राजस्थान ग्रामीण परिवार आजीविका ऋण योजना 2022 | ऑनलाइन आवेदन | लाभ व विशेषताऐं

 

|| Gramin Parivar Aajivika Rin Yojana | मुख्यमंत्री ग्रामीण परिवार आजीविका ऋण योजना | Online Registration || राजस्थान सरकार दवारा राज्य मे रोजगार के अवसर को वढावा देने के लिए ग्रामीण परिवार आजीविका ऋण योजना को लागु किया गया है| इस योजना के माध्यम से ग्रामीण परिवारों को अकृषि कार्यों के लिए अधिकतम 2 लाख रुपए तक का ब्याज मुक्त ऋण उपलब्ध करवाया जाएगा, ताकि उनकी आमदनी मे सुधार लाया जा सके| कैसे मिलेगा इस योजना का लाभ और इसके अंतर्गत आवेदन कैसे किया जाएगा| ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा| तो आइए जानते हैं – राजस्थान ग्रामीण परिवार आजीविका ऋण योजना के वारे मे|

Rajasthan Gramin Parivar Aajivika Rin Yojana

 

Rajasthan Gramin Parivar Aajivika Rin Yojana

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी दवारा राज्य के नागरिको के कल्याण के लिए ग्रामीण परिवार आजीविका ऋण योजना को शुरू किया गया है| इस योजना के अंतर्गत प्रदेश मे ग्रामीण क्षेत्रों के परिवारों को आर्थिक सुरक्षा प्रदान की जाएगी| जिसके लिए वर्ष 2022-23 के लिए लगभग 1 लाख ग्रामीण परिवारों को अकृषि कार्यों हेतु अधिकतम 2 लाख रुपए तक का ब्याज मुक्त ऋण प्रदान किया जाएगा। जिसकी मदद से पात्र लाभार्थीयों को अपनी आय मे सुधार लाने या उसको वढाने को मौका मिलेगा|

योजना के अंतर्गत प्रदान की जाने वाली सहायता

ग्रामीण परिवार आजीविका ऋण योजना के जरिए राज्य के 1 लाख ग्रामीण परिवारों को न्यूनतम 25000/- रूपए से लेकर अधिकतम 200000/- रूपए तक का ब्याज मुक्त ऋण प्रदान किया जाएगा। इस ऋण को वाणिज्यिक बैंकों, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों, सहकारी बैंकों और स्मॉल फाइनेंस बैंक के माध्यम से उपलब्ध करवाया जाएगा। जिसके लिए सरकार इस योजना के तहत 2000 करोड़ रुपए तक का लोन ग्रामीण इलाकों के परिवारों को खेती के अलावा अन्य कार्यों को करने लिए उपलब्ध करवाएगी|

इसके अलावा सरकार दवारा इस योजना के अंतर्गत लिए जाने वाले ऋण के लिए 100 करोड़ रुपए का ब्याज अनुदान भी देगी। आपको वता दें कि – इस योजना का लाभ उन्हीं ग्रामीण परिवारों को मिलेगा जो पिछले 5 वर्षों से ग्रामीण इलाकों में रह रहे हैं।  

योजना का अवलोकन

योजना का नाम ग्रामीण परिवार आजीविका ऋण योजना
किसके दवारा शुरू की गई राजस्थान सरकार दवारा
लाभार्थी राज्य के नागरिक
प्रदान की जाने वाली सहायता

ग्रामीण क्षेत्रों के परिवारों को आर्थिक सहायता प्रदान करना

आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन / ऑफ़लाइन
आधिकारिक वेबसाइट जल्द शुरू की जाएगी

मुख्यमंत्री ग्रामीण परिवार आजीविका ऋण योजना का उद्देश्य

योजना का मुख्य उद्देश्य 1 लाख ग्रामीण परिवारों को अकृषि कार्यों हेतु सरकार दवारा आर्थिक सहायता प्रदान करना है|

