मुख्यमंत्री आत्मनिर्भर गुजरात योजना 2022 | ऑनलाइन आवेदन | पात्रता व विशेषताएं

|| आत्मनिर्भर गुजरात योजना | Atmanirbhar Gujarat Yojana | Online Registration || गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल जी दवारा राज्य में उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए मुख्यमंत्री आत्मनिर्भर गुजरात योजना को लागु किया गया है| इस योजना के माध्यम से उद्योगों को विभिन्न प्रकार की सहायता और प्रोत्साहन देने के साथ-साथ विनिर्माण को बढ़ावा दिया जाएगा। जिससे युवाओं के लिए उद्योगों में रोजगार के अवसर वढेंगे| कैसे मिलेगा इस योजना का लाभ और इसके अंतर्गत आवेदन कैसे किया जाएगा| ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा| तो आइए जानते हैं – आत्मनिर्भर गुजरात योजना के वारे मे|

Atmanirbhar Gujarat Yojana

 

Atmanirbhar Gujarat Yojana

गुजरात राज्य का विकास करने के लिए राज्य सरकार दवारा मुख्यमंत्री आत्मनिर्भर गुजरात योजना को शुरू किया गया है| इस योजना के अंतर्गत उद्योगों की ओर निवेशकों को आकर्षित करके 12.50 लाख करोड़ रुपए का निवेश करवाया जाएगा, जिससे गुजरात में 15 लाख नए रोजगार के अवसर उत्पन्न होंगे। इस योजना से MSME को 10 वर्षों में निश्चित पूंजी निवेश पर 75 फीसदी तक शुद्ध SGST प्रतिपूर्ति, सूक्ष्म उद्योगों को 35 लाख रुपये तक की पूंजीगत सब्सिडी और MSME को 7 साल तक 35 लाख रुपये प्रतिवर्ष तक की ब्याज सब्सिडी प्रदान होगी| ये योजना आने वाले वर्षों में स्थानीय उत्पादों को सहयोग प्रदान करके रोजगार और मैन्युफैक्चरिंग क्षेत्र में गुजरात को आत्मनिर्भर बनाने का कार्य करेगी| 

योजना का अवलोकन

योजना का नाम आत्मनिर्भर गुजरात योजना
किसके दवारा शुरू की गई गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल जी दवारा
लाभार्थी राज्य के नागरिक
प्रदान की जाने वाली सहायता राज्य का विकास करना  
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
अधिकारिक वेवसाइट जल्द शुरू की जाएगी

मुख्यमंत्री आत्मनिर्भर गुजरात योजना का उद्देश्य

योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य को आत्म-निर्भर वनाना है और राज्य मे रोजगार सृजन करना है|

Atmanirbhar Gujarat Yojana

निवेशकों को निवेश के जोखिम को कम करने के लिए किया जाएगा आकर्षित

आपको वता दें – कि राज्य सरकार द्वारा आत्मनिर्भर गुजरात योजना में उद्यमियों के निवेश के जोखिम को कम करने का प्रयास किया जाएगा। जिसके लिए उद्यमियों को उद्यमशीलता तथा उनकी अपेक्षाओं को ओर अधिक प्रोत्साहित किया जाएगा, जिससे निवेश के जोखिमों को कम करने मे मदद मिलेगी। इस योजना से उद्यमियों के लिए एक नया वातावरण तैयार किया जाएगा और युवा उद्यमियों को नवाचार के माध्यम से नौकरी देने के लिए प्रेरित किया जा सकेगा|

आत्मनिर्भर गुजरात योजना से राज्य मे रोजगार के अवसर वढेंगे

आत्मनिर्भर गुजरात योजना के जरिए आने वाले समय में गुजरात देश के मैन्युफैक्चरिंग परिदृश्य में आत्मनिर्भरता से अपना विशेष स्थान बना लेगा। अनुमान के मुताबिक योजना के जरिए राज्य में 12.50 लाख करोड़ रुपए का निवेश आएगा, जिससे 15 लाख नए रोजगार के अवसर उत्पन्न होंगे, जो बेरोजगार युवाओं को रोजगार से जोड़ने का कार्य करेंगे। इस समय भारत में मैन्युफैक्चरिंग उत्पादन में गुजरात की लगभग 33 लाख MSME इकाइयों का सबसे बड़ा योगदान है और निर्यात के मामले में भी गुजरात देश भर में अव्वल है। इस योजना के शुरू होने के बाद गुजरात के उद्योगों को विशेष सहायता प्राप्त होगी जिससे गुजरात बड़े स्तर पर वैश्विक आपूर्ति श्रंखला का हिस्सा बनेगा| जो राज्य का विकास करेगा और अन्य राज्यों को भी इसका हिस्सा लेने के लिए प्रेरित करेगा|

