वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना 2021 | vcsgscheme | ऑनलाइन पंजीकरण

|| उत्तराखंड पर्यटन स्वरोजगार योजना | Uttarakhand VCSG Scheme | पर्यटन स्वरोजगार लोन योजना | Uttarakhand VCSG Scheme apply Online ||

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री दवारा राज्य मे बेरोजगारी दर को कम करने के लिए वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना को लागु किया गया है| जिसके माध्यम से पात्र लाभार्थीयों को सरकार दवारा खुद का व्यवसाय शुरू करने के लिए ऋण दिया जाता है| ताकि उनकी आर्थिक सीथति मे सुधार किया जा सके| इस योजना का लाभ कैसे प्राप्त होगा, योजना के लिए कौन-कौन पात्र हैं और इसके लिए आवेदन कैसे किया जाएगा| ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा| तो आइए जानते हैं – वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना के वारे मे|

Tourism Self-Employment Yojana

Veer Chandra Singh Garhwali Tourism Self-Employment Yojana

उत्तराखंड सरकार दवारा राज्य के नागरिको को सशक्त वनाने और रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना को शुरू किया गया है| जिसके अंतर्गत राज्य के बेरोजगार नागरिको को इलेक्ट्रिक बस खरीदकर स्वयं का रोजगार शुरू करने मे मदद मिलती है| जिसमे लाभार्थियो को इलेक्ट्रिक बस खरीदने के लिए सरकार द्वारा 50 % या 15 लाख रूपए की सब्सिडी दी जाती है। इसके अतिरिक्त अन्य वाहनो पर लाभार्थीयों को 25% की सब्सिडी दी जाएगी। गैर वाहन की सूरत में आवेदको को पर्वतीय क्षेत्रों में 33% या 15 लाख रूपए तक की छूट मिलेगी और मैदानी क्षेत्रों में पात्र लाभार्थीयों को 25 % या 10 लाख रूपए तक की सब्सिडी दी जाएगी| इस योजना से राज्य मे बेरोजगारी दर मे कमी आएगी और बेरोजगारो को रोजगार मिलेगा| योजना का लाभ लाभार्थीयों को ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करके प्राप्त होगा|  

योजना के तहत वित्त पोषण और राजकीय सहायता

भारतीय रिजर्व बैंक के माध्यम से समय-समय पर वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना के लिए देश मे जारी ब्याज दरों के अंतगर्त ही ब्याज तय किया जाता है, और नागरिको को केंद्र सरकार दवारा दिया जाने वाला लोन प्रस्तावित योजना की आर्थिक परिपुष्टता सम्बंधित बैंक के माध्यम से सुनिश्चित किया जाता है । योजना के तहत सरकार द्वारा 12.5% लागत के बराबर धनराशि उद्यमी / मालिक के माध्यम से मार्जिन मनी के रूप में उपयोग की जाएगी| जविक वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना के माध्यम से गैर वाहन लोन के लिए 33%, वाहन लोन एवं मैदानी क्षेत्रों में गैर वाहन तथा वाहन ऋण के तहत 25% का अनुदान दिया जाएगा|

वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना में आरक्षण

वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना के जरिये राज्य के पिछड़े वर्ग के अनुसचित जाति, अनुसूचित जनजाति तथा अन्य पिछड़ा वर्ग आदि के लोगो को इस योजना के द्वारा सही रूप से लाभ दिए जाने का प्रावधान है जिसके तहत राज्य सरकार के माध्यम से समय-समय पर जारी शासनादेश के अनुसार आरक्षण दिया जाएगा| जिसके जरिये राज्य सरकार की सहायता से उत्तराखंड के नागरिक खुद का रोजगार शुरू कर सकेगें। जिसमे लाभार्थीयों को इलेक्ट्रिक बस या अन्य वाहनों खरीदने पर सहायता के रूप में सब्सिडी दी जाएगी।

वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना के अंतर्गत आने वाले व्यवसाय

योजना के तहत सरकार द्वारा निम्नलिखित व्यवसायों के लिए लोन लिया जा सकता है।

  • बस / टैक्सी परिवहन
  • मोटर गैराज / वर्कशॉप
  • फास्टफूड सेण्टर की स्थापना,
  • साधना कुटीर / योग ध्यान केंद्रों की स्थापना,
  • टेंट आवासीय सुविधा के विकास हेतु
  • क्षेत्र विशेष के आकषर्णों एवं विशेषताओं के अनुरूप पर्यटन अभिनव परियोजना हेतु
  • 8 – 10 कक्षीय मोटेलनुमा आवासीय सुविधाओं की स्थापना / होटल / पेइंग गेस्ट योजना,
  • स्थानीय प्रतीकात्मक वस्तुओं के विक्रय केंद्रों की स्थापना,
  • साहसिक क्रियाकलापन / एडवेंचर स्पोर्ट हेतु उपकरणों के लिए,
  • पीसीओ सिविधायुक्त पर्यटन सूचना केंद्र की स्थापना

