Jan 23, 2020 Yojana

रूफ टॉप सोलर योजना (Phase II) | पूरी जानकारी | कैसे करें आवेदन

उत्तराखंड रूफ टॉप सोलर योजना | Uttarakhand Roof Top Solar Yojana

 

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत दवारा 22 जनवरी 2020 को ग्रिड कनेक्टेड रूफ टॉप सोलर योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के तहत लोग अब अपने घर की छत पर 10 मेगा वाट तक का सोलर पैनल लगाएगें, जिससे सब्सिडी का लाभ राज्य सरकार दवारा प्राप्त होगा। 10 किलोवाट के प्रोजेक्ट पर कुल पांच लाख रुपये का खर्च आएगा। प्रोजेक्ट लगाने के लिए सरकार दवारा सब्सिडी मिलेगी। एक से तीन किलोवाट के प्लांट पर 49% सब्सिडी मिलेगी। तीन से 10 किलोवाट तक के प्लांट पर 20% सब्सिडी दी जाएगी। इस योजना से बिजली उत्पादन करने वालों को प्रति यूनिट 4.48 रुपये की दर से भुगतान किया जाएगा। जव्कि10 किलोवाट से एक महीने में 4800 रुपये की बिजली बनेगी। इसमें से बिजली बिल को घटाकर शेष राशि खाते में आ जाएगी। इस योजना से बिजली की खपत कम होगी, और राज्य में 10000 मेगा वाट बिजली का उत्पादन भी होगा, जिससे ये योजना लंवे समय तक चलेगी। इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक 912 टोल फ्री नंबर पर संपर्क कर सकते हैं । इसके साथ ही मुख्यमंत्री दवारा टॉप सोलर फेज-2 पॉर्टल को भी लॉंच किया गया है। जिसके माध्यम से आवेदक इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेद्न कर लाभ उठा सकते हैं।   

उद्देश्य | An Objective

रूफ टॉप सोलर योजना का मुख्य उद्देश्य नागरिकों के घरों की छतो पर सोलर पैनल की सुविधा देना है, जिससे बिजली की खपत कम होगी।

महत्वपूर्ण दस्तावेज | Important Documents

  • आधार कार्ड/ राशन कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • बिजली का बिल
  • जाति प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता
  • रजिस्टड मोबाइल नम्वर

ग्रिड कनेक्टेड रूफ टॉप सोलर कैसे करेगा काम | How Grid Connected Roof Top Solar Will Work 

इस योजना के तहत एक ही लोकेशन पर सोलर प्लांट लगाया जाएगा और सरप्लस एनर्जी को वापस ग्रिड में भेज दिया जाएगा। इस ग्रिड से जुड़े सभी मीटरों के बिल में इस एनर्जी को एडजस्ट कर दिया जाएगा। जिससे लोगों के बिजली बिल कम हो जाएगें। घर की छत पर सोलर पैनल लगाने के लिए आवेदक को 912 टोल फ्री नंबर पर संपर्क करना है, उसके बाद आपके दवारा वताए गए पते पर कंपनी का अधिकारी निरिक्षण करेगा। उसके बाद आपको किसी वेंडर से जोडा जाएगा। अब आपको बिजली बिल की लेटेस्ट कॉपी देनी है, उस आधार पर आकलन किया जाएगा की कितनी क्षमता का सोलर पैनल आपके घर की छ्त पर लगेगा। अब आपको नॉन-रिफंडेबल फीस भरनी होगी। इसके बाद साइट इंस्पेक्शन और टेस्ट रन किए जाएंगे। अगर आप 1 किलोवॉट का सोलर पैनल लगवाएंगे तो आपको वताई गई राशी का भुगतान करना है। जिसमें आवेदक को सब्सिडी राज्य सरकार दवारा दी जाएगी। अगर एक घर में 10 किलोवॉट का सोलर पैनल लगता है तो साल भर में उस की बिजली बिल पर लगभग 46,300/- रुपए से ज्यादा की बचत होगी।

घर की छ्त पर सोलर पैनल लगाने की जरुरत क्यों पडी | Why there was a need to install solar panels on the roof of the house

  • निवेश के अवसर के लिए
  • बिजली का बिल कम करने के लिए
  • बिजली संग्रहण के लिए

लाभ | Benefits

  • रूफ टॉप सोलर योजना का लाभ उत्तराखंड के स्थायी लोगों को प्राप्त होगा।
  • इस योजना से घर की छत पर 10 मेगा वाट तक का सोलर पैनल लगेगा।
  • इस योजना के तहत सरकार दवारा सब्सिडी दी जाएगी।
  • इस योजना के तहत नागरिको को बिजली का बिल नहीं देना होगा।
  • 10000 मेगा वाट बिजली का उत्पादन होगा।
  • राज्य के नागरिकों के समय की वचत होगी।
  • बिजली बिल के लिए अब लंवी लाइनो मे नहीं लगना पडेगा।
  • पर्यावरण को बचाने में मदद मिलेगी।
  • पहले दिन से ही मुफ्त बिजली का उत्पादन होगा।
  • पर्यावरण के अनुकूल हरित ऊर्जा का भी उत्पादन होगा।
  • सोलर पैनल का जीवन काल 25 वर्ष से अधिक होता है।
  • इस सुविधा का लाभ आवेदक को मात्र फोन पर संपर्क और ऑनलाइन आवेदन करने से प्राप्त हो जाएगा।

उत्तराखंड रूफ टॉप सोलर योजना के लिए आवेदन कैसे करें | How to apply for Uttarakhand Roof Top Solar Scheme

  • अब आपको इस उत्तराखंड रूफ टॉप सोलर योजना की खोज करनी है।
  • अब आपको वताए गए लिंक करना है।
  • अब आपको आवेदन फार्म फिल करना होगा।
  • यहां आवेदक को दी गई सारी जानकारी भरनी है।
  • सारी जानकारी भरने के वाद आवेदक को सबमिट बटन पे किल्क करना है।
  • यहां किल्क करते ही आपका इस योजना के लिए आवेदन कर दिया जाएगा।
  • उसके बाद राज्य सरकार दवारा कर्मचारी भेजा जाएगा, जहां पर आपने सोलर पैनल लगवाना है।
  • इस तरह आपको घर बैठे ही रूफ टॉप सोलर योजना का लाभ प्राप्त हो जाएगा।

महत्वपूर्ण डाउनलोड | Important Download

 

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी, आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।           

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!