PM ग्रामीण उजाला योजना 2022 | फ्री LED Bulbs ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | एप्लीकेशन स्टेटस

 

|| प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना | Gramin Ujala Yojana | Free LED Bulbs Online Registration | Application Status | Helpline Number|| ग्रामीण इलाकों के लोगों को रियायती दरों पर एलईडी बल्ब उपलव्ध करवाकर और बिजली बिल को कम करने के लिए ग्रामीण उजाला योजना को लागु किया गया है। जिसके जरिए ग्रामीण निवासियो को मात्र 10 रुपये मे एलईडी बल्ब उपलव्ध करवाए जाएगें। कैसे मिलेगा योजना का लाभ और आवेदन कैसे किया जाएगा। ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा। तो आइए जानते हैं – ग्रामीण उजाला योजना 2022 के वारे मे।    

   

PM ग्रामीण उजाला योजना | Gramin Ujala Yojana

 

देश के ग्रामीण इलाकों में बिजली की खपत को कम करने और ग्रामीणो को आत्म-निर्भर वनाने के लिए केंद्र सरकार दवारा ग्रामीण उजाला योजना को शुरु करने की घोषणा की गई है। जिसके तहत ग्रामीण क्षेत्रों के विद्युत उपभोक्ताओं को 10 रुपये में 9 वाट का 01 एलईडी बल्ब दिया जाएगा। जिसमे प्रति परिवार को 04 बल्ब उपलब्ध करवाए जाएगें। जिसमे लगभग 15 से 20 करोड़ ग्रामीण परिवारों  के बीच 60 करोड़ एलईडी बल्ब वितरित किये जाने का प्रावधान है। योजना के लागू होने से करीब 9324 करोड़ यूनिट सालाना बचत होगी जबकि 7.65 करोड़ टन सालाना कार्बन उत्सर्जन में कमी आएगी और ऊर्जा बचत के रूप में करीब 50,000 करोड़ रुपये सालाना बचत का अनुमान है। इससे लोगों की बिजली बिल के रूप में पैसे की बचत होगी वहीं एक सतत और बेहतर जीवन को बढ़ावा मिलेगा। साथ ही एलईडी बल्ब की मांग बढ़ने से निवेश मे वढोतरी होगी। इस योजना के लिए केंद्र या राज्यों से कोई सब्सिडी नहीं ली जाएगी और जो भी खर्च होगा, वह EESL स्वयं करेगी।

योजना के मुख्य पहलु

PM ग्रामीण उजाला योजना को देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा शुरू किया गया है| इस योजना के तहत देश के नागरिकों को LED बल्ब प्रदान किए जाएंगे। इस योजना के 5 जनवरी 2022 को 7 वर्ष पूरे हो गए हैं और ये दुनिया की सबसे बड़ी जीरो सब्सिडी घरेलू योजना है। जिसमें से पूरे देश मे 36.78 करोड़ से अधिक LED को वितरित किया गया है। इस योजना के जरिये 5 जनवरी 2022 तक 47778 मिलियन किलोवाट घंटे प्रतिवर्ष ऊर्जा की बचत की गई है। इसके अलावा CO2 उत्सर्जन में 36 करोड़ टन की कमी के साथ 9747 मेगा वॉट की चरम मांग से बचा गया है। इसके अलावा 72.09 लाख LED ट्यूब लाइट एवं 23.41 लाख ऊर्जा कुशल पंखे भी वितरित किए गए हैं।

जिसमे से ग्रामीण उजाला योजना से 19156 करोड़ रुपए की अनुमानित वार्षिक बचत हुई है। वितरित किए जा रहे LED बल्ब को तकनीकी विनिर्देश को 7 वोट से बढ़ाकर 9 वोट एवं 85 लुमेन से बढ़ाकर 100 लूमेन किया गया है|

PM ग्रामीण उजाला योजना का लाभ अब तक 9 करोड़ से अधिक उपभोक्ताओं को प्रदान किया जा चुका है और इसके बारे में अधिक जानकारी आधिकारिक वेबसाइट पर भी प्रसारित की गई है।

