मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022 | ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म

|| मध्य प्रदेश बिजली बिल माफी योजना | Mukhyamantri Vidyut Bill Me Rahat Yojana | Bijli Bill Mafi Scheme Online Registration | Application Form ||

 

मध्य प्रदेश सरकार दवारा राज्य के नागरिको के बिजली बिल माफ करने के लिए मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना को लागू किया गया है| जिसके माध्यम से सरकार दवारा कोरोना काल के दौरान 31 अगस्त 2020 तक के सभी बिजली बिल माफ किए जाएंगे| इस योजना से राज्य के नागरिको को अब बिल का भुगतान करने की समस्या से निजात मिलेगी| कैसे मिलेगा इस योजना का लाभ और इसके अंतर्गत आवेदन कैसे किया जाएगा| ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढ्ना होगा| तो आइए जानते हैं – मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना के वारे मे|

Vidyut Bill Me Rahat Yojana

Mukhyamantri Vidyut Bill Me Rahat Yojana

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री जी दवारा राज्य के नागरिको बिजली बिल मे राहत प्रदान करने के लिए विद्युत बिलों में राहत योजना को शुरू किया गया है| जिसके अंतर्गत राज्य के बिजली उपभोक्ताओं के बिल माफ किए जाएंगे| इस वात की पुष्टी मुख्यमंत्री जी द्वारा की गई है| जिसमे कहा गया है कि – “कोरोना काल के दौरान 31 अगस्त 2020 तक के बिजली बिल माफ करने के लिए आदेश जारी कर दिए हैं।“ योजना का लाभ प्रदेश के उन उपभोक्ताओं को प्रदान किया जाएगा,  जिनके पास 1 किलोवॉट तक के कनेक्शन है। इस योजना का लाभ भोपाल समेत हर जिले में शिविर लगाकर किया जाएगा।

प्रदेश में 1 करोड़ 20 लाख घरेलू उपभोक्ता हैं। इनमें से विशेष तौर पर करीब 88 लाख कंज्यूमर्स के अप्रैल 2020 से 31 अगस्त 2020 तक के बिजली बिल माफ किए जाएंगे।

योजना के मुख्य पहलु

कोरोना की मार्च 2020 के अंत में आई पहली लहर में लाखों लोग घरों में कैद हो गए थे। समय पर बिजली बिल नहीं भर पाए थे। मार्च से अगस्त तक के बिल शेष रहे। बड़ी संख्या में उपभोक्ता ऐसे भी थे, जिनके मार्च 2020 के पहले के बिल भी बकाया थे। सरकार के मार्च 2022 की घोषणा से एक किलोबॉट के अगस्त 2020 तक के घरेलू उपभोक्ताओं के बिल माफ किए जा रहे हैं, जिसे मुख्यमंत्री बिल राहत योजना के नाम से लागू किया जा रहा है।

इस बिल राहत योजना से जिले के 1 लाख 54 हजार घरेलू उपभोक्ताओं के 147 करोड़ रुपये माफ होंगे । जिन लाभार्थीयों ने बिजली कंपनी के नोटिस के बाद तीन करोड़ 17 लाख रुपये जमा कर दिए हैं। उन लोगो को राहत पहुचाने के लिए मुख्यमंत्री ने 14 मार्च को कोरोना काल के दौरान स्थगित बिलों को माफ करने की घोषणा की थी जिसकी शुरुआत आज से की जा रही है|

आपको बता दें कि, कोरोना काल में जिन उपभोक्ताओं के बिजली बिल अप्रैल 2020 से 31 अगस्त 2020 तक बकाया थे, उन्हें वसूलने के लिए समाधान योजना चालू की थी, जिसके तहत 25 से 40 प्रतिशत की छूट देकर बिजली बिल भरवाए गए थे। इसी वात को ध्यान मे रखते हुए सरकार दवारा विद्युत बिलों में राहत योजना को चलाया जा रहा है, ताकि पात्र लाभार्थीयों को बिजली बिल का भुगतान न करना पडे|

