Mar 03, 2021 Yojana

नवजात सुरक्षा योजना राजस्थान 2021 | ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म

|| राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना | Rajasthan Navjaat Suraksha Scheme | मुख्यमंत्री नवजात सुरक्षा योजना | Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana in Hindi लाभ / पात्रता / उद्देश्य / विशेषताएं | Apply Online | Application Form ||

 

राजस्थान सरकार दवारा बच्चो के स्वास्थय का ध्यान रखने और उनकी वेहतरी के लिए राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना को लागु किया गया है। जिसके जरिए नवजात शिशुओं को बिमारियो से वचाने के लिए उनके स्वास्थय की बेहतर देखभाल की जाएगी। जिसमे राज्य के कम वजन वाले , कुपोषित और समय से पहले जन्मे नवजात शिशुओं को राज्य सरकार द्वारा चिकित्सा लाभ प्रदान किये जायेगे । जिससे राज्य में नवजात बच्चो की मृत्यु दर कमी आएगी। योजना का कैसे मिलेगा लाभ और इसके लिए आवेदन कैसे किया जाएगा। ये सारी जानकारी लेने के लिए आपको ये आर्टीकल अंत तक पढना होगा। तो आइए जानते हैं – राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना के वारे मे।

logo

नवजात सुरक्षा योजना | Navjaat Suraksha Yojana

 

राजस्थान के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा दवारा राज्य में नवजात सुरक्षा योजना को शुरु करने की घोषणा की है। इस योजना के तहत राज्य में कुपोषित और समय से पहले जन्मे नवजात शिशुओं की बेहतर देखभाल की जाएगी। किसी भी नवजात की मौत ना हो इसके लिए ट्रेनिंग प्रोग्राम शुरू किया जाएगा। इस प्रोग्राम के लिए 77 मास्टर ट्रेनर्स तैयार किए गए हैं, जोकि जिला और ब्लॉक स्तर पर जाकर लोगों को जागरूक करेंगे। प्रदेश भर में लगाए जाने वाले स्वास्थ्य मित्रों को प्रशिक्षण दिया जाएगा ताकि प्रदेश में शिशु मृत्यु दर में कमी आ सके। इस योजना के जरिए समय- समय पर नवजात वच्चों के स्वास्थय की जांच होती रहेगी। ताकि वच्चे का स्वास्थय वेहतर वन सके। यूनिसेफ के प्रतिनिधि ल्यूई डी ओक्वीने ने बताया कि अन्य राज्यों के मुकाबले राजस्थान में शिशु मृत्यु दर में कमी आई है। यूनिसेफ सरकार के साथ मिलकर केएमसी पद्वति पर काम करेगी, जो नवजात वच्चों की देखभाल में अहम भूमिका निभाएगी। ऑनलाइन रजिसट्रेशन करके लाभार्थी योजना का लाभ उठा सकते हैं।  

 

महत्वपूर्ण जानकारी | Important information

राजस्थान में, शिशु मृत्यु दर प्रति 1000 जीवित जन्मों पर 35 मौतें हैं। स्वास्थ्य सर्वेक्षण वर्ष 2015-16 में राजस्थान में शिशु मृत्यु दर प्रति 1000 जीवित जन्मों में 41 मौतों का रिकॉर्ड दर्ज है। जविक राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना 2021 के तहत आने वाले समय में नवजात शिशु मृत्यु दर को और कम किया जायेगा । जिसके तहत राज्य मे कम वजन वाले ,कुपोषित समय से जन्मे बच्चो के स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखा जाएगा। जो कि आने वाले समय मे बच्चो के वेहतर स्वास्थय की प्रतिपूर्ति करेगा।

उद्देश्य | An Objective

नवजात सुरक्षा योजना का मुख्य उद्देश्य जन्म लेने वाले वच्चों के स्वास्थय का ध्यान रखकर उन्हें सुरक्षा सुविधा उपलव्ध करवाना है।    

पात्रता | Eligibility

  • राजस्थान राज्य के स्थायी निवासी
  • नवजात वच्चे
  • कुपोषित वच्चे

महत्वपूर्ण दस्तावेज | Important Documents

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर (अभिभावक का)

लाभ | Benefits

  • नवजात सुरक्षा योजना का लाभ राजस्थान के कुपोषित और जन्म लेने वाले वच्चों को प्राप्त होगा।
  • इस योजना से राज्य में शिशुओं के स्वास्थय का विशेष ध्यान रखा जाएगा।
  • स्वास्थ्य मित्रों को प्रशिक्षण देकर प्रदेश में शिशु मृत्यु दर को रोका जाएगा।
  • वच्चों को अच्छा स्वास्थय मिले इसके लिए उन्हें मां का दूध दिया जाएगा।

  • इस योजना के लिए पूरे राज्य में ट्रैनिंग प्रोगाम को चलाया जाएगा, ताकि लोगों को जागरुक किया जा सके।
  • इस योजना के लिए राज्य में 77 मास्टर ट्रेनर्स तैयार किए गए हैं।
  • इस योजना को सुचारु रुप से चलाने के लिए कमेटी का भी गठन किया जाएगा।
  • वच्चों को कुपोषण से वचाने के लिए आंगनवाडी केंद्रों में टिके लगाए जाएगें।
  • वच्चों के स्वास्थय को लेकर समय – समय पर चिकित्सक की सलाह ली जाएगी।
  • शिशु मृत्यु दर में कमी लाने के लिए यूनिसेफ सरकार के साथ मिलकर केएमसी पद्वति पर काम करेगी।

विशेषताएं | Features

  • बच्चो के स्वास्थय का रखा जाएगा विशेष ध्यान
  • शिशु मृत्यु दर मे कमी लाना
  • यूनिसेफ और राज्य सरकार मिलकर KMC पद्वति पर काम करेगी

नवजात सुरक्षा योजना के लिए कैसे करें आवेदन | How to apply for Navjaat Suraksha Yojana

योजना का लाभ लाभार्थीयो को ऑनलाइन आवेदन करके प्राप्त होगा। योजना के लिए अधिकारिक वेब्साइट जारी की गई है। लेकिन आवेदन प्रक्रिया के वारे मे आपको थोडा इंतजार करना होगा। जैसे ही ह्मे योजना के संवध कोई लेटेस्ट अपडेट मिलेगी, तो ह्म आपको जल्द सूचित कर देगें।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल सके । आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!