Updated : Nov 27, 2019 in Yojana

राजस्थान गांव-कस्बा रक्तदान योजना | पूरी जानकारी | कैसे मिलेगा लाभ

राजस्थान गांव-कस्बा रक्तदान योजना | Rajasthan Village-Town Blood Donation Scheme

राजस्थान चिकित्सा विभाग दवारा 27 नंववर 2019 को छोटे-छोटे गांवों तक रक्तदान की सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए गांव-कस्बा रक्तदान योजना को शुरु किया गया है। इस योजना के तहत प्रदेश के छोटे-छोटे गांवों तक रक्तदान की सुविधा को उपलब्ध कराया जाएगा। इसके लिए 14 मोबाइल वैन को तैयार किया गया है। ये वाहन प्रदेश के सातों संभागों के मुख्यालयों सहित 14 जिलों में स्वैच्छिक रक्तदाताओं से रक्त संग्रहण कर संबंधित जिलों के ब्लड बैंकों को सौपेंगे। पांच करोड़ आठ लाख रुपये की लागत के ये वाहन राज्य के सभी मेडिकल कॉलेजों को आवंटित किए गए हैं। ये वाहन एक माह में लगभग 26 दिन स्वैच्छिक रक्तदान शिविरों का आयोजन कर लगभग प्रतिमाह 2600 यूनिट रक्त संबंधित ब्लड बैंकों को संग्रहण करेगें। इससे जरूरतमंदों को बिना रिप्लेसमेंट के रक्त की आपूर्ति की जाएगी। कोई भी रक्तदाता विशेष आयोजन जैसे जन्मदिन, विवाह की वर्षगांठ, प्रियजनों की याद इत्यादि में स्वैच्छिक रक्तदान के लिए इन वाहनों को बुलवाकर इस योजना का लाभ उठा सकता है। इन वाहनों में दो डोनर काउच (ऑटोमेटेड), दो ब्लड कलेक्शन मॉनिटर एवं ट्यूब सीलर, 200 यूनिट रक्त क्षमता वाला रेफ्रिजरेटर, एक ऑक्सीजन सिलेंडर, एक डिजीटल थर्मामीटर और रक्तदाताओं को प्रोत्साहित करने के लिए एक एलईडी टीवी व पब्लिक एड्रेसिंग सिस्टम आदि उपलब्ध किए गए हैं। अभी इस सुविधा को जयपुर प्रथम व द्वितीय एवं अजमेर जिले को दो-दो तथा भीलवाड़ा, कोटा, झालावाड़, बीकानेर, जोधपुर, भरतपुर, पाली, चूरू, बाड़मेर व डूंगरपुर जिलों में उपलब्ध करवाया गया है, जविक इन मेडिकल कॉलेजों को एक-एक मोबाइल वैन भी उपलब्ध कराई गई है। इस योजना को सुचारु रुप से चलाने के लिए भविष्य में इनकी संख्या को बढाया जाएगा।

महत्वपूर्ण डाउनलोड | Important Download

उद्देश्य | An Objective

राजस्थान गांव-कस्बा रक्तदान योजना का मुख्य उद्देश्य जरूरतमंदों को बिना रिप्लेसमेंट के रक्त की आपूर्ति कराना है, ताकि रक्त के अभाव से किसी व्यकित की मौत न हो।

पात्रता| Eligibility

  • राजस्थान का स्थायी निवासी
  • जरूरतमंदों को रक्त उपलव्ध करवाना
  • मोबाइल वैन की सुविधा

लाभ | Benefits

  • गांव-कस्बा रक्तदान योजना का लाभ राजस्थान के लोगों को पहुंचेगा।
  • इस योजना के तहत जरूरतमंदों को रक्त दिया जाएगा।
  • प्रदेश के छोटे-छोटे गांवों में होगी ये सुविधा।
  • इस योजना के तहत 14 मोबाइल वैन को तैयार किया गया है, जो प्रदेश के सातों संभागों के मुख्यालयों सहित 14 जिलों में स्वैच्छिक रक्तदाताओं से रक्त संग्रहण कर संबंधित जिलों के ब्लड बैंकों को सौपेंगे।
  • इस योजना के लिए राज्य के मेडिकल कॉलेजों को एक-एक मोबाइल वैन उपलब्ध कराई गई है।
  • बाद में इन बाहनों की संख्या को बढा दिया जाएगा।
  • इस योजना के लिए कोई भी रक्तदाता विशेष आयोजन पर स्वैच्छिक रक्तदान के लिए इन वाहनों को बुलवाकर इस योजना का लाभ उठा सकता है।
  • इस योजना के तहत कोई भी व्यकित रक्तदान दे सकता है, जो शारिरीक रुप से मजबूत है।
  • इस योजना के तहत जरूरतमंदों को रक्त के लिए कहीं भी भटकना नहीं पडेगा।
  • इन वाहनों के दवारा एक माह में लगभग 26 दिन स्वैच्छिक रक्तदान शिविरों का आयोजन कर प्रतिमाह 2600 यूनिट रक्त ब्लड बैंकों को संग्रहित करेगी।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी, आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!