Gramin Parivar Aajivika Rin

ग्रामीण परिवार आजीविका ऋण योजना के तहत 15 दिनो में मिलेगा पात्र लाभार्थीयों को ऋण

राजस्थान ग्रामीण परिवार आजीविका ऋण योजना के अंतर्गत आवेदक के आवेदन को स्वीकृति मिलने के बाद सरकार द्वारा उसे मात्र 15 दिन के अंदर ऋण प्रदान करेगी। जिसे पात्र बैंकों के माध्यम से मुहैया करवाया जाएगा। सहकारिता मंत्री दवारा जानकारी प्रदान की गई है कि सरकार ने वाणिज्यिक बैंकों की ओर से 55 हजार 158, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों द्वारा 36 हजार 741, सहकारी बैंकों द्वारा 5 हजार 949 तथा स्माल फाइनेंस बैंकों की ओर से 2 हजार 152 सहित कुल 1 लाख ग्रामीण परिवारों को ब्याज मुक्त लोन उपलब्ध करवाने का लक्षय निर्धारित किया है।

इस योजना की खास बात यह है कि ऋण के लिए आवेदक से कोई प्रोसेसिंग फीस नहीं ली जाएगी। आवेदक को ध्यान रखने योग्य वात यह है – कि स्वीकृत लोन को हर वर्ष नवीनीकरण करवाना होगा।यानी 1 साल पूरे हो जाने पर ही लाभार्थी के बैंक खाते में बकाया राशि जमा करवाकर लोन सीमा को अगले वर्ष के लिए नवीनीकृत किया जाएगा। राज्य सरकार की ओर से आगामी वर्षों में भी निरंतर ब्याज अनुदान राशि प्रदान की जाएगी।

राजस्थान ग्रामीण परिवार आजीविका ऋण योजना के लिए चयन प्रक्रिया

  • जो लाभार्थी योजना का लाभ लेना चाहते हैं, उन्हे सभीपात्रता मानदंडों को पूरा करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट पे जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा।
  • ऑनलाइन पोर्टल पर प्राप्त आवेदनों को प्रत्येक जिला कलेक्टर्स दवारा जांच की जाएगी| फिर जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में गठित कमेटी आवेदन की पात्रता मानदंडों का परीक्षण करेगी।
  • उसके वाद जिलेको आवंटित कुल लक्ष्य संख्या के आधार पर पात्र परिवारों का चयन किया जाएगा।
  • फिर कमेटी द्वारा आवेदन पत्रों को संबंधित बैंक शाखा को हस्तांतरित करके दिया जाएगा। उसके बाद बैंक शाखा दवारा 15 दिनो के भीतर ऋण स्वीकृत पर निर्णय लेगी|
  • अगर बैंक द्वारा ऋण को स्वीकृति प्रदान कर दी जाती है तो लाभार्थी को मात्र 15 दिनों मे ही उसके बैंक खाते में ऋण की राशि भेज दी जाएगी|

ग्रामीण परिवार आजीविका योजना के लाभ

  • राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी दवारा वर्ष 2022-23 के बजट मे राजस्थान ग्रामीण परिवार आजीविका योजना को शुरू करने का ऐलान किया गया है|
  • उसके बाद इस योजना को सहकारिता विभाग दवारा मंजूरी प्रदान की गई है|
  • योजना के माध्यम से राज्य सरकार द्वारा 2000 करोड़ रुपए का ब्याज मुक्त ऋण दिया जाएगा।
  • प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले 1 लाख परिवारों को अकृषि कार्यों हेतु ऋण प्रदान किया जाएगा, जिसे पात्र परिवार को अधिकतम 2 लाख रुपए का प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के लिए न्यूनतम ऋण राशि 25000 रूपए है|
  • राज्य सरकार इस योजना के जरिए प्रदान किए जाने वाले लोन के लिए 100 करोड़ रुपए का ब्याज अनुदान भी प्रदान करेगी|
  • आवेदकों को वाणिज्यिक बैंकों, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों, सहकारी बैंकों और स्मॉल फाइनेंस बैंकों से लोन उपलवध करवाया जाएगा।
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी को पिछले 5 वर्षों से राजस्थान के ग्रामीण क्षेत्र में निवास करना चाहिए|
  • ग्रामीण परिवार आजीविका ऋण योजना के जरिए आवेदकों को बिना किसी प्रोसेसिंग फीस के 15 दिन के अंदर ऋण प्रदान किया जाएगा|
  • आवेदको को स्वीकृत ऋण को प्रति-वर्ष नवीनीकरण करवाना होगा|
  • राज्य की ओर से लाभार्थी को आगामी वर्षों में भी निरंतर ब्याज अनुदान राशि दी जाएगी।