PM ग्रामीण उजाला योजना की लॉन्चिंग

योजना को लॉन्च करने की प्रक्रिया ऊर्जा दक्षता को गांव तक ले जाएगी| जिससे Gramin Ujala Yojana के माध्यम से बिजली के बिल में कमी देखने को मिलेगी। बिजली के बिल में कमी आने से लोगों की बचत मे इजाफा होगा। उसके लिए सरकार दवारा 15 से 20 करोड़ लाभार्थियों को 60 करोड़ LED बल्ब वितरित किए जाएंगे। जिससे देश मे LED बल्ब की मांग बढ़ेगी और निवेश में भी बढ़ोतरी होगी।

PM ग्रामीण उजाला योजना का अवलोकन 

योजना का नाम प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना
किसके दवारा शुरू की गई देश के प्रधानमन्त्री मोदी जी दवारा
लाभार्थी ग्रामीण नागरिक
प्रदान की जाने वाली सहायता LED बल्व
LED बल्व का मूल्य 10 Rs.
लाभार्थीयों की संख्या 15 से 20 करोड
LED बल्व की कुल संख्या 60 करोड़
बिजली की बजत 9324 करोड़ यूनिट
कार्वन उत्सर्जन में कमी 7.65 करोड़
पैसों की बचत 50 हजार करोड़ रूपए
आधिकारिक वेबसाइट eeslindia.org/en/ourujala

Ujala Yojana

योजना को चरणबद्ध तरीके से किया जाएगा लागू

ग्रामीण उजाला योजना को चरणबद्ध तरीके से लागू किया जाएगा जिसमें उत्तर प्रदेश का वाराणसी, बिहार का आरा, महाराष्ट्र का नागपुर, गुजरात का वडनगर तथा आंध्रप्रदेश का विजयवाड़ा आदि शहर शामिल है। इस योजना के लिए केंद्र या राज्य सरकार से कोई भी सब्सिडी नहीं ली जाएगी। प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना में जो भी खर्च आएगा उसे EESL दवारा भुगतान किया जाएगा। जिसमे योजना की लागत की वसूली कार्बन ट्रेडिंग के माध्यम से की जाएगी।

PM ग्रामीण उजाला योजना का लक्ष्य
  • 3 वर्षों में LED लाइट बदलने का लक्ष्य- 770 मिलियन
  • अपेक्षित वार्षिक ऊर्जा बचत- 105 बिलियन KWH
  • पीक लोड में अपेक्षित कमी- 20000 मेगावाट
  • वार्षिक अनुमानित ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन में कमी- 79 मिलियन टन CO2
10 रुपये मे मिलेगें LED बल्ब 
  • ग्रामीण उजाला योजना के तहत गांवों में प्रति परिवार को 10-10 रुपये प्रति बल्ब की दर से तीन से चार LED बल्ब लाभार्थीयो को वितरित किये जाएंगे।
  • एलईडी बल्ब के अलावा ट्यूबलाइट और ऊर्जा दक्ष पंखों का भी वितरण किया जाएगा।
LED बल्ब की लाइफ
  • LED बल्ब की लाइफ 4 से 5 वर्ष तक होगी|
  • अगर 1 साल की अवधि में LED बल्ब खराब हो जाता है तो इस स्थिति में EESL दवारा बल्बों की मुफ्त प्रतिस्थापना की जाएगी|
प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना का उद्देश्य

योजना का मुख्य उद्देश्य बिजली बिल में कमी लाने और वहां रहने वाले लोगों की बचत मे इजाफा करना है।

PM ग्रामीण उजाला योजना के लिए पात्रता
  • देश के स्थायी निवासी
  • ग्रामीण इलाको मे रहने वाले लाभार्थी

