Updated : Nov 27, 2019 in Yojana

शिक्षित बेरोजगार उद्यानिकी फसल योजना | पूरी जानकारी | कैसे मिलेगा लाभ

शिक्षित बेरोजगार उद्यानिकी फसल योजना | Educated unemployed horticulture crop scheme

 

मध्य प्रदेश सरकार दवारा 27 नंववर 2019 को शिक्षित वेरोजगारों को रोजगार देने के लिए एक नई योजना को शुरु किया गया है, जिसका नाम है – “शिक्षित बेरोजगार उद्यानिकी फसल योजना”। इस योजना के तहत राज्य सरकार दवारा युवाओं को जमीन दी जाएगी, और वहां पे इन युवाओं दवारा फूलों की खेती करवाई जाएगी। एक से ढाई एकड जमीन को लीज पर दिया जाएगा। इनमें सड़क, बिजली, पानी आदि की व्यवस्था भी शासन द्वारा उपलब्ध कराई जाएगी। एक एकड जमीन के 5 लाख रुपये देने होगें। इससे एक तो युवाओं को रोजगार मिलेगा, दूसरा प्रदेश में उद्यानिकी क्षेत्र में भी विस्तार होगा। इसके अलावा राज्य सरकार दवारा पॉली हॉउस, ग्रीन हॉउस सहित अन्य उपकरणों के लिए अनुदान भी दिया जाएगा। वहीं युवाओं को इसके बाद अगर खेती के लिए बैंक से कर्ज लेने की जरुरत पडती है, तो राज्य सरकार दवारा इसमें भी मदद की जाएगी।

 मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बेरोजगारों के लिए रोजगार के अवसर विकसित करने के साथ ही तय किया है कि चिन्हित भूमि शिक्षित बेरोजगारों को दी जाएगी, ताकि वे इसके जरिए अपने लिए रोजगार के साधन को विकसित कर सकें और इस योजना का लाभ उठा सके।   

महत्वपूर्ण डाउनलोड | Important Download

उद्देश्य | An Objective

शिक्षित बेरोजगार उद्यानिकी फसल योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य के बेरोजगार युवाओं को राज्य सरकार दवारा भूमि देकर, उनसे खेती करवाना है, ताकि उनके लिए रोजगार के साधन को विकसित किया जा सके।

महत्वपूर्ण दस्तावेज | Important Documents

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • शैक्षिक योग्यता प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • रजिस्टड मोबाइल नम्वर

प्रमुख विशेषताएं | Major features

  • रोजगार के अवसर प्रदान करवाना
  • राज्य सरकार दवारा मिलेगी सहायता
  • उद्यानिकी क्षेत्र का विस्तार
  • खेती के लिए भूमि उपलव्ध करवाना
  • खेती के लिए बैंक से कर्ज लेने पर आर्थिक सहायता

पात्रता | Eligibility

  • मध्य प्रदेश का स्थायी निवासी
  • बेरोजगार
  • शिक्षित युवा

लाभ | Benefits

  • शिक्षित बेरोजगार उद्यानिकी फसल योजना का लाभ मध्य प्रदेश के बेरोजगार युवाओं को प्राप्त होगा।
  • इस योजना के तहत राज्य सरकार बेरोजगार युवाओं को खेती करने के लिए जमीन देगी।
  • इस योजना के तहत राज्य सरकार दवारा एक से ढाई एकड जमीन को लीज पर दिया जाएगा।
  • सड़क, बिजली, पानी आदि की व्यवस्था भी राज्य सरकार दवारा उपलव्ध करवाई जाएगी।
  • इस योजना के तहत अगर आवेदक को खेती करने के लिए बैंक से कर्ज लेने की जरुरत पडती है, तो राज्य सरकार दवारा मदद की जाएगी।
  • इस योजना से बेरोजगार लोगों के लिए रोजगार के लिए नए-नए रास्ते खुलेगें।
  • इस योजना के लिए बेरोजगार युवाओं के लिए एक कमेटी का गठन किया जाएगा, खेती कैसे की जाती है इसके वारे में उन्हें अवगत करवाया जाएगा।
  • खेती करने के लिए किन-किन चीजों की आवश्यकता पडती है, ये सारी चीजें इन लोगों को वताई जाएगीं।
  • राज्य के सभी बेरोजगार युवाओं को इस योजना से जोडा जाएगा।
  • इस योजना से बढ रही बेरोजगार जैसी समस्या खत्म होगी।

शिक्षित बेरोजगार उद्यानिकी फसल योजना के लिए आवेदन कैसे करें | How to apply for educated unemployed horticulture crop scheme

  • इस योजना से जुडने के लिए आवेदक को राज्य सरकार दवारा खेती के लिए भूमि दी जाएगी।
  • आवेदक को दी गई भूमि पर खेती करनी है।
  • उसे खेती करके अपनी इनकम को वढाना है।
  • खेती कैसे की जाती है, यह सारी जानकारी लेने के लिए राज्य सरकार दवारा कमेटी का गठन कर कर्मचारियों को नियुक्त करेगी, जो इस योजना के सवंध में युवाओं को गाइडलाइंस देगी।
  • उनसे प्रेरित होकर युवा इस योजना का फायदा उठाएगें।
  • जो बेरोजगार हैं, वो इस योजना से जुडेगें।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!