14.5 लाख उपभोक्ताओं के 189 करोड़ रुपयों का होगा समायोजन

कोरोना काल के दौरान लोगों की आर्थिक स्थिति कमजोर हो गई थी, ऐसे में शिवराज सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए बिजली उपभोक्तओं को ये बड़ी सौगात देते हुए बिल माफी की घोषणा की है। इस योजना की खास वात यह है, कि जिन उपभोक्ताओं ने कोरोना काल में बिजली का बकाया बिल जमा किया है, उनकी उतनी ही राशि का समायोजन आने वाले बिलों में किया जाएगा। जब तक उपभोक्ता का पूरा पैसा वापस नहीं हो जाता है, तब तक बिलों में समायोजन किया जाएगा। इस योजना के तहत करीब 14.5 लाख उपभोक्ताओं के 189 करोड़ रुपयों का समायोजन होगा।

मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना का अवलोकन

योजना का नाम मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना
किसके दवारा शुरू की गई मध्य प्रदेश सरकार दवारा
विभाग मध्य प्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत कंपनी लिमिटेड भोपाल
लाभार्थी राज्य के नागरिक
प्रदान की जाने वाली सहायता बिजली बिल माफ करना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट portal.mpcz.in

मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना का उद्देश्य

योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य के नागरिको के बिजली बिल को माफ करना है|

मध्य प्रदेश विद्युत बिलों में राहत योजना के लिए पात्रता

  • आवेदक मध्य प्रदेश राज्य का स्थायी निवासी होना चाहिए|
  • 01 किलोवाट तक के संयोजित भार वाले सभी घरेलू उपभोक्ता योजना का लाभ लेने के लिए पात्र होंगे|
  • ऐसे लाभार्थी जिनकी 31 अगस्त 2020 की स्थिति में बकाया मूल राशि एवं अधिभार राशि को आस्थगित किया गया था| ऐसे सभी घरेलू उपभोक्ता को योजना का लाभ लेने के विद्युत वितरण कंपनी द्वारा निर्धारित प्रारूप में आवेदन प्रस्तुत करना होगा|
MP विद्युत बिलों में राहत योजना के लिए जरूरी दस्तावेज
  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • बिजली बिल
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नम्वर
Vidyut Bill Me Rahat Yojana notification
विद्युत बिलों में राहत योजना के तहत प्रदान की जाने वाली सहायता

योजना में प्रदेश के 88 लाख बिजली उपभोक्ताओं को 6414 करोड़ 32 लाख रूपये की राहत राज्य सरकार द्वारा प्रदान की जायेगी|

उपभोक्ताओं को विद्युत बिलों में दी गई राहत
Vidyut Bill Me Rahat Yojana
योजना का स्वरूप

योजना में पात्र उपभोक्ताओं की आस्थगित संपूर्ण बकाया राशि (मूल एवं अधिभार) माफ़ की जाएगी| माफ किए गए अधिभार की पूर्ण राशि एवं माफ़ की गयी मूल राशि का 50 प्रतिशत वितरण कंपनी द्वारा वहन किया जायेगा तथा मूल राशि का शेष 50 प्रतिशत राज्य शासन द्वारा वहन किया जायेगा| इसके एवज में वितरण कंपनियों को सब्सिडी प्रदान कि जाएगी| पात्र हितग्राहियों की आस्थगित राशि के निराकरण पश्चात् वितरण कंपनी द्वारा बिल माफ़ी का प्रमाण-पत्र जारी कर आगामी बिल के साथ संलग्न किया जायेगा| जिसमे बिल में उपभोक्ता की माफ़ की गयी राशि का स्पष्ट उल्लेख होगा|