प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बिजली के बिल की फोटोकॉपी
  • फोटो आईडी प्रूफ
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर
ग्रामीण उजाला योजना लाभ 
  • ग्रामीण उजाला योजना का लाभ ग्रामीण इलाको मे रहने वाले लाभार्थीयो को मिलेगा।
  • इस योजना के जरिए लाभार्थीयो को मात्र 10 रुपये मे एलईडी बल्ब उपलव्ध करवाए जाएगें।
  • योजना को गति देने के लिए 15 से 20 करोड़ ग्रामीण परिवारों के बीच 60 करोड़ एलईडी बल्ब वितरित किये जाएगें।
  • इस योजना से प्रतिवर्ष 60 हजार करोड़ रुपये मूल्य की बिजली की बचत होगी।
  • ग्रामीण उजाला योजना को लागू करने के लिए केंद्र तथा राज्य सरकार से कोई भी सब्सिडी नहीं ली जाएगी। बलिक योजना का सारा खर्चा EESL दवारा भरा जाएगा।
  • योजना के अंतर्गत लागत की वसूली कार्बन ट्रेडिंग के माध्यम से की जाएगी।
  • ग्रामीण इलाकों के लोग एनर्जी एफिशिएंसी के प्रति जागरूक होंगे
  • योजना के माध्यम से 7.65 करोड़ टन सालाना कार्बन उत्सर्जन में भी कमी आएगी।
  • योजना को चरणबद्ध तरीके से पूरे देश में लागू किया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से प्रतिवर्ष 50000 करोड रुपए की बचत होगी।
  • लाभार्थीयो को अधिक बिल देने के चक्कर से मुकित मिलेगी।
  • लोगो के पैसे की वचत होगी।
प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना की मुख्य विशेषताएं 
  • लाभार्थीयो को आत्म-निर्भर व जागरुक वनाना
  • लाभार्थीयो को रियायती दरो पर एलईडी बल्ब उपलव्ध करवाना
  • बिजली बिल मे कमी लाना
  • लाभार्थीयो की बचत को बढाना
  • बल्ब की मांग बढ़ने से निवेश मे वढोतरी होगी
PM ग्रामीण उजाला योजना के लिए कैसे करें आवेदन 

online

  • अब आपको आवेदन करे के विकल्प पे किलक करना है|
  • उसके बाद आपके सामने आवेदन फार्म खुलके आएगा|
  • जिसमे आपको दी गई सारी जानकारी दर्ज करनी है|
  • सारी प्रक्रिया होने के बाद आपको अंत मे Submit के बटन पे किलक कर देना है|
  • इस तरह आपके दवारा योजना के अंतर्गत आवेदन कर दिया जाएगा|
कंप्लेंट दर्ज करने की प्रोसेस
  • सवसे पहले लाभार्थी को आधिकारिक वेबसाइट पे जाना होगा| 
  • उसके बाद आपको Menu वाले विकल्प मे जाकर Dashboard वाले ऑप्शन पे किलक करना होगा|

dashboard

  • अब आपको Ujala वाले लिंक पे किलक कर देना है| 
  • उसके बाद आपके सामने अगला पेज खुलके आएगा|

complaint

  • जिसमे आपको Register your complaint के विकल्प पे किलक कर देना है| 
  • अब आपके सामने Registration पेज खुल कर आएगा।

complaint form

  • इस पेज मे आपको Caller Number, Language, State, Scheme, District आदि जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इस प्रक्रिया के बाद आपको Save के विकल्प पर क्लिक कर देना है|
  • इस प्रक्रिया का पालन करके आप Complaint दर्ज कर सकोगे|
कंप्लेंट की स्थिति चेक करने की प्रोसेस
  • सवसे पहले लाभार्थी को आधिकारिक वेबसाइट पे जाना होगा| 
  • उसके बाद आपको Menu वाले विकल्प मे जाकर Dashboard वाले ऑप्शन पे किलक करना होगा|
  • अब आपको Ujala वाले लिंक पे किलक कर देना है| 
  • उसके बाद आपके सामने अगला पेज खुलके आएगा|
  • जिसमे आपको Register your complaint के विकल्प पे किलक कर देना है| 
  • अब आपके सामने अगला पेज खुलके आएगा|

track complaint

  • जिसमे आपको Caller number or complaint ID दर्ज करनी होगी।
  • फिर आपको Search के विकल्प पर क्लिक कर देना है|
  • जैसे ही आप Search के विकल्प पर क्लिक करोगे तो complaint की स्थिति आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर आ जाएगी|
डैशबोर्ड देखने की प्रोसेस

dashboard process

  • जैसे ही आप Ujala वाले लिंक पे किलक करोगे तो डैशबोर्ड से संबंधित जानकारी आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर आ जाएगी|
Helpline Number
  • Call Us: 011- 45801260
  • Toll- Free no. for complaints:1800 180 3580

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेट और लाइक जरुर करें।

error: Content is protected !!