जल जीवन हरियाली योजना 2021 | पूरी जानकारी | dbtagriculture.bihar.gov.in | कैसे करें आवेदन

 

|| बिहार जल जीवन हरियाली योजना | Jal Jeevan Hariyali Yojana | मुख्यमंत्री जल जीवन हरियाली योजना | Jal Jeevan Hariyali Scheme | लाभ / पात्रता / उद्देश्य / विशेषताएं | How to apply ||

 

पर्यावरण की रक्षा करने, किसानों को आत्म-निर्भर वनाने और उन्हें आर्थिक रुप से मजबूत करने के लिए जल जीवन हरियाली योजना को लागु किया गया है। जिसके जरिए बिहार राज्य में पोधो का रोपण किया जायेगा और पानी के परम्परागत स्रोतों तलाब,पोखरों कुओ का निर्माण तथा उनकी मरम्मत सरकार द्वारा की जाएगी। इसके अलावा किसानो को तालाब ,पोखरे बनाने और खेतो की सिचाई के लिए सरकार दवारा सब्सिडी भी प्रदान की जाएगी। जिससे लाभार्थीयो का आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। इस योजना से किसानों को क्या लाभ पहुंचेगे और योजना के लिए आवेदन कैसे होगा। इसके लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा। तो आइए जानते हैं – जल जीवन हरियाली योजना 2021 के वारे में।

 

जल जीवन हरियाली योजना 2021 

बिहार सरकार दवारा राज्य में किसानों की सिथति को बेहतर वनाने और जल सरंक्षण को बढ़ावा देने के लिए जल जीवन हरियाली योजना को शुरु किया गया है।जिसके तहत राज्य सरकार दवारा किसानों को तालाब ,पोखरे बनाने और खेतो की सिचाई के लिए 75500 रूपये की सब्सिडी के रुप में आर्थिक सहायता प्रदान करेगी। इससे राज्य में पेड़ लगाने की मुहीम पर कार्य किया जाएगा और बारिश के पानी से सिंचाई की व्यवस्था होगी। जिससे पेड़ों या खेतों को सही समय पर पानी मिलने पर उनकी अच्छे से  भी देखभाल की जा सकेगी। इस योजना के तहत अभी तक तकरीबन 1 करोड़ पौधे रोपे जा चुके हैं। जिससे जल प्रदूषण को मुक्त रखने और इसके स्तर को संतुलित किया जाएगा। इससे फसलों की  पैदावार वढेगी और किसानों की आय मे भी सुधार होगा। इस योजना के लिए 2022 तक कुल 24 हजार 524 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।    

बिहार जल जीवन हरियाली योजना का मुख्य उद्देश्य 

जल जीवन हरियाली योजना का मुख्य उद्देश्य कृषि की देखभाल करने और प्राकृति संतुलन को वनाए रखने के लिए किसानों को राज्य सरकार दवारा वित्तिय सहायता उपलव्ध करवाकर उनकी आय में वढोतरी करना है।

Jal Jeevan Hariyali Yojana के लिए पात्रता 

  • बिहार राज्य के स्थायी निवासी
  • किसान वर्ग
  • किसानो को 01 एकड़ की भूमि की सिंचाई करने के लिए सब्सिडी दी जाएगी।

जल जीवन हरियाली योजना के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज 

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • जमीनी दस्तावेज
  • बैंक खाता
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नम्वर

बिहार जल जीवन हरियाली योजना Categories

जल जीवन हरियाली योजना के जरिए किसानों को 2 श्रेणियों मे वांटा गया है – व्यक्तिगत और सामूहिक

  • व्यक्तिगत श्रेणी में उन लोगों को शामिल किया जाएगा, जिनके पास 1 एकड़ तक कृषि करने के लिए भूमि है । जिसके जरिए वे भूमि में सिचाई करना चाहते है।
  • सामूहिक श्रेणी में वे लोग शामिल होगें, जो 5 हेक्टेयर से अधिक रकबे में एक साथ लेना चाहते हैं, उन्हें शत–प्रतिशत वास्तविक लागत के अनुरूप सब्सिडी मिलेगी।

