मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादन संबल योजना 2022 | ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म

 

|| राजस्थान दुग्ध उत्पादन संबल योजना | Dugdh Utpadak Sambal Yojana | पात्रता & उद्देश्य | Mukhyamantri Dugdh Utpadak Sambal Scheme Online Registration | Application Form || राजस्थान सरकार दवारा राज्य के किसानो को आत्म-निर्भर व सशक्त वनाने के लिए दुग्ध उत्पादन संबल योजना को लागू किया गया है| जिसके माध्यम से दूध उत्पादक किसानों को दूध की खरीद पर सरकार दवारा सब्सिडी प्रदान की जाएगी। जिससे उनकी आर्थिक समस्या का हल होगा | कैसे मिलेगा इस योजना का लाभ और इसके अंतर्गत आवेदन कैसे किया जाएगा| ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढ्ना होगा| तो आइए जानते हैं – मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादन संबल योजना के वारे मे|

Dugdh Utpadak Sambal Yojana

 

Mukhyamantri Dugdh Utpadak Sambal Yojana

राजस्थान के मुख्यमंत्री जी दवारा राज्य के किसानो की आय मे सुधार करने के लिए दुग्ध उत्पादन संबल योजना को शुरू किया गया है| जिसके अंतर्गत राजस्थान के समस्त पशुपालन को बढ़ावा देने के लिए पशुपालकों को दूध बेचने पर ₹5 प्रति लीटर के हिसाब से अनुदान राशि राजस्थान सरकार की तरफ से प्रदान की जाएगी I जिससे कि राजस्थान में कुल 500000 पशुपालक किसानों को योजना का सीधा फायदा पहुंचाया जाएगा | पहले इस योजना के माध्यम से किसानों को ₹2 प्रति लीटर के माध्यम से अनुदान दिया जाता थाI लेकिन अब अनुदान की राशि को बढाकर ₹5 प्रति लीटर कर दिया गया है, ताकि ज्यादा से ज्यादा लाभार्थी योजना का लाभ ले सके| योजना के दौरान प्रदान की जाने वाली अनुदान राशि सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में ट्रांसफर की जाएगी ।

योजना के मुख्य पहलु

  • पशु आहार की गुणवत्ता की जांच के लिए बनेंगी लैब
  • हर गांव पंचायत में खोली जाएगी नंदीशाला
  • पशु चिकित्सालय को किया जाएगा अपग्रेड
  • 2500 नवीन दुग्ध उत्पादक सहकारी समितियों का पंजीकरण किया जाएगा
  • 500 से अधिक गांव को जोड़ते हुए 51 नवीन मिल्क रूट चालू किए जाएंगे।
  • मिल्क प्रोसेसिंग प्लांट स्थापित किए जाएंगे।
  • 5000 नए डेयरी बूथ खोले जाएंगे|

दुग्ध उत्पादन संबल योजना का कुल बजट

मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादन संबल योजना के लिए कुल बजट सरकार दवारा 500 करोड़ निर्धारित किया गया है| जिसके आधार पर ही पात्र लाभार्थीयों को योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा|

दुग्ध उत्पादन संबल योजना का अवलोकन

योजना दुग्ध उत्पादन संबल योजना
किसके दवारा शुरू की गई राजस्थान सरकार दवारा
लाभार्थी राज्य के किसान व पशुपालक
अनुदान राशि दूध पर 5 रूपए प्रति लीटर
लाभार्थीयों की संख्या 05 लाख
प्रदान की जाने वाली सहायता अनुदान राशि को पात्र लाभार्थी के बैंक खाते मे जमा करना

राजस्थान दुग्ध उत्पादन संबल योजना का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानो को आर्थिक रूप से मजबुत करना है और सरकार फवारा दूध बेचने पर पात्र लाभार्थीयों को ₹5 प्रति लीटर के हिसाब से अनुदान राशि प्रदान करना है|

मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादन संबल योजना के मुख्य दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नम्वर
दुग्ध उत्पादन संबल योजना के लिए पात्रता
  • राजस्थान राज्य के स्थायी निवासी
  • पशुपालक व किसान  
Dugdh Utpadak Sambal Yojana
दुग्ध उत्पादन संबल योजना के लाभ
  • राजस्थान सरकार दवारा राज्य के पशुपालकों व किसानो के हितो का ध्यान रखते हुए दुग्ध उत्पादन संबल योजना को शुरू किया गया है|
  • इस योजना के जरिये राज्य में समस्त पशुपालकों को पशु पालन करने पर आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • जिसमे से पशुपालकों को दूध बेचने पर प्रति लीटर पर ₹5 की अनुदान राशि सीधे उनके बैंक खातों में भेज दी जाएगी| पहले लाभार्थीयों को ₹2 प्रति लीटर के माध्यम से अनुदान दिया जाता थाI
  • इस योजना से राज्य मे रोजगार के अवसर वढेंगे|
  • योजना के लिए कुल 10000 डेयरी बूथों की स्थापना की जाएगी।
  • इस योजना के माध्यम से गाय-भैंस के पालन करने लाभार्थी को दूध का अच्छे दाम मिल सकेगा जिससे कि वह अपनी रकम में भी वृद्धि कर सकेंगे।
  • 500000 पशुपालकों व किसानो को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा|
  • इस योजना से दूध उत्पादन के स्तर को बढ़ावा मिलेगा|
  • योजना के माध्यम से पशु आहार की गुणवत्ता जांचने के लिए एक आधुनिक लेब का निर्माण भी किया जाएगा।
  • इस योजना के लिए हर गांव के ग्राम पंचायत में नंदी शाला का भी निर्माण किया जाएगा।
योजना की मुख्य विशेषताएं
  • पशुपालक व किसानो की आय मे सुधार लाना
  • लाभार्थीयों को योजना का लाभ देने के लिए अनुदान राशि मे वढ़ोतरी करना|
  • योजना का लाभ लेने वाले आवेदको को आत्म-निर्भर व सशक्त वनाना|
राजस्थान दुग्ध उत्पादन संबल योजना के लिए कैसे करे आवेदन

राजस्थान के समस्त पशुपालकों व किसानो को मुख्यमंत्री दूध उत्पादक संबल योजना के माध्यम से लाभ प्रदान किया जाएगा| योजना का लाभ लेने वाले लाभर्थीयों को इसके तहत ऑनलाइन आवेदन करने की आवश्यकता नहीं होगी| इसके लिए उन्हें डेयरी बूथों पर जाकर अपने दूध को बेचना होगा| उसके बाद इन उत्पादकों के द्वारा लाभार्थी को प्रति लीटर दूध के हिसाब से 5 रूपए अनुदान राशि प्रदान की जाएगी जिससे पात्र लाभार्थी को दूध का उचित और अधिक दाम मिल सकेगा ।

राजस्थान मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादक संबल योजना से जुड़े सवाल-जवाब

Q.1 मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादक संबल योजना को किस राज्य मे शुरू किया गया है?

Ans: राजस्थान मे।

Q.2 दूध उत्पादक संबल योजना के माध्यम से राज्य के कितने लाभार्थीयों को योजना का लाभ दिया जाएगा?

Ans: कुल 500000 पशुपालकों को योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।

Q.3 इस योजना के लिए सरकार द्वारा कुल कितना बजट निर्धारित किया गया है?

Ans: 500 करोड़ का बजट योजना के माध्यम से सरकार दवारा निर्धारित किया गया है।

Q.4 दूध बेचने पर कितनी अनुदान राशि प्रदान की जाएगी पूर्णविराम?

Ans: दूध बेचने के लिए 5 रूपए प्रति लीटर के हिसाव से अनुदान राशि प्रदान की जाएगी।

आशा करता हूँ आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी| आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेट और लाइक जरूर करें|  

Last Updated on November 19, 2022 by Abinash

error: Content is protected !!