नवा जतन योजना 2022 | NAVA JATAN : ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म

|| छत्तीसगढ़ नवा जतन योजना | CG Nava Jatan Yojana | Nava Jatan Scheme Online Registration | Application Form ||

बच्चों के स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए छत्तीसगढ़ सरकार दवारा नवा जतन योजना को लागू किया गया है| जिसके अंतर्गत राज्य के कुपोषित बच्चों का चयन करके उनकी अच्छे से देखभाल की जाएगी और उन्हे समान्य किया जाएगा| जिससे बच्चों का जीवन वेहतर वनेगा| कैसे मिलेगा इस योजना का लाभ और इसके अंतर्गत आवेदन कैसे किया जाएगा| ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढ्ना होगा| तो आइए जानते हैं – नवा जतन योजना के वारे मे|

NAVA JATAN

 

Nava Jatan Yojana

छत्तीसगढ़ सरकार दवारा राज्य के बच्चों को बिमारी से मुक्त रखने के लिए नवा जतन योजना को शुरू किया गया है| जिसके लिए राज्य भर में एक विशेष अभियान चलाया जाएगा। इस अभियान के तहत 34000 गंभीर कुपोषित बच्चों का चयन करके उन्हे खाने पीने और रहने आदि पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। 6 महीने तक बच्चों को विशेष निगरानी में रखकर उन्हे पोषित किया जाएगा, जिससे राज्य के बच्चों को गंभीर कुपोषण का शिकार होने से बचाया जा सकेगा। इस योजना से गरीब बच्चों को पोषण अच्छी तरह से मिल सकेगा और उनका आने वाला कल बिमारी से मुक्त होगा|

योजना के तहत 700 बच्चों का किया जाएगा चयन

छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा बच्चों को कुपोषण के शिकार से बचाने के लिए नवा जतन योजना को चलाया गया है। जिसमे से जिले के हजारों गंभीर कुपोषित बच्चों में से 700 बच्चों का चयन किया गया है। जिनमे से इन बच्चों की 6 माह तक विशेष रूप से निगरानी मे रखा जाएगा और जिन्हे कुपोषण से सामान्य किया जाएगा। इस योजना से बच्चों के स्वास्थ्य को वेहतर वनाया जाएगा|

नवा जतन योजना को सफल वनाने के लिए किया जा रहा है प्रयोग

राज्य के लगभग 700 बच्चों में कुपोषण की शिकायत को दूर करने के लिए 6 माह की ट्रेनिंग चलाने का अभियान एक तरह से प्रयोग होगा। यह प्रयोग पहली बार किया जा रहा है| जिसमे बच्चों के हितो का ध्यान रखा गया है| यदि यह प्रयोग सफल रहता है तो इसे प्रतिवर्ष चलाया जाएगा। जिसके लिए जिले के हजारों बच्चों को इस गंभीर बीमारी से बचाने हेतु सरकार द्वारा इस अभियान का संचलन किया गया है।

आंगनबाड़ी केन्द्रो से दी जाएगी पात्र बच्चों को सुविधा

नवा जतन योजना के अंतर्गत 700 बच्चों को अपने अपने क्षेत्र के आंगनबाड़ी में ही रखा जाएगा। यहां उनके लिए “ready to eat” खिलाने का कार्य पूरी तरह आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की देखरेख में होगा। इसके अलावा विभाग के अधिकारी समय-समय पर इन बच्चों के पास जाएंगे और नियमित रूप से “ready to eat” एवं आंगनबाड़ी में मिलने वाले भोजन को अपनी निगरानी में कराएंगे। अगर बच्चा भोजन करने में मना करता है तो इसका कारण जाना जाएगा। बच्चा जिस तरह के भोजन में रूचि रखता है तों उसे उसी तरह का भोजन रोजाना आंगनबाड़ी केंद्र में उपलव्ध करवाया जाएगा।

इसके अलावा बच्चों के अभिभावको से अधिकारी और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता नियमिति रूप से मिलेंगे और घर में इनके खाने पीने का समय निर्धारित किया जाएगा| जो समय खाने का निर्धारित हुआ है, उसी समय में बच्चे को खाना खिलाया जाएगा| इसके अलावा बच्चा जब भी भूख लगने की बात कहे, तो उसे तुरंत खाना दिया जाएगा|

