राजस्थान ग्रामीण पर्यटन योजना | Gramin Paryatan Scheme : आवेदन प्रोसेस

 

|| Gramin Paryatan Yojana | राजस्थान मुख्यमंत्री ग्रामीण पर्यटन योजना | Gramin Paryatan Scheme Application Process || राजस्थान सरकार दवारा राज्य के नागरिको के कल्याण के लिए ग्रामीण पर्यटन योजना को लागु किया गया है| इस योजना के जरिए ग्रामीण क्षेत्रो में पर्यटन को वढावा दिया जाएगा, जिससे रोजगार के अवसर वढेंगे| कैसे मिलेगा इस योजना का लाभ और इसके अंतर्गत आवेदन कैसे किया जाएगा| ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा| तो आइए जानते हैं – ग्रामीण पर्यटन योजना के वारे मे|

Rajasthan Gramin Paryatan

Rajasthan Gramin Paryatan Yojana

राजस्थान सरकार दवारा राज्य मे ग्रामीण पर्यटन को वढावा देने के लिए ग्रामीण पर्यटन योजना को शुरू किया गया है| इस योजना के अंतर्गत ग्रामीण संस्कृति को बढ़ावा एवं संरक्षण दिया जाएगा और ग्रामीण क्षेत्रों में पर्यटन इकाइयां स्थापित की जाएगी, इससे स्थानीय लोक कला और हस्तशिल्प को भी संरक्षण व बढ़ावा मिलेगा। ज्यादा से ज्यादा लोग योजना का लाभ लेने के लिए प्रेरित होंगे, जिससे ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिको को अपने क्षेत्रों मे ही रोजगार मिल सकेगा, रोजगार मिलने से उनकी आमदनी मे वढोतरी होगी| इसके साथ ही देश और विदेश के पर्यटक ग्रामीण क्षेत्र में घूमने के लिए आएंगे, जिससे ग्रामीण कल्चर को बढ़ावा मिलेगा। ग्रामीण पर्यटन योजना को पूरे राज्य मे लागु कर दिया गया है, इससे राज्य की ख्याति व लोकप्रियता दूर तक फैलेगी|

योजना का अवलोकन

योजना का नाम राजस्थान ग्रामीण पर्यटन योजना
किसके दवारा शुरू की गई राजस्थान सरकार दवारा
विभाग राजस्थान पर्यटन विभाग
लाभार्थी राज्य के नागरिक
योजना के तहत प्रदान की जाने वाली सहायता रोजगार के अवसर उत्पन्न करना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन / ऑफ़लाइन
आधिकारिक वेबसाइट www.tourism.rajasthan.gov.in 

राजस्थान ग्रामीण पर्यटन योजना का उद्देश्य

योजना का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण इलाकों मे रोजगार के अवसर उत्पन्न करके वहाँ के नागरिको को आत्म-निर्भर व सशकत वनाना है|

Gramin Paryatan Yojana

ग्रामीण पर्यटन इकाइयों को मिलने वाले देय लाभ

  • स्टाम्प ड्यूटी में 100% की छूट दी जायेगी
  • प्रारम्भ में 25% स्टाम्प ड्यूटी देय होगी
  • Tourism इकाई शुरू होने का प्रमाण-पत्र प्रस्तुत करने पर पुनर्भरण की सुविधा
  • देय एवं जमा SGST का 10 वर्षों तक 100% तका पुनर्भरण की व्यवस्था
  • मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत 25 लाख रुपये तक के ऋण पर अनुदान
  • 8% के स्थान पर 9% ब्याज पर मिलेगा अनुदान 
  • ग्रामीण पर्यटन इकाइयों को भू-संपरिवर्तन एवं बिल्डिंग प्लान अनुमोदन की आवश्यकता नहीं होगी
  • वन विभाग के अधीन क्षेत्र में राजस्थान ईको ट्यूरिज्म पॉलिसी, 2021 के प्रावधानों के अनुसार किया जायेगा
  • स्थानीय लोक कलाकारों एवं हस्तशिल्पियों प्रोजेक्ट को अनुमोदन एवं देय लाभों में प्राथमिकता मिलेगी|

