Jan 05, 2021 Yojana

[Post Office] किसान विकास पत्र योजना | पैसा होगा डबल | पूरी जानकारी | कैसे करें आवेदन

किसान विकास पत्र योजना | Kisan Vikas patra Yojana | पोस्ट ऑफिस की किसान विकास पत्र योजना से कैसे होगा पैसा डबल | How to apply | उद्देश्य / पात्रता / महत्वपूर्ण दस्तावेज / लाभ & विशेषताएं 

 

किसान विकास पत्र योजना एक ऐसी योजना है, जहां पर लाभार्थी का पैसा 124 महीने में डबल हो जाता है। पैसा कैसे डबल होता है। ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा। तो आइए जानते हैं –  किसान विकास पत्र योजना के वारे में।            

किसान विकास पत्र योजना | Kisan Vikas patra Yojana

 

किसान विकास पत्र भारत सरकार द्वारा जारी किया एक वन टाइम इन्वेस्टमेंट योजना है, जहां एक तय अवधि में आपका पैसा दोगुना हो जाता है| यह एक तरह का प्रमाण पत्र होता है, जिसे कोई भी व्‍यक्ति खरीद सकता है। इसे बॉन्‍ड की तरह प्रमाण पत्र के रूप में जारी किया जाता है और इस पर एक तय शुदा ब्‍याज मिलता है। यह योजना उन निवेशकों के लिए महत्वपूर्ण है, जो जोखिम लेने के लिए तैयार नहीं हैं पर उनके पास अतिरिक्त पैसा है और वे उसे सुरक्षित रखने के लिए सुनिश्चित रिटर्न की तलाश करना चाहते हैं। इस योजना में मेच्योरिटी पीरियड 124 महीने का होता है। जिसमें न्यून्तम निवेश 1000/- रुपये तक का होता है। अधिकतम निवेश की कोई लिमिट नहीं रखी गई है। इस योजना को जनता के बीच लांग-टर्म निवेश और बचत को प्रोत्साहित करने के लिए डिजाइन किया गया है, ताकि ग्राहक को निवेश के वाद जमा की गई राशी गांरटी के साथ दोगुनी मिल सके ।   

निवेश कौन कर सकता है | Who can invest  

किसान विकास पत्र (KVP) में निवेश करने वाले की उम्र कम से कम 18 साल होनी चाहिए। इसमें सिंगल अकाउंट के अलावा ज्वॉइंट अकाउंट की भी सुविधा मिलती है। वहीं यह योजना नाबालिगों के लिए भी मैजूद है, जिसकी देखरेख अभिभावक करते हैं।  

किसान विकास पत्र के प्रकार | Types of Kisan Vikas Patra

  • सिंगल होल्डर टाइप सर्टिफिकेट: इस तरह का सर्टिफिकेट किसी वयस्क को स्वयं या नाबालिग की ओर से जारी किया जाता है।
  • संयुक्त A प्रकार का प्रमाणपत्र: इस प्रकार का प्रमाण पत्र संयुक्त रूप से दो वयस्कों को जारी किया जाता है, जो दोनों धारकों को संयुक्त रूप से या उत्तरजीवी को देय होता है।
  • संयुक्त B प्रकार का प्रमाण पत्र: इस प्रकार का प्रमाण पत्र दो वयस्कों को संयुक्त रूप से जारी किया जाता है, जो धारकों में से किसी एक को या जीवित व्यक्ति को देय होता है।

उद्देश्य | An Objective

किसान विकास पत्र योजना का मुख्य उद्देश्य निवेश कार्यकाल के दौरान निवेश को दोगुना करना है। 

पात्रता | Eligibility

  • देश के स्थायी निवासी
  • सभी वर्ग के लोग      
  • नाबालिग की ओर से माता–पिता / अभिभावक निवेश कर सकते हैं
  • हिंदू अविभाजित परिवार (HUF) और अनिवासी भारतीय (NRI) किसान विकास पत्र में निवेश नहीं कर सकते हैं

महत्वपूर्ण दस्तावेज | Important Documents

  • पहचान प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • वोटर आईडी कार्ड
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • निवेश की रकम (चेक , केश , ड्राफ्ट)
  • मोबाइल नम्वर  

किनती राशि निवेश की जा सकती है | What amount can be invested 

किसान विकास पत्र में निवेश करने की कोई लिमिट नहीं रखी गई है। हालांकि आप न्‍यूनतम निवेश 1000 रुपए तक कर सकते हैं। यहां निवेश 1000, 2000 और 3000 के क्रम में किया जाता है। मतलब आप 1500, 2500 या 3500 का निवेश नहीं कर सकते हैं।

