महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना 2022 | ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन स्टेटस | पात्रता व उद्देश्य

|| Mahila Kisan Sashaktikaran Pariyojana | महिला किसान सशक्तिकरण | Mahila Kisan Sashaktikaran Yojana | Mahila Kisan Sashaktikaran Pariyojana Online Registration | Application Form & Status ||

भारत सरकार दवारा राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना को लागू किया गया है। इस योजना के माध्यम से कृषि क्षेत्र से संबंधित महिलाओं की स्थिति में सुधार लाया जाएगा और उन्हे विभिन्न प्रकार के अवसर भी प्रदान किए जाएंगे। जिससे कृषि उद्योग में महिलाओं की भागीदारी वढ़ेगी और उनके मान-सम्मान मे भी वढ़ोतरी होगी| कैसे मिलेगा इस योजना का लाभ और इसके अंतर्गत आवेदन कैसे किया जाएगा| ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढ्ना होगा| तो आइए जानते हैं – महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना के वारे मे|

Mahila Kisan Sashaktikaran Pariyojana

Mahila Kisan Sashaktikaran Pariyojana

महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना की शुरुआत महिलाओं की स्थिति को वेहतर वनाने के लिए की गई है| इस योजना के अंतर्गत महिलाओं के लिए स्थायी कृषि आधारित अवसर पैदा होंगे। जिससे कृषि क्षेत्र से संबंधित महिलाओं को उनकी भागीदारी बढ़ाने के लिए सशक्त बनाया जाएगा। इस योजना से महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना सरकार और अन्य एजेंसियों के इनपुट व सेवाओं तक बेहतर पहुंच प्रदान की जा सकेगी। जिससे महिलाओं की प्रबंधकीय क्षमता को बढाने मे मदद मिलेगी| इसके अलावा इस योजना से घरेलू और सामुदायिक स्तर पर खाद्य, पोषण सुरक्षा भी सुनिश्चित की जाएगी |   

महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना के परिणाम

  • महिलाओं की आय बढ़ाने के लिए
  • खाद्य और पोषण सुरक्षा में सुधार
  • खेती के तहत बढ़ता क्षेत्र
  • कौशल में वृद्धि
  • उन्नत उपकरणों और प्रौद्योगिकी के माध्यम से कठिन परिश्रम में कमी
  • महिलाओं की दृश्यता में वृद्धि
  • उद्यमिता विकसित करने के लिए

योजना का अवलोकन

योजना का नाम महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना
किसके दवारा शुरू की गई भारत सरकार दवारा
लाभार्थी देश की महिला किसान  
प्रदान की जाने वाली सहायता कृषि क्षेत्र से संबंधित महिलाओं को सहायता प्रदान करना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट aajeevika.gov.in

महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना – लेटेस्ट अपडेट

24 राज्यों में महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना के तहत 84 परियोजनाओं को मंजूरी दी गई है। जिसमे से सरकार ने योजना के तहत 273 जिलों को लक्षित किया है। इन 273 जिलों में से 238 जिलों में महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना लागू की जा रही है। योजना के तहत स्वीकृत 84 परियोजनाओं में से 33.81 लाख से अधिक लाभार्थियों को लाभ प्रदान किया जाएगा। इन परियोजनाओं के माध्यम से लगभग 36.06 लाख लाभार्थी शामिल हैं। भारत सरकार ने स्वीकृत परियोजनाओं के लिए 847.5 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं।

परियोजना का कार्यान्वयन

  • महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना की योजना और कार्यान्वयन की निगरानी परियोजना कार्यान्वयन एजेंसी द्वारा की जाएगी।
  • योजना के तहत एक परियोजना पूरी होने से वे विभिन्न चरणों से गुज़रेगी|
  • परियोजना के पूरा होने की प्रक्रिया में कई सरकारी और निजी भागीदार शामिल होंगे|
  • ग्रामीण विकास मंत्रालय परियोजना लागत के 75% के लिए धन सहायता प्रदान करेगा|
  • पहाड़ी क्षेत्रों के मामले में, सरकार परियोजना लागत के 90% तक के लिए धन उपलब्ध कराएगी
  • निधि की शेष राशि राज्य सरकार या अन्य दाता एजेंसियों द्वारा प्रदान की जाएगी
  • जनशक्ति, बुनियादी ढांचे आदि के रूप में योगदान की भी अनुमति है
  • भारत सरकार ने योजना के कार्यान्वयन के लिए विभिन्न संगठनों के साथ सहयोग किया है|
  • महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना के तहत लागू की जाने वाली सभी परियोजनाएं उन महिलाओं को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से सहायता प्रदान करेंगी जो कृषि और संबंधित गतिविधियों में शामिल हैं।

