Updated : Nov 22, 2020 in Yojana

प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना 2020 | पूरी जानकारी | कैसे करें आवेदन  

हिमाचल प्रदेश प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना | HP Prakritik Kheti Khushal Kisan Yojana | मुख्यमंत्री प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना | How will get the benefits | पात्रता / उद्देश्य / विशेषताएं | How to apply

 

हिमाचल प्रदेश के किसानो को आत्म-निर्भर वनाने और उनकी आय मे सुधार करने के लिए राज्य में प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना को लागु किया गया है। जिसके जरिए किसानों को योजना से जोडने के लिए प्राकृतिक खेती करने की ट्रेनिग दी जाएगी और किसानों को जागरुक किया जाएगा। जिससे उनका आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा। तो आइए जानते हैं – प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना के वारे में।

प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना | Prakritik Kheti Khushal Kisan Yojana

 

हिमाचल प्रदेश सरकार दवारा राज्य के किसानों की सिथति को वेहतर वनाने और उनकी आय में वढोतरी करने के लिए प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना को शुरु किया गया है। जिसके तहत प्राकृतिक खेती करने वाले किसानों को उनके उत्पादों के बेहतर दाम मिलेंगे। इन उप्तादों को बेचने के लिए ब्लाक स्तर पर दुकान मुहैया करवाई जाएगी। किसानों को योजना का लाभ देने के लिए प्रदेश की 3226 में से 2934 पंचायतों के 72,193 किसान परिवारों को प्राकृतिक खेती के लिए प्रशिक्षण दिया जा रहा है। जिसमें 2022 तक प्रदेश के 9.61 लाख किसान परिवारों को प्राकृतिक खेती के अंतर्गत लाया जाएगा। इस योजना में रासायनिक उर्वरकों और कीटनाशकों का उपयोग किए बिना प्राकृतिक के साथ कृषि आय में वृद्धि की परिकल्पना की गई है। इस योजना से जुड़ने वाले किसानों को देसी नस्ल की गाय खरीदने के लिए 25000 रुपये की राशि और गौशाला के नालीकरण, खेती में प्रयोग होने वाले घनजीवामृत, जीवामृत को तैयार करने के लिए ड्रम आदि दिए जाएगें। इस योजना के लिए 25 करोड़ रुपए के बजट का प्रावधान रखा गया है।

 

प्राकृतिक खेती कैसे की जाती है | How is Prakritik Kheti done

प्राकृतिक खेती में देसी गाय के गोबर, गोमूत्र व कुछ घरेत्रू सामग्री के प्रयोग से ही खेती को किया जाता है। जिसमें प्रकृतिक खेती में पहले ही वर्ष में किसानों को लाभ पहुंचने लगता है और साल दर साल मिट्टी की उर्वरा क्षमता बढने के साथ-साथ उप्तादन में भी बढोतरी अधिक होती है। ऐसे में कृषि की लागत शून्य के बराबर रहती है और फसलों की पैदावार वढती है। जिससे किसानों को अधिक मुनाफा मिलता है और उनकी आय में भी सुधार होता है।

उद्देश्य | An Objective

प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों में खेती-बाड़ी के प्रति रूचि को बढाने और कृषि लागत को कम कर उनकी आर्थिक स्थिति को बेहतर करना है।

पात्रता | Eligibility

  • हिमाचल प्रदेश राज्य के स्थायी निवासी
  • किसान वर्ग 

महत्वपूर्ण दस्तावेज | Important Documents

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • जमीनी दस्तावेज
  • बैंक खाता
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नम्वर

लाभ | Benefits

  • प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना का लाभ हिमाचल प्रदेश के किसान भाइयों को मिलेगा।
  • इस योजना के जरिए किसानों को प्राकृतिक खेती करने के लिए जागरुक किया जाएगा।
  • राज्य के सभी किसानों को इस योजना से जोडा जाएगा।
  • इस योजना से प्राकृतिक खेती करने वाले किसानों को उनके उत्पादों के अच्छे दाम मुहैया करवाने के लिए ब्लाक स्तर पर दुकाने उपलव्ध करवाई जाएगी।
  • इस योजना से खेती की लागत को कम किया जाएगा।
  • मृदा स्वास्थ्य और जैव विविधता में सुधार होगा।
  • उर्वरकों और कीटनाशकों जैसे कृषि-रसायनों के उपयोग को हतोत्साहित किया जाएगा।
  • प्राकृतिक खेती और पर्यावरण के अनुकूल दृष्टिकोण को प्रोत्साहान मिलेगा।
  • इस योजना में रासायनिक उर्वरकों और कीटनाशकों का उपयोग किए बिना फसलों की पैदावार मे वढोतरी होगी।
  • इससे किसानों की सिथति मजबूत वनेगी।

योजना के जरिए किसानों को प्रोत्साहन सहायता | Incentive assistance to farmers through the scheme

  • मवेशियों के शेड की लाइनिंग के लिए 80% सहायता उपलव्ध होगी। 
  • किसानों को प्लास्टिक ड्रम प्रदान करने के लिए 75% मिलेगी सहायता। प्रति किसान अधिकतम तीन ड्रम उपलब्ध कराए जाएंगे।
  • भौतिक और जैविक कीट नियंत्रण उपायों के लिए 75% दी जाएगी सहायता।
  • ZBNF (Zero Budget Natural Farming) के कुशल विपणन के लिए थर्ड पार्टी प्रमाणन प्रक्रिया
  • गाँव में प्राकृतिक संसाधन की दुकान खोलने के लिए 50,000 रुपये तक की वित्तीय सहायता मिलेगी।
  • क्षमता निर्माण और किसान गोशालाओं में शामिल संसाधन व्यक्तियों और विशेषज्ञों के लिए मानदेय प्रदान होगा।

विशेषताएं | Features

  • राज्य सरकार दवारा मिलेगी सहायता
  • किसानों की आय में होगा सुधार
  • किसानों को आत्म-निर्भर वनाया जाएगा
  • फसलों पैदावार वढेगी
  • जैविक खेती के अलावा प्राकृतिक खेती करने के लिए अधिक महत्व दिया जाएगा

प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना के लिए कैसे करें आवेदन | How to apply for Prakritik Kheti Khushal Kisan Yojana

  • प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी को योजना संवधित कार्यालय में जाना है।
  • अब आपको आवेदन फार्म भरने के लिए दिया जाएगा।
  • लाभार्थी को इस फार्म में दी गई सारी जानकारी भरने के साथ आव्श्यक दस्तावेज अटैच करने हैं।
  • सारी प्रक्रिया होने के बाद आपको इस फार्म को जमा करवा देना है।
  • फार्म जमा करवाने और जांच प्रक्रिया पूरी होने के बाद आपको योजना का लाभ मिल जाएगा।

महत्वपूर्ण डाउनलोड | Important Downloads

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेट और लाइक जरुर करें।

error: Content is protected !!