योजना के लिए चयन प्रक्रिया

वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना के अनुसार लाभार्थियों का चयन जिलाधिकारी की अध्यक्षता में किया जाता है। इस समिति में मुख्य विकास अधिकारी, पर्यटन विभाग अधिकारी, अग्रणी बैंक प्रबंधक, महाप्रबंधक जिला उद्योग केंद्र, परिवहन विभाग का प्रतिनिधि सदस्य के रूप में सम्मिलित होते हैं।

वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना का मुख्य उद्देश्य

योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य मे बेरोजगार नागरिको को रोजगर से जोड़ने के लिए सरकार दवारा आर्थिक सहायता उपलव्ध करवाना है|

Veer Chandra Singh Garhwali Tourism Self-Employment Yojana के लिए पात्रता

  • उत्तराखंड राज्य के स्थायी निवासी  
  • बेरोजगार लाभार्थी
  • आवेदक जो भी कारोबार करना चाहता है, सब्सिडी के अलावा बची हुई रकम खुद जुटानी होगी।
  • आवेदक के पास राज्य में स्वयं की थोड़ी बहुत जमीन होनी चाहिए।
  • आवेदक किसी भी बैंक अथवा संस्था मे डिफाल्टर नहीं होना चाहिए|

वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना के लिए जरुरी दस्तावेज

  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • जन्मतिथि या आयु प्रमाण पत्र
  • शैक्षिक योग्यता प्रमाण पत्र
  • पूर्व अनुभव प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • भूमि सम्बन्धी दस्तावेज
  • परिशिष्ट-1 पर प्रोजेक्ट रिपोर्ट
  • नोटरी द्वारा शपथ पत्र
  • अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति / अन्य पिछड़ा वर्ग / भूतपूर्व सैनिक प्रमाण पत्र
  • तकनिकी / पर्यटन विषयक विशेष ज्ञान के प्रमाण पत्र (यदि लागू हो)
  • मोबाइल नम्वर

Uttarakhand VCSG Scheme

वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना के प्रमुख लाभ

  • वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना का लाभ उत्तराखंड राज्य के स्थायी निवासियों को प्राप्त होगा|
  • योजना के जरिये राज्य के नागरिको को सब्सिडी पर सरकार दवारा लोन प्रदान किया जाएगा|
  • राज्य के बेरोजगार नागरिको को इलेक्ट्रिक बस खरीदने के लिए 50% से लेकर 25% तक सब्सिडी दी जाएगी|
  • लाभार्थीयों को दी जाने वाली लोन की राशि सीधे उनके बैंक खाते मे जमा की जाएगी|
  • इस योजना से राज्य के वेरोजगार युवाओं को अपना खुद का व्यवसाय शुरू करने का मौका मिलेगा।
  • पर्यटन सेवा में सुधार होने से अधिक संख्या में पर्यटक राज्य में आना शुरू हो जायेंगे।
  • इस योजना से राज्य मे बेरोजगारी दर मे कमी आएगी|
  • लोगो के लिए रोजगार के अवसर पैदा होगें|
  • राज्य मे रोजगार मिलने से लोगो को अब दूसरे राज्य मे नौकरी की तलाश मे नहीं जाना पडेगा|
  • इस योजना से राज्य की आर्थिक स्थिति में सुधार लाया जा सकेगा।

Veer Chandra Singh Garhwali Tourism Self-Employment Yojana की मुख्य विशेषताएं

  • राज्य के बेरोजगार नागरिको के लिए रोजगार के अवसर उपलव्ध करवाना
  • रोजगार मिलने से होगी आय मे वढ़ोतरी|
  • खुद का व्यवसाय शुरू करने के लिए मिलेगी सरकार दवारा आर्थिक सहायता
  • लाभार्थीयों को आत्म-निर्भर व सशक्त वनाया जाएगा|

वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना के लिए कैसे करें आवेदन

Uttarakhand VCSG Scheme apply Online

 

VCSG Scheme apply Online

  • अब आपके सामने आवेदन फार्म खुलके आएगा|

VCSG Scheme apply Online

  • इस फार्म मे सवसे पहले आपको स्कीम का चुनाव करना होगा|
  • उसके बाद आपको इस फार्म मे दी गई सारी जानकारी दर्ज करनी होगी|
  • फिर आपको अन्त मे जमा करें वाले बटन पे किलक कर देना है|
  • इस तरह आपके दवारा योजना के अंतर्गत सफलतापूर्वक आवेदन कर दिया जाएगा|
  • इससे आगे की सुचना आपको विभाग द्वारा प्रदान कर दी जाएगी।

आशा करता हूँ आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी| आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेट और लाइक जरूर करें|

error: Content is protected !!