क्रेडिट गारंटी योजना [CGTMSE] 2022 | ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म | पात्रता व उद्देश्य

 

|| Credit Guarantee Scheme | क्रेडिट गारंटी योजना | Credit Guarantee Fund Trust for Micro and Small Enterprises Scheme | क्रेडिट गारंटी फंड योजना | Credit Guarantee Yojana Online Registration | Application Form || भारत सरकार दवारा देश के उद्यमियों को लाभ प्रदान करने के लिए क्रेडिट गारंटी योजना को लागू किया गया है| जिसके माध्यम से उद्यमियों को बैंक क्रेडिट उपलब्ध कराया जाएगा। जिससे कारोबारियों को बिना कुछ गिरवी रखें बिजनेस लोन उपलब्ध दिया जा सकेगा, ताकि वे इकाइयां स्थापित करके अपने सपने को साकार कर सकें। कैसे मिलेगा इस योजना का लाभ और इसके अंतर्गत आवेदन कैसे किया जाएगा| ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढ्ना होगा| तो आइए जानते हैं – क्रेडिट गारंटी योजना के वारे मे|

Credit Guarantee Scheme

Credit Guarantee Scheme

भारत सरकार के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय ने क्रेडिट वितरण प्रणाली को मजबूत करने और MSE (सूक्ष्म और लघु उद्यम) क्षेत्र में ऋण के प्रवाह को सुविधाजनक बनाने के लिए क्रेडिट गारंटी योजना को शुरू किया गया है। इस योजना के अंतर्गत उद्यमियों को क्रेडिट गारंटी की सुविधा प्रदान की जाती है, ताकि वे ऋण लेकर अपने व्यवसाय को बढ़ा सकें। इस योजना का लाभ आम तौर पर पहली पीढ़ी के उद्यमियों को प्रदान किया जाता है। इसके अलावा क्रेडिट सुविधा के शेष हिस्से को अधिकतम 200 लाख तक योजना के तहत कवर किया जाएगा। यदि उद्यमी ऋण का भुगतान करने में असमर्थ रहता है तो इस योजना के जरिये ऋणदाता को ट्रस्ट द्वारा उसके द्वारा किए गए नुकसान की एक निश्चित राशि का भुगतान किया जाएगा। यह योजना व्यवसाय में ऋण का आसान प्रवाह सुनिश्चित करेगी। जिससे उद्यमियों को निवेश आसानी से मिल जाएगा जो देश की जीडीपी को बढ़ाने में स्वत: ही योगदान देगा।

क्रेडिट गारंटी योजना का विस्तार

जैसा कि आप सभी जानते ही होंगे कि वित्त वर्ष 2022-23 के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी दवारा आपातकालीन क्रेडिट लाइन गारंटी योजना का विस्तार करने की घोषणा की गई है। इस विस्तार से व्यवसायों की कार्यशील पूंजी आवश्यकताओं को पूरा करने में मदद मिलेगी और 1.3 करोड़ से अधिक MSME को भी लाभ मिलेगा। इसके टोटल गारंटी कवर को 50 हजार करोड़ से बढ़ाकर कुल 5 लाख करोड़ किया जाएगा। यह अतिरिक्त राशि विशेष रूप से आतिथ्य और संबंधित उद्यमों के लिए निर्धारित की जाएगी। इस योजना को फंड के आवश्यक फ्यूजन के साथ नया रूप दिया जाएगा। इससे MSME को 2 लाख करोड़ का अतिरिक्त कर्ज मिलेगा जिससे रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे|

क्रेडिट गारंटी योजना का अवलोकन

योजना का नाम क्रेडिट गारंटी योजना
किसके दवारा शुरू की गई भारत सरकार दवारा
लाभार्थी देश के नागरिक
प्रदान की जाने वाली सहायता क्रेडिट गारंटी सुविधा प्रदान करना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट www.cgtmse.in

योजना के मुख्य पहलु

पात्र संस्थान द्वारा नए और साथ ही मौजूदा सूक्ष्म व लघु उद्यमों को मुफ्त क्रेडिट सुविधा के लिए किसी भी संपार्श्विक तृतीय पक्ष गारंटी की अधिकतम सीमा 200 लाख रूपए होगी। गारंटी कवरेज चयनित NBFCS और लघु वित्त बैंक को उपलब्ध कराया जाएगा। योजना के तहत स्वीकृत राशि के लिए 50%, 75%, 80% और 85% गारंटी कवर उपलब्ध रहेगा। सूक्ष्म उद्यमों के लिए 5 लाख रुपये तक की ऋण सुविधा की गारंटी की सीमा 85% होगी। खुदरा व्यापार गतिविधि में प्रति MSE उधारकर्ताओं के लिए 10 लाख से 200 लाख रुपये के क्रेडिट तक गारंटी कवर की सीमा 50% निर्धारित की गई है।