जल जीवन हरियाली योजना के तहत किए जाने वाले कार्य

  • सार्वजनिक कुंओं को चिन्हित कर उनका जीर्णोद्धार करना।
  • सार्वजनिक चापाकलों , तालाब, पोखर, आहरों,नलकूपों के किनारे सोख्ता या जल संचयन संरचनाओं का निर्माण करना।
  • सार्वजनिक जल संचयन संरचनाओं को अतिक्रमण से मुक्त करना।
  • सौर ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा दिया जाना।
  • सिंचाई के साधनों जैसे पुराने तालाब, पोखर, आहरों का जीर्णोद्धार किया जाना।
  • नदी ,नालों पर जल संचयन चैक डैम और अन्य जल संचयन संरचनाओं का निर्माण करना।
  • भवनों में वर्षा जल संचयन संरचना का निर्माण ।
  • जल जीवन हरियाली जागरूकता अभियान ।
  • वैकल्पिक फसलों ,टिपकन सिंचाई ,जैविक खेती एवं अन्य तकनीकों का उपयोग करना।
  • पौधशाला एवं सघन वृक्षारोपण करना।
  • नए जल स्रोतों का निर्माण करना और जिन नदियों में पानी अधिक है उनका पानी कम जल वाले क्षेत्रों तक पहुंचाने का कार्य करना ।

मुख्यमंत्री जल जीवन हरियाली योजना के लाभ 

  • जल जीवन हरियाली योजना का लाभ बिहार राज्य के किसान भाइयों को मिलेगा।
  • इस योजना के जरिए लाभार्थीयों को तालाब ,पोखरे बनाने और खेतो की सिचाई के लिए सरकार दवारा सब्सिडी के रुप में आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना से आहर, पोखर, छोटी  नदियों, पुराने कुओं को सुदृढ़ किया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से चापा कल, कुआं, सरकारी भवनों में वर्षा के पानी को स्टोर करने के लिए वाटर हार्वेस्टिंग की जाएगी।
  • छोटी नदियों नालों और पहाड़ी क्षेत्रों में चेकडैम का निर्माण किया जाएगा।
  • इस योजना से पर्यावरण को प्रदूषित होने से बचाया जाएगा।
  • इस योजना से पेड़ लगाने पर काम किया जाएगा, और वर्षा के पानी से सिंचाई की व्यवस्था भी की जाएगी।
  • सिंचाई की व्यवस्था होने से किसानों की फसलों को सूखे की मार नहीं झेलनी पडेगी।
  • बिजली की खपत मे कमी आएगी।
  • वर्ष 2022 तक इस योजना पर 24 हजार 524 करोड़ रूपये खर्च किये जाने का प्रावधान है।

Jal Jeevan Hariyali Yojana की मुख्य विशेषताएं 

  • राज्य सरकार दवारा मिलेगी सहायता
  • किसानों की आय में होगी वढोतरी
  • किसानों का आत्म-निर्भर वनाया जाएगा।
  • हरियाली पैदा कर प्राकृति के संतुलन को ठीक करना।
  • सिंचाई के लिए जल स्रोत तैयार करना।
  • राज्य में बिजली की खपत को कम से कम करना।

जल जीवन हरियाली योजना के लिए कैसे करें आवेदन 

  • जल जीवन हरियाली योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी को सवसे पहले अधिकारिक वेब्साइट पे जाना है। 
  • अब आपको “जल जीवन हरियाली” वाले लिंक की खोज कर आवेदन करे वटन पे किल्क करना है।

  • यहां किल्क करते ही आप अगले पेज मे आ जाओगे।
  • यहां आपको “General User” वाले वटन पे किल्क करना है।

  • अब आपको दी गई जानकारी भरने के बाद search वटन पे किल्क करना है।

 

  • Search वटन पे किल्क करने के वाद Jal Jeevan Hariyali Yojana का आवेदन फार्म खुल जाएगा।
  • यहां आपको दी गई जानकारी भरनी होगी।

  • जहां- जहां आपको आवेदन फार्म मे जानकारी भरने के लिए वताया जा रहा है, आपको वे कॉल्म भरने होगें।

  • सारी जानकारी भरने के बाद अब आपको “Get OTP” वटन पे किल्क करना है।
  • यहां किल्क करते ही आपके रजिस्टड मोबाइल नम्वर OTP भेजा जाएगा। आपको उसे OTP Box में दर्ज करना है।
  • उसके बाद आपको सबमिट वटन पे किल्क कर देना है।
  • सबमिट बटन पे किल्क करते ही आपका जल जीवन हरियाली योजना 2020 के लिए सफलतापूर्वक आवेदन कर दिया जाएगा और आपको योजना का लाभ प्राप्त हो जाएगा।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।

error: Content is protected !!