योजना के मुख्य पहलू

1.स्थायी कृषि

  • कृषि और गैर-कृषि आधारित गतिविधियों का समर्थन करने के लिए कौशल और क्षमताओं में सुधार करना
  • घर और समुदाय में खाद्य और पोषण सुरक्षा सुनिश्चित करना
  • सरकार और अन्य एजेंसियों के इनपुट और सेवाओं तक बेहतर पहुंच
  • जैव विविधता के बेहतर प्रबंधन के लिए कृषि में महिलाओं की प्रबंधकीय क्षमता को बढ़ाना

2.गैर इमारती लकड़ी वनोपज

  • एनटीएफबी प्रजातियों के पुनर्जनन को बढ़ावा देना और जैव विविधता में सुधार करना
  • आय बढ़ाने के लिए स्थायी कटाई और कटाई के बाद की तकनीकों में समुदाय की क्षमता का निर्माण
  • स्थानीय मूल्यवर्धन को बढ़ावा देना
  • बाजार संबंधों को बढ़ावा देना
  • सूचना और संचार प्रौद्योगिकी के उपयोग को बढ़ावा देना

3.मूल्य श्रृंखला का विकास

  • कृषि के लिए उच्च मूल्य प्राप्ति
  • बढ़ी हुई सौदेबाजी की शक्ति और पैमाने की अर्थव्यवस्थाओं को सुनिश्चित करना
  • मजबूत व्यापार मॉडल को विकसित करना
  • समुदाय की क्षमता का निर्माण
  • ICT का उपयोग

महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना के तहत परियोजना के मुख्य चरण

  • परियोजना क्षेत्र की पहचान
  • कार्यान्वयन एजेंसी की पहचान
  • प्रोजेक्ट स्क्रीनिंग कमिटिंग द्वारा प्रोजेक्ट की स्क्रीनिंग
  • परियोजना अनुमोदन समिति द्वारा परियोजना का अनुमोदन
  • परियोजना कार्यान्वयन
  • परियोजना रिपोर्ट प्रस्तुत करना
  • समारोह 3 किस्तों का विमोचन
  • परियोजना की निगरानी और समीक्षा
  • अंकेक्षण
  • परियोजना का पूरा होना

Mahila Kisan Sashaktikaran Pariyojana

महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना के लाभ

  • भारत सरकार ने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना की शुरूआत की है।
  • इस योजना के माध्यम से कृषि क्षेत्र से संबंधित महिलाओं की स्थिति में सुधार लाया जाएगा|
  • इस योजना से महिलाओं को विभिन्न प्रकार के अवसर प्रदान किए जाएंगे।
  • कृषि उद्योग में महिलाओं की भागीदारी को प्रोत्साहित करने और उनकी उत्पादकता बढ़ाने के लिए व्यवस्थित निवेश किया जाएगा।
  • महिलाओं के लिए स्थायी कृषि आधारित अवसर पैदा होंगे।
  • इसके अलावा महिलाओं को दीर्घकालीन लाभ प्राप्त करने के लिए विभिन्न सूचना स्रोत और सहायता तंत्र भी प्रदान किए जाएंगे।
  • इस योजना से महिलाओं की आय में वृद्धि होगी।
  • इसके अलावा इस योजना से महिलाओं की खाद्य और पोषण सुरक्षा व कौशल में भी सुधार आएगा|
महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना के लिए पात्रता
  • आवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए
  • कृषि क्षेत्र से संबंधित महिलाएं योजना का लाभ लेने के लिए पात्र हैं|
जरूरी दस्तावेज
  • आधार कार्ड
  • आवास प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी
योजना का उद्देश्य

महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना का मुख्य उद्देश्य कृषि क्षेत्र से संबंधित महिलाओं को उनकी भागीदारी बढ़ाने के लिए प्रेरित करना है और उन्हे सशक्त बनाना है।

महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना के लिए कैसे करे आवेदन

Mahila Kisan Sashaktikaran Pariyojana online

  • उसके बाद आपको “आवेदन करें” के विकल्प पे किलक करना है|
  • अब आपके सामने आवेदन फ़ॉर्म खुलके आएगा|
  • जिसमे आपको आवश्यक जानकारी दर्ज करनी है|
  • उसके बाद आपको सभी आवश्यक दस्तावेज भी अपलोड करने हैं|
  • अंत मे आपको सबमिट के बटन पे क्लिक कर देना है|
  • इस प्रक्रिया का पालन करके आप महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना के तहत आवेदन कर सकोगे|

आशा करता हूँ आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी| आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेट और लाइक जरूर करे|

Last Updated on July 9, 2022 by Abinash

error: Content is protected !!