प्रति बच्चे पर आएगा 300/- Rs. का खर्च

सभी बच्चों को नवा जतन योजना के अंतर्गत भोजन देने के लिए सरकार दवारा 300 रुपये हर महीने खर्च किए जाएंगे। जिसमे से 700 बच्चों के लिए महीने में 210000/- रुपये महीने का खर्च आएगा। जिससे इन बच्चों को स्वास्थ्य से लेकर किसी भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। इस तरह से 6 माह के लिए शासन से 1260000 का बजट मुहैया कराया जाएगा। जो इन बच्चों को समान्य करने के लिए सवसे वडा कदम है|

छत्तीसगढ़ नवा जतन योजना का उद्देश्य

योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य के कुपोषित बच्चों को स्वास्थ्य करना है|

नवा जतन योजना के लिए पात्रता

  • छत्तीसगढ़ राज्य के स्थायी निवासी
  • राज्य के कुपोषित बच्चे
Nava Jatan Yojana के लिए आवश्यक दस्तावेज
  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर
Nava Jatan Yojana
छत्तीसगढ़ नवा जतन योजना के लाभ
  • नवा जतन योजना की शुरुआत छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा बच्चों के स्वास्थ्य को ध्यान मे रखते हुए की गई है।
  • इस योजना के जरिये राज्य के कुपोषित बच्चों को पोष्टिक आहार दिया जाएगा, ताकि उन्हे समान्य वनाया जा सके|
  • इस योजना के तहत जिले के 34 हजार गंभीर कुपोषित बच्चों में से सवसे ज्यादा 700 कुपोषित बच्चों का चयन किया जाएगा।
  • जिसमे से 6 माह तक विशेष निगरानी में रखकर इन बच्चों को पोषित करने का लक्ष्य रखा जाएगा|
  • इस योजना के माध्यम से बच्चों को खाने-पीने से लेकर हर चीज की सुविधा मुहैया कराई जाएगी।
  • बच्चों को भोजन रोजाना आंगनवाड़ी केंदों में ही दिया जाएगा।
  • बच्चों को दिया जाने वाला भोजन पोष्टिक होगा|
  • विभाग के अधिकारी समय-समय पर इन बच्चों के पास जाएंगे।
  • अगर कोई भी बच्चा भोजन करने में रुचि नहीं रखता है तो इसका कारण जाना जाएगा और उस बच्चे को उसकी पसंद का खाना खिलाया जाएगा|
  • बच्चों के परिवारवालो से भी बिभाग दवारा समय-समय पर संपर्क करके उनके स्वास्थ्य को लेकर दिशा-निर्देश दिए जाएंगे|
  • यह प्रयोग बच्चों की वेहतरी के लिए पहली बार किया जा रहा है, अगर यह सफल होता है तो इससे बच्चों के स्वास्थ्य मे वदलाव देखने को मिलेगा और इस प्रयोग हर साल दोहराया जाएगा|
  • इस योजना से हर बच्चे के ऊपर ₹300 महीने का खर्च आएगा|
छत्तीसगढ़ नवा जतन योजना की मुख्य विशेषताएँ
  • राज्य मे कुपोषित बच्चों के स्वास्थ्य का ध्यान रखना
  • बच्चों को कुपोषण जैसी बिमारी से वचाना|
  • पात्र बच्चों को आत्म-निर्भर व सशक्त वनाना|
छत्तीसगढ़ नवा जतन योजना के लिए कैसे करें आवेदन

नवा जतन योजना के अंतर्गत जो आवेदक आवेदन करना चाहते हैं, उन्हे कुछ समय का इंतजार करना होगा क्योंकि सरकार द्वारा अभी योजना की घोषणा की गई है। अभी योजना के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया जारी नहीं की गई है। जैसे ही नवा जतन योजना के लिए की आवेदन की प्रक्रिया जारी की जाएगी तो हम आपको इस आर्टीकल के दवारा सूचित कर देंगे|

आशा करता हूँ आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी| आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेट और लाइक जरूर करें|

error: Content is protected !!