दिल्ली फूड हब योजना | Food Hub : आवेदन प्रोसेस | अर्थव्यवस्था से लेकर रोजगार मे होगी वढोतरी

 

|| Food Hub Scheme | दिल्ली मुख्यमंत्री फूड हब योजना | पात्रता व उद्देश्य | Registration || दिल्ली सरकार दवारा राज्य मे वेरोजगार युवाओं को रोजगार से जोड़ने के लिए फूड हब योजना को लागू किया गया है| जिसके माध्यम से दिल्ली मे फूड हब वनाए जाएंगे| जिससे रोजगार के अवसर वढेंगे और Food Hubs को नई पहचान मिलेगी| कैसे मिलेगा इस योजना का लाभ और इसके अंतर्गत आवेदन कैसे किया जाएगा| ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा| तो आइए जानते हैं – दिल्ली फूड हब योजना के वारे मे|

Delhi Food Hub

Delhi Food Hub Yojana

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी दवारा वहाँ के नागरिको के कल्याण के लिए फूड हब योजना को लागू किया गया है| जिसके अंतर्गत दिल्ली में 2 फूड हब पुरानी दिल्ली क्षेत्र के चांदनी चौक और मजनू के टीले में बनाए जाएंगे। इन हबों के इन्फ्रास्ट्रक्चर, खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता और उनकी ब्रांडिंग पर विशेष ध्यान दिया जायेगा। जिसके लिए फेज वन में पायलट बेसिस पर मजनू का टीला और चांदनी चौक में फूड हब्स विकसित किए जाएंगे| इंफ्रास्ट्रक्चर ठीक किया जाएगा और फिर फ़ूड सेफ्टी से संबंधित जरूरी इंतजाम किए जाएंगे| इसके बाद संबंधित फूड हब की ब्रांडिंग की जाएगी| एक्सपीरियंस के बेसिस पर ही सरकार बाकी फूड हब्स भी विकसित करेगी| जिससे आने वाले 05 सालो मे सरकार लगभग 20 लाख युवाओ को रोजगार प्रदान करेगी|

योजना का अवलोकन

योजना का नाम दिल्ली फूड हब योजना
किसके दवारा शुरू की गई दिल्ली सरकार दवारा
लाभार्थी राज्य के नागरिक
प्रदान की जाने वाली सहायता

ग्राहकों के खाने के अनुभवों को बेहतर बनाना और फूड हबों को पर्यटन स्थल के तौर पर विकसित करना

विभाग खाद्य सुरक्षा विभाग
आधिकारिक वेबसाइट nfs.delhigovt.nic.in

फूड हब योजना का उद्देश्य

दिल्ली में व्यापार, अर्थव्यवस्था और बड़ी संख्या में नए रोजगार उत्पन्न करना है|

पात्रता | Eligibility

  • मजनू का टीला और चांदनी चौक इस योजना का लाभ लेने के लिए पात्र हैं|

दिल्ली के फूड हब को मिलेगी विश्वस्तरीय पहचान

CM अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि अगले 06 हफ़्तों के अंदर एक डिजाइन प्रतियोगिता करवाई जाएगी| जिसमें देश की मशहूर आर्किटेक्चर फर्म से इनको विकसित करने के लिए डिजाइन मांगा जाएगा। उसके बाद अगले 12 हफ्तों में आर्किटेक्चर के डिजाइन को अंतिम रूप देकर कांट्रैक्ट दे दिया जाएगा और दोनों फूड हब को विकसित करने का काम शुरू कर दिया जाएगा।

फूड हब के विकसित होने से ग्राहकों की संख्या वढ़ेगी

केजरीवाल सरकार की इस योजना से ग्राहकों के खाने के अनुभवों को और बेहतर बनाना है, और साथ ही इन फूड हबों को पर्यटन स्थल के तौर पर विकसित करना है। इसके लिए सरकार दवारा इन मार्केट का समुचित पुनर्विकास करेगी। जिसमें सड़कें, सीवेज, लाइट और पार्किंग आदि की व्यवस्था की जाएगी। साथ ही खाद्य सुरक्षा विभाग द्वारा इन हबों के अंदर मिलने वाले खाद्य वस्तुओं को खाद्य सुरक्षा और स्वच्छता के मानकों पर खरा उतरने के लिए प्रेरित किया जाएगा। इसके अलावा ऐतिहासिक और सांस्कृतिक महत्व वाले फूड हब की ब्रांडिंग भी की जाएगी। जिससे दिल्ली में फूड टूरिज्म को बढ़ावा मिलेगा। दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल के लिए यहाँ किलक करे 

