वेद व्यास आवास योजना 2022 | आवेदन प्रक्रिया | एप्लीकेशन फॉर्म | पात्रता व उद्देश्य

|| Jharkhand Ved Vyas Awas Yojana | मुख्यमंत्री वेद व्यास आवास योजना | Ved Vyas Awas Yojana Registration | Application Form || झारखंड सरकार दवारा राज्य मे मछुवारों को लाभ प्रदान करने के लिए वेद व्यास आवास योजना को लागू किया गया है| जिसके माध्यम से प्रदेश के मछली पालने वाले लाभार्थी यानि मछुवारों को सरकार दवारा पक्का मकान वनाने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी| इस योजना से मछुवारों के जीवन स्तर को वेहतर वनाया जाएगा, जिससे वे आत्म-निर्भर व सशक्त वनेगे| कैसे मिलेगा इस योजना का लाभ और इसके अंतर्गत आवेदन कैसे किया जाएगा| ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढ्ना होगा| तो आइए जानते हैं – वेद व्यास आवास योजना के वारे मे|

Jharkhand Ved Vyas Awas Yojana

 

Ved Vyas Awas Yojana

वेद व्यास आवास योजना को झारखंड सरकार दवारा राज्य मे मतस्य पालन को वढावा देने और मछुवारों के कल्याण के लिए शुरू किया गया है| इस योजना के तहत प्रदेश के मछुवारें जो प्राकृतिक जल संसाधन जैसे तालाब, नदी, बड़े जलाशय या किसी अन्य प्राकृतिक स्त्रोत में मछली पालन करते हैं या फिर मछली बेचते हैं, उन्हे सरकार दवारा मकान वनाने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी| जिसमे से एक ही जगह पर सभी घरों का निर्माण कराया जाएगा, ताकि मछुआरों को आने जाने की सहूलियत हो सके। इस योजना के तहत लाभार्थीयों को मिलने वाली आर्थिक सहायता 1,20,000/- रूपए निर्धारित की गई है| जिसमे से दी जाने वाली इस राशि को लाभार्थी के बैंक खाते मे सीधे जमा किया जाएगा| योजना का लाभ आवेदक को आवेदन फॉर्म भरके प्राप्त कर सकेंगे|

योजना के मुख्य पहलु

वर्ष 2022-23 में वेदव्यास आवास योजना के तहत राज्य मे 250 पक्के मकान बनाए जाने का लक्ष्य रखा गया है। जिसके लिए 24 जिलों में से 19 जिलों के मछुआरों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा| वेद व्यास आवास योजना का लाभ लेने के लिए वे मछुआरे ही आवेदन कर सकेंगे, जिनके पास पक्का घर नहीं है या जिनकी छत पक्की नहीं है।

वेद व्यास आवास योजना का कुल बजट

इस योजना पर राज्य सरकार द्वारा 03 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। जिसके आधार पर ही पात्र लाभार्थी योजना का लाभ ले सकेंगे|

Jharkhand Ved Vyas Awas Yojana का अवलोकन

योजना का नाम वेद व्यास आवास योजना
किसके दवारा शुरू की गई झारखंड सरकार दवारा
लाभार्थी राज्य के मछुआरे
प्रदान की जाने वाली सहायता

पात्र लाभार्थीयों को रहने के लिए आवास वनाने हेतु आर्थिक सहायता प्रदान करना

लक्ष्य मतस्य पालन को वढावा देना
आवेदन प्रक्रिया ऑफलाइन

 

योजना के लिए किया गया है समिति का गठन

वेद व्यास आवास योजना के लिए मत्स्यजीवी सहयोग समिति का गठन किया गया है| जिसका मुख्य कार्य लाभार्थीयों की पहचान कर उन्हे योजना का लाभ प्रदान करना है|

वेद व्यास आवास योजना के तहत आरक्षण

  • आवास योजना का लाभ पति-पत्नी दोनों के नाम पर होगा|
  • कुल आवास बनाने के लक्ष्य का 3 प्रतिशत दिव्यांगजनों के लिए आरक्षित होगा|
  • 10 प्रतिशत महिलाओं के लिए आरक्षित हैं|
  • वहीं 50 आवास अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित रखे गए हैं|