योजना के जरिए कितनी राशी सर्टिफिकेट के रूप में खरीदी जा सकती है | How much amount can be purchased as a certificate through the scheme   

किसान विकास पत्र योजना में 1000 रुपये, 5000 रुपये, 10,000 रुपये और 50,000 रुपये तक के सर्टिफिकेट हैं, जिन्हें लाभार्थी दवारा खरीदा जा सकता है।

ब्याज दर और मेच्योरिटी पीरियड | Interest rate and maturity period

 

सरकार दवारा किसान विकास पत्र योजना के लिए वित्त वर्ष 2021 की पहली तिमाही में ब्याज दर को 6.9 फीसदी तय किया गया है। जहां लाभार्थी का निवेश 124 महीने में डबल हो जाता है, यानी अगर आप एकमुश्त 10 लाख रुपये निवेश करते हैं तो आपको मेच्योरिटी पर 20 लाख रुपये गांरटी के साथ मिलेंगे। 124 महीने की यह योजना मेच्योरिटी पीरियड के साथ आती है, जहां ग्राहक को दूसरी जगह पैसा इन्वसट करने में इतना फायदा नहीं मिलता, जितना किसान विकास पत्र योजना के तहत ग्राहक को दिया जाता है।                  

किसान विकास पत्र योजना में मिलती है नॉमिनेशन की भी सुविधा | Nomination facility is also available in Kisan Vikas Patra Yojana

किसान विकास पत्र खरीदते वक्त लाभार्थी अपना नॉमिनी दर्ज भी करा सकते हैं। नॉमिनी वह व्यक्ति होता है, जिसे खाताधारक के न रहने की स्थिति में किसान विकास पत्र में जमा पैसा दिया जाता है।

किसान विकास पत्र खरीदते वक्‍त रखें कुछ वातों का ध्यान | While purchasing Kisan Vikas Patra, keep in mind some talks

किसान विकास पत्र वैसे को लाभार्थी अपनी सुविधानुसार किसी भी मूल्य वर्ग के अनुसार ले सकते हैं, लेकिन अगर आप ज्यादा पैसे इसमें निवेश करना चाहते हैं, तो बेहतर होगा कि छोटे-छोटे मूल्‍य वर्ग के किसान विकास पत्र खरीदें। ऐसा करने से अगर कभी इन्‍हें समय से पहले कैश कराना पड़े तो एक-एक करके कैश करा सकते हैं। जो एक वेहतरीन तरीका है।   

कैश कराने की सुविधा भी उपलब्ध | Cash facility also available

अगर लाभार्थी को पैसों की जरूरत पड़ती है तो वह किसान विकास पत्र को मैच्योरीटी के पहले भी कैश करा सकते हैं। लेकिन ऐसा तभी किया जा सकता है, जब आपके किसान विकास पत्र का 2.5 साल पूरे हो चुके हों।

किसान विकास पत्र को दूसरे पोस्ट ऑफिस में ट्रांसफर करने की सुविधा | Facility to transfer Kisan Vikas Patra to another post office

अगर आवेदक अपना निवास स्थान बदलते हैं तो वह अपने किसान विकास पत्र को दूसरे पोस्ट ऑफिस में ट्रांसफर भी करा सकते हैं। ऐसा करने से उनको पैसे की हानी होने के झंझट से भी मुकित मिलेगी और समय अवधि समाप्त होने पर गांरटी के साथ उन्हें पैसा डवल मिलेगा।            

किसान विकास पत्र को दूसरे व्यक्ति के नाम ट्रांसफर कराने की सुविधा भी देता है | Kisan also allows the transfer of Vikas Patra to another person.

जरूरत पड़ने पर किसान विकास पत्र को किसी दूसरे व्यक्ति के नाम पर भी ट्रांसफर कराया जा सकता है। इसके लिए आपको पोस्ट ऑफिस में जाकर आवेदन करना होता है। उसके वाद ही आपको यह सुविधा उपलव्ध करवाई जाएगी।       

ब्याज दरों का विवरण | Statement of interest rates 

[Example] किसान विकास पत्र ब्याज और धन को दोगुना कैसे करता है | How does Kisan Vikas Patra double the interest and money

विशेषताएं और लाभ | Features & benefits

  • गारंटीड रिटर्न | Guaranteed return

बाजार में उतार-चढ़ाव के बावजूद आपको गारंटी मिलने के योग हैं। चूंकि यह योजना मूल रूप से कृषक समुदाय के लिए थी, इसलिए प्राथमिकता उन्हें बरसात के दिनों के लिए बचाने के लिए प्रोत्साहित करना था।

