हिमाचल प्रदेश एक बूटा बेटी योजना | पूरी जानकारी | कैसे मिलेगा लाभ

हिमाचल प्रदेश एक बूटा बेटी योजना | Himachal Pradesh One Buta Beti Scheme

 

हिमाचल प्रदेश सरकार दवारा पर्यावरण की रक्षा करने के लिए बेटी के नाम पर एक नई योजना को शुरु किया गया है। जिसका नाम है – एक बूटा बेटी योजना। इस योजना के तहत जिस घर में बेटी जन्म लेगी, वहां पे पौधा लगया जाएगा। प्रदेश में 20 सितंबर के बाद जन्म लेने वाली हर बेटी के नाम पर पिता दवारा पांच-पांच पौधे लगाए जाएगें। इस योजना से हिमाचल प्रदेश में हरियाली बढेगी। वन विभाग दवारा इस योजना में बेटी के पिता को 1775/- रुपये की एक किट दी जाएगी। जिसमें पौधारोपण व उसकी देखभाल से संबंधित निर्देशों के अलावा एक प्लांटेशन गार्ड, वर्मी कंपोस्ट, टेंपलेट, कार्पोटेशन कोर्ट का एक पैकेट और बेटी के नाम की नेम प्लेट होगी। इस योजना के लिए वन विभाग के अधिकारी समय –समय पर पंचायत या नगर निकाय कार्यालय से क्षेत्र में जन्मी बच्चियों की जानकारी जुटाएंगे। फिर फारेस्ट रेंज स्तर पर इसकी सूची बनाई जाएगी।

इस योजना के तहत बरसात व सर्दी में पौधारोपण किया जाएगा। पौधे वन विभाग के अधिकारियों की मौजूदगी में बेटी के माता-पिता दवारा रोपे जाएगें। दो साल के दौरान अगर रोपित पौधा सूख जाता है तो उसकी जगह दूसरी बेटी के माता-पिता को ये पौधा उपलब्ध कराया जाएगा। निजी भूमि के अलावा सरकारी वन भूमि या स्मृति वाटिका में पौधों को रोपा जाएगा। इन पर संबंधित परिवार की बेटी के नाम की पट्टिका होगी। पौधों के वितरण व पौधारोपण का वन विभाग दवारा रिकॉर्ड तैयार होगा। जिस जगह पर पौधे लगाए जाएंगे, उस स्थान का विभाग समय-समय पर निरीक्षण करता रहेगा। ये प्रदेश सरकार दवारा महत्वकांशी योजना है। इससे एक तो पर्यावरण की रक्षा के लिए लोगों की भागीदारी होगी, दूसरा वेटी को वेटों के समान अधिकार मिलेगें।

उद्देश्य | An Objective

एक बूटा बेटी योजना का मुख्य उद्देश्य पौधे लगाकर पर्यावरण की रक्षा करना है।

लाभ | Benefits

  • एक बूटा बेटी योजना का लाभ हिमाचल प्रदेश के लोगों को प्राप्त होगा।
  • इस योजना के तहत जिस घर में वेटी जन्म लेगी, वहां उसके पिता दवारा पौधा लगाया जाएगा।
  • इस योजना के तहत 20 सितंबर के बाद जन्म लेने वाली हर बेटी के नाम पर पिता दवारा पांच-पांच पौधे लगाए जाएगें।
  • वन विभाग के अधिकारी समय –समय पर जन्मी बच्चियों की जानकारी जुटाएंगे। फिर फारेस्ट रेंज स्तर पर इसकी सूची बनाई जाएगी।
  • वन विभाग दवारा इस योजना में बेटी के पिता को 1775/- रुपये की एक किट भी दी जाएगी। जिसमें पौधारोपण व उसकी देखभाल से संबंधित सारी जानकारी होगी।
  • इस योजना के तहत पौधों के वितरण व पौधारोपण का वन विभाग दवारा रिकॉर्ड तैयार किया जाएगा।
  • इस योजना से पर्यावरण की रक्षा होगी।
  • जितने ज्यादा पौधे लगाए जाएगें, प्रदूषण का खतरा उतना ही कम होगा।

प्रमुख विशेषताएं | Major features

  • पर्यावरण की रक्षा
  • जैव विविधता को बनाए रखना
  • पानी का संरक्षण
  • वातावरण नियंत्रण
  • मिट्टी का संरक्षण
  • पेड-पौधे भोजन का मुख्य स्रोत
  • अच्छी बारिश के लिए

निष्कर्ष | The conclusion

  • आओ पेड़ लगायें”
  • क्योंकि कहते हैं वेद पुराण
  • एक वृक्ष दस पुत्र समान|

अशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।

Last Updated on December 26, 2019 by Abinash