[1200/- Rs.] उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री DBT योजना 2022 | एप्लीकेशन प्रोसेस | पात्रता व उद्देश्य

 

|| UP CM DBT Transfer Scheme | उत्तर प्रदेश छात्र 1200 रुपये DBT योजना | Uttar Pradesh Direct Benefit Transfer Yojana || उत्तर प्रदेश सरकार दवारा राज्य के छात्र-छात्राओं को पढाई के प्रति प्रोत्साहित करने के लिए DBT योजना को लागु किया गया है| जिसके माध्यम से स्कूली बच्चों को शिक्षण सामग्री उपलव्ध करवाने के लिए आर्थिक सहायता DBT (प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण) के जरिये अभिभावको के बैंक खातों मे ट्रांसफर की जाती है| इस योजना से माता-पिता को अब बच्चों की पढाई मे होने वाले खर्चे की चिंता नही रहेगी | कैसे मिलेगा इस योजना का लाभ और इसके अंतर्गत आवेदन कैसे किया जाएगा| ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढ्ना होगा| तो आइए जानते हैं – उत्तर प्रदेश छात्र DBT योजना के वारे मे|

UP CM DBT Yojana

UP CM DBT Yojana

DBT योजना को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी दवारा राज्य मे पढ रहे स्कूली बच्चों के कल्याण के लिए शुरू किया गया है| इस योजना के अंतर्गत बच्चों को ड्रेस, स्वेटर, बैग, जूता-मोजा व स्टेशनरी आदि के लिए 1200-1200 रुपये की आर्थिक मदद की जाएगी| योजना के जरिये मिलने वाली ये राशि बच्चों के अभिभावको के बैंक खाते मे DBT मोड के जरिये स्थानातरित की जाएगी| इस योजना से जो अभिभावक अपने बच्चों को शिक्षण सामग्री खरीदने मे असमर्थ थे| अब इस योजना से उन्हे काफी राहत मिलेगी| क्योंकि बच्चों के पहनावे से लेकर स्टेशनरी तक की सुविधा सरकार दवारा पूरी की जाएगी| इस सुविधा से बच्चों को शिक्षा ग्रहण करने मे सहायता मिलेगी और उनका ध्यान पढाई की तरफ ही रहेगा|

UP DBT योजना से कितने बच्चे लाभान्वित होंगे

इस योजना के प्रथम चरण में जिले के परिषदीय स्कूलों के 1,43,592 छात्र-छात्राओं के अभिभावकों के खातो में 17 करोड़, 23 लाख 10 हजार 800 रुपये की धनराशि भेजी गई है। इस योजना से लगभग 2.33 लाख से अधिक बच्चे लाभान्वित होंगे।

DBT योजना का अवलोकन

योजना का नाम उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री DBT योजना
किसके दवारा शुरू की गई उत्तर प्रदेश सरकार दवारा
लाभार्थी राज्य के सरकारी स्कूलो मे पढ्ने वाले छात्र-छात्राएँ
प्रदान की जाने वाली सहायता शिक्षण सामग्री खरीदने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना|
लाभ राशि 1200/- रूपए

उत्तर प्रदेश निशुल्क स्कूटी योजना

योजना के मुख्य पहलु

  • हाल ही में, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री जी दवारा DBT योजना की शुरुआत की गई है।
  • इस योजना के तहत, पैसा सीधे माता-पिता या अभिभावक के खाते में भेजा जाता है ताकि वे स्कूल की वर्दी, सही जूते, स्वेटर, बैग और स्टेशनरी का सामान जैसे पेन, पेंसिल आदि खरीद सकें।
  • इस कार्यक्रम के तहत छात्रों के अभिभावकों के बैंक खातों में सीधे कुल 1200 रुपये जमा किए जाते हैं|
  • अब तक प्रदेश में करीब 8050 स्कूलों को गोद लिया जा चुका है।
  • 2022-23 शिक्षण वर्ष में पहली से आठवीं तक के लिए 1.91 करोड़ बच्चों का नामांकन किया गया है।

UP CM DBT Transfer Scheme

योजना के तहत मिलने वाली शिक्षण सामग्री  

  • 2 यूनिफॉर्म के लिए 600 रुपये
  • स्वेटर के लिए 200 रुपये
  • जूते मोजे के लिए 125 रुपये,
  • स्कूल बैग के लिए 175 रुपये
  • स्टेशनरी के लिए 100 रूपए