इस योजना के लिए इकोसिस्टम को तैयार किया जाएगा

आत्मनिर्भर गुजरात योजना के जरिए मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर का विकास होगा। जिससे छोटे-बड़े उद्योगों का एक पूरा इकोसिस्टम तैयार होगा जो मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर को प्रगति की ओर ले जाएगा। इसके साथ ही सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग (MSME), लार्ज और मेगा इंटरप्राइजेज को मिलने वाले रोजगार से जुड़े प्रोत्साहनों से राज्य में इंडस्ट्रियल वर्क फोर्स तैयार करने में भी मदद मिलेगी।

आत्मनिर्भर गुजरात योजना के प्रमुख लाभ

  1. सूक्ष्म, लघुऔर मध्यम उद्योग
  • MSME के लिए 7 वर्षों तक 35 लाख रुपए तक की वार्षिक ब्याज सब्सिडी मिलेगी|
  • महिलाओं/युवाओं/दिव्यांगउद्यमियों के लिए अतिरिक्त इंसेंटिव्स किया जाएगा|
  • 10 वर्षों के लिए EPF रिइंबर्समेंट सुविधा
  • 5 सालों के लिए बिजली शुल्क से मिलेगी निजात|
  • नेट प्रतिपूर्ति के तहत उद्योगों को स्थायी पूंजी निवेश का 75% तक, 10 वर्षों तक प्रदान होगा|
  • माइक्रो इंडस्ट्रीज के लिए 35 लाख रुपए तक की कैपिटल सब्सिडी की सुविधा|
  1. बड़े उद्योग
  • नेट SGST रिइंबर्समेंट के जरिए उद्योगों को स्थाई पूंजी इमेज का 75 फीसदी  तक, 10 वर्षों के लिए देय होगा| 
  • विद्युत शुल्क से 5 सालों के लिए मिलेगी मुकित यानी उद्योगों को 5 वर्षों तक बिजली के बिल का भुगतान नहीं करना पडेगा |
  • 10 वर्षों के लिए EPF रिइंबर्समेट
  • बड़े उद्योगों को स्थाई पूंजी के निवेश पर 12 फीसदी कुल ब्याज सब्सिडी का लाभ|

योजना की मुख्य विशेषताऐं

  • गुजरात के मुख्यमंत्री जी दवारा आत्मनिर्भर गुजरात योजना को शुरू किया गया है।
  • प्रधानमंत्री जी ने 75वें गणतंत्रता दिवस पर”आजादी का अमृत महोत्सव” के अंतर्गत आत्मनिर्भर भारत बनाने का आह्वान किया है। अब प्रधानमंत्री जी के इसी आह्वान पर कार्य करते हुए ये योजना मुख्य भूमिका निभाएगी|
  • इस योजना के जरिए उद्योगों को विभिन्न प्रकार की सहायता और प्रोत्साहन देने के साथ-साथ विनिर्माण को भी बढ़ावा दिया जाएगा।
  • आत्मनिर्भर गुजरात योजना राज्य के स्थानीय उत्पादों को सहयोग प्रदान करके रोजगार और मैन्यू फैक्चरिंग क्षेत्र को बढ़ावा प्रदान करेगी। 
  • राज्य में इस योजना के जरिए 12 .50 लाख करोड़ के निवेश को प्रोत्साहित किया जाएगा, जिससे 15 लाख रोजगार के अवसर उत्पन्न किए जा सकेंगे|
  • योजना जरिए MSME को 10 वर्षों में निश्चित पूंजी निवेश के लिए 75 फीसदी तक शुद्ध SGST प्रतिपूर्ति, सूक्ष्म उद्योगों को 35 लाख रुपये तक की पूंजीगत सब्सिडी और MSME को 7 वर्षों तक 35 लाख रुपये प्रतिवर्ष तक की ब्याज सब्सिडी का लाभ मिलेगा|
  • यह योजना उद्यमियों को नवाचार के जरिए नौकरी देने के लिए प्रेरित करेगी और उभरते हुए उद्यमियों की उद्यमिता की आकांक्षाओ को पूरा करेगी। जिससे गुजरात के उद्योग विश्व के साथ प्रतिस्पर्धा में खड़े हो सकेंगे।

पात्रता

  • आवेदक को गुजरात राज्य का स्थायी निवासी होना चाहिए|
  • सभी वर्ग के लोग इस योजना का लाभ लेने के लिए पात्र हैं|

रोजगार हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • शैक्षिक योग्यता दस्तावेज
  • पासपोर्ट साइज फ़ोटो
  • मोबाइल नम्वर

आत्मनिर्भर गुजरात योजना के लिए कैसे करे आवेदन

जो आवेदक योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं, उन्हे थोड़ा इंतजार करना होगा| अभी योजना को शुरू करने की घोषणा की गई है| आवेदन करने हेतु अभी आधिकारिक रूप से पुष्टि नही की गई है| जैसे ही योजना के लिए आवेदन हेतु कोई जानकारी मिलती है, तो ह्म आपको तुरंत सूचित कर देंगे|

आशा करता हूँ आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी| आर्टीकल अच्छा लगे तो कॉमेट और लाइक जरूर करे|

Last Updated on November 11, 2022 by Abinash

error: Content is protected !!