गारंटी कवर उन सूक्ष्म और लघु उद्यमों के लिए 80% है जो महिलाओं द्वारा संचालित या स्वामित्व में हैं और 50 लाख रुपये तक की क्रेडिट सुविधा के लिए पूर्वोत्तर क्षेत्र में सभी क्रेडिट या ऋण हैं। यदि कोई चूक होती है तो ट्रस्ट राशि के 75% तक दावे का निपटान करता है। ऋण पर ब्याज दर RBI के दिशानिर्देशों के अनुसार लागू होगी।

कैटेगरी वाइज क्रेडिट गारंटी

Category

Maximum extent of Guarantee where credit facility is
Upto 5 lakh Above 5 lakh upto 50 lakh

Above 50 lakh upto 200 lakh

Micro Enterprises

85% of the amount in default subject to a maximum of  4.25 lakh 75% of the amount in default subject to a maximum of  37.50 lakh

75% of the amount in default subject to a maximum of  150 lakh

Women entrepreneurs/ Units located in North East Region (incl. Sikkim) (other than credit facility upto  5 lakh to micro enterprises)

80% of the amount in default subject to a maximum of  40 lakh 80% of the amount in default subject to a maximum of  40 lakh

75% of the amount in default subject to a maximum of  150 lakh

All other category of borrowers

75% of the amount in default subject to a maximum of  37.50 lakh The 75% of the amount in default subject to a maximum of  37.50 lakh

75% of the amount in default subject to a maximum of  150 lakh

Activity

From 10 lakh upto 100 lakh

MSE Retail Trade

50% of the amount in default subject to a maximum of  50 lakh

Credit Guarantee

क्रेडिट गारंटी फंड योजना के प्रकार

बैंकों के लिए क्रेडिट गारंटी योजना सूक्ष्म और लघु उद्यमों को निधि देने के लिए भारत सरकार ने यह योजना बनाई है। जिसके तहत सूक्ष्म और लघु उद्यमों में उधारकर्ताओं को ऋण देने वाली संस्था द्वारा ऋण सुविधा के संबंध में योजना की गारंटी प्रदान की जाती है|

NBFC के लिए क्रेडिट गारंटी योजनाइस योजना के माध्यम से पात्र NBFC द्वारा सूक्ष्म और लघु उद्यमों में उधारकर्ताओं को ऋण सुविधाएं प्रदान की जाती हैं।

उप ऋण योजना इस योजना के जरिये अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक को गारंटी कवरेज प्रदान किया जाता है ताकि बैंकों के माध्यम से तनावग्रस्त MSME के प्रमोटरों को इक्विटी , उप ऋण या अर्ध इक्विटी आदि का उपयोग करने के लिए व्यक्तिगत ऋण प्रदान किया जा सके।

PM स्वानिधि योजना यह योजना भारत सरकार द्वारा शहरी स्ट्रीट वेंडरों को समर्थन देने के लिए शुरू की गई है। जिसमे से सदस्य ऋण देने वाली संस्था को क्रेडिट गारंटी कवरेज प्रदान की जाती है ताकि वे अपनी कार्यशील पूंजी की आवश्यकता को पूरा करने के लिए रेहड़ी-पटरी वालों को ऋण सुविधाएं प्रदान कर सकें।

क्रेडिट गारंटी योजना के लाभ
  • क्रेडिट गारंटी योजना का लाभ देश के उद्यमियों को प्रदान किया जाता है|
  • जिसके तहत उद्यमियों को क्रेडिट गारंटी की सुविधा प्रदान की जाती है|
  • इस योजना के तहत उन संस्थानों को एक सीमा तक क्रेडिट गारंटी दी जाती है, जो MSME क्षेत्र में लोन देते हैं।
  • मौजूदा और नए दोनों उद्यम इस योजना के तहत कवर किए जाएंगे|
  • सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय, भारत सरकार और लघु उद्योग विकास बैंक (सिडबी) ने सूक्ष्म और लघु उद्यमों के लिए क्रेडिट गारंटी फंड योजना को लागू करने के लिए सूक्ष्म और लघु उद्यमों (CGTMSE) के लिए क्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट नामक एक ट्रस्ट की स्थापना की गई है।
  • जिसमे लोन की गारंटी CGTMSE दवारा ली जाएगी, जबकि आवेदक इसके बदले CGTMSE के पास कुछ भी गिरवी नहीं रखेगा|
  • पहली पीढ़ी के उद्यमियों को अपना सूक्ष्म और लघु व्यवसाय (MSE) शुरू करने के अपने सपने को साकार करने में मदद की जाएगी|
  • इस योजना के तहत लाभार्थीयों को अधिकतम 2 करोड़ रु. तक का लोन मिल सकता है।
  • इस योजना से क्रेडिट वितरण प्रणाली को मजबूत करने और MSE क्षेत्र में ऋण प्रवाह को सुविधाजनक बनाया जाएगा|
  • इस योजना के लिए MLI को क्रेडिट सुविधा के हिस्से के लिए संपार्श्विक सुरक्षा प्राप्त करने की अनुमति होगी|
  • यदि उद्यमी ऋण का भुगतान करने में असमर्थ होता है तो इस योजना के माध्यम से ऋणदाता को उसके द्वारा किए गए नुकसान की एक निश्चित राशि का भुगतान किया जाएगा।
गारंटी कवर की सीमा
  • 5 लाख रुपये तक के सूक्ष्म उद्यम के लिए – 85%
  • सिक्किम सहित उत्तर पूर्वी क्षेत्र में स्थित 50 लाख महिला उद्यमियों/इकाइयों तक के लिए – 80%
  • अन्य श्रेणियों के लिए 5 लाख से 200 लाख तक के लिए – 75%
  • 100 लाख रुपये तक एमएसई खुदरा व्यापार के लिए – 50%
कवरेज प्राप्त करने के चरण
  • आवेदक पंजीकरण
  • GST विवरण
  • ITR अपलोड
  • डेटा भरना
  • प्रसंस्करण के लिए बैंक का चयन
  • अंतिम गारंटी प्रमाण पत्र
ऋण गारंटी योजना के तहत सदस्य ऋण संस्थान
  • 12 Public Sector Bank
  • 22 Private Sector Banks
  • 51 RRB
  • 5 Foreign Banks
  • 9 Financial Institutions
  • 28 NBFC
  • 6 SFB
  • 8 SUCB
क्रेडिट गारंटी योजना के लाभार्थी
  • निर्माण व्यवसाय
  • सेवाओं से संबंधित व्यवसाय
  • खुदरा व्यापार
क्रेडिट गारंटी फंड योजना के लिए पात्रता
  • आवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए
  • आवेदक पहली पीढ़ी का उद्यमी होना चाहिए
Important Documents
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • GST विवरण
  • इनकम टैक्स रिटर्न
  • बैंक खाता
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • ईमेल आईडी
क्रेडिट गारंटी योजना के लिए कैसे करे आवेदन