 

Food Hub

फूड हब की रूपरेखा

  1. मजनू का टीला- इसे ‘दिल्ली का छोटा तिब्बत’ बाजार के रूप में भी जाना जाता है। यह दिल्ली में सबसे तेजी से बढ़ते खाद्य स्थलों में से एक है। यह हब छात्रों के बीच एक प्रसिद्ध स्थान के तौर पर जाना जाता है और यहां पर कई एशियाई व्यंजन मिलते हैं।
  2. चांदनी चौक- चांदनी चौक में आसपास काफी कुछ है। चांदनी चौक का खाना बहुत प्रसिद्ध है। यहां कई अन्य व्यंजन प्रसिद्ध हैं।

इस वात का ध्यान रखने के लिए ही सरकार दवारा विशेष कदम उठाए जा रहे हैं, ताकि इन फूड फब को नई पहचान मिले और इनका विकास किया जा सके| जिससे आने वाले दिनो मे इन इलाको मे भारी संख्या मे लोगो का आगमन देखने को मिलेगा| जो वहाँ पे दुकान चलाने वाले लोगो की आय को वेहतर वनाने का मुख्य साधन होगा|

फूड हब के विकास में मार्केट एसोसिएशन का रहेगा सहयोग

इन दोनों फूड हब को विकसित करने के लिए जिन आर्किटेक्चरल फर्मों की नियुक्ति की जाएगी, वे जल्द से जल्द उन कार्यों की पहचान करेंगे, जो उसको विकसित करने के लिए आवश्यक है। इन दोनों फूड हब को विकसित करने की ज़िम्मेदारी मार्केट एसोसिएशन दवारा की जाएगी और योजना के सुचारू कार्यान्वयन व उसके रखरखाव के लिए बिना शर्त सहयोग देगी|

दिल्ली फूड हब योजना के लाभ  

  • दिल्ली सरकार ने शहर को स्वादिष्ट व्यंजनों की राजधानी के रूप में लोकप्रिय बनाने के लिए चांदनी चौक और मजनूं का टीला को ‘फूड हब’ (खाने-पीने का केंद्र) बनाया जाएगा|
  • योजना के पहले चरण में इन दो शहरो को ‘फूड हब’ के तौर पर विकसित किया जाएगा।
  • इन फूड हब का विकास होने के बाद अगले चरण में सभी फूड हब की पहचान की जाएगी और उनका पुनर्विकास किया जाएगा।
  • एक डिजाइज कॉम्पिटिशन आयोजित की जाएगी जाएगी जिसमें आर्किटेक्चर से जुड़ीं देश की सर्वश्रेष्ठ कंपनियों, संस्थाओं को बुलाया जाएगा।
  • जिसके लिए इन्फ्रास्ट्रक्चर, सड़कें, बिजली और हाइजीन जैसी व्यवस्था मे सुधार किया जाएगा|
  • खाने-पीने की दुकानों का विकास किया जाएगा|
  • सरकार दवारा डिजाइन कॉम्पिटिशन के जरिए आर्किटेक्चर प्लान को फाइनल किया जाएगा|
  • अगले 5 सालों में रोजगार पैदा किए जा सकेंगे|
  • दिल्ली में फूड टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए इन फूड हब और मार्केटिंग के लिए एक अनूठा ब्रांड विकसित किया जाएगा।

फूड हब योजना की मुख्य विशेषताएँ

  • दिल्ली के 02 वडे शहरों मजनू का टीला और चांदनी चौक को फूड हब वनाना
  • दिल्ली देश के फूड कैपिटल के तौर पर जानी जाए, जिसके लिए फूड हब चमकाएं जाएंगे।
  • व्यापार, अर्थव्यवस्था और रोजगार के अवसर सुनिशिचित करना

दिल्ली फूड हब योजना के लिए कैसे करे आवेदन

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी को मजनू का टीला या चांदनी चौक मे जाना होगा|
  • अब आपको यहाँ पे अलग-अलग व्यंजन मिलेंगे|
  • आपको अपने व्यंजन का चुनाव करना है (जो आप खाना चाहते हैं)
  • इस तरह आप मजनू का टीला या चांदनी चौक जैसे शहरो मे जाकर अपनी पसंद का खाना खा सकते हो|

आशा करता हूँ आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी| आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेट और लाइक जरूर करे|

Last Updated on September 28, 2022 by Abinash

error: Content is protected !!