UP Direct Benefit Transfer Yojana का उद्देश्य

योजना का मुख्य उद्देश्य सरकारी स्कूलो मे पढ्ने वाले छात्रो को स्कूल की वर्दी, सही जूते, स्वेटर, बैग और स्टेशनरी का सामान खरीदने के लिए सरकार दवारा आर्थिक मदद उपलव्ध करवाना है|

UP मुख्यमंत्री DBT योजना के लिए पात्रता

  • आवेदक को उत्तर प्रदेश राज्य का स्थायी निवासी होना चाहिए|
  • लाभार्थी सरकारी स्कूल मे पढ्ने वाला विद्यार्थी होना चाहिए|
  • विद्यार्थी के अभिभावक के पास स्थायी बैंक खाता होना चाहिए|

उत्तर प्रदेश DBT योजना के लिए जरूरी दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • सरकारी स्कूल मे पढ्ने वाले छात्र का ID कार्ड
  • अभिभावक का बैंक खाता
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नम्वर

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री DBT योजना के लाभ

  • उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री DBT योजना का लाभ राज्य के सरकारी स्कूलो मे पढ्ने वाले बच्चों को मिलेगा|
  • इस योजना के जरिये बच्चों को स्कूली समान खरीदने के लिए सरकार दवारा आर्थिक मदद की जाएगी|
  • जिसमे से छात्र-छात्राओं को ड्रेस, स्वेटर, बैग, जूता-मोजा व स्टेशनरी आदि खरीदने के लिए 1200/- रूपए की आर्थिक मदद की जाएगी|
  • ये आर्थिक सहायता पात्र छात्रो के माता-पिता के बैंक खाते मे जमा की जाएगी|
  • इस योजना से अब अभिभावक अपने बच्चों को अच्छे से तैयार करके स्कूल भेजेंगे|
  • ये योजना उन अभिभावको के लिए कारगर सावित होगी, जिनके पास अपने बच्चों के लिए शिक्षण सामग्री खरीदने के के लिए पैसे नही हैं| इस योजना से ऐसे सभी परिवारवालो को कवर किया जाएगा|
  • इस योजना से बच्चों का रुझान पढाई की तरफ अधिक रहेगा|
  • इस योजना से सरकारी स्कूलो को निजी स्कूलो की तरह विकसित किया जाएगा|

उत्तर प्रदेश DBT योजना की मुख्य विशेषताएँ

  • सरकारी स्कूलो मे पढ्ने वाले बच्चों को स्कूली समान खरीदने के लिए सरकार दवारा आर्थिक मदद करना
  • राज्य मे शिक्षा का विस्तार करना
  • गरीब बच्चों को स्कूल आने के लिए प्रेरित करना
  • सरकारी स्कूलो को आधुनिक रूप से विकसित करना|
  • पात्र छात्रो को आत्म-निर्भर व सशक्त वनाना|

DBT का मकसद

  • सरकारी योजनाओं के फर्जी लाभार्थियों की पहचान
  • भूगतान में होने वाली देरी से निजात
  • संसाधनों का बेहतर उपयोग

UP मुख्यमंत्री DBT योजना के लिए आवेदन कैसे करे

जो आवेदक योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं, उन्हे थोड़ा इंतजार करना होगा| अभी योजना की शुरुआत की गई है| आवेदन करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट अभी शुरू नही की गई है| वेबसाइट के शुरू होने के बाद ही आप आवेदन कर सकेंगे| जिसकी जानकारी हम आपको आर्टीकल के जरिये प्रदान करेंगे|

योगी आदित्यनाथ जी के शब्द

योजना को शुरू करते हुए उन्होने कहा है कि – “शैक्षणिक संस्थानों में उतनी ही पवित्रता बनाए रखें जितनी आप धार्मिक संगठनों में रखते हैं। यह वही है जो हम अपने मूल में हैं। प्रत्येक व्यक्ति का अपने विद्यालय से आध्यात्मिक जुड़ाव होना चाहिए। जो उन्हे आगे वढ्ने के लिए प्रेरित करता है|”

 

आशा करता हूँ आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी| आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेट और लाइक जरूर करे|

error: Content is protected !!