Jharkhand Ved Vyas Awas Yojana

झारखंड वेद व्यास आवास योजना का उद्देश्य

योजना का मुख्य उद्देश्य मछुवारों को मतस्य पालन के प्रति प्रोत्साहित करने हेतु सरकार दवारा उन्हे मकान वनाने के लिए आर्थिक रूप से मदद उपलव्ध करवाना है|

वेद व्यास आवास योजना के लिए पात्रता

  • आवेदक झारखंड राज्य का स्थायी निवासी होना चाहिए|
  • मछली पालन करने वाले लाभार्थी (मछुवारे) योजना का लाभ लेने के लिए पात्र हैं|
  • मछुवारों के पास खुद की जमीन होनी चाहिए|
  • जिनका पक्का मकान नहीं है या फिर जिनकी छत पक्की नहीं है, वे लाभार्थी इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं|
  • अपनी जमीन साबित करने के लिए मछुवारों को भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र देना होगा|
  • इसके साथ ही उन्हे यह भी प्रमाण देना होगा की उन्हें किसी अन्य योजना जैसे प्रधानमंत्री आवास योजना या मछुआरा आवास योजना से पहले से किसी प्रकार का लाभ नहीं मिला है|
मुख्यमंत्री वेद व्यास आवास योजना के लिए जरूरी दस्तावेज
  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • जमीनी दस्तावेज
  • बैंक खाता
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नम्वर
वेद व्यास आवास योजना के लाभ
  • वेद व्यास आवास योजना को झारखंड सरकार दवारा मछुवारो को लाभ प्रदान करने के लिए शुरू किया गया है|
  • इस योजना के जरिये प्रदेश के वे मछुवारें जो प्राकृतिक जल संसाधन जैसे तालाब, नदी, बड़े जलाशय या किसी अन्य प्राकृतिक स्त्रोत में मछली पालन करते हैं या मछली बेचते हैं, उन्हे सरकार दवारा मकान वनाने के लिए आर्थिक मदद की जाएगी|
  • लाभार्थीयों को योजना के अंतर्गत मिलने वाली आर्थिक सहायता उनके बैंक अकाउंट मे स्थानातरित की जाएगी|
  • राज्य के प्रत्येक मछुवारो को योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा|
  • वेद व्यास आवास योजना के लिए राज्य के 24 जिलों में से 19 जिलों के मछुआरों को इस योजना से जोड़ा गया है|
  • पात्र लाभार्थीयों को इस योजना का लाभ मिले जिसके लिए समिति का भी गठन किया गया है|
मुख्यमंत्री वेद व्यास आवास योजना की मुख्य विशेषताएँ
  • राज्य मे मतस्य पालन को वढावा देना
  • मछुवारो के जीवन स्तर मे सुधार लाना|
  • रोजगार के अवसर मे वढ़ोतरी लाना
  • युवाओ, विशेष तोर पर वेरोजगार लाभार्थियों को योजना के प्रति प्रेरित करना
  • पात्र लाभार्थीयों को आत्म-निर्भर व सशक्त वनाना|
वेद व्यास आवास योजना के लिए कैसे करे आवेदन
  • जो आवेदक योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं, उन्हे मत्स्य पालक संबंधित जिले के जिला मत्स्य पदाधिकारी के पास जाना है|
  • उसके बाद लाभार्थी को वहाँ से आवेदन फार्म प्राप्त करना है|
  • अव आवेदक को इस फार्म को ध्यान पूर्वक भरना है, और जरूरी दस्तावेज फार्म के साथ अटैच करने हैं|
  • सारी प्रक्रिया होने के बाद आपको ये फार्म जिले के जिला मत्स्य पदाधिकारी के पास जमा करवा देना है|
  • फार्म जमा करवाने के बाद आपके दवारा भरे हुए आवेदन का सत्यापन किया जाएगा| उसके वाद ही लाभार्थी को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा|
  • इस तरह आपके दवारा योजना के अंतर्गत सफलतापूर्वक आवेदन कर दिया जाएगा|

आशा करता हूँ आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी| आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेट और लाइक जरूर करे|

error: Content is protected !!