Jul 07, 2020 Yojana

उत्तर प्रदेश पशुपालन एवं अनुदान योजना । पूरी जानकारी | कैसे करें आवेदन

उत्तर प्रदेश पशुपालन एवं अनुदान योजना | Uttar Pradesh Animal Husbandry and Grant Scheme

 

बेरोजगारी पर नियंत्रण करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार दवारा लोगों को घर वैठे रोजगार देने के लिए एक नई योजना को शुरु किया है। जिसका नाम है –“ पशुपालन एवं अनुदान योजना।“ इस योजना के तहत निचले स्तर के लोगों को घर बैठे रोजगार देने के लिए राज्य सरकार दवारा बकरी व भेड़ पालन के लिए 59000/- रुपये का अनुदान दिया जाएगा। जिसके तहत जनपद में भेड़ पालन के लिए 10 व बकरी पालन के लिए 50 लोगों का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। भेड़ के लिए सात इकाई सामान्य वर्ग तथा तीन इकाई अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित की गई है। इसी प्रकार बकरी पालन के लिए 38 इकाई सामान्य वर्ग तथा 12 इकाई अनुसूचित जाति के लोगों के लिए आरक्षित की गई हैं। यानी विभिन्न वर्गों  के 60 परिवारों को रोजगार दिया जाएगा।

 

इसके लिए समिति द्वारा चयन किया जाएगा, जिसमें पालने वाले के खाते में 6600/- रुपये बैलेंस रहना जरूरी है, साथ ही उसे 10 रुपये के स्टांप पेपर पर शपथ पत्र भी देना होगा तथा तीन साल तक इसे संचालित किया जाएगा। यह योजना केंद्र व राज्य सरकार दोनों के सहयोग से संचालित की जा रही है। प्रति इकाई निर्धारित लागत के लिए 60% 39600/- रुपये, और राज्यांश के लिए 30% 19800/- रुपये निर्धारित होगें। जिसमें कुल 90% 59000/- रुपये दिए जाने का प्रावधान है। इसमें 10% लाभार्थी का 6600/- रुपये अंशदान रहेगा। जविक बकरा प्रत्येक की कीमत 6000/- रुपये होगी, और बकरी प्रति की कीमत 5000/- रुपये निर्धारित की गई है। इसमें 10,000/- रुपये बर्तन, औषधि, परिवहन, बीमा, फील्ड सप्लीमेंट आदि के लिए प्रदान किए जाएगें। लाभार्थी का चयन गाइड लाइन के अनुरूप समितियों द्वारा किया जाएगा। समस्त भुगतान RTGS के माध्यम से लाभार्थी के खाते में किया जाएगा। समिति द्वारा पात्रों का निर्णय होगा। आवेदन संबंधित ब्लाक के अधिकारी व विकास भवन में जमा किए जाएगें। भेड़ पालन से ऊन की बिक्री कर पालक मालामाल होंगे तो बकरी के दूध से डेंगू की बीमारी को नियंत्रित किया जाएगा। इस योजना से लघु व सीमांत किसानों की आय दोगुनी होगी। आने वाले दिनों में इस योजना के साकारात्मक परिणाम नजर आएंगे।

महत्वपूर्ण डाउनलोड | Important Download

उद्देश्य | An Objective

उत्तर प्रदेश पशुपालन एवं अनुदान योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य में पशुपालन को वढावा देकर, वेरोजगारों को आर्थिक सहायता देना है।

महत्वपूर्ण दस्तावेज | Important Document

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता
  • पासपोर्ट साइज फोटो

पात्रता | Eligibility

  • बेरोजगार
  • मवेशी पालनकर्ता
  • सभी वर्गों के लोग

प्रमुख विशेषताएं | Major features

  • आर्थिक लाभ
  • पशुपालन से बिमारियों से रोकथाम
  • ऊन की बिक्री करने वाले होगें मालामाल
  • लघु व सीमांत किसानों की आय होगी दोगुनी

लाभ | Benefits

  • पशुपालन एवं अनुदान योजना का लाभ उत्तर प्रदेश के लोगों को प्राप्त होगा।
  • इस योजना के तहत वेरोजगारों को राज्य सरकार दवारा बकरी व भेड़ पालन के लिए 59000/- रुपये का अनुदान दिया जाएगा।
  • इस योजना से भेड़ पालन से ऊन की बिक्री कर रहे पालकों का आर्थिक पक्ष मजबूत होगा।
  • RTGS के माध्यम से लाभार्थी के खाते में भुगतान किया जाएगा।
  • लघु व सीमांत किसानों की आय दोगुनी होगी।
  • इस योजना से वेरोजगारी जैसी समस्या खत्म होगी।
  • पशुपालन को बढावा मिलेगा।
  • इस योजना के लिए कमेटी का गठन होगा।
  • इस योजना से पशुओं को अब अनाथ नहीं छोडा जाएगा।
  • बकरी के दूध से डेंगू की बीमारी को नियंत्रित किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश पशुपालन एवं अनुदान योजना के लिए आवेदन कैसे करें | How to apply for Uttar Pradesh Animal Husbandry and Grant Scheme

  • उत्तर प्रदेश पशुपालन एवं अनुदान योजना के लिए आवेदक अधिकारिक वेव्साइट पे जाएं।
  • अब आपको पशुपालन एवं अनुदान योजना लिंक की खोज करनी है।
  • अब आपको दिए गए लिंक पर किल्क करना है।
  • अब आपको इस योजना के संवध में फार्म फिल करना है।
  • इसमें दी गई सारी जानकारी आपको सही-सही भरनी है।
  • सारी प्रक्रिया होने के बाद आपको सबमिट बटन पे किल्क कर देना है।
  • उसके बाद आपका इस योजना के लिए आवेदन कर दिया जाएगा।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!