Oct 14, 2020 Yojana

मध्य प्रदेश आहार अनुदान योजना | tribal.mp.gov.in | पूरी जानकारी | कैसे करें आवेदन

मुख्यमंत्री आहार अनुदान योजना | MP Aahar Anudan Yojana | आहार अनुदान योजना | Mukhyamantri Aahar Anudan Scheme | लाभ / पात्रता / उद्देश्य / विशेषताएं | How to apply

 

मध्य प्रदेश सरकार दवारा राज्य में पिछडी वर्ग को वित्तिय सहायता उपलव्ध करवाने और उन्हे कुपोषण जैसी बिमारी से वचाने के लिए मध्य प्रदेश आहार अनुदान योजना को लागु किया गया है। जिसके जरिए लाभार्थीयों को पोषिटक आहार उपलव्ध करवाने के लिए उनके बैंक खाते में सरकार दवारा धन राशि को ट्रांसफर किया जाएगा। इससे लाभार्थीयों को स्वास्थय सुविधा मिलेगी और उनका शारीरिक विकास होगा। इस योजना का लाभ किसे प्राप्त होगा, और आवेदन कैसे किया जाएगा। इसके लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा। तो आइए जानते हैं – मध्य प्रदेश आहार अनुदान योजना के वारे में।

मध्य प्रदेश आहार अनुदान योजना | Madhya Pradesh Aahar Anudan Yojana

 

मध्य प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान दवारा राज्य में विशेष पिछड़ी जनजातियों की महिलाओं और बच्चों के स्वास्थय का ध्यान रखते हुए और उन्हें कुपोषण मुक्त करने के लिए आहार अनुदान योजना को शुरु किया गया है। जिसके तहत राज्य में संकटकाल के बीच उचित पोषण के लिए लाभार्थीयों को आर्थिक सहायता उपलव्ध करवाई गई है। योजना के जरिए सिंगल क्लिक से 21 करोड़ 97 लाख 80 हजार रूपए भुगतान की नई व्यवस्था का भी शुभारंभ किया गया है। जिसमें 21 अगस्त 2020 को योजना की पहली किस्त लाभार्थीयों को प्रदान की गई है। योजना के माध्यम से प्रत्येक परिवार की महिला मुखिया के बैंक खाते में हर महीने 1000/- रूपए का भुगतान किया जाएगा। 2 लाख 19 हजार लाभार्थीयों को योजना का लाभ मिलेगा। इससे लाभार्थी आत्म-निर्भर वनेगें और उनका आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। लाभार्थीयों को अचित आहार मिलने से वे विमार नहीं पडेगें और राज्य में कुपोषण जैसी बिमारी को वढने से रोका जाएगा।

मध्य प्रदेश आहार अनुदान योजना को शुरु करने का मकसद | Purpose of Madhya Pradesh Aahar Anudan Yojana

राज्य में पिछड़ा वर्ग के लोगों को स्वास्थय से संवधित कई परेशानियो का सामना करना पडता है। गरीब होने के कारण उन्हे अचित आहार नहीं मिल पाता। जिससे वे कुपोषित रह जाते हैं। उनकी इस समस्या को देखते हुए ही सरकार दवारा लाभार्थीयों के स्वास्थय के ध्यान रखकर उन्हें आर्थिक सहायता उपलव्ध करवाने के लिए ही आहार अनुदान योजना को शुरु किया गया है। जिससे राज्य में लाभार्थीयों को पोषिटक आहार मिलेगा और कुपोषण महामारी को खत्म किया जाएगा।  

उद्देश्य | An Objective

मध्य प्रदेश आहार अनुदान योजना का मुख्य उद्देश्य पिछड़ा वर्ग के लाभार्थीयों के स्वास्थय का ध्यान रखते हुए उन्हे आर्थिक सहायता उपलव्ध करवाना है।

पात्रता | Eligibility

  • मध्य प्रदेश राज्य के स्थायी निवासी
  • पिछड़ा वर्ग की महिलाएं तथा वच्चे
  • आर्थिक रुप से कमजोर परिवार
  • उचित और पोषिटक आहार न मिलना

महत्वपूर्ण दस्तावेज | Important Documents

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नम्वर

लाभ | Benefits

  • मध्य प्रदेश आहार अनुदान योजना का लाभ मध्य प्रदेश के स्थायी लोगों को प्राप्त होगा।
  • योजना के जरिए पिछ्डा वर्ग की महिलाओं और वच्चों के स्वास्थय का ध्यान रखा जाएगा।
  • लाभार्थीयों को कुपोषण जैसी बिमारी से वचाने के लिए उन्हे सरकार दवारा वित्तिय सहायता उपलव्ध करवाई जाएगी।
  • इस योजना से 2 लाख 19 हजार लाभार्थीयों को सीधा लाभ प्राप्त होगा ।
  • योजना का लाभ देने के लिए सरकार दवारा लाभार्थीयों के बैंक खाते में 21 करोड़ 97 लाख 80 हजार रूपये सिंगल क्लिक से ट्रांसफर किए गए हैं।
  • योजना के मुताविक प्रत्येक परिवार की महिला मुखिया के बैंक खाते में हर महीने 1000/- रूपए का भुगतान किया जाएगा।
  • इस योजना से लाभार्थीयों को स्वास्थय से संवधित परेशानी का सामना नहीं करना पडेगा।
  • योजना के लागु होने से राज्य में कुपोषण जैसी बिमारी को रोकने मे सहायता मिलेगी।
  • ऑनलाइन आवेदन करके ही लाभार्थीयों को योजना का लाभ मिलेगा।

विशेषताएं | Features

  • राज्य सरकार दवारा मिलेगी सहायता
  • लाभार्थीयों का आर्थिक पक्ष मजबूत होगा।
  • स्वास्थय का रखा जाएगा ध्यान
  • लाभार्थीयों को आत्म-निर्भर वनाया जाएगा

मध्य प्रदेश आहार अनुदान योजना के लिए कैसे करें आवेदन | How to apply for Madhya Pradesh Aahar Anudan Yojana

  • अब आपको योजना के लिंक की खोज कर आवेदन फार्म भरकर पंजीकरण प्रक्रिया को पूरा करना है।
  • इसके अलावा लाभार्थी Kishok Kendra, CSC या लोक सेवा केंद्र पर जाकर निशुल्क पंजीकरण करवा सकते हैं।
  • ग्रामीण क्षेत्र के सरपंच सचिव, रोजगार सहायक तथा नगरी क्षेत्र में संबंधित क्षेत्र के पार्षद से संपर्क कर इस योजना के लिए पंजीकरण हेतु भी आवेदन किया जा सकता है।
  • आवेदन होने के बाद ही लाभार्थी को योजना का लाभ देने के लिए उसके बैंक खाते में सहायता राशि को ट्रांसफर किया जाएगा।
  • इस तरह लाभार्थी को मध्य प्रदेश आहार अनुदान योजना का लाभ मिल जाएगा।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेट और लाइक जरुर करें।

error: Content is protected !!