योजना के तहत मिलेगा राहत प्रमाण पत्र

राज्य स्तरीय कार्यक्रम कटनी से मुख्यमंत्री जी कि मौजूदगी में किया गया है। इस कार्यक्रम को 52 जिलों समेत इंदौर में प्रसारित किया गया । जिसमे जिलों के प्रभारी मंत्री और कलेक्टर, अन्य जनप्रतिनिधियों को मौजूदगी में राहत प्रमाण पत्र का वितरण भी किया गया । ऐसे मे तहसील, ब्लॉक और जोन, वितरण केंद्रों पर आगे इसी तरह के छोटे कार्यक्रम का आयोजन करके लाभार्थीयों को राहत प्रमाण पत्र वितरित किए जाएंगे।

विद्युत बिलों में राहत योजना के लिए किया जाएगा समिति का गठन

राज्य शासन विद्युत उपभोक्ताओं को गुणवत्तापूर्ण विद्युत आपूर्ति करने मीटर रीडिंग एवं वास्तविक विद्युत खपत के आधार पर ही विद्युत देयक जारी करने, लाइन ट्रिपिंग में कमी लाने, तथा उपभोक्ताओं की संतुष्टि में वृद्धि के लिए कार्य-योजना तैयार करने के संबंध में समिति का गठन किया गया है।

विद्युत बिलों में राहत योजना के लाभ
  • विद्युत बिलों में राहत योजना का लाभ मध्य प्रदेश राज्य के नागरिको को प्रदान किया जाएगा|
  • योजना के जरिये कोरोना काल के दौरान 31 अगस्त 2020 तक के बिजली बिल लाभार्थीयों के माफ किए जाएंगे|
  • इस योजना से राज्य के 88 लाख उपभोक्ताओं को लाभ प्रदान किया जाएगा|
  • योजना के जरिये पात्र लाभार्थीयों को 6414 करोड़ 32 लाख रूपये की राहत राज्य सरकार द्वारा प्रदान की जायेगी|
  • जिन उपभोक्ताओं ने कोरोना काल में बिजली का बकाया बिल जमा किया है, उनकी उतनी ही राशि का समायोजन आने वाले बिलों में किया जाएगा। जब तक उपभोक्ता का पूरा पैसा वापस नहीं हो जाता है, तब तक बिलों में समायोजन किया जाएगा।
  • योजना का लाभ देने के लिए लाभार्थीयों को राहत प्रमाण पत्र भी प्रदान किए जाएंगे|
  • इस योजना से लोगों को बिजली बिल के भार से राहत दिलाई जाएगी|
  • अब लाभार्थीयों को बिजली बिल का भुगतान करने हेतु आर्थिक तंगी का सामना नही करना पडेगा|
  • इस योजना से उपभोक्ताओं के जीवन स्तर मे सुधार आएगा|
विद्युत बिलों में राहत योजना की मुख्य विशेषताएँ
  • राज्य के नागरिको के बिजली बिल को माफ करना
  • अब राज्य के पात्र लोगो को बिजली बिल का भुगतान करने की आवश्यकता नही होगी|
  • बिजली बिल का भुगतान राज्य सरकार दवारा किया जाएगा|
  • इस योजना से पात्र लाभार्थीयो को आत्म-निर्भर व सशक्त वनाया जाएगा|
विद्युत बिलों में राहत योजना के लिए कैसे करे आवेदन

Vidyut Bill Me Rahat

  • उसके बाद आपको “विद्युत बिलों में राहत योजना” के लिंक पे किलक करना है|
  • अब आपके सामने आवेदन फार्म खुलके आएगा|
  • जिसमे आपको दी गई सारी जानकारी ध्यानपूर्वक भरनी है और जरूरी दस्तावेज भी अपलोड करने हैं|
  • सारी प्रक्रिया होने के बाद आपको अंत मे सवमिट के बटन किलक कर देना है|
  • इस तरह आपके दवारा योजना के अंतर्गत सफलतापूर्वक आवेदन कर दिया जाएगा|

आशा करता हूँ आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी| आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेट औरे लाइक जरूर करे|

Last Updated on May 30, 2022 by Abinash

error: Content is protected !!