Credit Guarantee Scheme online

  • अब आपको Register के बटन पे किलक करना है| 
  • उसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा|

Credit Guarantee Scheme registration

  • जिसमे आपको full name, email id, mobile number and captcha code भरना होगा|
  • उसके बाद आपको Send OTP के बटन पे किलक कर देना है|
  • अब आपके मोबाइल पे OTP भेजा जाएगा| जिसे आपको OTP BOX मे दर्ज करना है|
  • फिर आपको Register बटन पे किलक कर देना है|
  • उसके बाद आपको अपना लॉगिन क्रेडेंशियल दर्ज करके Login करना होगा| 
  • फिर आपको अपना GST विवरण दर्ज करना होगा
  • उसके बाद आपको अपना इनकम टैक्स रिटर्न को अपलोड करना होगा|
  • अब आपको अपने बैंक खाते की जानकारी अपडेट करनी होगी
  • इस प्रक्रिया के बाद आपको अंत मे Submit के बटन पे क्लिक कर देना है|
  • Submit के बटन पे क्लिक करते ही आपके दवारा क्रेडिट गारंटी योजना के तहत सफलतापूर्वक आवेदन कर दिया जाएगा|
सदस्य लॉगिन करने की प्रक्रिया
  • सवसे पहले पात्र लाभार्थी को आधिकारिक वेबसाइट पे जाना होगा| 
  • अब आपको Member Login वाले ओप्शन पे किलक करना है|

  • इस ओप्शन पे किलक करने के बाद आपके सामने निम्नलिखित विकल्प नजर आएंगे –
  • Credit Guarantee Scheme for Banks
  • Credit Guarantee Scheme for NBFC 
  • Sub Debt Scheme 
  • Pm SvaNidhi 
  • यहाँ आपको अपनी पसंद के विकल्प पर क्लिक करना है|
  • उसके बाद आपके सामने एक नया पेज दिखाई देगा

Credit Guarantee Yojana login

  • जिसमे आपको अपना लॉगिन क्रेडेंशियल दर्ज करना होगा
  • फिर आपको Submit के बटन पे क्लिक कर देना है|
  • इस प्रक्रिया का पालन करके आप सदस्य लॉगिन कर सकोगे|
वित्तीय रिपोर्ट डाउनलोड कैसे करे
  • सवसे पहले पात्र लाभार्थी को आधिकारिक वेबसाइट पे जाना होगा| 
  • अब आपको Financial Information के विकल्प पे किलक करना है|
  • उसके बाद आपको Financial Report के बटन पे किलक कर देना है| 

Financial Report

  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा|
  • इस पेज मे आपको Year का चुनाव करके View बटन पे क्लिक कर देना है|

Scheme Financial Report

  • जैसे ही आप View बटन पे क्लिक करोगे तो PDF File के जरिये सवन्धित जानकारी आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर आ जाएगी|
गारंटी की गणना करने की प्रक्रिया

Guarantee Calculator

  • अब आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा|
  • इस पेज मे आपको पिन कोड, राज्य, जिला, शहर, लिंग और गतिविधि की प्रकृति दर्ज करनी होगी|
  • उसके बाद आपको Submit के बटन पे क्लिक कर देना है|
  • Submit के बटन पे किलक करते ही आवश्यक जानकारी आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर आ जाएगी|
Contact Details

आशा करता हूँ आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी| आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेट और लाइक जरूर करे| 

Last Updated on November 10, 2022 by Abinash

error: Content is protected !!