राजस्थान ग्रामीण परिवार आजीविका योजना की मुख्य विशेषताएँ  

  • ग्रामीण परिवारों को पात्रता के आधार पर ऋण प्रदान करना|
  • लाभार्थीयों को ऋण की राशि सीधे उनके बैन खाते मे जमा करना|
  • पात्र लाभार्थीयों को आत्म -निर्भर व सशक्त वनाना |

ग्रामीण परिवार आजीविका योजना के लिए पात्रता

  • आवेदक को राजस्थान के ग्रामीण क्षेत्र का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • लाभार्थी पिछले 5 वर्षों से ग्रामीण क्षेत्र में रह रहा होना चाहिए|
  • आवेदक के पास आधार, जनाधार कार्ड जैसे दस्तावेज होने चाहिए।
  • लाभार्थी का खाता वाणिज्यिक बैंकों, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों, सहकारी बैंकों और स्मॉल फाइनेंस बैंक मे से किसी एक बैंक मे होना चाहिए।
  • लाभार्थी के पास पात्र बैंक से जारी किया हुआ किसान क्रेडिट कार्ड होना चाहिए
  • जिन परिवारों के पास किसान क्रेडिट कार्ड नहीं है उन्हे नए सदस्यों के रूप में अकृषि कार्यों हेतु क्रेडिट कार्ड प्रदान किया जाएगा।
  • लघु और सीमांत कृषक, भूमिहीन श्रमिक जो किराएदार, मौखिक पट्टेदार, बटाईदार आदि के रूप में काम कर रहे हैं वह भी इस योजना का लाभ लेने के लिए पात्र हैं|
  • ग्रामीण दस्तकार और अकृषि कार्यों में जीवन बिताने वाले ग्रामीण परिवार के सदस्य भी पात्र हैं।
  • इस योजना के लिए स्वयंसहायता समूहों, उत्पादक समूहों एवं व्यवसायिक समूहों के व्यक्तिगत सदस्यों को सामूहिक गतिविधियों हेतु ऋण उपलब्ध करवाया जाएगा। 
  • प्रति समूह अधिकतम 10 सदस्यों को व्यक्तिगत रूप से ऋण प्रदान किया जाएगा|
  • जिस बैंक से ऋण मुहैया करवाया जाएगा, उस बैक शाखा के कार्य क्षेत्र या जिले का उसे स्थायी निवासी होना चाहिए|

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जन-आधार
  • किसान क्रेडिट कार्ड
  • बैंक खाता 
  • मोबाइल नबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

राजस्थान ग्रामीण परिवार आजीविका योजना के लिए कैसे करे आवेदन

जो आवेदक योजना के लिए ऑनलाइन व ऑफ़लाइन मोड के जरिए आवेदन करना चाहते हैं, उन्हे थोड़ा इंतजार करना होगा| क्योंकि अभी योजना को शुरू करने की घोषणा की गई है| जैसे ही योजना के अंतर्गत आवेदन प्रक्रिया शुरू होगी, तो हम आपको तुरंत सूचित कर देंगे|

आशा करता हूँ आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी| आर्टीकल अच्छा लगे तो कॉमेट और लाइक जरूर करे|

error: Content is protected !!