संपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना 2022 | SGRY : ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म | पात्रता व उद्देश्य

 

Sampoorna Grameen Rozgar Yojana | संपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना |  SGRY Online Registration | Application Form | देश के नागरिको के कल्याण और उन्हे सशक्त वनाने के लिए संपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना को लागू किया गया है| जिसके माध्यम से देश के गरीब नागरिको को सरकार दवारा रोजगार से लेकर भोजन की व्यवस्था की जाती है, ताकि पात्र नागरिको के जीवन स्तर को वेहतर वनाया जा सके| कैसे मिलेगा इस योजना का लाभ और इसके अंतर्गत आवेदन कैसे किया जाएगा| ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढ्ना होगा| तो आइए जानते हैं – संपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना के वारे मे|

Sampoorna Grameen Rozgar Yojana

Sampoorna Grameen Rozgar Yojana

संपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना को भारत सरकार द्वारा देश के गरीब नागरिको के लिए शुरू किया गया है। जिसे रोजगार आश्वासन योजना एवं जवाहर ग्राम समृद्धि योजना को मिलाकर बनाया गया है। बाद मे इस योजना को महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम के अंतर्गत मिला दिया गया है। इस योजना के जरिये सरकार दवारा गावों मे रहने वाले गरीब नागरिको को भोजन एवं रोजगार की सुविधा प्रदान की जाती है। इसके अलावा गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले नागरिकों को मजदूरी एवं खाद्य धन भी प्रदान किया जाता है। जिससे ग्रामीण क्षेत्रों में टिकाऊ समुदाय, सामाजिक आर्थिक संपत्ति और ढांचागत विकास का निर्माण किया जा सकेगा। इस सुविधा से देश के नागरिको की जरूरतों को पूरा किया जा सकेगा और वे सरकार के सहयोग से आगे वढ सकेंगे|

योजना का स्ंचालन

Sampurn Gramin Rojgar Yojana का संचालन जिला पंचायत एवं ग्राम पंचायत के माध्यम से किया जाता है। जिसमे से लाभार्थियों को 100 दिन का गारंटी कृत रोजगार प्रदान किया जाता है। राज्य सरकार द्वारा इस योजना के संचालन के लिए 20% राशि और केंद्र सरकार द्वारा इस योजना के संचालन में 80% राशि खर्च की जाती है। इस योजना मे अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति को प्राथमिकता देने के साथ-साथ 30% महिलाओं को रिजर्वेशन की सुविधा भी दी गई है|

योजना के मुख्य पहलु

  • Sampurn Gramin Rojgar Yojana के अंतर्गत मजदूरी का भुगतान लाभार्थियों को आंशिक रूप से नगद और आंशिक रूप से खाद धन में किया जाएगा।
  • योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को प्रदान की जाने वाली मजदूरी अधिकारियों द्वारा निर्धारित न्यूनतम मजदूरी से कम नहीं होगी।
  • मजदूरी के हिस्से के रूप में श्रमिकों के लिए न्यूनतम 5 किलो खाद धन प्रदान किया जाएगा।
  • शेष मजदूरी का भुगतान नकद में किया जाएगा।
  • न्यूनतम 25% नकद भुगतान करना अनिवार्य होगा।

संपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना का अवलोकन

योजना का नामसंपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना SGRY
किसके दवारा शुरू की गईभारत सरकार दवारा
लाभार्थीदेश के नागरिक
प्रदान की जाने वाली सहायतारोजगार और भोजन की सुविधा प्रदान करना
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइटClick Here

Sampoorna Grameen Rozgar Yojana का उद्देश्य

योजना का मुख्य उद्देश्य गरीबों को अनाज और रोजगार प्रदान करना है।

योजना के लिए पात्रता

  • आवेदक को देश का स्थायी निवासी होना चाहिए|
  • गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे नागरिक ही इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए पात्र हैं|

SGRY के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी आदि
संपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना के लाभार्थी
  • कृषि मजदूरी करने वाले
  • सीमांत किसान
  • गैर कृषि अकुशल मजदूर
  • महिलाएं
  • आपदाओं से प्रभावित नागरिक
  • बाल श्रम करने वाले बच्चों के माता पिता
  • अनुसूचित जाति या अनुसूचित जनजाति के नागरिक
  • विकलांग बच्चों के माता-पिता
  • विकलांग माता-पिता के व्यापक बच्चे
संपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना का कार्यान्वयन
  • केंद्रीय स्तर पर ग्रामीण विकास मंत्रालय और राज्य स्तर पर ग्रामीण विकास विभाग मासिक और वार्षिक प्रगति रिपोर्ट को तैयार करेगी।
  • जिसमे से ग्रामीण विकास विभाग द्वारा संपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना के कार्यान्वयन की निगरानी की जाएगी।
  • इसके अलावा जिला एवं राज्य स्तर पर निगरानी और दिशा निर्देश जारी करने के लिए एक समिति का भी गठन किया गया है|
संपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना का स्‍वीकृत वार्षिक परिव्‍यय