  • पूंजी संरक्षण | Capital Preservation

यह निवेश का एक सुरक्षित तरीका है और बाजार के जोखिमों के अधीन नहीं है। कार्यकाल समाप्त होने पर आपको निवेश और लाभ प्राप्त होंगे।

  • ब्याज | Interest

किसान विकास के लिए प्रभावी ब्याज दर खरीद के समय केवीपी में निवेश किए गए वर्षों की संख्या के आधार पर भिन्न होती है। मौजूदा ब्याज दर तिमाही 1 अक्टूबर 2018 से 31 दिसंबर 2018 के लिए 7.7% है, इससे पहले यह दर 7.3% थी, जो वार्षिक रूप से मिश्रित थी। ब्याज को कम करके, आपको अपनी जमा राशि पर अधिक रिटर्न प्राप्त होगा।

  • कार्यकाल | Tenure

किसान विकास पत्र की परिपक्वता अवधि 124 महीने है और आप इसके बाद कोष का लाभ उठा सकते हैं। जब तक आप राशि नहीं निकालते तब तक केवीपी की परिपक्वता ब्याज में वृद्धि जारी रहेगी।

  • कर लगाना | Taxation

यह 80 सी कटौती के तहत नहीं आता है, और रिटर्न पूरी तरह से कर योग्य हैं। हालांकि, टैक्स डिडक्टेड एट सोर्स (टीडीएस) परिपक्वता अवधि के बाद निकासी से छूट है।

  • समय से पहले निकासी के नियम | Rules for premature withdrawal

आप 124 महीने के बाद राशि निकाल सकते हैं। लेकिन लॉक-इन अवधि 30 महीने है। जब तक खाता धारक के निधन या न्यायालय के आदेश के अनुसार योजना को शुरू करने की अनुमति नहीं है।

  • आसानी और सामर्थ्य | Ease and affordability

KVP रुपये के मूल्यवर्ग में उपलब्ध है। 1000, रु। 5000, रु। 10,000 और रु। निवेश के लिए 50,000 रु। कोई अधिकतम सीमा नहीं है। कृपया ध्यान दें कि रु। 50,000 केवल एक शहर के प्रधान डाकघर में उपलब्ध हैं।

  • केवीपी प्रमाण पत्र के खिलाफ ऋण | Loan against kvp certificate

सुरक्षित ऋणों का लाभ उठाने के लिए आप अपने KVP प्रमाणपत्र को संपार्श्विक या सुरक्षा के रूप में उपयोग कर सकते हैं। इस तरह के ऋणों के लिए ब्याज दर तुलनात्मक रूप से कम है।

  • नामांकन की सुविधा | Nomination facility

डाकघर से एक नामांकन फॉर्म लीजिए, और उम्मीदवार की आवश्यक जानकारी भरें। यदि आप एक नाबालिग को नामांकित कर रहे हैं, तो जन्म तिथि का उल्लेख करें।

  • केवीपी प्रमाण पत्र जारी करना | Issuance of KVP certificate

यदि भुगतान नकद के माध्यम से किया जाता है, तो वे मौके पर केवीपी प्रमाणपत्र जारी करते हैं। और चेक, डिमांड ड्राफ्ट या मनी ऑर्डर के लिए, आपको तब तक इंतजार करना होगा जब तक कि राशि पोस्ट ऑफिस में जमा नहीं हो जाती।

  • केवीपी पहचान पर्ची | KVP Identity Slip

इसमें किसान विकास पत्र प्रमाणपत्र, केवीपी क्रमांक संख्या, राशि, परिपक्वता तिथि और परिपक्वता तिथि को प्राप्त होने वाली राशि शामिल है।

किसान विकास पत्र योजना के लिए कैसे करें आवेदन | How to apply for Kisan Vikas Patra Yojana 

  • किसान विकास पत्र योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी को पोस्ट ऑफिस की अधिकारिक वेव्साइट पे जाना है। 
  • अब आपको किसान विकास पत्र योजना का आवेदन फार्म भरने के लिए दिए गए लिंक पर किल्क करना है। 
  • उसके बाद आपको आवेदन फार्म डाउनलोड करना होगा। डाउनलोड होने के बाद आपको आवेदन फार्म भरना होगा और आव्श्यक दस्तावेज भी अटैच करने होगें।    
  • सारी जानकारी भरने के बाद अब आपको ये फार्म अपने नजदीकी पोस्ट ऑफिस में जाकर जमा करवाना है।
  • आवेदन फार्म जमा करवाते ही आपको योजना का लाभ मिल जाएगा।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।                 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!