyamantri Mahalaxmi Yojana के लिए पात्रता 

  • उत्तराखंड राज्य के स्थायी निवासी
  • गर्भवती महिलाएं और नवजात शिशु
  • परिवार में अगर बेटी का जन्म होता है तो बेटी और मां योजना के लिए पात्र होगीं।

मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज 

  1. माता-शिशु आधार कार्ड की प्रति,
  2. संस्थागत प्रसव प्रमाण पत्र,
  3. यदि घर पर प्रसव हुआ है तो आंगनबाड़ी या आशा वर्कर द्वारा जारी प्रमाण पत्र,
  4. परिवार रजिस्टर की प्रति, पहली, दूसरी या जुड़वा कन्या के जन्म की स्वप्रमाणित घोषणा,
  5. नियमित सरकारी, अर्द्धसरकारी सेवक एवं आयकरदाता न होने का प्रमाण पत्र।

महालक्ष्मी योजना के लाभ 

  • मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना का लाभ उत्तराखंड राज्य के स्थायी निवासियो को प्राप्त होगा।
  • बेटी होने पर प्रत्येक परिवार को रोजाना काम आने वाले जरूरी सामानों की एक किट सौंपी जाएगी।
  • योजना के जरिए महिलाओं को प्रथम दो बालिकाओं के जन्म पर एक-एक किट प्रदान की जाएगी।
  • जुड़वा बच्चियों के जन्म पर महिलाओं को एक और बच्चों को अलग-अलग दो किट दी जाएगी।
  • इस किट मे लाभार्थीयो को साढ़े तीन हजार रुपये का सामान दिया जाएगा।
  • किट के साथ-साथ लाभार्थीयों को टीकाकरण से संबंधित जानकारी भी मिलेगी।
  • योजना के जरिए गर्भवति महिलाओं और नवजात शिशुओं के स्वास्थय का ख्याल रखा जाएगा।
  • लाभार्थी बिमार न पडे इसके लिए उन्हे पोष्टिक किट प्रदान की जाएगी।
  • योजना की देखरेख महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग दवारा की जाएगी।
  • योजना का विस्तार करने के लिए इसे पूरे राज्य मे शुरु किया जाएगा।

Mukhyamantri Mahalaxmi Yojana की विशेषताएं

  1. महिलाओं व वच्चों के स्वास्थय का ध्यान रखना
  2. लाभार्थीयों को पोषिटक आहार व जरूरी सामानों की किट प्रदान करना
  3. मातृ शिशु मृत्यु दर में कमी लाना
  4. संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देना
  5. लाभार्थीयो को आत्म-निर्भर व सशक्त वनाना

मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना के लिए महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश

महालक्ष्मी किट योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया को आंगनबाड़ी केंद्रों से संचालित किया जाएगा। जिसके अंतर्गत लाभार्थी को योजना का फार्म नजदीकी आंगनबाड़ी केंद्र से प्राप्त होगा। ये फार्म प्रत्येक लाभार्थी के लिए निशुल्क रखा गया है। योजना के संवध मे अधिक जानकारी आंगनवाडी केद्रो से प्राप्त की जा सकती है। 

Mukhyamantri Mahalaxmi Yojana Registration

  • योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी को अपने नजदीकी आंगनवाडी केंद्र मे जाना होगा।
  • अब उन्हे वहां से योजना से संवधित फार्म प्राप्त करना है।
  • फार्म लेने के बाद लाभार्थी को इसमे दी गई सारी जानकारी सही-सही भरनी होगी।
  • उसके बाद आपको फार्म के साथ आव्श्यक दस्तावेज अटैच करने होगें।
  • सारी प्रक्रिया होने के बाद आपको ये फार्म आंगनवाडी केंद्र मे जमा करवा देना है।
  • इस तरह आपके दवारा योजना के अंतर्गत आवेदन कर दिया जाएगा।
  • आवेदन होने के 01 माह बाद मुख्यमंत्री महालक्ष्मी कवच योजना के तहत, माँ व बेटी को महालक्ष्मी किट मिल जाएगी। आवेदन होने पर इसे वेबपोर्टल पर अपडेट किया जाएगा।

Website

Mahalaxmi Yojana Helpline Number

इस योजना के लिए हेल्पलाइन नंबर के सबंध मे अधिक जानकारी नजदीकी आंगनवाडी केंद्र से प्राप्त की जा सकती है |

Uttarakhand Free Tablet Yojana

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेट और लाइक जरुर करें।

Last Updated on January 3, 2024 by Abinash