Nov 27, 2020 Yojana

पराली दो खाद लो योजना 2020 | पूरी जानकारी | पात्रता / लाभ / उद्देश्य | कैसे करें आवेदन

उत्तर प्रदेश पराली दो खाद लो योजना | Prali do khad lo Yojana | मुख्यमंत्री पराली दो खाद लो योजना | Mukhyamantri Prali do khad lo Scheme | लाभ / पात्रता / उद्देश्य / विशेषताएं | How to apply

 

प्रदूषण स्तर को रोकने और किसानो की सिथति की सिथति मे सुधार करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार दवारा पराली दो खाद लो योजना को लागु किया गया है। जिसके जरिए पराली की ट्राली गोशाला मे देने पर किसानो को खाद उपलव्ध करवाई जाएगी। इससे पराली न जलाने के लिए किसानो को प्रोत्साहित किया जाएगा। दूसरा उन्हे खाद उपलव्ध करवाने पर खेतो की पैदावार मे वढोतरी होगी। कैसे मिलेगा योजना का लाभ और आवेदन कैसे किया जाएगा। ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा। तो आइए जानते हैं – पराली दो खाद लो योजना के वारे मे।        

पराली दो खाद लो योजना | Prali do khad lo Yojana

 

उत्तर प्रदेश सरकार दवारा राज्य के किसानो की सिथति को वेहतर वनाने और पर्यावरण की रक्षा हेतु पराली दो खाद लो योजना को शुरु किया गया है। जिसके तहत दो ट्राली पराली गोशाला में देने पर एक ट्राली गाय के गोबर की खाद किसानों को निशुल्क दी जाएगी। अब तक कानपुर देहात में 3000 और उन्नाव में 1675 क्विंटल से ज्यादा पराली किसानों ने गौशालाओं में पहुंचाई गई है, जिसके वदले उन्हे खाद भी उपलव्ध करवाई गई है। इसके अलावा वायु प्रदूषण कम करने के लिए पराली को लेकर निस्तारित करने के लिए कृषि यंत्रों पर 50 से 80 % तक अनुदान भी दिया जा रहा है। इस योजना से पराली न जलाने पर प्रदूषण नहीं होगा, गोशालाओं में चारे की कमी नहीं रहेगी और जैविक खाद के उपयोग से खेतों की उर्वरा शक्ति बढने से उत्पादन अच्छा होगा, जिससे किसानो का आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। योजना को गति देने के लिए इसे पूरे राज्य मे लागु किया जाएगा ताकि पराली न जलाने के लिए लोगो को जागरुक किया जा सके।

उद्देश्य | An Objective

योजना का मुख्य उद्देश्य पराली न जलाने पर लोगो को प्रोत्साहित करना है। ताकि पराली जलने से होने वाले प्रदूषण को रोका जा सके और गोशालाओ मे पराली पहुंचाकर लोगो को उसके वदले निशुल्क खाद उपलव्ध करवाई जा सके।

पात्रता | Eligibility

  • उत्तर प्रदेश राज्य के स्थायी निवासी
  • किसान वर्ग

महत्वपूर्ण दस्तावेज | Important Documents

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नम्वर

लाभ | Benefits

  • पराली दो खाद लो योजना का लाभ उत्तर प्रदेश के स्थायी निवासियो को मिलेगा।
  • योजना के जरिए दो ट्राली पराली गोशाला में देने पर एक ट्राली गाय के गोबर की खाद किसानों को दी जाएगी।
  • किसानो को खाद फ्री मे मिलेगी ।
  • पराली गोशाला में पहुचने पर चारे की कमी नहीं होगी।
  • इस योजना से पराली न जलाने पर प्रदूषण मे कमी आएगी।
  • धुएं की समस्या से मिलेगी निजात्।
  • अब तक 22 गोशालाओं में करीब 167 टन पराली पहुंच चुकी है। अगले 15 दिन में हर ब्लॉक में 100-100 टन पराली पहुंचाई जाएगी।
  • एक ट्राली गोबर की खाद 1500-1800 रुपए की है। दो ट्राली पराली पर एक ट्राली खाद मिल रही है। कंपोस्ट खाद मिलने पर किसान का डीएपी-यूरिया का खर्च कम हो जाएगा।
  • जैविक खाद के उपयोग से खेतों की उर्वरा शक्ति बढने से उत्पादन अच्छा होगा।
  • किसानो की सिथति मे सुधार आएगा।
  • इस योजना से ज्यादा किसानो को प्रोत्साहित किया जाएगा।
  • योजना का विस्तार करने के लिए इसे पूरे राज्य मे शुरु किया जाएगा।
  • अब तक इस योजना कई किसान लाभ उठा चुके हैं।
  • आने वाले दिनो मे ये योजना दूसरे राज्यो के लिए प्रेरणा मॉडल वनेगी।

विशेषताएं | Features

  • प्रदूषण स्तर मे कमी आएगी
  • गोशाला मे चारे की कमी नही होगी
  • जैविक खाद के उपयोग से फसलो की उर्वरा शक्ति बढेगी
  • फसलो की पैदावार होने से उत्पादन मे वढोतरी होगी
  • किसानो का आर्थिक पक्ष मजबूत होगा

पराली दो खाद लो योजना के लिए कैसे करें आवेदन | How to apply for the Prali do khad lo Yojana

  • योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी को नजदीकी गोशाला मे जाना होगा।
  • अब आपको गोशाला चलाने वाले अधिकारी से संपर्क करना होगा।
  • उसके बाद आपसे आपका नाम, मोबाइल नम्वर व पता जैसी जानकारी ली जाएगी।
  • इसके बाद आपको वहां के अधिकारी / कर्मचारी को दो ट्राली पराली की देनी होगी।
  • इसके वदले आपको एक ट्राली गाय के गोबर की खाद निशुल्क दी जाएगी।
  • इस तरह आपको योजना का लाभ मिल जाएगा।  

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।

error: Content is protected !!