ग्रामीण पर्यटन इकाइयों की स्थापना एवं संचालन के लिए मुख्य प्रावधान

  • ग्रामीण पर्यटन योजना अन्तर्गत कृषि पर्यटन इकाई हेतु न्यूनतम 2000 वर्गमीटर की अनुमति होगी|
  • 2 हेक्टेयर तथा कैम्पिंग साइट व कैरावेन पार्क हेतु न्यूनतम 1000 वर्गमीटर
  • और अधिकतम 1 हेक्टेयर कृषि भूमि पर अनुमत होंगी|
  • आबादी/ आवासीय क्षेत्रों में ग्रामीण गेस्ट हाउस हेतु न्यूनतम एवं अधिकतम भूखण्ड क्षेत्र निर्धारित नहीं होगा|
  • ग्रामीण पर्यटन इकाइयाँ 15 फीट चौड़ी सड़क पर अनुमत होगी|
  • ग्रामीण पर्यटन इकाइयों को भू-संपरिवर्तन एवं बिल्डिंग प्लान अनुमोदन की आवश्यकता नहीं होगी|
  • इन इकाइयों को FSSAI फूड लाइसेंस आवश्यक होगा जिसे आवेदक को अपने स्तर से प्राप्त करना होगा|

योजना के जरिए मिलने वाली सुविधाएं

  • पानी एवं विद्युत की नियमित आपूर्ति
  • पार्किंग की सुविधा 
  • पर्यटन स्थल पर फायर-फाइटिंग सिस्टम
  • परिसर में साफ-सफाई की व्यवस्था
  • विदेशी पर्यटकों का रिकॉर्ड 
  • रिसेप्शन पर पुलिस अस्पताल मालिक का नंबर

राजस्थान ग्रामीण पर्यटन योजना के लाभ

  • राजस्थान ग्रामीण पर्यटन योजना को राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी दवारा शुरू किया गया है|
  • इस योजना के अंतर्गत ग्रामीण इलाकों में स्थानीय लोगों के लिए रोजगार के अवसर उत्पन्न होंगे|
  • योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में पर्यटन इकाइयां स्थापित होने से स्थानीय लोक कला को प्रोत्साहन और हस्तशिल्प का संरक्षण मिलेगा|
  • इस योजना के लिए ग्रामीण गेस्ट हाउस, कृषि पर्यटन इकाई, कैंपिंग साइट, कैरावन पार्क की स्थापना की जाएगी|
  • आवेदक को किसी भी इकाई की स्थापना हेतु बिल्डिंग प्लान अप्रूवल लेने की जरूरत नहीं होगी।
  • इस योजना से राज्य मेहस्तशिल्प इकाइयों को प्रोत्साहन मिलेगा।
  • राज्य के नागरिको कोस्टैंप ड्यूटी में 100% की छूट मिलेगी|
  • इस योजना से राज्य मे ग्रामीण‌ प्रणाली को बढ़ावा मिलेगा।
  • इस योजना से ज्यादा से ज्यादा पर्यटकआकर्षित होंगे|

ग्रामीण पर्यटन योजना की मुख्य विशेषताएं

  • योजना के तहत ग्रामीण पर्यटन को बढ़ावा देना |
  • ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के अवसरो मे वढोतरी लाना
  • पर्यटन इकाईयों तथा ग्रामीण गेस्ट हाउस, कृषि पर्यटन इकाई,कैम्पिंग साइट, कैरावेन पार्क की स्थापना करना
  • ग्रामीण हस्तशिल्प को बढ़ावा देकर उन्हें प्रोत्साहित करना
  • ग्रामीण संस्कृति को बढ़ावा देना|

मुख्यमंत्री ग्रामीण पर्यटन योजना के लिए पात्रता

  • आवेदक को राजस्थान राज्य का स्थायी निवासी होना चाहिए|
  • सभी वर्ग के लोग योजना का लाभ लेने के लिए पात्र हैं|

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता
  • पासपोर्ट साइज फ़ोटो
  • मोबाइल नम्वर

राजस्थान ग्रामीण पर्यटन योजना के लिए कैसे करे आवेदन

जो आवेदक योजना के अंतर्गत ऑनलाइन व ऑफ़लाइन मोड के जरिए आवेदन करना चाहते हैं, उन्हे थोड़ा इंतजार करना होगा| अभी योजना की शुरुआत की गई है| जैसे ही योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू होगी, तो हम आपको तुरंत सूचित कर देंगे|

आशा करता हूँ आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी| आर्टीकल अच्छा लगे तो कॉमेट और लाइक जरूर करे|

Last Updated on January 17, 2023 by Abinash

error: Content is protected !!