इस योजना का स्‍वीकृत वार्षिक परिव्‍यय 10,000 करोड़ रुपए है, जिसमें से 50 लाख टन अनाज शामिल है। योजना में खर्च की जाने वाली धनराशि केंद्र और राज्‍य सरकारों द्वारा 75:25 के अनुपात में वहन की जाती है। राज्‍यों/केंद्रशासित प्रदेशों को अनाज मुफ्त मुहैया कराया जाता है। रियायती दर से अनाज के दाम का भुगतान केंद्र द्वारा सीधे भारतीय खाद्य निगम को प्रदान किया जाता है।

Sampoorna Grameen Rozgar Yojana के अंतर्गत प्रदान किए जाने वाले कार्य
  • स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना के लिए आधारभूत संरचना मे सहायता
  • ग्राम पंचायत क्षेत्र में कृषि गतिविधियों का समर्थन देने के लिए आवश्यक बुनियादी ढांचा
  • स्वास्थ्य, शिक्षा के लिए सामूहिक बुनियादी ढांचा जिसमें किचन सेट और आंतरिक लिंक सड़के शामिल हैं, यानी गांव को मुख्य सड़क से जोड़ने वाली सड़कें, भले ही मुख्य सड़क पंचायत क्षेत्र के बाहर हो
  • सामाजिक आर्थिक सामुदायिक संपत्ति
  • पारंपरिक गांव के तालाब या तालाबों का जीर्णोद्धार और गाद निकालना आदि|
योजना के अंतर्गत निषिद्ध काम
  • मंदिर, मस्जिद, चर्च और गुरुद्वारों जैसे धार्मिक स्थलों का निर्माण
  • स्मारक, मूर्तियां, मोहराब, स्वागत द्वार, पुल आदि का निर्माण
  • उच्च माध्यमिक विद्यालयों और महाविद्यालयों का निर्माण
  • सड़कों की ब्लैक टॉपिंग
अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के नागरिकों के लिए कार्य

संपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना के अंतर्गत 22.5% कार्य BPL श्रेणी के अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के नागरिकों के लिए रिजर्व किए गए हैं जिनका विवरण इस प्रकार हैं –

  • सामाजिक वानिकी कार्य
  • भूदान भूमि, अधिशेष भूमि या सरकारी भूमि का विकास
  • स्वरोजगार कार्यक्रमों के लिए कार्य अवसंरचना या शेड
  • सिंचाई के लिए बोरवेल या खुले सिंचाई के लिए पुणे से संबंधित कार्य
  • अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के बीपीएल श्रेणी से संबंधित निजी भूमि पर बागवानी, कृषि बागवानी, फूलों की खेती या वृक्षारोपण
  • तलाव की पुन: खुदाई
संपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना के लाभ
  • संपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना को भारत सरकार द्वारा देश के नागरिको के लिए वर्ष 1989 मे शुरू किया गया था।
  • इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा गरीबों को भोजन एवं रोजगार की व्यवस्था प्रदान करती है|
  • गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे नागरिकों को मजदूरी एवं खाद्य धन भी प्रदान किया जाता है।
  • योजना के माध्यम से लाभार्थियों को 100 दिन का गारंटी कृत रोजगार प्रदान किया जाता है।
  • इस योजना के संचालन के लिए राज्य सरकार द्वारा 20% राशि खर्च की जाती है एवं केंद्र सरकार द्वारा इस योजना के संचालन में 80% राशि खर्च की जाती है।
  • इस योजना के अंतर्गत अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति को प्राथमिकता प्रदान की गई है|
  • महिलाओं को भी इस योजना का लाभ देने के लिए उन्हे 30% की रिजर्वेशन प्रदान की गई है|
संपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना की मुख्य विशेषताएँ
  • देश के ग्रामीण नागरिको को रोजगार और अन्न की सुविधा प्रदान करना
  • योजना को पूरे देश मे लागू करना
  • पात्र नागरिको को योजना से जोड़कर उन्हे लाभ प्रदान करना
  • योजना का लाभ लेने वाले नागरिको के जीवन स्तर मे सुधार लाना
  • नागरिको को आत्म-निर्भर व सशक्त वनाना|
संपूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना के लिए कैसे करे आवेदन
  • सवसे पहले पात्र लाभार्थी को आधिकारिक वेबसाइट पे जाना होगा| 
  • उसके बाद आपको Apply Now के विकल्प पे किलक करना होगा|
  • अब आपकी स्क्रीन पर आवेदन फॉर्म खुल कर आएगा।
  • जिसमे आपको सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • फिर आपको आवश्यक दस्तावेजों को भी अपलोड करना होगा।
  • सारी प्रक्रिया हो जाने के बाद आपको अंत मे Submit के विकल्प पर क्लिक कर देना है|
  • इस तरह आपके दवारा योजना के अंतर्गत सफलतापूर्वक आवेदन कर दिया जाएगा|
Important Downloads

आशा करता हूँ आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी| आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेट और लाइक जरूर करे|

Last Updated on August 23, 2022 by Abinash

error: Content is protected !!