मुख्यमंत्री मशरूम विकास योजना 2022 | ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म

 

|| उत्तराखंड मशरूम विकास योजना | Mukhyamantri Mushroom Vikas Yojana |  Registration | Application Form || कोरोना काल के दौरान नौकरी खो चुके और रोजगार की तलाश कर रहे युवाओ को रोजगार से जोडने के लिए उत्तराखंड सरकार दवारा मुख्यमंत्री मशरूम विकास योजना को लागु करने की घोषणा की गई है। जिसके जरिए लाभार्थीयो को मशरुम की खेती के लिए प्रोत्साहित कर रोजगार से जोडा जाएगा। कैसे मिलेगा योजना का लाभ और आवेदन कैसे किया जाएगा। ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा। तो आइए जानते हैं – मुख्यमंत्री मशरूम विकास योजना 2022 के वारे मे। 

Mushroom Vikas Yojana

 

Mukhyamantri Mushroom Vikas Yojana

 

उत्तराखंड सरकार दवारा राज्य मे वेरोजगारी दर को कम करने और युवाओ को आत्म-निर्भर वनाने के लिए मुख्यमंत्री मशरूम विकास योजना को शुरु करने की घोषणा की गई है। जिसके तहत कोरोना काल के दौरान अन्य राज्यों से घर लौटे प्रवासियों को रोजगार उपलव्ध करवाने के लिए 25,000 युवाओं को मशरूम की खेती से जोडा जाएगा। जिससे लाभार्थी मशरूम की खेती कर उसका उत्पादन करेगें, ताकि वे अपनी आय मे सुधार कर सके। लाभार्थीयों को योजना का लाभ देने के लिए कृषि विभाग दवारा खेती करने की ट्रेनिग दी जाएगी। कि खेती कैसे की जाती है और क्या-क्या सावधानियां खेती करते समय वरतनी चाहिए। ये सारी जानकारी लाभार्थीयो को उपलव्ध करवाई जाएगी। राज्य सरकार दवारा चलाई जा रही इस योजना से अधिक से अधिक युवा वर्ग / जिनके पास पैसा कमाने का कोई साधन नहीं है, ऐसे लाभार्थी रोजगार पाने के लिए प्रोत्साहित होगें। योजना का लाभ लाभार्थी आवेदन करके प्राप्त कर सकेगें।

 

लेटेस्ट अपडेट 

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जी दवारा हरिद्वार में मुख्यमंत्री मशरूम विकास योजना को पूरे राज्य मे लागु करने के निर्देश दिए हैं। इस बात की घोषणा उन्होंने हरिद्वार के बुग्गावाला में एक निजी क्षेत्र की कंपनी के फूड प्रोसेसिंग एवं पैकेजिंग प्लांट का उद्घाटन करते हुए की है। उन्होंने कहा है कि सरकार द्वारा एक जिला एक उत्पाद योजना के तहत हरिद्वार के लिए मशरूम का चयन किया गया है। जिसके माध्यम से 25000 लोगों को लाभान्वित किया जाएगा।

इस योजना के तहत लाभार्थी युवाओं को कृषि विभाग द्वारा मशरूम की खेती करने के लिए ट्रेनिंग भी दी जाएगी। सरकार द्वारा एक जिला एक उत्पाद के तहत प्रदेश में खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों के लिए 49 लाभार्थियों को ऋण स्वीकृत किया जाएगा| जिसके सापेक्ष में 28 ईकाइयां अलग-अलग जनपदों में स्थापित होगी। अब इसी के तहत हरिद्वार में मशरूम प्रसंस्करण इकाई को भी जल्द ही स्थापित किया जाएगा।

योजना का अवलोकन

योजना का नाम मुख्यमंत्री मशरूम विकास योजना
किसके दवारा शुरू की गई उत्तराखंड सरकार दवारा
लाभार्थी राज्य के युवा नागरिक
प्रदान की जाने वाली सहायता मशरूम की  प्रसंस्करण इकाई स्थापित करके  राज्य के युवाओं को रोजगार से जोड़ना
आवेदन प्रक्रिया ऑफलाइन

 

1

मशरूम विकास योजना का उद्देश्य 

मुख्यमंत्री मशरूम विकास योजना का मुख्य उद्देश्य वेरोजगार युवाओ को रोजगार से जोडकर उनको आर्थिक रुप से मजबूत वनाना है।

ये भी पढे – मुख्यमंत्री उदीयमान खिलाड़ी उन्नयन योजना

 

मशरूम विकास योजना के लिए पात्रता

  • उत्तराखंड राज्य के स्थायी निवासी
  • वेरोजगार युवा वर्ग
  • नौकरी की तलाश करने वाले लाभार्थी   

मुख्यमंत्री मशरूम विकास योजना के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज 

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नम्वर

मशरूम विकास योजना के लाभ 

  • मुख्यमंत्री मशरूम विकास योजना का लाभ उत्तराखंड राज्य के स्थायी निवासियो को मिलेगा।
  • योजना के जरिए वेरोजगार युवाओ को रोजगार दिलाने के लिए मशरूम की खेती से जोडा जाएगा।
  • इस योजना से मशरूम की पैदावार होगी।
  • प्रदेश में मशरूम उत्पादन की अनेकों संभावनाएं वढेगीं।
  • राज्य के 25,000 युवाओं को योजना का लाभ मिलेगा।
  • इस योजना से वेरोजगारी दर मे कमी आएगी।
  • आर्थिक सिथति वेहतर वनेगी।
  • इस योजना से लाभार्थीयो को कोरोना काल के दौरान आ रही आर्थिक परेशानियो का सामना नहीं करना पडेगा।
  • अब युवाओ को रोजगार अपने राज्य मे ही मिल जाएगा।
  • इस योजना से युवा वर्ग सशक्त-जागरुक वनेगें।

मशरूम विकास योजना की विशेषताएं 

  • वेरोजगार युवाओ को रोजगार से जोडना
  • खेती करने के लिए लाभार्थीयो को प्रोत्साहित करना
  • लाभार्थीयो को आत्म-निर्भर वनाना

मुख्यमंत्री मशरूम विकास योजना के लिए कैसे करें आवेदन 

  • योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थीयो को कृषि विभाग कार्यालय जाना होगा।
  • यहां आपको योजना संवधित आवेदन फार्म भरने के लिए दिया जाएगा।
  • आपको इस फार्म मे दी गई सारी जानकारी भरने के साथ-साथ आव्श्यक दस्तावेज भी अटैच करने होगें।
  • सारी प्रक्रिया होने के बाद आपको ये फार्म जमा करवा देना है।
  • फार्म जमा करवाने के वाद विभाग दवारा लाभार्थीयो को रोजगार उपलव्ध करवाने के लिए मशरुम खेती की ट्रीनिग दी जाएगी।
  • ट्रेनिग मिलने के वाद लाभार्थी मशरुम की खेती कर योजना का लाभ ले सकेगें और अपनी आय मे भी सुधार करेगें।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।

Last Updated on November 7, 2022 by Abinash

error: Content is protected !!